सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Lake लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

शाहपुरा झील भोपाल - Shahpura Lake Bhopal

शाहपुरा लेक और भगवान ऋषभदेव उद्यान भोपाल  -  Shahpura Lake and Bhagwan Rishabhdev Udyan Bhopal शाहपुरा झील भोपाल शहर की एक सुंदर झील है। शाहपुरा झील के पास  ऋषभदेव  उद्यान भी देखने के लिए मिलता है। यह उद्यान और झील बहुत ही सुंदर लगते हैं। झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है और झील के किनारे  ऋषभदेव  उद्यान बना हुआ है।  ऋषभदेव  उद्यान में बैठने के लिए बहुत सारे चेयर हैं। यहां पर आप आराम से बैठकर झील के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। झील में नौका विहार की भी सुविधा उपलब्ध है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं और चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। शाहपुरा झील मुख्य सड़क पर स्थित है। इसलिए यहां पर पहुंचने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होती है। यहां पर आकर समय बिताना बहुत अच्छा लगता है। इस पार्क में आप निशुल्क प्रवेश कर सकते हैं। यहां पर एंट्री फीस नहीं लगती है। ऋषभदेव पार्क को शाहपुरा पार्क भी कहा जाता है। यह पार्क झील के नाम से भी जाना जाता है।  भगवान ऋषभदेव उद्यान का नाम जैन धर्म के प्रथम तीर्थकार के नाम पर रख गया है।  ऋषभदेव उद्यान में लोग

लाखा बंजारा झील, सागर शहर - Lakha Banjara Lake Sagar

लाखा बंजारा झील  या  सागर का तालाब,  सागर, मध्य प्रदेश -  Lakha Banjara Jheel or Sagar ka talab, Sagar city, madhya pradesh लाखा बंजारा झील सागर जिले का एक प्राचीन तालाब है। लाखा बंजारा झील को सागर झील या सागर का तालाब के नाम से जाना जाता है। सागर जिला लाखा बंजारा झील के किनारे ही बसा हुआ है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है। यह झील  बहुत सुंदर लगती है। इस झील के किनारे बहुत सारे प्राचीन निर्माण, मंदिर और घाट देखने के लिए मिलते हैं। इस झील में आप बोटिंग का मजा भी ले सकते हैं। यहां पर वोट क्लब भी बना हुआ है। इस झील के किनारे गार्डन भी बना हुआ है। यहां पर आपको मछली पकड़ते हुए बहुत सारे लोग भी देखने के लिए मिलते हैं। शाम के समय इस झील का दृश्य बहुत सुंदर रहता है। यहां से सूर्यास्त का दृश्य बहुत सुंदर लगता है।  हम लोग सागर पहुंच गए और सागर पहुंचने के बाद हम लोग सागर की झील देखने के लिए गए। हम लोगों ने सागर की झील के किनारे एक रुम लिया था। यहां पर हम लोग सबसे पहले चकरा घाट घूमने गए। चकरा घाट सागर झील के किनारे बना हुआ एक सुंदर घाट है। यहां पर बहुत सारे प्राचीन मंदिर देखने के लि

धुबेला झील छतरपुर - Dhubela Lake Chhatarpur

धुबेला झील, मऊ सहानिया, छतरपुर -  Dhubela Jheel, Mau sahaniya, Chhatarpur धुबेला झील छतरपुर का एक प्रसिद्ध जगह है। यहां पर आपको एक बहुत बड़ी झील देखने के लिए मिलती है। यह झील बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। यह झील छतरपुर के मऊ सहानिया में स्थित है। यह झील पहाड़ी के किनारे स्थित है। इस झील के किनारे बहुत सारे प्राचीन स्थल देखने के लिए मिल जाते हैं। आप छतरपुर के मऊ सहानिया में बहुत ही आराम से पहुंच सकते हैं। आप यहां पर गाड़ी से या बस से आ सकते हैं। इस जगह पर बहुत सारे प्राचीन स्मारक देखने के लिए मिलते हैं, जिनमे से धुबेला झील भी एक है।  धुबेला झील में घूमने के लिए हम लोग अपनी गाड़ी से आए थे। हम लोग की स्कूटी से इस झील के पास में बने कमलापति समाधि में घूमने के लिए गए थे। इस झील के चारों तरफ पेड़ पौधे लगे हुए हैं। इस झील के एक तरफ ऊंची पहाड़ी देखने के लिए मिलती है। इस पहाड़ी पर गौरैया माता का मंदिर बना हुआ है। इस झील में गौरैया माता के मंदिर के आगे आपको बैठने के लिए एक जगह देखने के लिए मिलती है। यहां पर बैठने के लिए सीमेंटेड चेयर बनाई गई है, जहां से आप झील के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। 

