सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

भावनगर जिले के पर्यटन स्थल - Bhavnagar Tourist Places

भावनगर जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Bhavnagar / भावनगर के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह 


भावनगर गुजरात का एक मुख्य जिला है। भावनगर गुजरात की राजधानी गांधीनगर से 194 किलोमीटर दूर है। भावनगर गुजरात में खंभात की खाड़ी के किनारे स्थित है। यहां पर खंभात की खाड़ी का सुंदर समुद्री तट देखने के लिए मिलता है। यहां पर बहुत सारे बीच है। यहां पर एक अनोखा मंदिर है, जो समुद्र के अंदर स्थित है और यह मंदिर शिव भगवान को समर्पित है। भावनगर में बहुत सारी नदियां बहती हैं। भावनगर की मुख्य नदी कंसार और मालेश्री है। भावनगर में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - भावनगर में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है। 


भावनगर में घूमने वाली जगह - Bhavnagar mein ghumne ki jagah 


गंगा छतरी भावनगर - Ganga Chhatri Bhavnagar

गंगा छतरी भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह छतरी रानी की याद में बनाई गई है। यह छतरी भावनगर में गंगा तालाब के किनारे स्थित है। यहां पर गंगा तालाब के पास बस स्टैंड है। आप इस छतरी में आराम से घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर सुंदर पार्क बना हुआ है, जिसके बीच में यह छतरी बनी हुई है। 

गंगा छतरी पूरी मार्बल से बनी हुई है और बहुत सुंदर लगती है। आपको यहां किसी भी तरह की दिक्कत नहीं होगी। इस छतरी का निर्माण 1893 ईसवी में महाराजा तखत सिंह जी के द्वारा उनकी पत्नी रजवा जी की याद में किया गया था। 1875 में भाव सिंह जी को जन्म देते हुए, उनकी मृत्यु हो गई थी। यह छतरी मुगल और राजपूत स्टाइल में है और बहुत सुंदर लगती है। पूरी छतरी में बहुत ही सुंदर काम किया गया है। आप यहां पर आकर घूम सकते। झील का दृश्य भी बहुत शानदार रहता है।  

नारेश्वर महादेव मंदिर भावनगर - Nareshwar Mahadev Temple Bhavnagar

नारेश्वर मंदिर भावनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यहां पर आपको एक मुखी शिवलिंग देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। यह मंदिर भावनगर शहर के बीचोंबीच स्थित है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। मंदिर बहुत सुंदर है। गर्भ गृह में आपको शिवलिंग देखने के लिए मिलता है और शिवलिंग के चारों तरफ और भी छोटे-छोटे शिवलिंग विराजमान है। यह मंदिर भावनगर रेलवे स्टेशन से 1 किलोमीटर दूर होगा। यहां पर आकर अच्छा लगता है। आप यहां घूमने के लिए आ सकते हैं। 


गांधी स्मृति भावनगर - Gandhi Smriti Bhavnagar

गांधी स्मृति भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह म्यूजियम क्रिसेंट सर्कल के पास में स्थित है। यहां पर आपको एक म्यूजियम देखने के लिए मिलता है। यह म्यूजियम पुरानी बिल्डिंग पर बना हुआ है। यहां पर आपको गांधीजी से संबंधित बहुत सारी वस्तुएं देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर आपको बुक्स, गांधी जी की पुरानी फोटोस देखने के लिए मिलती है। यहां पर लाइब्रेरी भी है और यहां पर खादी ग्रामोद्योग भंडार भी देखने के लिए मिलता है, जहां पर आपको खादी से बने हुए कपड़े देखने के लिए मिलते हैं। 

गांधी जी ने अपना कुछ समय यहां पर बताया था। यह एक ऐतिहासिक जगह है। यहां पर आपको और भी बहुत सारी चीजें देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको लकड़ी से बना मंदिर का मॉडल, मूर्तियां, सिक्के, पोटरी देखने के लिए मिलती है। यहां पर क्लॉक टावर भी देखने के लिए मिल जाता है। अगर आप इतिहास में रुचि रखते हैं, तो आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


