सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

होशंगाबाद पर्यटन स्थल - Hoshangabad tourist places in hindi

होशंगाबाद दर्शनीय स्थल - Tourist places near Hoshangabad | Hoshangabad picnic spot



होशंगाबाद में घूमने की जगह 


सेठानी घाट होशंगाबाद - Sethani Ghat Hoshangabad

सेठानी घाट होशंगाबाद का प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह नर्मदा नदी के किनारे बना हुआ है। यह घाट बहुत बड़ा घाट है। यह भारत में स्थित सबसे बड़े घाटों में से एक है। इस घाट में आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। आप इस घाट में नहाने का मजा भी ले सकते हैं। नर्मदा जयंती के समय हजारों की संख्या में लोग यहां आते हैं। यहां का दृश्य नर्मदा जयंती के समय देखते ही बनता है। सेठानी घाट का निर्माण जयंतीबाई  सेठानी ने किया था। इसलिए इस घाट को सेठानी घाट के नाम से जाना जाता है। यहां सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। आप सेठानी घाट में बैठकर नर्मदा नदी का खूबसूरत दृश्य इंजॉय कर सकते हैं। 


होशंग शाह का किला होशंगाबाद - Hoshang Shah's Fort Hoshangabad

होशंग शाह का किला होशंगाबाद में स्थित एक प्रमुख स्थल है। यहां पर आपको एक पुराना खंडहर किला देखने के लिए मिलता है। होशंगाबाद शहर का नाम भी होशंग शाह राजा के नाम पर रखा गया है। इस के पास में ही एक पार्क आपको देखने के लिए मिलता है। पार्क में आप आकर अच्छा समय बिता सकते हैं। आप इस किले में आकर घूम सकते हैं। किले के ऊपर से नर्मदा नदी का बहुत ही खूबसूरत दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। आपको इस जगह में आकर बहुत अच्छा लगेगा। 


बांद्राभान - नर्मदा और तवा नदी का संगम स्थल होशंगाबाद -  Bandrabhan - the confluence of the Narmada and Tawa rivers, Hoshangabad

बांद्राभान होशंगाबाद शहर में स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल है। बांद्राभान होशंगाबाद से करीब 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस जगह पर नर्मदा नदी और तवा नदी का संगम हुआ है। यह जगह बहुत खूबसूरत है। आप यहां पर आकर नहाने का मजा भी ले सकते हैं। यहां पर आप आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां से आपको सूर्योदय और सूर्यास्त का बहुत ही खूबसूरत दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर रेत के बड़े-बड़े मैदान हैं, जिन्हें आप देख सकते हैं। यहां पर साल में एक बार मेला भी लगता है। आप उस मेले में आकर आनंद उठा सकते हैं। 


आदमगढ़ की पहाड़ियां होशंगाबाद - Admgarh hills Hoshangabad

आदमगढ़ की पहाड़ियां होशंगाबाद में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको रॉक शेल्टर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आदिमानव प्राचीन समय में रहा करते थे। उनके द्वारा बनाई गई पेंटिंग आप देख सकते हैं। यहां पर आप बहुत सारी पेंटिंग देख सकते हैं। यहां पर हिरण, शेर, सूअर, मानव की नृत्य  करते हुए एवं शिकार करते हुए पेंटिंग बनाई गई है। आदमगढ़ की पहाड़ियां होशंगाबाद से करीब 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह जगह होशंगाबाद के दक्षिणी सिरे में स्थित है। आप यहां पर आ सकते हैं और इस जगह को घूम सकते हैं। यहां पर आप बरसात के समय आते हैं, तो आपको यहां पर ज्यादा अच्छा लगेगा, क्योंकि यहां आपको चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलेगी। 


हिंगलाज देवी मंदिर होशंगाबाद - Hinglaj Devi Temple Hoshangabad

हिंगलाज देवी का मंदिर होशंगाबाद में नर्मदा नदी के किनारे में स्थित है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर चारों तरफ से हरियाली से घिरा हुआ है और नर्मदा नदी का शानदार दृश्य आपको यहां पर देखने के लिए मिलता है। मंदिर में आपको माता हिंगलाज के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप शंकर जी के दर्शन भी कर सकते हैं। यहां आकर आप अपना समय शांति से बिता सकते हैं। यह मंदिर नर्मदा हाईवे ब्रिज के पास में है। आप यहां पर आराम से पहुंच सकते हैं। 


