Jamtara Bridge, Jabalpur / जमतरा ब्रिज, जबलपुर

Jamtara Bridge, Jabalpur

जमतरा ब्रिज, जबलपुर

Jamtara Bridge, Jabalpur
जमतरा ब्रिज बहुत खूबसूरत ब्रिज है। यह एक पुराना नेरो गेज पुल है जिसमें पुराने समय में रेलगाडी गुजरती थी। यह ब्रिज नर्मदा नदी पर बना है इस ब्रिज से आप नर्मदा नदी का विहगम दृश्य देख सकते है। 
Jamtara Bridge, Jabalpur

यह ब्रिज मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर में स्थित है। यह ब्रिज जबलपुर रेल्वे स्टेशन से 10 से 15 किमी की दूरी पर होगा। यह पर आप अपनी गाडी से पहुॅच सकते है। यहां पर किसी प्रकार की बस या आटो की सुविधा नहीं है। यह ब्रिज जबलपुर की गौर से 5 से 6 किमी की दूरी पर स्थित है। आप यहां पर गूगल मैप से भी पहुॅच सकते है। यहां तक पहुॅचने वाले रास्ते में बहुत सारे मोड़ पडते हैं जहां पर आपको गाडी संभाल कर चलना होता है। पुल के करीब के रास्ते में रोड खराब है गटटी डली हुई है। 
Jamtara Bridge, Jabalpur
Jamtara Bridge
आप जब यहां पर पहुॅचते है तो आप ब्रिज के उपर जा सकते है या फिर ब्रिज के नीचे घाट पर जा सकते है। जहाँ पर नर्मदा नदी बहती है, दोनों ही स्थान सुंदर हैं। आप घाट पर जाकर नहा सकते है पिकनिक मना सकते है। अपना समय आंनद से बिता सकते है और ब्रिज के उपर से आपको नर्मदा नदी का विहगम दृश्य दिखाई देता है आप यहां पर कुछ समय बैठाकर ये दृश्य का आंनद ले सकते है। यहां पर गौर नदी का नर्मदा नदी से संगम हुआ है। जो बहुत खूबसूरत है। 
Jamtara Bridge, Jabalpur
Jamtara Bridge
यह पुल नर्मदा नदी पर बना एक पुराना नैरो गेज पुल है इस पुल का निर्माण 1927 में हुआ था। यह पुल लोहे से बना हुआ है। इस पुल से पुराने समय में रेलगाडी निकलती थी, यहां से गुजरने वाली रेलगाडी जबलुपर से घंसौर, नैनपुर, बालाघाट तक आपको लेकर जाती है।  अब यहां पर नया पुल बना गया है, जिसमें से रेलगाडी गुजरती है।कुछ टिप्स आपके लिए:-1. यहां पर आपकी कार भी असानी से आ जाती है मगर मैं आपको सलाह दूगी कि आप यहां पर अपनी 2 व्हीलर से जाये।2. यहां पर ब्रिज के पास आप अपनी गाडी बीच में खडी न करें क्योकि यहां पर गाडीयों निकलती रहती है।3. आप अपना समान गाडी पर न छोडो क्योकि यहां पर समान चोरी हो सकता है।4. यहां पर ब्रिज के दोनों ओर रेलिंग लगी हुई है। मगर आप सावधान रहे।5. यहां पर बहुत कम भीड होती है इसलिए आप ग्रुप में जाये तो वो अच्छा होगा। आप अपने दोस्तों और फैमिली वालों के साथ जा सकते है। 

Veerangana Durgawati Wildlife Sanctuary / रानी दुर्गावती वन्य जीव अभ्यारण्य

रानी दुर्गावती वन्य जीव अभ्यारण्य 

Veerangana Durgawati Wildlife Sanctuary



दमोह जिले का रानी दुर्गावती वन्य जीव अभ्यारण्य बहुत खूबसूरत है। यह पर आप प्रकृति का खूबसूरत दृश्य देख सकते है। 


