सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

जून, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

देवास जिले के पर्यटन स्थल - Dewas tourist places

देवास जिले के दर्शनीय स्थल - Dewas tourism / Dewas picnic spot / Dewas famous places देवास में घूमने की जगह - B est places to visit in dewas चामुंडा माता मंदिर और तुलजा भवानी मंदिर देवास -  Chamunda Mata Temple and Tulja Bhavani Temple Dewas चामुंडा माता मंदिर और तुलजा भवानी मंदिर देवास जिले के एक प्रसिद्ध स्थल है। यह धार्मिक स्थल है। इस जगह को देवास टेकरी या चामुंडा टेकरी के नाम से भी जाना जाता है। यह ऊंची पहाड़ी पर स्थित दो मंदिर है। यह दोनों मंदिर चामुंडा माता और तुलाजा माता को समर्पित है। आप इन मंदिरों में सीढ़ियों के द्वारा और रोपवे के द्वारा पहुंच सकते हैं। सीढ़ियों के द्वारा यह सफर बहुत ही अद्भुत रहता है। आप मंदिर के शिखर से चारों तरफ का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। बरसात के समय यह जगह बहुत अच्छी लगती है। यहां पर आपको बहुत सारे अन्य देवी-देवताओं के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर और भी मंदिर बने हुए हैं। यहां पर हनुमान जी का मंदिर बना हुआ है। भैरव जी का मंदिर बना हुआ है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आप आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता  सकते हैं। यह देवास में घूमने की सब

ओंकारेश्वर के पर्यटन स्थल - Omkareshwar tourist places

ओंकारेश्वर के दर्शनीय स्थल - O mkareshwar famous places / ओंकारेश्वर के पास पर्यटन स्थल / ओंकारेश्वर के धार्मिक स्थल ओंकारेश्वर में घूमने की जगह -  Best places to visit in Omkareshwar ओंकारेश्वर मंदिर -  Omkareshwar Temple ओंकारेश्वर मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। ओंकारेश्वर मंदिर बहुत प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। इस मंदिर के गर्भ गृह में 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक विराजमान है। इस मंदिर के अंदर आपको सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर में जो पिलर बने हुए हैं, उनमें भी सुंदर नक्काशी की गई है। आपको यहां पर शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे शिवलिंग विराजमान है। यह ओंकारेश्वर मंदिर में नर्मदा नदी के बीच में बने एक टापू पर विराजमान है। इस टापू में आप पुल के माध्यम से और नाव के माध्यम से जा सकते हैं। यहां पर आपको सुंदर मंदिर देखने के लिए मिलेगा और ओमकारेश्वर शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलेंगे। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर नर्मदा नदी का दृश्य देखने लायक रहता है। यहां पर बड़ी दूर दूर से लोग ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने के लिए आ

सलाम सिंह की हवेली जैसलमेर - Salam Singh Ki Haveli Jaisalmer

सलाम सिंह की हवेली या मोती महल जैसलमेर राजस्थान - Salam Singh Ki Haveli or Moti Mahal Jaisalmer Rajasthan   जैसलमेर में बहुत सारी हवेलियां है, इन्हीं में से एक हवेली है - सलाम सिंह की हवेली।   सलाम सिंह की हवेली जैसलमेर का एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल है। सलाम सिंह जैसलमेर रियासत के एक  मंत्री हुआ करते थे। यह हवेली बहुत सुंदर है और जैसलमेर शहर के बीचो-बीच बनी हुई है। यह हवेली जैसलमेर किले से करीब 1 किलोमीटर दूर होगी। यह हवेली बाहर से और अंदर से दोनों जगह से ही सुंदर दिखाई देती है। सलाम सिंह की हवेली को मोती महल के नाम से भी जाना जाता है।     सलाम सिंह की हवेली में प्रवेश के लिए प्रवेश शुल्क लिया जाता है। यहां पर 50 रूपए का प्रवेश शुल्क लिया जाता है। विदेशी व्यक्तियों के लिए यह शुल्क अलग रहता है। यहां पर आप अंदर जाकर हवेली को देख सकते हैं। हवेली के अंदर बहुत सारी वस्तुओं को संभाल कर रखा गया है। यहां पर आपको प्राचीन वस्तुएं देखने के लिए मिल जाते हैं। सलाम सिंह की हवेली के बाहर प्रवेश द्वार में आपको दो हाथियों की मूर्ति देखने के लिए चलती है, जो बहुत ही सुंदर लगती है। आप हवेली के अंदर जाए

सीहोर के पर्यटन स्थल - Sehore tourist places / Famous places in Sehore

सीहोर के दर्शनीय स्थल -  Best places to visit in Sehore /  Sehore Attractions / Sehore Picnic Spot सीहोर में घूमने की जगह - P laces to visit in sehore श्री चिंतामन सिद्ध गणेश मंदिर सीहोर -  Shree Chintaman Siddha Ganesh Mandir Sehore श्री चिंतामन सिद्ध गणेश मंदिर मध्य प्रदेश का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पूरे मध्यप्रदेश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर की प्रसिद्धि का कारण यह है, कि इस मंदिर में मांगी गई हर इच्छाएं पूरी होती है। यह मंदिर मध्यप्रदेश के सीहोर जिले में स्थित है। यह मंदिर सीहोर जिले से करीब 3 किलोमीटर दूर गोपालपुर गांव में स्थित है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। इस मंदिर की स्थापना विक्रमादित्य के द्वारा की गई थी। मंदिर में आपको गणेश जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। गणेश जी की यह प्रतिमा पृथ्वी से स्वयं उत्पन्न हुई है। इसे विराजमान नहीं किया गया है। लोग यहां पर आकर गणेश जी के दर्शन करते हैं। यहां पर लोग आकर मंदिर के पीछे की तरफ दीवार पर स्वास्तिक की आकृति बनाते हैं और अपनी इच्छा मांगते हैं।  जब लोगों की इच्छाएं पूरी हो जाती है। तो वह दोबारा आकर स्वास्तिक बनाते हैं। यहां