शिवाजी सर्कल भावनगर - Shivaji Circle Bhavnagar

शिवाजी सर्किल भावनगर में स्थित एक सुंदर पार्क है। इस पार्क को निरमा पार्क के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि इस पार्क का मैनेजमेंट निरमा प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा किया जाता है। यहां पर बहुत बड़ा सर्कल बना हुआ है, जिसमें पार्क बना हुआ है। यहां पर फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर है। यहां पर आकर आप अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर लोग सुबह और शाम के समय मॉर्निंग वॉक के लिए आते हैं। 


विक्टोरिया नेचर पार्क भावनगर - Victoria Nature Park Bhavnagar

विक्टोरिया नेचर पार्क भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह पार्क बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यह पार्क हरे भरे पेड़ों से घिरा हुआ है। इस पार्क के अंदर आपको झील भी देखने के लिए मिलती है। इस झील को कृष्णकुंज झील के नाम से जाना जाता है। यह झील बहुत सुंदर लगती है। यहां पर ठंड के समय बहुत सारी विदेशी पक्षी आते हैं। यहां पर आप आकर इन विदेशी पक्षियों को देख सकते हैं, जो बहुत ही सुंदर लगते हैं। आप दूरबीन लेकर आ सकते हैं और इन पंछियों को बारीकी से देख सकते हैं। यहां पर आपको देसी पक्षी भी देखने के लिए मिल जाते हैं। उनकी भी बहुत सारी प्रजातियां आप यहां पर देख सकते हैं। 

यहां पर वॉच टावर भी बना हुआ है, जहां से आप इस झील का सुंदर दृश्य देख सकते हैं और चारों तरफ पार्क का दृश्य देख सकते हैं। इस पार्क में बहुत सारे लोग सुबह और शाम के समय घूमने के लिए आते हैं और पार्क में विचरण करते हैं। यहां पर आपको बहुत सारे जानवर भी देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको नीलगाय, लोमड़ी, कछुआ, मोर, हिरण यह सभी चीजें भी देखने के लिए मिल जाती है। यह भावनगर का पिकनिक स्पॉट है। आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। 


श्री तख्तेश्वर महादेव मंदिर भावनगर - Shri Takhteshwar Mahadev Temple Bhavnagar

श्री तख्तेश्वर मंदिर भावनगर का एक मुख्य मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर भावनगर के राजा तख्त सिंह जी के द्वारा बनाया गया था। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यह मंदिर पूरा मार्बल से बना हुआ है और यह मंदिर बहुत सुंदर लगता है। मंदिर की वास्तुकला गुजराती है। 

तख्तेश्वर मंदिर के गर्भ गृह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर से भावनगर शहर का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। अगर आप पूरे शहर का दृश्य देखना चाहते हैं, तो आप यहां पर आ सकते हैं और मंदिर से पूरे शहर को देख सकते हैं। यहां पर सावन सोमवार और महाशिवरात्रि के समय बहुत सारे भक्त शिव के दर्शन करने के लिए आते हैं। मंदिर आ कर बहुत अच्छा लगता है। यह मंदिर मुख्य भावनगर शहर में स्थित है। 


निलम बाग महल भावनगर - Nilam Bagh Palace Bhavnagar

निलम बाग महल भावनगर का एक मुख्य स्थल है। यह एक ऐतिहासिक स्थल है। इस महल का निर्माण 1859 में किया गया था। यहां पर भावनगर के राजा निवास करते थे। इस महल को अब एक हेरिटेज होटल में बदल दिया गया है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं और यहां पर आप आने से पहले बुकिंग करवा कर आए, ताकि आप यहां पर एंजॉय कर सकें। यहां पर आपको पैलेस, बालकनी, रेस्टोरेंट, स्विमिंग पुल, जिम देखने के लिए मिल जाता है। यहां पर आपको रेस्टोरेंट में मिलता है, जहां पर वेज और नॉनवेज दोनों ही प्रकार का खाना मिल जाता है। आप यहां पर महाराजा थाल भी ट्राई कर सकते हैं। यह महल मुख्य भावनगर शहर में स्थित है और आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। 


गौरीशंकर झील भावनगर - Gaurishankar Lake Bhavnagar

गौरीशंकर झील भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है और बहुत सुंदर है। यह झील भावनगर के महाराजा तखत सिंह जी ने बनवाई थी। इस झील का निर्माण 1872 में जलाशय के रूप में किया गया था। यह पानी का मुख्य स्त्रोत हुआ करती थी। इस झील को बोर तालाब के नाम से भी जाना जाता है। यह झील 380 हेक्टेयर क्षेत्र में फैली हुई है। झील के पास आपको बाल वाटिका, म्यूजिकल फाउंटेन और बोट हाउस देखने के लिए मिल जाता है। आप इन सभी का मजा उठा सकते हैं। यह एक प्राकृतिक जगह है और यहां पर आकर अच्छा लगता है। 