Veerangana Durgawati Wildlife Sanctuary
Damoh


यह अभ्यारण्य मध्यप्रदेश के दमोह जिले के जबेरा तहसील के सिंग्रामपुर गांव में स्थित है। सिंग्रामपुर जबलपुर दमोह हाईवे रोड में पडता है। यह पर आपको रोड अच्छी मिलेगी। इस अभ्यारण्य में आपको एक साथ सभी प्रकार के दर्शनीय स्थल के दर्शन करने मिल जाएगें । इस वन्यजीव अभ्यारण्य में चारों तरफ हरियाली एवं खूबसूरत पहाडियों का दृश्य का आपको देखने मिलेगा। हम लोग इस जगह पर दो बार जा चुके है मगर अभी तक यह कि सभी जगह नहीं घूम पाए है। यह पर अगर आप बरसात के समय जायेगें तो आपको बहुत खूबसूरत नजारे देखने को मिलेगें। बरसात में चारों तरफ इतनी हरियाली होती है कि आपका दिल वापस आने को नहीं करेगा। बरसात में आप जबलपुर हाईवे रोड से अभ्यारण्य का खूबसूरत नजारे का लुप्त उठा सकते है। यह पर बरसात में हरियाली बहुत रहती है और छोटे छोटे नाले बन जाते है जो बहुत अच्छे लगते है देखने में। यह पर आपको खूबसूरत जंगल के अलावा जंगली जानवर भी देखने मिलेगें। 


Veerangana Durgawati Wildlife Sanctuary
Damoh

हम लोगों को यह पर हिरन देखने मिलें थे और बंदर तो हर कही हम देखने मिल जाता है। आप अभ्यारण्य का छोटा चक्कर या बडा चक्कर लगा सकते है। हम लोगों ने छोटा चक्कर लगाया था। हम लोगों एक साॅप दिख था जो बहुत मोटा था। इस अभ्यारण्य में आपके वाहन के लिए एक पर्ची कटती है हमारी स्कूटी थी जब हम लोग गए थे तब 60 रू की थी। यह पर्ची आपकी वन विभाग कार्यालय से कटती है। यह कार्यालय आपको अभ्यारण्य में ही मिल जाएगी। वहीं पर्ची दिखाकर आप अभ्यारण्य की अन्य दर्शनीय स्थल भी देख सकते है। यह पर आपके घूमने के लिए सिगौंरगढ का किला, निदान कुंड एवं जलप्रपात, नजारा व्यू पाइंट, खूबसूरत तालाब, वाॅच टाॅवर, दानीताल तालाब, भैसाघाट और भी बहुत खूबसूरत दर्शनीय स्थल आपको यहां पर देखने मिल जाएगे। यह पर आपको आने के लिए पक्की सडक मिल जाएगी। जहां पर आप अपनी गाडी लेकर जा सकते है। 

Pachmarhi Tourist Place

Pachmarhi Tourist Place
पचमढ़ी के दर्शनीय स्थल

Pachmarhi Tourist Place

पचमढ़ी में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। जिनमें कुछ जगहें धार्मिक है और कुछ जगहें प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है इस ब्लाॅग पोस्ट में मैने पचमढ़ी की जिन जगह में घूमा है वहां के बारे में जानकारी मै आपको दूगीं ।

Pachmarhi Tourist Place
Pachmarhi


1. पांडव गुॅफा (Pandav Caves)

यह पचमढ़ी शहर से के बहुत करीब पडता है यह पर आप जाना चाहे तो पैदल भी जा सकते है। यह पर एक विशाल पहाड पर पाॅच गुफाए बनी है जो प्राचीन काल की है, इसमें से कुछ गुफाए बंद है और कुछ खुली हुई है। यहां पर एक गार्डन भी है जहां पर तरह तरह की फूल खिले हुए है। यहां पर आपको गार्डन के बाहर खाने पीने के लिए बहुत सारी दुकान मिल जाएगी। इस जगह के बारे में मान्यता है कि यह पर पांडव अपने वनवास के समय यहीं पर रूके थे। 

Pachmarhi Tourist Place
Pandav Caves


2. पचमढ़ी झील (Pachmarhi Lake)

पचमढ़ी शहर से यह जगह बहुत ज्यादा करीब है। यह पर आप पैदल जा सकते है । यह पर विशाल झील है एवं झील के पास ही में गार्डन है। यह पर बोटिग की सुविधा भी है।


3.  चर्च (Pachmarhi Church)

पचमढ़ी में यह चर्च पचमढ़ी झील के थोडा सा आगे है यह पर आप पैदल जा सकते है। इस चर्च की बनावट बहुत खूबसूरत है। उचे उचे मीनार बने हुए है जो बहुत खूबसूरत लगते है। 

Pachmarhi Tourist Place
Pachmarhi Church


4. जटाशंकर मंदिर (Jatashankar Temple)