श्री जगदीश मंदिर होशंगाबाद - Shri Jagdish Temple Hoshangabad

श्री जगदीश मंदिर होशंगाबाद में स्थित एक प्रमुख स्थल है। यह मंदिर नर्मदा नदी के किनारे स्थित है, तो आप नर्मदा नदी का खूबसूरत दृश्य देख सकते हैं। यह एक धार्मिक स्थल है। आप यहां पर आ कर मन को शांत कर सकते हैं। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर में रुकने की व्यवस्था है। अगर आप कहीं बाहर से आते हैं, तो मंदिर में धर्मशाला है। आप वहां पर रुक सकते हैं। 


पर्यटन घाट होशंगाबाद - Paryatan ghat hoshangabad

पर्यटन घाट होशंगाबाद में स्थित नर्मदा नदी के किनारे पर बना हुआ एक सुंदर घाट है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह घाट एमपी टूरिज्म के द्वारा बनाया गया है। इस घाट को बहुत खूबसूरती से सजाया गया है। आप यहां पर बहुत सारी कलाकृतियां देख सकते हैंए जो एमपी टूरिज्म के द्वारा बनाई गई है। आप यहां पर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। 


हर्बल पार्क होशंगाबाद - Herbal Park Hoshangabad

हर्बल पार्क होशंगाबाद शहर में नर्मदा नदी के किनारे स्थित है। यहां पर चारों तरफ आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। मगर यह पार्क अच्छी तरह से मेंटेन नहीं है। आप यहां पर बरसात के समय आएंगे, तो आपको यहां पर बहुत अच्छा लगेगा, क्योंकि चारों तरफ हरियाली होती है। यहां पर आप मोर भी देख सकते हैं। यहां पर जोगिंग करने के लिए रोड बनी हुई है, जहां से आप पूरे पार्क को घूम सकते हैं। यहां पर आकर आपको अच्छा लगेगा और ताजी हवा का आनंद लेने मिलेगा। 


श्री बूढ़ी माता धाम होशंगाबाद - shree boodhi mata dham hoshangabad

बूढ़ी माता का मंदिर होशंगाबाद जिले में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर होशंगाबाद जिले में इटारसी में स्थित है। इस मंदिर में आपको बूढ़ी माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर परिसर में शिव भगवान जी के भी दर्शन आपको करने के लिए मिल जाएंगे। यहां पर साल में एक बार मेला लगता है, जिसमें भारी जनसंख्या में लोग आते हैं। आप भी यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


श्री स्वप्नेश्वर हनुमान धाम होशंगाबाद - Sri Swapneshwar Hanuman Dham Hoshangabad

यह हनुमान मंदिर होशंगाबाद शहर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर होशंगाबाद शहर में इटारसी के पास में स्थित है।  यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। मंदिर में छोटा सा बगीचा है, जहां पर आप शांति से बैठ सकते हैं। मंदिर में आपको हनुमान जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिल जाती है। मंदिर में शिव भगवान जी का भी छोटा सा मंदिर है और नर्मदा माई का भी छोटा सा मंदिर है। आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा और शांति का अनुभव होगा। मंदिर को सजाने के लिए हनुमान जी की छोटी-छोटी प्रतिमाओं को दीवारों पर रखा गया है और मंदिर की दीवारों पर सुंदर पेंटिंग बनाई गई है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर भी हनुमान जी की प्रतिमा को रखा गया है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा।


