सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Lake लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आप हमारी मदद करना चाहते हैं, तो नीचे दिए लिंक से शॉपिंग कीजिए।

जहाज महल और हिंडोला महल मांडू - Jahaz Mahal and Hindola Mahal Mandu

मांडू का किला (शाही परिसर) :- जहाज महल, हिंडोला महल, जल महल मांडू, मांडू म्यूजियम, तावेली महल,  चंपा बावड़ी,   गदा शाह का महल (Jahaz Mahal, Hindola Mahal, Jal Mahal Mandu, Mandu Museum, Taveli Mahal, Champa Baori, Gada Shah's Palace ) मांडू शहर की सबसे सुंदर और सबसे प्रसिद्ध जगह है - मांडू का किला (शाही परिसर) । यह पर जहाज महल, हिंडोला महल और जल महल है। यह जगह मांडू शहर में स्थित सबसे सुंदर जगह है। यह बहुत बड़ा परिसर है, जहां पर जहाज महल, हिंडोला महल, जल महल तवेली महल, हिंदू बावड़ी, चंपा बावड़ी, और झील देखने के लिए मिलती है। इन इमारतों को बहुत सुंदर तरीके से बनाया हुआ है। इनकी वास्तुकला अद्भुत है और इनकी बनावट भी बहुत आश्चर्यजनक है। यह इमारतें बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। यहां पर घूमने में करीब 1 से 2 घंटा आराम से लग जाता है। अगर आप सभी जगह घूमते हैं। यह लोकेशन बहुत अच्छी है, जहां पर फोटोग्राफी बहुत अच्छी आती है। यहां पर बगीचा है, जिसमें तरह तरह के फूल खिले हुए हैं। यहां पर गधा शाह का महल देखने के लिए मिलता है। हम लोग अपनी मांडू यात्रा में इस जगह पर सबसे अंत में घूमने के लिए गए

दाई का महल और मलिक मुगीध मस्जिद मांडू - Dai's Palace Mandu

मांडू दर्शन :-  मांडू के ऐतिहासिक इमारत - दाई का महल, दाई की छोटी बहन का महल, कारवां सराय, इको पॉइंट, मांडू झील, मलिक मुगीस की मस्जिद ( Dai ka mahal mandu,  Dai ki chhoti bahan ka mahal,  caravan sarai, echo point, Mandu Lake, Malik Mughis Mosque ) मांडू शहर को सिटी ऑफ जॉय के नाम से जाना जाता है। वैसे यह सच में सिटी ऑफ जॉय है। यहां पर बहुत सारे ऐतिहासिक इमारत है। हम लोग भी ऐसे ही ऐतिहासिक इमारतों में घूमने के लिए गए थे। यहां पर ज्यादा भीड़ नहीं रहती है। हम लोग यहां पर दाई का महल, दाई की छोटी बहन का महल, कारवां सराय, इको पॉइंट, मांडू झील, मलिक मुगीस की मस्जिद यह सभी प्राचीन इमारतों को घूमने के लिए गए थे। यहां पर ज्यादा भीड़ भाड़ नहीं था। इसलिए यहां पर बहुत आराम से घूमा जा सकता है। यहां पर सरकार के द्वारा इन इमारतों की सुरक्षा के लिए बाउंड्री वॉल से घेर दिया गया है, ताकि कोई भी यहां पर कब्जा ना करें। यहां पर गांव वाले बच्चे और बकरियां घूमा रही थी। यह जगह खूबसूरत है। आप जब भी मांडू आते हैं, तो इस जगह पर आपको जरूर एक बार आकर घूमना चाहिए।  हम लोग अपनी मांडू की यात्रा में रानी रूपमती महल और

शाहपुरा झील भोपाल - Shahpura Lake Bhopal

शाहपुरा लेक और भगवान ऋषभदेव उद्यान भोपाल  -  Shahpura Lake and Bhagwan Rishabhdev Udyan Bhopal शाहपुरा झील भोपाल शहर की एक सुंदर झील है। शाहपुरा झील के पास  ऋषभदेव  उद्यान भी देखने के लिए मिलता है। यह उद्यान और झील बहुत ही सुंदर लगते हैं। झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है और झील के किनारे  ऋषभदेव  उद्यान बना हुआ है।  ऋषभदेव  उद्यान में बैठने के लिए बहुत सारे चेयर हैं। यहां पर आप आराम से बैठकर झील के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। झील में नौका विहार की भी सुविधा उपलब्ध है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं और चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। शाहपुरा झील मुख्य सड़क पर स्थित है। इसलिए यहां पर पहुंचने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होती है। यहां पर आकर समय बिताना बहुत अच्छा लगता है। इस पार्क में आप निशुल्क प्रवेश कर सकते हैं। यहां पर एंट्री फीस नहीं लगती है। ऋषभदेव पार्क को शाहपुरा पार्क भी कहा जाता है। यह पार्क झील के नाम से भी जाना जाता है।  भगवान ऋषभदेव उद्यान का नाम जैन धर्म के प्रथम तीर्थकार के नाम पर रख गया है।  ऋषभदेव उद्यान में लोग