यह मंदिर भी पचमढ़ी शहर से ज्यादा दूर नहीं है यह मंदिर पचमढ़ी शहर से लगभग 1 किमी की दूरी पर होगा यह पर आप पैदल जाकर शंकर भगवान के दर्शन कर सकते है। यह पर आप पहाडों का खूबसूरत दृश्य देख सकते है। यह पर शंकर जी का मंदिर खाई में स्थित है। यह पर जो व्यू होता है वहां लाजाबाब होता है। 

Pachmarhi Tourist Place
Jatashankar Temple


5. अम्बामाई मंदिर(Amba Mai Pachmarhi)

यह अम्बामाई का मंदिर है यह भी बहुत खूबसूरत और शांत जगह है, यह पर अम्बा माई के साथ साथ बहुत से देवी देवाताओं की प्रतिमाए स्थित है। यह जगह पचमढ़ी शहर से 3 से 4 किमी की दूरी पर होगी। यह  जगह पिपरिया से पचमढ़ी मार्ग में पडती है।


6. बेगम पैलेस (Begum Palace, Pachmarhi)

बेगम पैलेस पचमढ़ी के अम्बामाई मंदिर के पास में स्थित एक प्राचीन स्मारक है जो अब खंडहर में तब्दील हो गया है। यह पर आप दो मंजिला महल देख सकते है। लोगों का कहना है कि यह महल भूतिया है। मगर यह जगह शानदार है। 

Pachmarhi Tourist Place
Begum Palace, Pachmarhi


7. हांडी खो (Handi Khoh Pachmarhi)

हांडी खो पचमढ़ी शहर की खूबसूरत जगह है, यह पर एक खाई है जो 300 फुट गहरी है। यह पर घाटी हांडी का शेप बनाती है इसलिए इस जगह को हांडी कहा जाता है।


8. प्रियदर्शिनी प्वांइट (Priyadarshini Point, Pachmarhi)

यह चैरागढ मंदिर के रास्ते में पडती है, यह बहुत खूबसूरत घाटी है जहां से आप खूबसूरत घाटी, पहाडी एवं हरियाली देख सकते है।  श्रीमती इंदिरा गांधी के बचपन का नाम प्रियदर्शिनी था और उन्हें यह जगह बहुत पंसद थी इसलिए इस जगह का नाम प्रियदर्शिनी प्वांइट रखा गया। 


Pachmarhi Tourist Place
Priyadarshini Point, Pachmarhi



9. बडा महादेव मंदिर (Bada Mahadev, Pachmarhi)

इस मंदिर में एक गुॅफा है जहा पर पानी रिसता रहता है। यह का वातावरण बहुत शांत होता है। यह पर आपको बहुत सारे बंदर देखने मिल जाएगे ।


10. गुप्त महादेव मंदिर (Gupt Mahadev Temple, Pachmarhi )

यह मंदिर बडे महादेव मंदिर के आगे पडता है । यह पर एक संकरी गुफा है जहां पर शंकर जी का शिवलिंग विराजमान है। यह पर आप दर्शन कर सकते है। इस मंदिर से आगे जाने पर आपको चैरागढ महादेव का मंदिर पडता है। 

Pachmarhi Tourist Place
Gupt Mahadev Temple, Pachmarhi


11. राजेन्द्र गिरि सनसेट प्वांइट (Rajendra Giri sun set point)

इस जगह में आप खूबसूरत सन सेट का व्यू दिख सकते है एवं यह पर एक गार्डन भी है जहां पर डाॅ राजेन्द्र प्रसाद ने एक वट वृक्ष लगाया था। वहां देखा जा सकता है इसके अलावा यह पर आपके खाने पीने के लिए बहुत सारी दुकाने मिल जाएगी।


12. सूर्य नमस्कार पार्क (Surya Namaskar Point)

सूर्य नमस्कार पार्क एक योगासन पार्क है। यह मध्यप्रदेश का पहला योगासन पार्क है। यह पर आप योग कर सकते है। यह पर आपको एक्युप्रेशर ट्रेक मिल जाएगा जहां पर आप चला सकते है। 

Pachmarhi Tourist Place
Surya Namaskar Point

दोस्तों ये जगह मेरे द्वारा घूमी गई है पचमढी की बाकी जगह हम दो दिन के यात्रा मेें नहीं घूम सके।