झील के किनारे पार्क भी बना हुआ है, जहां पर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। यह भावनगर का एक पिकनिक स्पॉट है। झील में आपको बहुत सारे बर्ड्स भी देखने के लिए मिल जाते हैं। गौरीशंकर झील में आप शाम के समय आ सकते हैं। शाम के समय यहां पर सूर्यास्त का दृश्य देखना बहुत ही शानदार रहता है। यहां पर आपको बहुत सारी बदक भी देखने के लिए मिल जाती हैं, जो झील में घूमती रहते हैं। यहां पर सुबह एवं शाम के समय घूमने वाले बहुत सारे लोग आते हैं। 


थापनाथ मंदिर भावनगर - Thapnath Temple Bhavnagar

थापनाथ मंदिर भावनगर का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर में आपको शिव भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर बहुत अच्छी तरीके से बना हुआ है। यह मंदिर भावनगर के राजा द्वारा बनवाया गया था। यह मंदिर बोर तालाब के किनारे बना हुआ है। सावन के महीने में यहां पर बहुत सारे श्रद्धालु आते हैं और शिव भगवान जी के दर्शन करते हैं। 


सुपर लॉक गेट भावनगर - Super lock gate bhavnagar

सुपर लॉक गेट भावनगर का एक मुख्य स्थल है। यह जर्मन इंजीनियरों के द्वारा बनाया हुआ एक बहुत ही नायाब चीज है। इस गेट को जल स्तर को नियंत्रित करने के लिए बनाया गया था। ताकि ज्वार और भाटा के समय नाव और जहाजों के आने जाने हो सके। इस स्थान पर जाना मना है। आप यहां पर जाना चाहते हैं, तो आप स्पेशल परमिशन लेकर यहां जा सकते हैं और इस गेट को देख सकते हैं। 


निष्कलंक महादेव मंदिर भावनगर - Nishkalank Mahadev Temple Bhavnagar

निष्कलंक महादेव मंदिर भावनगर का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर बहुत ही अनोखा है, क्योंकि यह मंदिर समुद्र के अंदर स्थित है। यहां पर चारों तरफ समुद्र का पानी है।  जब यहां पर पानी कम हो जाता है। तब लोग यहां पर दर्शन करने के लिए जाते हैं। यहां पर करीब 1 किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है और कीचड़ भरा मार्ग रहता है। जब आप यहां पहुंचते हैं, तो आपको यहां पर 5 शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर अलग-अलग साइज के शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। 

कहा जाता है, कि प्राचीन काल में पांडवों ने इन शिवलिंग की स्थापना की थी और यहां पर पूजा की थी। पांडवों ने अपने साइज के अनुसार यहां पर शिवलिंग बनाए थे। सबसे बड़ा शिवलिंग भीम के द्वारा बनाया गया था। पांडव यहां पर आकर शिव भगवान जी की पूजा करके निष्कलंक हो गए थे। इसलिए इस मंदिर को निष्कलंक महादेव मंदिर के नाम से जाना जाता है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। यहां पर आकर बहुत अच्छा एक्सपीरियंस होता है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह कोलियक बीच के पास में स्थित है। यहां पर एक बड़ा सा खंबा बना हुआ है, जिसमें झंडा लगा हुआ है। जब समुद्र में पानी भर जाता है। तब यह झंडा ही देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको नंदी भगवान जी की भी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। अगर आप भावनगर घूमने के लिए आ रहे हैं, तो आपको इस जगह पर जरूर आना चाहिए। आपको एक नया अनुभव मिलेगा। 


कोलियक बीच भावनगर - Koliak Beach Bhavnagar

कोलियक बीच भावनगर का एक सुंदर बीच है और यहां पर आपको निष्कलंक महादेव मंदिर देखने के लिए मिलेगा, जो हिस्टोरिक मंदिर है। यह मंदिर समुद्र के बीच में स्थित है। यह बीच बहुत ही सुंदर है। यहां पर खाने-पीने के बहुत सारे स्टॉल लगे हुए हैं और आप यहां से समुद्र का दृश्य देख सकते हैं। यहां पर सर्दी के समय आपको बहुत सारे विदेशी पक्षी देखने के लिए मिल जाते हैं, जो बहुत ही सुंदर लगते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। 