तवा बांध होशंगाबाद - Tawa Dam Hoshangabad 

तवा बांध होशंगाबाद शहर का एक मुख्य पर्यटन आकर्षण है। आप यहां पर पिकनिक मनाने के लिए आ सकते हैं। आपका पूरा 1 दिन यहां पर बीत जाएगा। यहां पर चारों तरफ जंगल का खूबसूरत नजारा आपको देखने के लिए मिलेगा और तवा बांध का मनोरम दृश्य भी आप देख सकते हैं। यहां पर आपको बोटिंग की सुविधा भी दी गई है, ताकि आप यहां पर वोटिंग कर सके। यहां पर क्रूज वगैरह भी हैं, जिनमें आप जा सकते हैं। आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा। आप यहां पर अगर बरसात के समय आते हैं, तो बरसात के समय आपको बहुत ही मनोरम दृश्य देखने के लिए मिलेगा, क्योंकि बरसात के समय बांध के गेट खोले जाते हैं, जिससे अपार जल राशि गेट से निकलती है और उसका दृश्य देखने लायक होता है। इस बांध में 11 गेट हैं और यह बांध तवा नदी पर बना हुआ है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। 


सतपुड़ा नेशनल पार्क होशंगाबाद  - Satpura National Park Hoshangabad

सतपुड़ा नेशनल पार्क होशंगाबाद में घूमने के लिए एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। आप यहां पर सफारी का मजा ले सकते हैं। आपको यहां पर विभिन्न प्रकार के जीव जंतु एवं पौधों की विभिन्न प्रजातियां देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर आप बाघ, भालू, हिरण, सूअर देख सकते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा। चारों तरफ आपको हरियाली देखने मिलेगी। 


पचमढ़ी होशंगाबाद - Pachmarhi Hoshangabad

पचमढ़ी होशंगाबाद में स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल है। पचमढ़ी में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। पचमढ़ी में आप  चैरागढ़ मंदिर, जटाशंकर मंदिर, गुप्त महादेव, सनसेट पॉइंट, धूपगढ़, राजेंद्र गिरी, हांडी खोह, रजत जलप्रपात आदि देख सकते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यहां पर आप आते हैं, तो कम से कम 2 दिन का प्लान बना कर आइए।  यहां पर आप जिप्सी से सारी जगह घूम सकते हैं। कई जगह पर आपको पैदल भी चलना पड़ सकता है। 


बोरी वन्यजीव अभयारण्य होशंगाबाद - Bori Wildlife Sanctuary Hoshangabad

बोरी वन्यजीव अभ्यारण होशंगाबाद शहर में स्थित एक प्राकृतिक स्थल है। यहां पर आपको जंगल और जंगली जीव देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप जंगली जानवरों और वनस्पतियों की ढेर सारी प्रजातियां देख सकते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा। बोरी वाइल्डलाइफ सेंचुरी पचमढ़ी बायोस्फीयर का ही हिस्सा है। यहां पर आपके प्रवेश का एंट्री चार्ज लिया जाता है। यह सेंचुरी 518 स्क्वेयर किलोमीटर क्षेत्र में फैली हुई है। 


पन्ना पर्यटन स्थल

गुना पर्यटन स्थल

चंदेरी के दर्शनीय स्थल

ओरछा दर्शनीय स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।

बैतूल पर्यटन स्थल - Betul tourist place | Betul famous places

बैतूल दर्शनीय स्थल - Places to visit near Betul | Betul tourist spot | Betul city बैतूल जिले की जानकारी - Betul district information बैतूल मध्यप्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है। बैतूल जिला सतपुडा की पहाडियों से घिरा हुआ है। बैतूल जिला के मुलताई में ताप्ती नदी का उदगम हुआ है। ताप्ती मध्यप्रदेश की मुख्य नदी है। बैतूल जिले की सीमा छिंदवाड़ा, नागपुर, अमरावती, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, और होशंगाबाद की सीमाओं को छूती है। बैतूल जिला 10 विकास खंडों में बटा हुआ है। यह विकासखंड है - बैतूल, मुलताई, भैंसदेही, शाहपुर, अमला, प्रभातपट्टन, घोड़ाडोंगरी, चिचोली, भीमपुर, आठनेर, । बैतूल नर्मदापुरम संभाग के अंर्तगत आता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बैतूल की दूरी करीब 178 किलोमीटर है। बैतूल जिलें में घूमने के लिए बहुत सारी दर्शनीय जगह मौजूद है, जहां पर जाकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते है।  बैतूल में घूमने की जगहें Places to visit in Betul बालाजीपुरम - Balajipuram betul | Betul ka Balajipuram | Balajipuram temple betul बालाजीपुरम बैतूल जिले में स्थित दर्शनीय स्थल है।