Pachmarhi Yatra (Pachmarhi, Madhya Pradesh)


Pachmarhi Yatra 


पचमढ़ी यात्रा

Part-2

Pachmarhi view

पचमढ़ी बहुत खूबसूरत है गर्मी के मौसम में भी पचमढ़ी में हरा भरा होता है। हम लोग पचमढ़ी पहुॅच गए थे अब हम लोग पचमढ़ी में घूमना स्टार्ट करना था। हम लोग का दो दिन का प्लान था। इसलिए हम लोग के पास समय कम था। हम लोगों ने एक आटो बुक कराया आटो वाला हम लोगों से 500 से एक व्याक्ति का मांग रहा था। मगर आप बरगेन जरूर करें हम लोगों ने भी किया था। आप ग्रुप में जा रहे है तो ये आपके लिए अच्छा फायदेमंद होता है पैसे कम लगते है बराबरी से पैसे सभी लोगों मे बंट जाते है। मगर आप एक या दो लोग होते है तो पैसे ज्यादा खर्च होते है। हम लोग दो लोग थे,  हम लोगों के ज्यादा पैसे खर्च हो रहे थे। मगर पचमढ़ी में हमे एक अंकल मिल गए जिससे हमारे पैसे कम खर्च हुए। अगर आपको ऐसा कोई मिले या आटो वाला आपसे कहे तो कोई ग्रुप के साथ वो आपको लेकर चला रहा है तो आप जरूर उसके साथ जा सकते है आपके पैसे बहुत कम खर्च होते है ऐसा करने से। 
Pachmarhi view


पचमढ़ी में बहुत से यात्रा (जिप्सी वाले) कराने वाले बाइक में घूमते रहते है वो आपको ऐसा आफर देते है आप उनके साथ जा सकते है क्योकि आपका उसमें पैसा बहुत कम खर्च होता है।

Pachmarhi view

Pachmarhi

इसके बाद हमारा पचमढ़ी घूमने का सफर शुरू हुआ। हम लोगों को पहले जिप्सी वाले ने पांडव गुफा लेकर गया। फिर हांडी खो, प्रियदर्शिनी प्वाइंट, बडा महादेव, गुप्त महादेव (यह पर चैरागढ मंदिर भी पडता है। मगर इस वाली यात्रा में हम लोग यह पर नहीं गए थे। ), ग्रीन वैली ( रास्ते में एक जगह है जहां से पचमढ़ी की हरी हरी वदियों का को देख सकते है। ), राजेन्द्रगिरि उघान एवं सनसेट प्वाइट, सूर्यनमस्कार पार्क (मध्यप्रदेश का पहला योगासन पार्क), जटाशंकर इन सभी जगह में हम एक दिन में घूम लिए थे। हम लोगों के इन जगहों में घूमते घूमते शाम हो गई थी । चैरागढ महादेव जाते हुए आपका रास्ता बहुत मस्त पडता है आपको बहुत अच्छा लगेगा इन रास्तों में जाकर आपको मजा आ जाएगा। शाम को हम लोगों ने अपना रूकने का व्यवस्था किया हमने रूकने के लिए होटल बुक किया यहां पर आपको होटल आराम से कम कीमत में मिल जाएगा। उसके बाद थोडा आराम करके हम लोगों ने रेस्टोरेंट में जाकर खाना खाया । खाना आपको सस्ती दरों में मिल जाएगा। थाली स्टार्ट होती है 80 रू में फिर आपके उपर आप जो भी खाना चाहों फिर हम लोगों ने रात में थोडा पचमढ़ी  घूमा । पचमढ़ी में बस स्टेड के पास ही में बडा से तिरंगा झंडा है वहां पर आटीफिशयल झरना बना है और बैठने के लिए जगह बनाया गया है यहां पर बहुत से लोग आते है और यहां पर अपनी शाम बिताना पंसद करते है। हम लोग को भी यह बहुत पंसद आया इसके साथ ही हमारा पहला दिन पचमढ़ी का खत्म हुआ।
दूसरा दिन हमारा कुछ खास नहीं था इसलिए हमनें अपने दूसरा दिन का प्लान नहीं बताया है।