हाथब बीच भावनगर - Hathab Beach Bhavnagar

हाथब बीच भावनगर का एक सुंदर बीच है। यह बीच भावनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप आकर शांति से समय बिता सकते हैं। यह बीच साफ सुथरा है। यहां पर आपको सूर्यास्त का बहुत अच्छा दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर होटल भी बना हुआ है, जहां पर आपको खाने पीने का ऑप्शन मिल जाता है। आप यहां ठहर भी सकते हैं। 


खोडियार मंदिर भावनगर - Khodiyar Temple Bhavnagar

खोडियार मंदिर भावनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर भावनगर जिले में, भावनगर राजकोट हाईवे सड़क में राजापारा गांव के पास स्थित है। इस मंदिर में आप स्वयं के वाहन से या टैक्सी से आ सकते हैं। यहां पर आपको खोडियार माता का बहुत विशाल मंदिर देखने के लिए मिलता है। इस मंदिर की स्थापना भावनगर के राजा ने की थी। यह प्राचीन मंदिर है। इस मंदिर की स्थापना 1911 में की गई थी। यहां पर मां का मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। मुख्य मंदिर में माता की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। माता की प्रतिमा सफेद रंग की है और  और यहां पर माता के वाहन मगरमच्छ की भी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। 

यहां पर आपको और भी बहुत सारी जगह देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको एक झील देखने के लिए मिलती है, जो बहुत सुंदर है। यहां पर चारों तरफ पेड़ पौधे लगे हुए हैं। मंदिर के बाहर आपको बहुत सारी दुकानें मिलती हैं, जहां से आप प्रसाद, मिठाईयां, सामान, खिलौने आदि ले सकते हैं। मंदिर के पीछे की तरफ पहाड़ी है और पहाड़ी के पीछे आपको खोडियार बांध देखने के लिए मिलता है, जो बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है, आप यहां पर भी घूम सकते हैं ,यहां पर आपको जरूर आना चाहिए और माता के दर्शन करना चाहिए। 


पालीताना भावनगर - Palitana Bhavnagar

पालीताना भावनगर का एक मुख्य जैन तीर्थ स्थल है। यहां पर आपको बहुत सारे जैन मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर करीब 900 से भी ज्यादा जैन मंदिर बने हुए हैं। यहां पर जैन मंदिर पहाड़ी के ऊपर बने हुए हैं। यहां पर मुख्य मंदिर भगवान आदिनाथ जी का है। यहां पर आपको शत्रुंजय हिल, श्री जैन म्यूजियम, हस्तगिरि जैन तीर्थ मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं, जो प्रसिद्ध है और बहुत सुंदर है। यहां पर आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। 

पालीताना शहर एक अनोखा शहर है। यह पूरा शहर शाकाहारी है। यहां पर मांस या मछली वगैरह की दुकान नहीं है। यहां पर कोई भी मांस का भक्षण नहीं करता है। यहां पर डेयरी उत्पादों का उपयोग किया जाता है। यह मंदिर बहुत बड़ी पहाड़ी पर बने हुए हैं और बहुत सुंदर लगते हैं। यहां पर आपको डैम का भी सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। यहां पर पहाड़ी के ऊपर मंदिर में जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। आप यहां पर सीढ़ियाो के द्वारा मंदिर में पहुंचते हैं। यहां पर आपको कुंड देखने के लिए मिलते हैं, जो प्राचीन है। चारों तरफ आपको पहाड़ियों का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां बरसात के समय बहुत अच्छा लगता है। 


मालनाथ महादेव मंदिर भावनगर - Malnath Mahadev Temple Bhavnagar

मालनाथ महादेव मंदिर भावनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर भावनगर जिले के भंडारिया में स्थित हैं। यह मंदिर घने जंगल के अंदर ऊंची ऊंची पहाड़ियों में स्थित है। यहां पर आपको पहाड़ियां और जंगल का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह जगह बरसात के समय और भी ज्यादा खूबसूरत हो जाती है। बरसात के समय यहां पर आपको झरना देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर रहता है। यहां पर बहुत सारे छोटी-छोटी जलधाराएं बहने लगती हैं। 