लाखा बंजारा झील, सागर शहर - Lakha Banjara Lake Sagar

लाखा बंजारा झील  या  सागर का तालाब,  सागर, मध्य प्रदेश -  Lakha Banjara Jheel or Sagar ka talab, Sagar city, madhya pradesh लाखा बंजारा झील सागर जिले का एक प्राचीन तालाब है। लाखा बंजारा झील को सागर झील या सागर का तालाब के नाम से जाना जाता है। सागर जिला लाखा बंजारा झील के किनारे ही बसा हुआ है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है। यह झील  बहुत सुंदर लगती है। इस झील के किनारे बहुत सारे प्राचीन निर्माण, मंदिर और घाट देखने के लिए मिलते हैं। इस झील में आप बोटिंग का मजा भी ले सकते हैं। यहां पर वोट क्लब भी बना हुआ है। इस झील के किनारे गार्डन भी बना हुआ है। यहां पर आपको मछली पकड़ते हुए बहुत सारे लोग भी देखने के लिए मिलते हैं। शाम के समय इस झील का दृश्य बहुत सुंदर रहता है। यहां से सूर्यास्त का दृश्य बहुत सुंदर लगता है।  हम लोग सागर पहुंच गए और सागर पहुंचने के बाद हम लोग सागर की झील देखने के लिए गए। हम लोगों ने सागर की झील के किनारे एक रुम लिया था। यहां पर हम लोग सबसे पहले चकरा घाट घूमने गए। चकरा घाट सागर झील के किनारे बना हुआ एक सुंदर घाट है। यहां पर बहुत सारे प्राचीन मंदिर देखने के लि

धुबेला झील छतरपुर - Dhubela Lake Chhatarpur

धुबेला झील, मऊ सहानिया, छतरपुर -  Dhubela Jheel, Mau sahaniya, Chhatarpur धुबेला झील छतरपुर का एक प्रसिद्ध जगह है। यहां पर आपको एक बहुत बड़ी झील देखने के लिए मिलती है। यह झील बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। यह झील छतरपुर के मऊ सहानिया में स्थित है। यह झील पहाड़ी के किनारे स्थित है। इस झील के किनारे बहुत सारे प्राचीन स्थल देखने के लिए मिल जाते हैं। आप छतरपुर के मऊ सहानिया में बहुत ही आराम से पहुंच सकते हैं। आप यहां पर गाड़ी से या बस से आ सकते हैं। इस जगह पर बहुत सारे प्राचीन स्मारक देखने के लिए मिलते हैं, जिनमे से धुबेला झील भी एक है।  धुबेला झील में घूमने के लिए हम लोग अपनी गाड़ी से आए थे। हम लोग की स्कूटी से इस झील के पास में बने कमलापति समाधि में घूमने के लिए गए थे। इस झील के चारों तरफ पेड़ पौधे लगे हुए हैं। इस झील के एक तरफ ऊंची पहाड़ी देखने के लिए मिलती है। इस पहाड़ी पर गौरैया माता का मंदिर बना हुआ है। इस झील में गौरैया माता के मंदिर के आगे आपको बैठने के लिए एक जगह देखने के लिए मिलती है। यहां पर बैठने के लिए सीमेंटेड चेयर बनाई गई है, जहां से आप झील के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। 

बेनीसागर झील पन्ना - Benisagar Lake Panna

बेनीसागर झील पन्ना - B enisagar Jheel Panna बेनीसागर झील पन्ना शहर की एक सुंदर झील है। यह झील पन्ना शहर के बीचो बीच में स्थित है। यह झील पन्ना शहर में बस स्टैंड के पास में स्थित है। झील के किनारे आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। हम लोग भी इस झील  में घूमने के लिए गए थे।  बेनीसागर झील पन्ना बस स्टैंड के पास ही में स्थित है। हम लोग पन्ना बस स्टैंड के पास ही में होटल बुक किए थे। हम लोग सुबह उठकर पन्ना जिले के दर्शनीय स्थलों को घूमने के लिए निकल गए। सबसे पहले हम लोग बस स्टैंड के पास में स्थित बेनीसागर झील को घूमने गए। बेनीसागर झील वैसे बहुत सुंदर है और यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं। बेनीसागर झील के किनारे बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं। यहां पर आपको हनुमान जी का मंदिर देखने के लिए मिल जाएगा। दुर्गा जी का मंदिर देखने के लिए मिल जाएगा और यहां पर शनि देव जी का मंदिर भी बना हुआ है और झील का दृश्य बहुत सुंदर लगता है।  सबसे पहले हम लोग पन्ना में बेनी सागर झील घूमने के लिए गए। बेनीसागर झील में सबसे पहले हम लोगों को हनुमान मंदिर देखने के लिए मिला। हनुमान मंदिर झील के किनारे

धरम सागर झील पन्ना - Dharam Sagar Pond Panna

धर्म सागर तालाब पन्ना - D haram sagar lake Panna धर्म सागर तालाब पन्ना शहर का एक प्राचीन स्थल है। वैसे इस तालाब को धर्म सागर तालाब या धरम सागर झील भी कहते हैं। धर्म सागर तालाब चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह तालाब बहुत ही सुंदर लगता है। तालाब में सुबह के समय आप सूर्योदय देख सकते हैं, जो बहुत ही मनोरम रहता है। इस तालाब के बीच में मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर से भगवान शिव जी को समर्पित है। इस तालाब के किनारे पर सुंदर गार्डन बना हुआ है। यहां पर बहुत सारे लोग सुबह के समय घूमने के लिए आते हैं और यहां पर एक क्लब भी बना हुआ है। यह एक प्राचीन इमारत बनी हुई है और यह जयपुरी स्टाइल में बनी हुई थी और यह क्लब बना हुआ है या यह मंदिर था। इसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है, क्योंकि जब हम लोग यहां पर गए थे। तब यह बंद था और हम लोग इस पार्क में दीवार को कूदकर आए थे। वैसे इस पार्क में आने का जो सही रास्ता है। वह सब्जी मंडी से होकर आता है, तो आप जब भी यहां पर घूमने के लिए आते हैं। आप सब्जी मंडी के रास्ते होते हुए आएंगे, तो आप धर्म सागर में पहुंच जाएंगे।  हम लोग इस तालाब में अपनी