उज्जैन के पर्यटन स्थल - Ujjain tourist places / Tourist attractions in ujjain

उज्जैन के दर्शनीय स्थल -  Best Places to Visit in Ujjain / P icnic spot near Ujjain / Ujjain tourism उज्जैन में घूमने की जगह - P laces to visit in ujjain उज्जैन के प्रमुख मंदिर महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन -  Mahakaleshwar Temple Ujjain महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन में घूमने वाली प्रमुख जगह है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यहां पर शिव भगवान जी का 12 ज्योतिर्लिंग में से एक विराजमान है। यह मंदिर पूरे मध्य प्रदेश या कहा जाए तो पूरे भारत देश में प्रसिद्ध है। महाकालेश्वर के शिवलिंग के बारे में कहा जाता हैए कि यह शिवलिंग स्वयंभू है। इसकी उत्पत्ति पृथ्वी से स्वयं हुई है। इसे विराजमान नहीं किया गया है। यहां पर दूर-दूर से भक्त भगवान शिव के दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और इस मंदिर के परिसर में बहुत सारे देवी देवताओं की स्थापना की गई है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और महाकालेश्वर मंदिर भगवान शिव की भस्म आरती के लिए प्रसिद्ध है। भगवान शिव की भस्म आरती चिता की राख से की जाती है। इसलिए इस आरती में बहुत सारे लोग सम

जैसलमेर की डेजर्ट सफारी और कैमल सफारी - Desert Safari in Jaisalmer

जैसलमेर में डेजर्ट, जीप एवं कैमल सफारी का अनुभव - Experience Desert, Jeep & Camel Safari in Jaisalmer जैसलमेर में भारत के बहुत सारे पर्यटक डेजर्ट सफारी का मजा लेने जाते हैं और यह डेजर्ट सफारी भी बहुत मनोरंजक होती है। हम लोग भी जैसलमेर में डेजर्ट सफारी का मजा लेने गए थे। हम लोग डेजर्ट सफारी के लिए ऑनलाइन बुकिंग किए थे। डेजर्ट सफारी में रेगिस्तान में कैंप लगता है। डांस होता है। आप अगर ऊंट की सवारी लेना चाहते हैं, तो वह भी कर सकते हैं या आप जीप की सवारी लेना चाहते हैं, तो रेगिस्तान में जीप की सवारी का भी मजा ले सकते हैं। मगर कैमल सफारी और जीप सफारी में बहुत मजा आता है। वैसे जीप सफारी और ऊंट सफारी का अलग-अलग चार्ज यहां पर लगता है। मगर आप यहां पर आते हैं, तो इस चीज का अनुभव भी आपको करना चाहिए। हम लोग जैसलमेर में खासतौर पर डेजर्ट सफारी का मजा लेने ही आए थे।     आप जैसलमेर डेजर्ट सफारी के लिए ऑनलाइन बुकिंग कर सकते हैं या आप चाहे तो यहां पर आकर भी बुकिंग कर सकते हैं।  जैसलमेर डेजर्ट सफारी के लिए अलग-अलग पैकेज मिलते हैं। डेजर्ट सफारी पैकेज में आपको अलग-अलग सुविधाएं मिलती हैं।

पटवों की हवेली जैसलमेर राजस्थान - Patwon ki haveli Jaisalmer Rajasthan

कोठारी पटवा की हवेली और संग्रहालय जैसलमेर - Kothari Patwa Ki Haveli and Museum Jaisalmer पटवों की हवेली जैसलमेर की एक प्रसिद्ध जगह है। यहां पर आपको पांच हवेलियां देखने के लिए मिलती है। मगर यहां पर कुछ हवेलियों में जाने की ही अनुमति है। यहां पर हम लोग कोठारी पटवा हवेली में घूमने के लिए गए थे। जिसे कोठारी पटवा म्यूजियम भी कहते हैं। यह हवेली भी बहुत सुंदर थी। यह हवेली अंदर से और बाहर से दोनों जगह से ही बहुत सुंदर थी। बाहर से आप इस हवेली को देखेंगे, तो इस हवेली के दरवाजे खिड़कियों में बहुत ही सुंदर नक्काशी की गई थी, जो बहुत ही अद्भुत है।  पटवा हवेली के अंदर बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह  देखने के लिए मिल जाएगा। इस हवेली के बाहर बाजार देखने के लिए मिलता है। यहां पर बहुत सारे कपड़ों की दुकान है। यहां पर राजस्थानी सूट मिल रहे थे। हम लोगों ने राजस्थानी सूट लिए नहीं, क्योंकि यहां पर बहुत महंगे मिल रहे थे। इसके अलावा यहां पर आपको और भी बहुत सारी वस्तुएं मिल जाएंगे। वैसे इस हवेली के निचले भाग में भी मार्केट है, जहां से आप सामान ले सकते हैं। हम लोगों के साथ जो गाइड था। वह हम लोगों को बोल रहा थ