आपके लिए कुछ टिप


1. आप खाने व पीने का पानी जरूर अपने साथ रखें।
2. पचमढ़ी की कुछ जगहों में आपका मोबाइल टाॅवर नहीं मिलेगा।
3. पचमढ़ी में आप शूज का उपयोग करेगें तो अच्छा होगा ।
4. दर्शनीय स्थल में गंदगी न करें।
5. पचमढ़ी की वदियों का ढेर सारा आंनद उठाओ ।



Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)

Pachmarhi Yatra

पचमढ़ी यात्रा

Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)

पचमढ़ी बहुत खूबसूरत हिल स्टेशन है जो मध्यप्रदेश के होंशगाबाद जिले में स्थित है। पचमढ़ी को सतपुडा की रानी कहा जाता है। अगर आप बरसात में पचमढ़ी जा रहे है तो लगता है कि हम लोग स्वर्ग आ गया है हर जगह पर आपको झरने और हरियाली देखने मिलेगी। अब मै आपको अपनी यात्रा के बारे में बताती हूॅ।
Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)
Pachmarhi view


मेरा पचमढ़ी के घूमने का प्लान दो दिन था। मगर मै आपको सलाह दूॅगी कि आप दो दिन मै पचमढ़ी की वदियों का आनंद नही ले पायेगें इसलिए अपना पचमढ़ी यात्रा का प्लान आप दो या दो से ज्यादा दिनों का तैयार करें। बाकि आप अपनी सुविधा अनुसार प्लान कर सकते है। हम लोग गर्मी के समय गये थे। मै जबलपुर से हूॅ इसलिए हम लोगों ने जबलपुर के मदन महल स्टेशन से पचमढी जाने के लिए विध्याचल एक्सप्रेस रेलगाडी का टिकट कराया था। यह रेलगाडी का किराया 70 रू पर व्यक्ति था। यह रेलगाडी हमें जबलपुर से पिपरिया पहुॅचा देगी। आपको जबलपुर स्टेशन से सुबह के समय बहुत से रेलगाडी मिल जायेगी पचमढ़ी जाने के लिए । जबलपुर से पिपरिया के बीच पडने वाले स्टेशन भेडाघाट भिटौनी बलरामपुर श्रीधाम करकबेल बेलखेडा नरसिंहपुर करेली बहोनी गाडरावाडा सालीचैका बनखेडी उसके बाद हमारा हमारा स्टेशन पिपरिया पडा। 
Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)
Pachmarhi


पिपरिया स्टेशन में उतरकर आपको पचमढ़ी जाने के लिए बस या जीप करना होता है आप अपनी सुविधा के अनुसार जो लेना चाहते है वो ले सकते है। अगर आप का प्लेन 1 दिन का है पचमढ़ी  घूमने का तो आप यहां से गाडी बुक करा कर जा सकते है मगर आप लोग जीप वाले को किराया कम जरूर कराना । जीप वाला आपको बहुत ज्यादा रेट बोलता है , मगर आप बरगेन जरूर करना। हम लोगों को बस से जाना था। इसलिए हम लोगों बस मे बैठा गए। 

Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)
Pachmarhi view

बस का किराया एक व्यक्ति का 60 रू था। उसके बाद बस का सफर शुरू हुआ । पिपरिया के शुरूवात में आपको सुखे हुए पेड दिखने मिलेगा। मगर जैसे जैसे पहाडी इलाका आयेगा आपको हरियाली एवं पहाडी दिखने लगेगा। दोस्तों आपको यहां पर घुमावदार रास्ते का मजा भी लेने मिल जाएगा। इसके साथ साथ गहरी गहरी घाटियों भी दिखने मिलेगी। यहां पर बस में आप जाते है तो बस से ये नजारे का आंनद ले सकते है। यहां पर आम के पेड बहुत ज्यादा है जैसे ही जंगल चालू होता है आपको आम के पेड रोड में ही दिखाई देने लगगे अगर आप स्वयं के वाहन में होगे तो शायद आम तोड सकते है और जो नजारे है उनको और अच्छी तरह से लुप्त उठा सकते है मगर हम लोग बस में थे तो कुछ नहीं हो सकता था। आप बस से देनवा नदी का थोडा सा व्यू देख सकते है बहुत खूबसूरत नजारा होता है देनवा नदी का इसके अलावा आप जैसे जैेसे पहाडी इलाके में जाते है आपको हरियाली ज्यादा दिखने लगेगी। आपको रोड में बोर्ड दिखने मिलेगा जिसमें अलग अलग रास्ते के संकेत देखने मिलेगा। यदि आप अपने वाहन से पचमढी जा रहें है तो गाडी को पचमढी के रास्ते में संभाल के चलाए क्योकि यहां पर जो मोड है वहां बहुत ही खतरानाक है। यहां पर नजर हटी दुर्घटना खटी जैसा है। यहां पर पहाडी इलाके से नजारे बहुत ही शानदार है। जो आपको खिडकी से बाहर ही दिखाने को मजबूर करेगा। नजारों का आंनद लेते हुए हम पहॅुचे पचमढी 
Pachmarhi Yatra (Pachmarhi. Madhya Pradesh)


