सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Pachmarhi Tourist Place

Pachmarhi Tourist Place
पचमढ़ी के दर्शनीय स्थल

Pachmarhi Tourist Place

पचमढ़ी में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। जिनमें कुछ जगहें धार्मिक है और कुछ जगहें प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है इस ब्लाॅग पोस्ट में मैने पचमढ़ी की जिन जगह में घूमा है वहां के बारे में जानकारी मै आपको दूगीं ।

Pachmarhi Tourist Place
Pachmarhi


1. पांडव गुॅफा (Pandav Caves)

यह पचमढ़ी शहर से के बहुत करीब पडता है यह पर आप जाना चाहे तो पैदल भी जा सकते है। यह पर एक विशाल पहाड पर पाॅच गुफाए बनी है जो प्राचीन काल की है, इसमें से कुछ गुफाए बंद है और कुछ खुली हुई है। यहां पर एक गार्डन भी है जहां पर तरह तरह की फूल खिले हुए है। यहां पर आपको गार्डन के बाहर खाने पीने के लिए बहुत सारी दुकान मिल जाएगी। इस जगह के बारे में मान्यता है कि यह पर पांडव अपने वनवास के समय यहीं पर रूके थे। 

Pachmarhi Tourist Place
Pandav Caves


2. पचमढ़ी झील (Pachmarhi Lake)

पचमढ़ी शहर से यह जगह बहुत ज्यादा करीब है। यह पर आप पैदल जा सकते है । यह पर विशाल झील है एवं झील के पास ही में गार्डन है। यह पर बोटिग की सुविधा भी है।


3.  चर्च (Pachmarhi Church)

पचमढ़ी में यह चर्च पचमढ़ी झील के थोडा सा आगे है यह पर आप पैदल जा सकते है। इस चर्च की बनावट बहुत खूबसूरत है। उचे उचे मीनार बने हुए है जो बहुत खूबसूरत लगते है। 

Pachmarhi Tourist Place
Pachmarhi Church


4. जटाशंकर मंदिर (Jatashankar Temple)

यह मंदिर भी पचमढ़ी शहर से ज्यादा दूर नहीं है यह मंदिर पचमढ़ी शहर से लगभग 1 किमी की दूरी पर होगा यह पर आप पैदल जाकर शंकर भगवान के दर्शन कर सकते है। यह पर आप पहाडों का खूबसूरत दृश्य देख सकते है। यह पर शंकर जी का मंदिर खाई में स्थित है। यह पर जो व्यू होता है वहां लाजाबाब होता है। 

Pachmarhi Tourist Place
Jatashankar Temple


5. अम्बामाई मंदिर(Amba Mai Pachmarhi)

यह अम्बामाई का मंदिर है यह भी बहुत खूबसूरत और शांत जगह है, यह पर अम्बा माई के साथ साथ बहुत से देवी देवाताओं की प्रतिमाए स्थित है। यह जगह पचमढ़ी शहर से 3 से 4 किमी की दूरी पर होगी। यह  जगह पिपरिया से पचमढ़ी मार्ग में पडती है।


6. बेगम पैलेस (Begum Palace, Pachmarhi)

बेगम पैलेस पचमढ़ी के अम्बामाई मंदिर के पास में स्थित एक प्राचीन स्मारक है जो अब खंडहर में तब्दील हो गया है। यह पर आप दो मंजिला महल देख सकते है। लोगों का कहना है कि यह महल भूतिया है। मगर यह जगह शानदार है। 

Pachmarhi Tourist Place
Begum Palace, Pachmarhi


7. हांडी खो (Handi Khoh Pachmarhi)

हांडी खो पचमढ़ी शहर की खूबसूरत जगह है, यह पर एक खाई है जो 300 फुट गहरी है। यह पर घाटी हांडी का शेप बनाती है इसलिए इस जगह को हांडी कहा जाता है।


8. प्रियदर्शिनी प्वांइट (Priyadarshini Point, Pachmarhi)

यह चैरागढ मंदिर के रास्ते में पडती है, यह बहुत खूबसूरत घाटी है जहां से आप खूबसूरत घाटी, पहाडी एवं हरियाली देख सकते है।  श्रीमती इंदिरा गांधी के बचपन का नाम प्रियदर्शिनी था और उन्हें यह जगह बहुत पंसद थी इसलिए इस जगह का नाम प्रियदर्शिनी प्वांइट रखा गया। 


Pachmarhi Tourist Place
Priyadarshini Point, Pachmarhi



9. बडा महादेव मंदिर (Bada Mahadev, Pachmarhi)

इस मंदिर में एक गुॅफा है जहा पर पानी रिसता रहता है। यह का वातावरण बहुत शांत होता है। यह पर आपको बहुत सारे बंदर देखने मिल जाएगे ।