बेनीसागर झील पन्ना - Benisagar Lake Panna

बेनीसागर झील पन्ना - B enisagar Jheel Panna बेनीसागर झील पन्ना शहर की एक सुंदर झील है। यह झील पन्ना शहर के बीचो बीच में स्थित है। यह झील पन्ना शहर में बस स्टैंड के पास में स्थित है। झील के किनारे आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। हम लोग भी इस झील  में घूमने के लिए गए थे।  बेनीसागर झील पन्ना बस स्टैंड के पास ही में स्थित है। हम लोग पन्ना बस स्टैंड के पास ही में होटल बुक किए थे। हम लोग सुबह उठकर पन्ना जिले के दर्शनीय स्थलों को घूमने के लिए निकल गए। सबसे पहले हम लोग बस स्टैंड के पास में स्थित बेनीसागर झील को घूमने गए। बेनीसागर झील वैसे बहुत सुंदर है और यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं। बेनीसागर झील के किनारे बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं। यहां पर आपको हनुमान जी का मंदिर देखने के लिए मिल जाएगा। दुर्गा जी का मंदिर देखने के लिए मिल जाएगा और यहां पर शनि देव जी का मंदिर भी बना हुआ है और झील का दृश्य बहुत सुंदर लगता है।  सबसे पहले हम लोग पन्ना में बेनी सागर झील घूमने के लिए गए। बेनीसागर झील में सबसे पहले हम लोगों को हनुमान मंदिर देखने के लिए मिला। हनुमान मंदिर झील के किनारे

धरम सागर झील पन्ना - Dharam Sagar Pond Panna

धर्म सागर तालाब पन्ना - D haram sagar lake Panna धर्म सागर तालाब पन्ना शहर का एक प्राचीन स्थल है। वैसे इस तालाब को धर्म सागर तालाब या धरम सागर झील भी कहते हैं। धर्म सागर तालाब चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह तालाब बहुत ही सुंदर लगता है। तालाब में सुबह के समय आप सूर्योदय देख सकते हैं, जो बहुत ही मनोरम रहता है। इस तालाब के बीच में मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर से भगवान शिव जी को समर्पित है। इस तालाब के किनारे पर सुंदर गार्डन बना हुआ है। यहां पर बहुत सारे लोग सुबह के समय घूमने के लिए आते हैं और यहां पर एक क्लब भी बना हुआ है। यह एक प्राचीन इमारत बनी हुई है और यह जयपुरी स्टाइल में बनी हुई थी और यह क्लब बना हुआ है या यह मंदिर था। इसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है, क्योंकि जब हम लोग यहां पर गए थे। तब यह बंद था और हम लोग इस पार्क में दीवार को कूदकर आए थे। वैसे इस पार्क में आने का जो सही रास्ता है। वह सब्जी मंडी से होकर आता है, तो आप जब भी यहां पर घूमने के लिए आते हैं। आप सब्जी मंडी के रास्ते होते हुए आएंगे, तो आप धर्म सागर में पहुंच जाएंगे।  हम लोग इस तालाब में अपनी

खजुराहो की शिवसागर झील - Shivasagar Lake of Khajuraho

शिवसागर झील खजुराहो -   Shivasagar Lake Khajuraho   शिव सागर झील खजुराहो में प्रसिद्ध है। खजुराहो के पश्चिमी समूह के मंदिर शिव सागर झील के किनारे ही बने हुए हैं। शिव सागर झील में आपको कमल के फूल देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर पूरी झील कमल के फूलों से ढकी हुई है। यहां पर आपको बदक भी देखने के लिए मिलते हैं, जो झील की सुंदरता में चार चांद लगाते हैं। यहां पर मछलियां भी हैं। जब आप झील के पास जाते हैं, तो आप मछलियों को देख सकते हैं।     शिव सागर झील मुख्य खजुराहो में स्थित है। शिव सागर झील के पास आपको खाने पीने की बहुत सारी दुकान देखने के लिए मिल जाती है। शिव सागर झील में के पास शेड  लगा हुआ है, जिसमें नीचे बैठने के लिए चेयर बनी हुई है। लोग यहां पर बैठकर शिव सागर झील के दृश्य को इंजॉय करते हैं। यहां पर शाम के समय बैठकर सूर्यास्त को देखना बहुत ही आनंदमय होता है।     शिव सागर झील में बदक का एक जोड़ा देखने के लिए मिलता है, जो झील में चक्कर लगाता रहता है। वह भी खूबसूरत लगता है। शिव सागर झील में सीढ़ियां बनी हुई है। सीढ़ियों से लोग झील के पास जाते हैं और मछलियों को देख सकते हैं। वैसे मछलियां