मालनाथ महादेव मंदिर बहुत सुंदर है और यहां पर आपको मुख्य गर्भ गृह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर नाग देवता की प्रतिमा भी विराजमान है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर एक और आकर्षण हैं, जो आपको जरूर देखना चाहिए। यहां पर आपको पवन चक्की फॉर्म देखने के लिए मिलता है, जहां पर ढेर सारी पवन चक्की लगाई गई है। पहाड़ी के ऊपर पवन चक्की को देखना बहुत ही अलग अनुभव रहता है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। यह भावनगर की घूमने लायक जगह है। 


पीराम बेट टापू भावनगर - Piram Bet Island Bhavnagar

पीराम बेट टापू भावनगर का एक सुंदर पर्यटन स्थल है। यह पश्चिमी समुद्री तट पर स्थित है। यह एक सुंदर टापू है। यह टापू में आप नाव के द्वारा पहुंच सकते हैं और यहां घूम सकते हैं। यहां पर आपको चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। मगर इस टापू में आपको जाने के लिए परमिशन लेनी पड़ती है। यहां पर कोई भी नहीं जा सकता है। यह टापू बहुत बड़ी एरिया में फैला हुआ है। यहां पर आपको लाइटहाउस भी देखने के लिए मिल जाता है। यहां पर आकर आपको अच्छा लगेगा। इस टापू तक आने के लिए आपको घोघा बीच तक आपको  बाइक या कार से आना पड़ता है और उसके बाद आप यहां पर नाव से पहुंच सकते हैं। 


मस्तराम धारा बीच भावनगर - Mastram Dhara Beach Bhavnagar

मस्तराम धारा बीच भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको खंभात खाड़ी का सुंदर समुद्री तट देखने के लिए मिलता है। यह जगह भावनगर में झांझमारा में स्थित है। आप यहां पर आकर बहुत अच्छा अनुभव कर सकते हैं। यह बीच बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यहां पर आपको चट्टाने भी देखने के लिए मिलती हैं, जो बहुत सुंदर लगती हैं। यहां पर आपको बहुत सारी चट्टाने देखने के लिए मिलेंगे, जो अलग-अलग शेप में और बहुत सुंदर लगती हैं। शाम के समय यहां पर सूर्यास्त देखना बहुत ही अच्छा लगता है। 


ब्लैकबक नेशनल पार्क भावनगर - Blackbuck National Park Bhavnagar

ब्लैकबक नेशनल पार्क भावनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। इस पार्क को वेलावदार नेशनल पार्क के नाम से भी जाना जाता है। यहां पर मुख्य रूप से आपको ब्लैकबक देखने के लिए मिल जाते हैं। ब्लैकबक को हिंदी में कृष्ण मृग कहा जाता है। यह बहुत ही सुंदर होते है। यह शाकाहारी जीव हैं और देखने में बहुत आकर्षक लगते हैं। इनकी लंबी लंबी सींग होती हैं। इस नेशनल पार्क को इन्हीं के नाम से जाना जाता है और यहां पर इनकी बहुत बड़ी आबादी देखने के लिए मिलती है। यहां पर इनके बड़े-बड़े झुंड देखने के लिए मिलते हैं। ब्लैकबक भारत में पाए जाने वाले दुर्लभ प्राणी है। 

ब्लैकबक नेशनल पार्क 1976 में बनाया गया था। यह पार्क 34 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। यह जगह प्राकृतिक प्रेमियों को अपनी और आकर्षित करती है। यहां पर आपको कृष्ण मृग के अलावा पक्षियों की भी प्रजाति देखने के लिए मिलती है। यहां पर आकर आप सफारी का मजा ले सकते हैं। आपको यहां पर बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको नीलगाय, जंगली कुत्ता, लोमड़ी, देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर एक झील भी है, जहां पर माइग्रेटेड पक्षी देखने के लिए मिल जाती है, जिसमें आपको सारस, क्रेन, फ्लैमिंगो, पेलिकन यह सभी पक्षी देखने के लिए मिलते हैं। यहां आकर आप अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह भावनगर में घूमने वाली मुख्य जगह है। 


