सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Fort लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आप हमारी मदद करना चाहते हैं, तो नीचे दिए लिंक से शॉपिंग कीजिए।

नरसिंहगढ़ का किला, राजगढ़ - Narsinghgarh Fort, Rajgarh

नरसिंहगढ़ का किला (Narsinghgarh ka kila), राजगढ़ -  Narsinghgarh Fort  Rajgarh नरसिंहगढ़ का किला राजगढ़ जिले का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। नरसिंहगढ़ राजगढ़ जिले की तहसील है। नरसिंहगढ़ का किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। किले के नीचे तालाब देखने के लिए मिलता है। किले और तालाब का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। हम लोग भोपाल से नरसिंहगढ़ घूमने के लिए आए थे। नरसिंहगढ़ में नरसिंहगढ़ वन्यजीव अभ्यारण घूमने के बाद, हम लोग नरसिंहगढ़ का किला घूमने के लिए गए। नरसिंहगढ़ का किला अब खंडहर में बदलता जा रहा है और इस किले की अच्छी तरह से देखभाल नहीं की जा रही है। पूरे किले में बड़ी-बड़ी घास उगी हुई थी। मगर फिर भी यह किला बहुत जबरदस्त लगता है। किले के चारों तरफ ऊंची पहाड़ियां हैं, जो इस किले को एक अलग ही सुंदरता प्रदान करती हैं।  हम लोग नरसिंहगढ़ के सबसे प्रसिद्ध मंदिर जल मंदिर घूमने के बाद, नरसिंहगढ़ का किला घूमने के लिए गए। नरसिंहगढ़ किले में जाने के लिए दो रास्ते हैं। एक रास्ते में पैदल जाना पड़ता है। वहां पर गाड़ी नहीं जाती हैं और दूसरे रास्ते में आपकी गाड़ी चली जाएगी। मगर वह रास्ता बहुत खरा

होशंग शाह किला होशंगाबाद - Hoshang Shah Fort Hoshangabad

होशंगाबाद का किला या होशंगशाह का किला होशंगाबाद मध्य प्रदेश  -  Hoshangabad Fort or Hoshangshah Fort Hoshangabad Madhya Pradesh होशंग शाह का किला होशंगाबाद शहर में स्थित एक प्राचीन स्थल है। होशंग शाह के किले को होशंगाबाद किला के नाम से भी जाना जाता है। यह एक प्राचीन किला है। यह किला अब पूरी तरह खंडहर में बदल गया है। यह किला नर्मदा नदी के किनारे बना हुआ है। इस किले के ऊपर से नर्मदा नदी का बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। किले में ऊपर जाने के लिए सीढ़ियां भी बनी हुई है। यह किला बहुत छोटा सा है। शायद प्राचीन समय में यहां पर बहुत बड़ा किला हुआ करता होगा। होशंग शाह किले के बाजू में गार्डन देखने के लिए मिलता है। इस गार्डन का नाम डॉक्टर भवानी प्रसाद मिश्र के नाम पर रखा गया है।  गार्डन में चारों तरफ हरियाली थी।  होशंगशाह के किले में हम लोग सुबह के समय घूमने के लिए गए थे। इस किले में हम लोग अपनी स्कूटी से गए थे। इस किले में तक स्कूटी या बाइक से जा सकते हैं। यहां पर कार और बड़ी गाड़ियों से नहीं जाया जा सकता है, क्योंकि किले में जाने के लिए जो सड़क है। वह बहुत ही सकरी थी। होशंग शाह

इस्लामनगर का किला भोपाल - Islamnagar Fort Bhopal

इस्लामनगर का किला भोपाल मध्य प्रदेश -  Islamnagar ka Kila Bhopal Madhya Pradesh इस्लामनगर का किला भोपाल शहर के पास स्थित एक प्राचीन किला है। यह किला भोपाल शहर से करीब 13 किलोमीटर दूर है। इस किले में आपको रानी महल और चमन महल देखने के लिए मिलता है। यह महल बहुत सुंदर है। इस महल में आपको सुंदर बगीचा देखने के लिए मिलता है और बगीचे के बीच में फव्वारा लगाया गया है, जो बहुत आकर्षक लगता है। इन महल के पीछे आपको नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। मगर इस नदी का पानी अब बिल्कुल काला हो गया है। नदी के पीछे की तरफ एक और स्मारक बना हुआ है। यह स्मारक नवाब यार मोहम्मद खां एवं नवाब हयात मोहम्मद खां का मकबरा है। यह मकबरे बहुत सुंदर है और आप इन्हें चमन महल के पीछे से देख सकते हैं।  हम लोग मनुआभान की टेकरी घूमने के बाद,  हम इस्लामनगर किले में घूमने के लिए निकल पड़े। वैसे हम लोगों को बहुत टाइम हो गया था और इस्लामनगर किला मनुआभान की टेकरी से करीब 19 किलोमीटर दूर है। हम लोग ने गाड़ी बहुत ही स्पीड से चलाई और इस्लाम नगर पहुंच गए। इस्लामनगर किला पहुंचकर हम लोगों को किले का प्रवेश द्वार देखने के लिए म