Najara View Point, Damoh (नाजारा व्यू पांइट, दमोह, मध्यप्रदेश)

Najara View Point, Damoh, Madhya Pradesh



नाजारा व्यू पांइट, दमोह, मध्यप्रदेश

Najara View Point, Damoh (नाजारा व्यू पांइट, दमोह, मध्यप्रदेश)

नाजारा व्यू पांइट दमोह शहर की खूबसूरत जगह है इस स्थल से खडे होकर आप पूरे जबेरा तहसील का और रानी दुर्गावती वन्य जीव अभ्यारण्य का खूबसूरत व्यू देख सकते है। अगर आपको प्राकृतिक सुंदरता को देखने का शौक है तो यह जगह आप के लिए बनाया है भगवान ने। आप इस जगह को छोटा कश्मीर भी कहा सकते है जो बहुत खूबसूरत है। 

Najara View Point, Damoh (नाजारा व्यू पांइट, दमोह, मध्यप्रदेश)
Nazara view point, Damoh

नाजारा व्यू पांइट दमोह शहर के जबेरा तहसील के सिंग्रामपुर गांव के पास ही में स्थित है। आपको यह पर आने के लिए जबलपुर दमोह हाईवे रोड से आना होगा। यह तक आने के लिए आपको रास्ता अच्छा मिलेगा। आप सिंग्रामपुर पहुॅच कर रानी दुर्गावती अभ्यारण्य के अंदर भैसाघाट वाले रोड से इस जगह तक आ सकते है। भैसाघाट के उपर आपको वन विभाग का कार्यालय मिल जाएगा जहां पर आपको पहले पर्ची कटानी पडती है फिर आप रानी दुर्गावती अभ्यारण्य में जितने भी जगह है घूम सकते है। यह पर्ची स्कूटी के लिए 60 रू की होती है। आपको वन विभाग कार्यालय से नजारा व्यू पांइट जाने के लिए 6 से 7 किमी की गाडी चलाकर जाना होता है। यह रास्ता पूरा कच्चा होता है मगर आपकी गाडी आराम से चली जाएगी। यह पर 4 व्हीलर भी आराम से चली जाती है। यह पूरा रास्ता जंगल का है। आपको यह पर चारों तरफ हरे भरे पेड पौधे देखने मिल जाएगा। 

Najara View Point, Damoh (नाजारा व्यू पांइट, दमोह, मध्यप्रदेश)
Nazara view point, Damoh

आप इस जगह पर जब पहुॅच जाते है। यह पर पहाडी के छोरे में एक टाॅवर बना है जहां से खडे होकर आप यहां का सुंदर नजारे के आंनद ले सकते है। आपके सामने बहुत ज्यादा मन को रोमाचित करना वाला दृश्य होता है। यह पर प्राकृतिक  सुंदरता देखने मिलती है। चारों तरफ की वदियों को देखकर ऐसा लगता है कि आप जम्मू कश्मीर आ गये हो। यह पर हवाओं के थपेडे आपको पडते रहते है जो बहुत ज्यादा अच्छे लगते है। आप अगर फोटोग्राफी करना चाहते है तो उसके लिए बहुत अच्छी जगह है। 

Najara View Point, Damoh
Nazara view point, Damoh

अगर आप यह पर बरसात के समय आते है तो आपको ऐसा लगेगा कि आप जन्नत आ गये है चारों तरफ हरियाली होती है और आपको लगता है कि आप बादल के बहुत करीब है। यह से रानी दुर्गावती अभ्यारण्य का बहुत खूबसूरत नजारा दिखता है, इस जगह से सूर्यास्त का नजारा बहुत अच्छा होता है।