10. गुप्त महादेव मंदिर (Gupt Mahadev Temple, Pachmarhi )

यह मंदिर बडे महादेव मंदिर के आगे पडता है । यह पर एक संकरी गुफा है जहां पर शंकर जी का शिवलिंग विराजमान है। यह पर आप दर्शन कर सकते है। इस मंदिर से आगे जाने पर आपको चैरागढ महादेव का मंदिर पडता है। 

Pachmarhi Tourist Place
Gupt Mahadev Temple, Pachmarhi


11. राजेन्द्र गिरि सनसेट प्वांइट (Rajendra Giri sun set point)

इस जगह में आप खूबसूरत सन सेट का व्यू दिख सकते है एवं यह पर एक गार्डन भी है जहां पर डाॅ राजेन्द्र प्रसाद ने एक वट वृक्ष लगाया था। वहां देखा जा सकता है इसके अलावा यह पर आपके खाने पीने के लिए बहुत सारी दुकाने मिल जाएगी।


12. सूर्य नमस्कार पार्क (Surya Namaskar Point)

सूर्य नमस्कार पार्क एक योगासन पार्क है। यह मध्यप्रदेश का पहला योगासन पार्क है। यह पर आप योग कर सकते है। यह पर आपको एक्युप्रेशर ट्रेक मिल जाएगा जहां पर आप चला सकते है। 

Pachmarhi Tourist Place
Surya Namaskar Point

दोस्तों ये जगह मेरे द्वारा घूमी गई है पचमढी की बाकी जगह हम दो दिन के यात्रा मेें नहीं घूम सके।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है। जागृति पार्क कटनी में माधव नगर में स्थित है। जागृति पार्क

बालाघाट दर्शनीय स्थल - Balaghat tourist place | Tourist places near Balaghat

बालाघाट पर्यटन स्थल - Picnic spot near Balaghat | Balaghat famous places | Balaghat Jila बालाघाट जिला Balaghat District बालाघाट मध्य प्रदेश का एक जिला है। बालाघाट छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा के पास स्थित है। बालाघाट में वैनगंगा नदी बहती है। बालाघाट में भारत की सबसे बड़ी कॉपर की खदान मौजूद है। बालाघाट का मलाजखंड क्षेत्र कॉपर का सबसे बड़ा उत्पादक क्षेत्र है। यहां खुली खदान मौजूद है। बालाघाट जबलपुर संभाग के अतंर्गत आता है। बालाघाट 10 तहसीलों में बटा हुआ है। यह तहसील है - बालाघाट, बैहर, बिरसा, परसवाडा ,कटंगी, वारासिवनी, लालबर्रा, खैरलांजी, लांजी, किरनापूर। बालाघाट जिलें में घूमने के लिए बहुत सारे प्राकृतिक एवं ऐतिहासिक स्थल मौजूद है, जहां पर जाकर आप आप अपना समय बिता सकते है। Places to visit in Balaghat बालाघाट में घूमने लायक जगहें बोटैनिकल गार्डन - Botanical Garden Balaghat वनस्पति उद्यान बालाघाट जिले में स्थित एक दर्शनीय जगह है। यह बालाघाट में घूमने के लिए अच्छी जगह है। यह उद्यान वैनगंगा नदी के किनारे स्थित है। यहां पर आपको विभिन्न तरह के वनस्पतियां

बैतूल पर्यटन स्थल - Betul tourist place | Betul famous places

बैतूल दर्शनीय स्थल - Places to visit near Betul | Betul tourist spot | Betul city Betul jila बैतूल जिला बैतूल मध्यप्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है। बैतूल जिला सतपुडा की पहाडियों से घिरा हुआ है। बैतूल जिला के मुलताई में ताप्ती नदी का उदगम हुआ है। ताप्ती मध्यप्रदेश की मुख्य नदी है। बैतूल जिले की सीमा छिंदवाड़ा, नागपुर, अमरावती, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, और होशंगाबाद की सीमाओं को छूती है। बैतूल जिला 10 विकास खंडों में बटा हुआ है। यह विकासखंड है - बैतूल, मुलताई, भैंसदेही, शाहपुर, अमला, प्रभातपट्टन, घोड़ाडोंगरी, चिचोली, भीमपुर, आठनेर, । बैतूल नर्मदापुरम संभाग के अंर्तगत आता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बैतूल की दूरी करीब 178 किलोमीटर है। बैतूल जिलें में घूमने के लिए बहुत सारी दर्शनीय जगह मौजूद है, जहां पर जाकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते है।  बैतूल में घूमने की जगहें Places to visit in Betul बालाजीपुरम - Balajipuram betul | Betul ka Balajipuram | Balajipuram temple betul बालाजीपुरम बैतूल जिले में स्थित दर्शनीय स्थल है। यह भारत का पांचवा धाम है। ब