सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Jaisalmer लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आप हमारी मदद करना चाहते हैं, तो नीचे दिए लिंक से शॉपिंग कीजिए।

सलाम सिंह की हवेली जैसलमेर - Salam Singh Ki Haveli Jaisalmer

सलाम सिंह की हवेली या मोती महल जैसलमेर राजस्थान - Salam Singh Ki Haveli or Moti Mahal Jaisalmer Rajasthan   जैसलमेर में बहुत सारी हवेलियां है, इन्हीं में से एक हवेली है - सलाम सिंह की हवेली।   सलाम सिंह की हवेली जैसलमेर का एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल है। सलाम सिंह जैसलमेर रियासत के एक  मंत्री हुआ करते थे। यह हवेली बहुत सुंदर है और जैसलमेर शहर के बीचो-बीच बनी हुई है। यह हवेली जैसलमेर किले से करीब 1 किलोमीटर दूर होगी। यह हवेली बाहर से और अंदर से दोनों जगह से ही सुंदर दिखाई देती है। सलाम सिंह की हवेली को मोती महल के नाम से भी जाना जाता है।     सलाम सिंह की हवेली में प्रवेश के लिए प्रवेश शुल्क लिया जाता है। यहां पर 50 रूपए का प्रवेश शुल्क लिया जाता है। विदेशी व्यक्तियों के लिए यह शुल्क अलग रहता है। यहां पर आप अंदर जाकर हवेली को देख सकते हैं। हवेली के अंदर बहुत सारी वस्तुओं को संभाल कर रखा गया है। यहां पर आपको प्राचीन वस्तुएं देखने के लिए मिल जाते हैं। सलाम सिंह की हवेली के बाहर प्रवेश द्वार में आपको दो हाथियों की मूर्ति देखने के लिए चलती है, जो बहुत ही सुंदर लगती है। आप हवेली के अंदर जाए

जैसलमेर की डेजर्ट सफारी और कैमल सफारी - Desert Safari in Jaisalmer

जैसलमेर में डेजर्ट, जीप एवं कैमल सफारी का अनुभव - Experience Desert, Jeep & Camel Safari in Jaisalmer जैसलमेर में भारत के बहुत सारे पर्यटक डेजर्ट सफारी का मजा लेने जाते हैं और यह डेजर्ट सफारी भी बहुत मनोरंजक होती है। हम लोग भी जैसलमेर में डेजर्ट सफारी का मजा लेने गए थे। हम लोग डेजर्ट सफारी के लिए ऑनलाइन बुकिंग किए थे। डेजर्ट सफारी में रेगिस्तान में कैंप लगता है। डांस होता है। आप अगर ऊंट की सवारी लेना चाहते हैं, तो वह भी कर सकते हैं या आप जीप की सवारी लेना चाहते हैं, तो रेगिस्तान में जीप की सवारी का भी मजा ले सकते हैं। मगर कैमल सफारी और जीप सफारी में बहुत मजा आता है। वैसे जीप सफारी और ऊंट सफारी का अलग-अलग चार्ज यहां पर लगता है। मगर आप यहां पर आते हैं, तो इस चीज का अनुभव भी आपको करना चाहिए। हम लोग जैसलमेर में खासतौर पर डेजर्ट सफारी का मजा लेने ही आए थे।     आप जैसलमेर डेजर्ट सफारी के लिए ऑनलाइन बुकिंग कर सकते हैं या आप चाहे तो यहां पर आकर भी बुकिंग कर सकते हैं।  जैसलमेर डेजर्ट सफारी के लिए अलग-अलग पैकेज मिलते हैं। डेजर्ट सफारी पैकेज में आपको अलग-अलग सुविधाएं मिलती हैं।