गौतमेश्वर महादेव मंदिर भावनगर - Gautameshwar Mahadev Temple Bhavnagar

गौतमेश्वर महादेव मंदिर भावनगर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर का संबंध गौतम ऋषि और अहिल्या माता से रहा है। मंदिर की स्थापना उन्हीं के द्वारा की गई है। यहां पर विराजमान शिवलिंग स्वयंभू है अर्थात शिवलिंग स्वयं उत्पन्न हुआ है और गौतम ऋषि यहां पर शिवलिंग की पूजा पाठ किया करते थे। यह जगह नेचर लवर लोगों को बहुत पसंद आएगी। यह जगह भावनगर में सिहोर में स्थित है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। चारों तरफ आपको प्राकृतिक वातावरण देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको ऊंचे ऊंचे पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत ही आकर्षक है। 

यहां पर अगर आप मानसून के समय घूमने के लिए आएंगे, तो आपको बहुत मजा आएगा। यहां पर आपको गौतमेश्वर डैम देखने के लिए मिलता है, जो मंदिर के पीछे पहाड़ों में बना हुआ है। यहां पर आपको झरना भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर लगता है। यह मंदिर बहुत ही अच्छी तरह से बना हुआ है। आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आपको गुफा देखने के लिए मिलती है, जिसके अंदर शिवलिंग विराजमान है। शिवलिंग देखने में बहुत सुंदर है। यहां पर नंदी भगवान की प्रतिमा के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। 


ब्रह्मकुंड भावनगर - Brahmakund Bhavnagar

ब्रह्मकुंड भावनगर का एक मुख्य ऐतिहासिक स्थल है। यह कुंड धार्मिक रूप से भी प्रसिद्ध है। यह कुंड भावनगर में सिहोर में स्थित है। इस कुंड का निर्माण चालूक्य राजा जयसिम्हा सिद्ध राज वत्स ने करवाया था। यह कुंड बहुत सुंदर है। इस कुंड में सीढ़ियां बनी हुई है। बरसात में यह कुंड पानी से पूरी तरह भर जाता है और बहुत सुंदर दिखता है। 

इस कुंड के बारे में कहा जाता है कि राजा को त्वचा संबंधी कोई बीमारी हुई थी, जिससे उन्हें निजात नहीं मिल रहा था। इस कुंड के पानी से उन्हें निजात मिला। इस कुंड के पानी में चमत्कारी गुण है। यहां पर आपको आकर अच्छा लगेगा। यहां पर आपको मंदिर भी देखने के लिए मिलता है, जो शंकर जी को समर्पित है। यहां आप घूमने के लिए आ सकते हैं। 


हनुमान धारा मंदिर भावनगर - Hanuman Dhara Mandir Bhavnagar

हनुमान धारा मंदिर भावनगर में सिहोर में स्थित एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर में जाने के लिए सीढ़ियां हैं। मंदिर में हनुमान जी की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको शनि भगवान जी के भी दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है। 


जैन मंदिर सोना गढ़ भावनगर - Jain Temple Sona Garh Bhavnagar

जैन मंदिर भावनगर के सोनागढ़ का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और बहुत सुंदर है। यह मंदिर भावनगर राजकोट हाईवे सड़क पर सोनागढ़ में स्थित है। यह मंदिर मुख्य सड़क पर स्थित है। यहां पर आपको बहुत सारे जैन मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको भगवान आदिनाथ, भगवान शांतिनाथ, भगवान सीमंधर मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। इसके अलावा आपको यहां भगवान शांतिनाथ, भगवान आदिनाथ जी की प्रतिमा भी देखने के लिए मिलती है। यहां भगवान बाहुबली की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह वर्ल्ड की सबसे ऊंची प्रतिमा मे से एक है। आप यहां पर आकर दर्शन कर सकते हैं। यहां पर ठहरने के लिए धर्मशाला और खाने के लिए भोजशाला उपलब्ध है। यहां पर सात्विक खाना दिया जाता है और यहां पर दर्शन करने के लिए सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। यहां पर म्यूजियम भी बना हुआ है। आप यहां घूमने के लिए आ सकते हैं। 