ग्यारसपुर का किला, ग्यारसपुर, विदिशा - Gyaraspur Fort, Gyaraspur, Vidisha

ग्यारसपुर का किला और माँ बिजासन माता मंदिर ग्यारसपुर, विदिशा, मध्य प्रदेश -  Gyaraspur ka kila aur Maa Bijasan Mata Mandir Gyaraspur, Vidisha, Madhya Pradesh ग्यारसपुर का किला विदिशा शहर का एक प्राचीन किला है। मगर इस किले का अब आपको कुछ ही अवशेष देखने के लिए मिलेगा, क्योंकि यह किला पूरी तरह से नष्ट हो गया है और यहां पर आम लोगों का कब्जा हो गया है। यह किला पूरी तरह से लुप्त हो गया है। किले से थोड़ी ही दूरी पर बिजासन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर भी बहुत प्राचीन है और यह मंदिर पहाड़ी के ऊपर बना हुआ है।  इस मंदिर में जाने के लिए रास्ता पक्का बना दिया गया है। मंदिर में पहाड़ी के नीचे के साइड तालाब बना हुआ है। यह तालाब भी प्राचीन है और यह तालाब बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है।  इस तालाब को मानसरोवर तालाब कहते हैं।  तालाब के बाजू में ही छोटा सा गार्डन बना दिया गया है और यहां पर आपको प्राचीन मंदिर के अवशेष देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे सीताफल के पेड़ लगे हुए थे। पूरी पहाड़ी में सीताफल के पेड़ लगे हुए थे।  पहाड़ी में हमें स्मारक देखने के लिए मिले। यह स्मारक बहुत ही अद्भु

राहतगढ़ का किला सागर जिला - Rahatgarh Fort Sagar District

राहतगढ़ किला, राहतगढ़ तहसील, सागर जिला, मध्य प्रदेश -  Rahatgarh  ka kila,  Rahatgarh Tehsil, Sagar District, Madhya Pradesh राहतगढ़ का किला मध्य प्रदेश का एक प्रसिद्ध किला है। राहतगढ़ का किला सागर जिले का एक ऐतिहासिक किला है। राहतगढ़ किला सागर जिले की राहतगढ़ तहसील में स्थित है।  सागर जिले में बहुत सारे किले बने हुए हैं। यह किला उन सभी किलो में से सबसे खूबसूरत और बहुत बड़ा है। राहतगढ़ किला बहुत विशाल और बहुत ही भव्य है। राहतगढ़ का किला बीना नदी के किनारे ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। राहतगढ़ किले के अंदर देखने के लिए बहुत सारी जगह है। आप यहां पर दिन में आएंगे, तो आपका पूरा दिन इस किले में घूमते हुए बीत जाएगा। यह किला बहुत बड़े क्षेत्रफल में फैला हुआ है। इस किले के अंदर आपको मोती महल, रानी महल, बादल महल, प्राचीन जलाशय, दरगाह, शिव मंदिर, कब्र, फांसी घर   देखने  मिलेगा और यह किला ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। राहतगढ़ किले से चारों तरफ का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। राहतगढ़ किले से बीना नदी का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। यहां पर बहुत मस्त फोटो आती है।  राहतगढ़ किले का

सागर का गढ़पहरा किला और मंदिर - Garhpahra Fort and Temple Sagar

सागर का गढ़पहरा मंदिर  और  गढ़पहरा का किला सागर  मध्य प्रदेश -  Gadpehra Fort and Gadpahra Hanuman Temple Sagar गढ़पहरा का किला सागर जिले का एक ऐतिहासिक किला है। यह किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यहां पर एक प्राचीन मंदिर भी है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। गढ़पहरा को प्राचीन समय में पुराना सागर के नाम से जाना जाता था। प्राचीन समय गढ़पहरा डांगी साम्राज्य की राजधानी थी। यहां पर आपको हनुमान जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर और किला पहाड़ी के ऊपर बने है। यह पहाड़ी बरसात के समय हरियाली से घिरी रहती है। यहां पर बहुत सारे बंदर भी है। आप अगर यहां पर कुछ भी सामान लेकर जाते हैं, तो संभाल कर रखें। नहीं तो बंदर आपसे सामान छीन सकते हैं। यहां पर किले में भी बहुत सारे बंदर आपको देखने के लिए मिलते हैं। यह किला हनुमान मंदिर के आगे स्थित है। आपको किले तक पैदल जाना पड़ता है। इस किले में एवं हनुमान मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां है। आप सीढ़ियों से इस किले एवं मंदिर तक जा सकते हैं।  सागर का गढ़पहरा किला एवं हनुमान मंदिर घूमने के लिए हम लोग सुबह के समय सागर से गढ़पहरा के लिए अपनी गाड़ी से निक