पटवों की हवेली जैसलमेर राजस्थान - Patwon ki haveli Jaisalmer Rajasthan

कोठारी पटवा की हवेली और संग्रहालय जैसलमेर - Kothari Patwa Ki Haveli and Museum Jaisalmer पटवों की हवेली जैसलमेर की एक प्रसिद्ध जगह है। यहां पर आपको पांच हवेलियां देखने के लिए मिलती है। मगर यहां पर कुछ हवेलियों में जाने की ही अनुमति है। यहां पर हम लोग कोठारी पटवा हवेली में घूमने के लिए गए थे। जिसे कोठारी पटवा म्यूजियम भी कहते हैं। यह हवेली भी बहुत सुंदर थी। यह हवेली अंदर से और बाहर से दोनों जगह से ही बहुत सुंदर थी। बाहर से आप इस हवेली को देखेंगे, तो इस हवेली के दरवाजे खिड़कियों में बहुत ही सुंदर नक्काशी की गई थी, जो बहुत ही अद्भुत है।  पटवा हवेली के अंदर बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह  देखने के लिए मिल जाएगा। इस हवेली के बाहर बाजार देखने के लिए मिलता है। यहां पर बहुत सारे कपड़ों की दुकान है। यहां पर राजस्थानी सूट मिल रहे थे। हम लोगों ने राजस्थानी सूट लिए नहीं, क्योंकि यहां पर बहुत महंगे मिल रहे थे। इसके अलावा यहां पर आपको और भी बहुत सारी वस्तुएं मिल जाएंगे। वैसे इस हवेली के निचले भाग में भी मार्केट है, जहां से आप सामान ले सकते हैं। हम लोगों के साथ जो गाइड था। वह हम लोगों को बोल रहा थ

कुलधरा गाँव जैसलमेर राजस्थान - Kuldhara Village Jaisalmer, Rajasthan

राजस्थान का भूतिया गांव - कुलधरा गांव (कुलधरा विलेज) -  Ghost Village of Rajasthan - Kuldhara Village भारत में बहुत सारी भूतिया जगह है। इन भूतिया जगह में कुलधरा गांव का नाम भी शामिल है। कुलधरा जैसलमेर शहर का एक प्रसिद्ध स्थान है। इस जगह को भूतिया जगह के नाम से जाना जाता है। कुलधरा एक गांव है और इसे भूतिया गांव कहते हैं। इस गांव के बारे में कहा जाता है कि यहां पर भूत रहा करते हैं और इसी विशेषता के कारण यह गांव पूरे देश में प्रसिद्ध है। यहां पर बहुत सारे पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। यहां पर दिन के समय तो सभी चीजें बहुत अच्छी लगती हैं। अब रात के समय का हम लोगों को पता नहीं है। हम लोग इस जगह पर दिन के समय गए और हमें यहां पर हर चीज नॉर्मल लगी थी और यहां पर हम लोगों को पुराने टूटे हुए खंडहर होते हुए घर देखने के लिए मिले।  कुलधरा गांव बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। हम लोग अपनी जैसलमेर यात्रा में सबसे पहले कुलधरा गांव में ही घूमने के लिए गए थे। हम लोग जैसलमेर डेजर्ट सफारी की तरफ जा रहे थे, तो हम लोगों को कुलधरा गांव भी घूमने का मौका मिला और हम लोग इस गांव में गए थे। कुलधरा गांव जैस

Gadisar Lake Jaisalmer - गड़ीसर झील जैसलमेर | Gadisar | जैसलमेर का दर्शनीय स्थल

गड़ीसर झील Gadsisar lake | G adisar lake history गड़ीसर झील जैसलमेर गड़ीसर झील जैसलमेर गड़ीसर झील जैसलमेर में स्थित प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलों में से एक है। आप यहां पर अपने शाम का समय आकर बहुत अच्छा बिता सकते हैं। हम लोग इस झील में शाम के 4 बजे पहुंचे होंगे। यह झील हमारे होटल के बहुत करीब थी, तो हम लोग पैदल ही इस झील तक आ गए थे।  गड़ीसर झील जैसलमेर शहर में ही स्थित है। यहां पर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह बहुत बड़ी झील है। गड़ीसर झील के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। यह जो मंदिर है, वह पत्थर के बने हैं। यहां पर हम लोग झील के किनारे एक मंदिर में गए थे, जो शंकर भगवान जी को समर्पित था। यह मंदिर पूरी तरह पत्थर से बना हुआ था और बहुत खूबसूरत लग रहा था।  गड़ीसर झील के पास बहुत सारी दुकानें लगी रहती हैं। इन दुकानों में आपको तरह-तरह का सामान मिलता है। आप यहां पर आकर खासतौर पर राजस्थानी सामान की शॉपिंग कर सकते हैं। यहां पर आपको राजस्थानी ड्रेस मिल जाती है। राजस्थानी बैग मिल जाएंगे और यहां पर आपको राजस्थानी कड़े भी मिल जाते हैं। यहां पर आप आकर अलग-अलग तरह के सामान ले सकते हैं। हम ल