Najara View Point, Damoh
Nazara view point, Damoh

इस स्थल तक पहुॅचने के लिए चलाना नहीं पडता है आपकी गाडी नजारा व्यू पांइट तक चली जाती है। हमारा यह पर बहुत अच्छा अनुभव रहा है यह पर कुछ लोगों पिकनिक मना रहे थे उन लोग चूल्हे में खाना पीना बना रहे। आप यह पर आकर बहुत ज्यादा आंनद ले सकते है।
कुछ टिप्स आपके लिए आप
1. अपने लिए खाने एवं पीने का पानी स्वयं लाये क्योकि यहां पर आपको शाॅप नहीं मिलेगी।
2. इस जगह मे आप आसानी से पहुॅच सकते है आप बच्चे या बूढे व्यक्ति भी आ सकते है। क्योकि यह पर पूरा सफर आपका गाडी में होता है।
3. यहां पर जो टाॅवर बना है उसके उपर चढाकर फोटो न खीचये।
4. दर्शनीय स्थलों में गंदगी न करें। आप पाॅलीथिन या पानी की बोतल लेकर आते है उसे डस्टबिन में डाले।
5. यह पर आप पिकनिक मानने आ सकते है आप अपने फैमिली और फेडस या कपल्स भी आ सकते है। अच्छी जगह है।
6. यह पर सिक्योरिटी गार्ड नहीं होता है इसलिए आप अपनी सुरक्षा जरूर ध्यान दे।
7. यह पर आपको किसी भी प्रकार की व्यवस्था नहीं मिलेगी न ही शाॅप है और न ही बाॅथरूम
8. यह बहुत ज्यादा खूबसूरत जगह है इसका खूबसूरती का आंनद ले।

Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh

Nidan Kund and Waterfall, Damoh


दमोह जिले का निदान कुंड एवं जलप्रपात

 

Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh        

मै आपको दमोह जिले के खूबसूरत जलप्रपात के बारे बता रही हूॅ। यह जलप्रपात आपको दमोह के सिंग्रामपुर गांव में दिखने मिलेगा। सिंग्रामपुर जबलपुर दमोह हाईवे रोड में पडता है। इस झरने तक पहुॅचने के लिए आपको रानी दुर्गावती अभ्यारण्य से होकर जाना होता है और आगे का रास्ता भैसाघाट का होता है। भैसाघाट में आप खूबसूरत पहाड, घाटी और बंदर देखने मिल जाएगा। 
Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh
Nidan waterfall, Damoh


रानी दुर्गावती अभ्यारण्य  की यह जगह बहुत खूबसूरत है आपको यह पर आकर मजा आ जायेगा। यह पर इतनी खूबसूरत चटटाने है कि बस चटटानों को देखते रहों। यह जगह देखने के लिए आपको भैसाघाट से उपर आना होता है। यहां पर आपको वन विभाग का कार्यालय मिल जाएगा। कार्यालय में आपको अपनी गाडी का टिकट लेने होता है हम लोगों का यह 60 रू लगा था। हम लोगों की स्कूटी थी।
इस कार्यालय से 1 किमी की दूरी पर निदान कुंड एवं जलप्रपात स्थित है। आप अपनी गाडी पार्क करके निदान जलप्रपात देख सकते है। यह पर आपको निदान जलप्रपात का खूबसूरत नजारा देखने मिलेगा साथ ही चटटान से बहता हुआ पानी ऐसा लगता है मानो चटटान के उपर दूध बह रह है। चटटान में बिल्कुल सफेद पानी दिखता है। 


Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh

अगर आप निदान जलप्रपात एवं कुंड (Nidan Kund and Waterfall)को पास से देखने चाहते है तो आपको पहाडी रास्ते से चलाना होगा यह पर आपके आने जाने के लिए कच्ची सीढियो का निर्माण किया गया आप असानी से जा सकते है मगर छोटे बच्चे एवं बूढे लोगो को यह पर चलने मे जरूर परेशानी हो सकती है। क्योकि जो रास्ता बनाया गया है टेढा मेढा है कही उबाड खाबड है इसलिए आपको यह पर दिक्कत हो सकती है। आप इस रास्ते चलते हुए चटटानो का दृश्य देख सकते है जो बहुत खूबसूरत एवं अनोखा है। आप इस रास्ते मे झरने की आवाज भी आने लगेगी मगर आपको झरना रास्ते से नहीं दिखाई देगा। उसके लिए आपको पूरा नीचे तक आना होगा तब ही आपको झरना दिखागा। आप संभलकर इस झरने और निदान कुंड तक पहुॅच सकते है। यह पर आपको बहुत ही खूबसूरत निदान कुंड  देखने मिलगा जिसमें आप नहा भी सकते है निदान कुंड से आप आगे आएगे तो आपको निदान जलप्रपात मिलेगा। यह जलप्रपात चटटानों के बीच से बहता पानी इतना खूबसूरत लगता है कि इसकी बारे मे बताना मुश्किल हो सकता है। यह कि सुंदरता आपका मन मोह लेती है यह पर आकर आपको बहुत अच्छा लगता है। यह पर चटटानों की बनावट कुछ अलग तरह की है जो आप यह पर बैठाकर देख सकते है। 

Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh


आप यह पर जाए तो संभलकर जाए क्योकि चटटानों मे फिसलन बहुत ज्यादा होती है आप पानी वाली जगह में खडे भी नहीं हो सकते है और जलप्रपात के पास जाते है जैसे हम लोग गए थे सेल्फी के लिए तो संभलकर जाए क्योकि यह जगह एक दुर्घाटना संभवत क्षेत्र है,  कभी भी दुर्घाटना हो सकती है। इसके अलावा बरिश के समय में यह पर आपको और ज्यादा ध्यान रखना चहिए क्योकि पानी कभी भी बढा सकता है। झरने में इसलिए सुरक्षित रहे। 

Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh

इसके अलावा हमारा एक अनुभव और यह कुछ लोग पार्टी कर कर रहे थे कुछ लडके लोग और वो आते जाते लोग गलत कमेंट पास कर रहे थे। यह पर बहुत सारे लोग आते है। यह पर शायर कोई उच्च अधिकारी भी आया था। उन लडकों ने उच्च आधिकरी को कमेंट पास किया होगा और वहां पर तुंरत पुलिस आ गई थी। उन लोगों की रिपोर्ट हो गई थी। 


Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh
Nidan waterfall

यहां पर वैसे गार्ड भी रहता है मगर वो क्या कर सकता है। यह पर आपको खुद ही सुरक्षित रहना पडेगा और झरने के आसपास भी आप अपना ध्यान स्वयं रखे।
यह पर आपके खाने पीने की दुकाने नहीं मिलेगी इसलिए आप अपने साथ खाने पीने का सामना साथ लेकर जाए एवं जो भी कचरा हो वो अपने साथ वापस लाये। 


Nidan Kund and Waterfall, Damoh, Madhya Pradesh

कुछ टिप्स आपके लिए आप :-
1. यह पर आप शूज पहन कर आये क्योकि वहां आपको चलने में आरामदायक होगा।
2. अपने लिए खाने एवं पीने का पानी स्वयं लाये क्योकि यहां पर आपको शाॅप नहीं मिलेगी।
3. बच्चे एवं बूढे के लिए यह का पहाडी रास्ता रिस्क हो सकता है इसलिए आप इस बात का जरूर ध्यान दें।
4. चटटानों के पास पानी वाली जगह में फिसलन बहुत होती है इसलिए यह भी ध्यान रखें।
5. सेल्फी के चक्कर में खाई के करीब न जाए क्योकि यह रिस्की हो सकता है।
6. यह पर बहुत से लोग मदिरा पान एवं शराब पीते हुए हम लोगों को दिखें थे इसलिए आप टूरिस्ट पेलैस में यह सब न करें।
7. यह मेरे आपस प्रार्थना है कि इतना अच्छा दर्शनीय स्थल का गंदा न करें अगर आप पाॅलीथिन या पानी की बोतल लेकर आते है उसे डस्टबिन में डाले।
8. यह पर बहुत से लोग अपना वीकेंड मानने आते है किसी को गलत या बुरा कमेंट न करें जिससे आप लोगों को ही परेशानी हो सकती है। यह पर हमने अपना अनुभव शेयर किया
9. इस जगह का आंनद आप अपनी फैमिली , फेडस और कप्लस लोग भी आ सकते है। यह पर हाॅलीडे मेें बहुत भीड रहती है।
10. आप यहां पर जाकर बहुत मजे कर सकते है वही आप करें किसी और का मजा खराब न करें
11. बरसात के समय में यह पर अचानक झरने में पानी बढ सकता है तो आप संभल कर रहें।
यह पर आकर आपको जरूर अच्छा लगेगा आप यहां पर आये हो या आने वाले हो तो हमे जरूर कमेंट कर बताना।