राज सागर झील दमोह - Raj Sagar Lake Damoh

राज सागर झील दमोह या राज सागर बांध दमोह - Raj Sagar Lake Damoh or Raj Sagar Dam Damoh   राज सागर झील दमोह जिले में स्थित एक प्रसिद्ध जलाशय है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एक गार्डन भी बना हुआ है, जहां पर मंदिर बना हुआ है। यहां पर शंकर जी की प्रतिमा विराजमान है। इस गार्डन में बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है और बांध राज सागर बांध को देखना बहुत ही अच्छा लगता है। इस गार्डन के अंदर कोई भी जा सकता है यहां पर किसी भी तरह का प्रतिबंध नहीं है।     हम लोग राजसागर झील बाइक से गए थे। हम लोग पहले दमोह के जटाशंकर मंदिर गए। उसके बाद हम लोग बाइक से राजसागर लेक गए। यहां पर हम लोग महाशिवरात्रि के दिन गए थे, तो रास्ते में यहां पर प्रसाद बांट रहा था। हम लोगों ने प्रसाद खाया। उसके बाद हम लोग आगे बढ़े। यहां हम लोग जबलपुर बाईपास से आगे बढ़े। उसके बाद मरहरा गांव देखने के लिए मिला। उसके बाद हमें राजसागर झील देखने के लिए मिली। यह झील बहुत बड़ी क्षेत्रफल में फैली हुई है और हम लोग इस झील के पास गए।       राजसागर झील के पास सबसे पहले हम लोगों को झील के गेट देखने

Gadisar Lake Jaisalmer - गड़ीसर झील जैसलमेर | Gadisar | जैसलमेर का दर्शनीय स्थल

गड़ीसर झील Gadsisar lake | G adisar lake history गड़ीसर झील जैसलमेर गड़ीसर झील जैसलमेर गड़ीसर झील जैसलमेर में स्थित प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलों में से एक है। आप यहां पर अपने शाम का समय आकर बहुत अच्छा बिता सकते हैं। हम लोग इस झील में शाम के 4 बजे पहुंचे होंगे। यह झील हमारे होटल के बहुत करीब थी, तो हम लोग पैदल ही इस झील तक आ गए थे।  गड़ीसर झील जैसलमेर शहर में ही स्थित है। यहां पर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह बहुत बड़ी झील है। गड़ीसर झील के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। यह जो मंदिर है, वह पत्थर के बने हैं। यहां पर हम लोग झील के किनारे एक मंदिर में गए थे, जो शंकर भगवान जी को समर्पित था। यह मंदिर पूरी तरह पत्थर से बना हुआ था और बहुत खूबसूरत लग रहा था।  गड़ीसर झील के पास बहुत सारी दुकानें लगी रहती हैं। इन दुकानों में आपको तरह-तरह का सामान मिलता है। आप यहां पर आकर खासतौर पर राजस्थानी सामान की शॉपिंग कर सकते हैं। यहां पर आपको राजस्थानी ड्रेस मिल जाती है। राजस्थानी बैग मिल जाएंगे और यहां पर आपको राजस्थानी कड़े भी मिल जाते हैं। यहां पर आप आकर अलग-अलग तरह के सामान ले सकते हैं। हम ल

पचमढ़ी झील - Pachmarhi lake | Boating in pachmarhi lake

पचमढ़ी लेक - Pachmarhi jheel | पचमढ़ी झील में नौका विहार पचमढ़ी ( pachmarhi ) एक हिल स्टेशन है। पचमढ़ी ( pachmarhi ) मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में स्थित है। पचमढ़ी में बहुत सारी दर्शनीय जगह स्थित है, उनमें से एक जगह है - पचमढ़ी झील (pachmarhi lake) पचमढ़ी झील (pachmarhi lake) बहुत सुंदर है और यह पचमढ़ी ( pachmarhi ) शहर से करीब एक या डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित होगी।  आप इस झील तक पैदल ही जा सकते हैं।  इस झील का नजारा बहुत खूबसूरत रहता है और इस झील में आपको कमल के फूल देखने के लिए मिल सकते हैं।  यह झील बरसात में पानी से पूरी तरह से भर जाती है।  गर्मी के समय यह झील सूख जाती है।  झील के पास ही में एक गार्डन बना हुआ है। गार्डन में एंट्री फ्री है। गार्डन में आकर आप पचमढ़ी झील (pachmarhi lake) का खूबसूरत नजारा देख सकते हैं। गार्डन में तरह-तरह की फूल लगे हुए हैं। इस गार्डन में आकर आप बहुत लम्बा वॉक कर सकते हैं।   इस गार्डन में आपके घूमने के लिए बहुत बड़ी जगह है, जहां पर आप शांति से घूम सकते हैं। पचमढ़ी झील (pachmarhi lake) में बरसात के समय  आप नाव की सवारी का  मजा ले सकते हैं।  यह