जैसलमेर कैंप का अनुभव - Jaisalmer safari camp | Jaisalmer sand dunes camp booking

जैसलमेर रेगिस्तान  कैंप - J aisalmer camp booking जैसलमेर भारत में स्थित एक जिला है और यह जिला रेगिस्तान के लिए प्रसिद्ध है। जैसलमेर भारत देश के राजस्थान राज्य में स्थित है।  रेगिस्तान जैसलमेर के बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और इस रेगिस्तान को देखने के लिए हर साल लाखों की तादाद में लोग जैसलमेर में घूमने के लिए आते हैं। आप जैसलमेर में ट्रेन के द्वारा और प्लेन के द्वारा पहुंच सकते हैं। हम लोग जैसलमेर ठंड के समय पर गए थे। ठंड के समय हम लोग जनवरी के महीने में गए थे। हम लोग यहां पर ट्रेन से पहुंचे थे। यहां पर हम लोग सुबह 5:00 बजे पहुंच गए थे।  हम लोग जैसलमेर में रेगिस्तान में कैंपिंग करने का मजा लेने के लिए गए थे और हमारे यहां का अनुभव बहुत ही जबरदस्त रहा है। हम लोगों को बहुत मजा आया। हम लोगों ने कैंप की बुकिंग ऑनलाइन किया था। आपको यहां पर कैंपिंग के जो प्राइस रहते हैं। वह सारे अलग-अलग रहते हैं और सारी अलग-अलग फैसिलिटी रहती है। आपको जैसी फैसिलिटी चाहिए। आप उस तरह का प्राइस देकर बुकिंग कर सकते हैं। हम लोगों को जो फैसिलिटी मिली। उसमें हमारा कैंप में रहने का, हमारे खाने का और ऊंट की हमारी

जैसलमेर का किला (Jaisalmer Fort) की यात्रा

जैसलमेर का किला जैसलमेर जिलें  के प्रमुख  पर्यटन स्थलों  में से एक है।  जैसलमेर का किला जैसलमेर जिले में स्थित एक बहुत ही विशाल किला है।  यह किला आपको जैसलमेर शहर के किसी भी हिस्से से देखने मिल जाता है।  यह किला एक पहाड़ी पर स्थित है और यह किला रेलवे स्टेशन से करीब 2 से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित होगा। आप इस किलें तक पहुॅचने के लिए  ऑटो लेकर आराम से जा सकते हैं। रेल्वे स्टेशन में ही आटों वाले आ जाते है, और आपसे पूछते है, कि आप कहां जाएगें। आप आटो वालों से मोलभाव करके इस किलें तक आ सकते है।  जैसलमेर किले का रानी महल  इस किलें की स्थापना राव जैसल द्वारा सन ११५६ में की गई थी। यह किला त्रिकूट पहाड़ी पर स्थित है। रेगिस्तान में स्थित होने के कारण इसे सोनार किला या सुनहरा किला भी कहते हैं। इस किला को यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर की रूप में शामिल किया गया है।  जैसलमेर का किलें तक जाने के लिए हम लोग ने भी आटों बुक किया था।  यह किला बहुत बड़ा है और यह दुनिया का पहला लिबिंग फोर्ट है, मतलब आज भी इस किलें में लोग रहते हैं। यह किला बहुत बड़ा है, तो आप इस किलें में जाते है तो