सांढीडा महादेव मंदिर भावनगर - Sandhida Mahadev Temple Bhavnagar

सांढीडा महादेव मंदिर भावनगर जिले का प्रसिद्ध मंदिर है। यह  मंदिर भावनगर जिले में सांढीडा गांव में स्थित है। यहां पर आपको महादेव का मंदिर देखने के लिए मिलता है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है, कि मंदिर में विराजमान शिवलिंग की स्थापना भगवान श्री कृष्ण के द्वारा की गई थी। यहां पर सांढीडा के पेड़े भी प्रसिद्ध है। आप यहां पर आकर भगवान शिव के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर शिवलिंग के साथ नाग देवता की प्रतिमा भी देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही सुंदर लगती है। 

यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आपको एक छोटा सा कुंड देखने के लिए मिलता है। इस कुंड के चारों तरफ सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर नंदी भगवान की प्रतिमा भी विराजमान है। आप यहां पर शिव भगवान के दर्शन करने के लिए आ सकते हैं। 


पब्लिक गार्डन भावनगर - Public Garden Bhavnagar

पब्लिक गार्डन भावनगर में घूमने वाली एक मुख्य जगह है। यह गार्डन मुख्य भावनगर शहर में स्थित है। यह गार्डन बहुत सुंदर है और हरा भरा है। गार्डन में चारों तरफ पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर है। यहां पर झूले भी लगे हुए हैं। आप यहां पर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह गार्डन जशोनाथ चौक में स्थित है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। 


जशोनाथ मंदिर भावनगर - Jashonath Temple Bhavnagar

जशोनाथ महादेव मंदिर भावनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर भावनगर शहर के बीचोंबीच स्थित है। इस मंदिर की स्थापना महाराजा तखत सिंह जी ने की थी। यह मंदिर जसोनाथ चौक में स्थित है। यह मंदिर काशी विश्वनाथ मंदिर के समान बनाया गया है और बहुत सुंदर लगता है। मंदिर का शिखर बहुत ही आकर्षक है। मंदिर के अंदर गर्भ गृह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं और नाग देवता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। आप यहां घूमने के लिए आ सकते हैं। यह भावनगर की सबसे अच्छी जगह है। 


अक्षरवाड़ी मंदिर भावनगर - Aksharwadi Temple Bhavnagar

अक्षरवाड़ी मंदिर भावनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर भगवान स्वामीनारायण को समर्पित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर की दीवारों में, छतों में बहुत ही सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर के बाहर बड़ा सा गार्डन देखने के लिए मिलता है। मंदिर में ठहरने के लिए व्यवस्था उपलब्ध है। यहां पर खाने के लिए भी बहुत ही स्वादिष्ट खाना मिलता है। यहां पर सात्विक फूड दिया जाता है। 

यह मंदिर भावनगर में वाघवाड़ी रोड पर स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर आपको श्री घनश्याम महाराज, भगवान श्री स्वामीनारायण, गुनातीतानंद स्वामी जी के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर श्री हरीकृष्ण महाराज, श्री कृष्ण श्री राधा जी के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है। यह भावनगर में घूमने वाली जगह है। 


भावनगर जिले के अन्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल - Famous Tourist Places in Bhavnagar District

महिला बाग भावनगर
कूड़ा बीच भावनगर 
बजरंगदास बापा मंदिर बगदाना भावनगर 
तलजा बौद्ध गुफाएं भावनगर 
महुवा भवानी मंदिर और बीच भावनगर 
पालीताणा बांध भावनगर
रवेची माता मंदिर एयरपोर्ट रोड भावनगर
घोघा बीच भावनगर 
अलंग शिप ब्रेकिंग यार्ड भावनगर 
लखंका बांध भावनगर
अंकलेश्वर महादेव मंदिर अकवाड़ा भावनगर
अकवाड़ा झील और पार्क भावनगर
फुलसरिया हनुमान मंदिर भावनगर
श्री वनकिया हनुमान आश्रम अम्बाला भावनगर
गुणोदय तीर्थ धाम सोनागढ़ भावनगर 
धावड़ी माता मंदिर कोलियक बीच भावनगर 
रूवापुरी मंदिर जूना भावनगर
सरदार सर्कल भावनगर
श्री खोडियार माँ मंदिर तर्शीनगढ़ सिहोर भावनगर
गुरु कहान आर्ट म्यूजियम सोनगढ़ भावनगर



जूनागढ़ के पर्यटन स्थल
भरूच के पर्यटन स्थल
सूरत के पर्यटन स्थल
वलसाड के पर्यटन स्थल
राजकोट के पर्यटन स्थल
अहमदाबाद के पर्यटन स्थल

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।