खंदारी झरना जबलपुर - Khandari waterfall jabalpur | khandari Dam jabalpur

खंदारी जलप्रपात जबलपुर - Khandari Falls Jabalpur | Khandari  jalaprapat खंदारी जलप्रपात (khandari waterfall) छोटा सा मगर बहुत खूबसूरत जलप्रपात है। खंदारी जलप्रपात (khandari waterfall) डुमना नेचर पार्क में स्थित खंदारी झील (khandari lake)   में पानी के ओवरफलो के होने पर बनता है। यह जलप्रपात जबलपुर जिले में स्थित है। आपको खंदारी जलप्रपात (khandari waterfall) बरसात के समय देखने मिल जाएगा। बरसात के समय में ही खंदारी जलाशय (khandari lake) पानी से भर जाता है और डैम का पानी ओवरफ्लो होने लगता है। खंदारी जलाशय (khandari lake) का पानी जहां ओवरफ्लो होता है, उससे थोड़ा आगे एक और जलप्रपात बनता है, जो बहुत खूबसूरत होता है। यह जलप्रपात छोटा रहता है और यहां पर पहाड़ों से पानी गिरता है, जो बहुत ही अच्छा लगता है। यहां पर आप आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आप  पिकनिक मना सकते हैं। यह जगह हरियाली से भरी हुई है। आप खंदारी जलप्रपात (khandari waterfall) के नजदीक जा सकते हैं और यहां पर इंजॉय कर सकते हैं। बरसात के समय आप यहां पर आते हैं, तो खंदारी नदी की तेज धार को पार करते हुए आपक

संग्राम सागर झील जबलपुर - sangram sagar lake | sangram sagar jheel

संग्राम सागर लेक - Sangram sagar lake Jabalpur संग्राम सागर झील (sangram sagar lake ) जबलपुर (jabalpur) का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। संग्राम सागर झील  (sangram sagar lake )   पहाडों से घिरी हुई है। यह झील जबलपुर में स्थित एक प्राचीन झील है। यह एक खूबसूरत जगह है। संग्राम सागर झील  (sangram sagar lake )  मेडिकल रोड में स्थित है। संग्राम सागर झील  (sangram sagar lake )  में आप अपनी गाड़ी से आ सकते हैं। झील के बाजू में बाजनामठ मंदिर ( Bajnamath mandir ) है, जो बहुत प्राचीन है। यह मंदिर भैरव बाबा को समर्पित है। बाजनामठ मंदिर  ( Bajnamath mandir )  प्राचीन मंदिर है और एक उची पहाडी पर बना हुआ है। मंदिर से संग्राम सागर झील  (sangram sagar lake )  का नजारा बहुत ही मनोरम होता है। यह मंदिर तांत्रिक गतिविधियों के लिए प्रसिद्ध है और इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यहां पर तंत्र विद्या की जाती है।  संग्राम सागर झील  (sangram sagar lake )   बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है और इस झील में कमल के फूल आपको देखने के लिए मिलते हैं। इस झील के बाजू में गार्डन बना हुआ है, जहां पर लोग आकर

Khandari Lake jabalpur | खंदारी झील जबलपुर | khandari waterfall

खंदारी झील जबलपुर - खंदारी जलप्रपात Khandari Jheel Jabalpur / Khandari waterfall   खंदारी बांध खंदारी झील जबलपुर (Khandari Lake jabalpur) शहर का एक खूबसूरत जलाशय है। खंदारी झील जबलपुर (Khandari Lake jabalpur) शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। खंदारी जलाशय ( Khandari Lake ) डुमना नेचर पार्क (Dumna Nature Park) के अंदर में स्थित है। खंदारी झील (Khandari Jheel) चारों तरफ से जंगल से घिरी हुई है। खंदारी झील (Khandari Jheel) में बहुत सारे मगरमच्छ है और झील में उतरना मना है। झील में आपको मगरमच्छ भी देखने मिल सकता है। खंदारी झील (Khandari Jheel) में नहाने की मनाही है। खंदारी जलाशय (Khandari lake) अंग्रेजों के समय बनाई गई थी और यह झील 19 वीं शदीं पर बनी थी। खंदारी जलाशय (Khandari lake) लोगों के पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत थी। जलाशय में जहां पर पानी ओवरफ्लो होता है, वहां पर अग्रेजों की समय की एक बिल्डिंग देखने के लिए मिल जाएगी और यहां पर लोगों को जाने की मनाही है। यहां पर तार लगे हुए हैं। ताकि कोई भी डैम पर न जायें। यहां पर लोगों की जान की भी हानि हो सकती है। खंदारी डैम (K