सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

गुना पर्यटन स्थल - Guna tourist places | Places to visit in Guna

गुना शहर के दर्शनीय स्थल - Guna famous places | Guna places to visit | गुना जिले के प्रसिद्ध स्थान | Major Attractions of Guna District


गुना में घूमने की जगहें



हनुमान टेकरी गुना - Hanuman tekri mandir guna

हनुमान टेकरी गुना शहर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह एक हिंदू मंदिर है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर तक पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर 350 सीढ़ियां बनी हुई है। इस मंदिर में आकर बहुत अच्छा लगता है। इस मंदिर में पहुंचकर गुना शहर का मनोरम दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बहुत ही खूबसूरती से बना हुआ है। मंदिर सफेद मार्बल से बना हुआ है और हनुमान जी की मूर्ति विराजमान है। यहां पर शिव भगवान जी की मूर्ति विराजमान है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। आप यहां पर अपना समय आकर बिता सकते हैं। मंदिर में मंगलवार और शनिवार के दिन लोग हनुमान जी के दर्शन करने विशेषकर आते हैं। 


बजरंगगढ़ का किला गुना - Bajrang Garh Fort Guna

बजरंग गढ़ का किला गुना शहर के पास में स्थित एक दर्शनीय स्थल है। यह एक ऐतिहासिक स्थल है। यहां पर एक किला स्थित है। यह किला गुना शहर के बजरंग गढ़ गांव के पास स्थित है। यह किला एक पहाड़ी पर बना हुआ है। किले तक पहुंचने के लिए सड़क है। इस किले के अंदर आपको महल एवं मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। यह किला 16वीं और 17वीं शताब्दी के बीच में बना है। यह किला यादव राजा जयसिंह के शासनकाल में बनाया गया है। किले के अंदर आप अभी भी मोती महल, रंग महल, राम मंदिर और बजरंग मंदिर देख सकते हैं। यह अभी भी अच्छी हालत में मौजूद है। आप यहां पर फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। यह किला बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। 


गोपी कृष्णा सागर डैम गुना - Gopi Krishna Sagar Dam Guna

गोपी कृष्ण सागर बांध गुना शहर में स्थित एक पर्यटन स्थल है। आप यहां पर आकर पिकनिक मना सकते हैं। यह गुना शहर से करीब 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पर आपको खूबसूरत जलाशय देखने के लिए मिलता है। यहां पर चारों तरफ आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। आपके मनोरंजन के लिए यहां पर पार्क भी बना हुआ है, जहां पर आप बैठ सकते हैं और अपना समय बिता सकते हैं। यहां पर कैफे भी बना हुआ है, जहां से आप चाय और नाश्ता ऑर्डर कर सकते हैं। यहां पर बोटिंग की सुविधा भी उपलब्ध है, जहां पर आप तरह-तरह के बोट और क्रूस का मजा ले सकते हैं। गोपी कृष्ण सागर बांध नेशनल हाईवे 46 के करीब है। आप आराम से इस बांध तक पहुंच सकते हैं।

 

बीस भुजी मंदिर गुना - Bees bhuja mandir Guna

बीस भुजी  मंदिर गुना जिले के बजरंगगढ़ के पास है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यह मंदिर बहुत खूबसूरत लगता है और यहां पर आप बीस भुजी माताजी के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर माता जी की 20 भुजाएं वाली प्रतिमा आपको देखने मिलती है। यहां आकर आपको अच्छा लगेगा। 


श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन पुण्योदय अतिशय तीर्थक्षेत्र गुना - Shree Shantinath Digambar Jain Punyodaya Atiyyat Tirthakshetra Guna

श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन अतिशय मंदिर गुना शहर के पास में स्थित एक प्रमुख जैन तीर्थ स्थल है। यह तीर्थ स्थल बजरंगगढ़ में स्थित हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर में आपको श्री शांतिनाथ भगवान की 15 फुट की ऊंची प्रतिमा खड़ी हुई अवस्था में देखने के लिए मिलती हैए जो जैन धर्म के सोलवे जैन तीर्थ कार थे। यहां पर आपको मूर्तियां देखने के लिए मिलती हैं, जो प्राचीन समय की हैं। यह मंदिर बहुत बड़ा है और बहुत खूबसूरत है। यहां पर ठहरने की भी व्यवस्था है। 


केदारनाथ मंदिर गुना - Kedarnath Mandir Guna

केदारनाथ धाम मंदिर गुना जिले में स्थित एक प्राकृतिक और धार्मिक स्थल है। यहां पर आपको जलप्रपात देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही खूबसूरत लगता है। यह जगह चारों तरफ से जंगल से घिरी हुई है। यहां पर आपको शिवलिंग भी देखने के लिए मिलता है। शिवलिंग का साल भर जलाभिषेक होता रहता है। पहाड़ों से पानी शिवलिंग के ऊपर रिसता है। यहां पर आप आकर घूम सकते हैं। आप यहां पर झरने  पर नहाने का मजा भी ले सकते हैं। झरने के नीचे कुंड बना हुआ है। अगर आपको तैरते नहीं बनता है, तो आप कुंड के ज्यादा करीब नहीं जाएं, क्योंकि यह कुंड  ज्यादा गहरा है। यहां पर बहुत सारी गुफाएं हैं, जो चट्टानों पर बनी हुई है। आप उन्हें देख सकते हैं। यहां पर जो चारों तरफ का माहौल है। वह पूरा प्राकृतिक है, जो आपको खूबसूरत लगेगा। यहां पर आकर आपको बहुत शांति मिलेगी।यहां पर आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यहां पर शिवरात्रि के समय मेला भी लगता है। आप यहां पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। केदारनाथ धाम मंदिर गुना जिले से करीब 34 किलोमीटर की दूरी पर है। आप यहां पर अपने वाहन से जा सकते हैं। 


निहाल देवी मंदिर निहालगढ़ गुना - Nihal Devi Mandir Nihalgarh Guna

निहाल देवी मंदिर गुना जिले में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह एक हिंदू मंदिर है। यहां पर आपको माता जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर जंगल में है। आपको यहां चारों तरफ से हरियाली देखने मिलेगी। यहां पर आपको बहुत सारे बंदर भी देखने के लिए मिलते हैं। आप बंदरों को यहां पर दाना डाल सकते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यहां पर बहुत शांति है। यह मंदिर एक पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। आप इस मंदिर तक बहुत आसानी से पहुंच सकते हैं। यह मंदिर गुना जिले के निहालगढ़ में स्थित है। मंदिर के बाहर आपको कुछ मूर्तियां देखने के लिए मिल जाती हैं, जो खंडित अवस्था में हैं। यह मूर्तियां भगवान बुद्ध की है। मंदिर के बाहर आपको प्रसाद की दुकान देखने के लिए मिलती हैं, जहां से आप प्रसाद ले सकते हैं। 


संजय सागर जलाशय गुना - Sanjay Sagar Reservoir Guna

संजय सागर जलाशय गुना शहर में स्थित एक घूमने वाली जगह है। आप यहां पर आकर पिकनिक मना सकते हैं। यहां पर आपको खूबसूरत जलाशय देखने के लिए मिलता है। इस जलाशय में आप नहाने का मजा भी ले सकते हैं। यह जलाशय गुना इंदौर मार्ग पर स्थित है। यह जलाशय खूबसूरत है और चारों तरफ हरियाली से घिरा है। 


तुका बाबा मंदिर गुना  - Tuka Baba Mandir Guna

तुका बाबा मंदिर गुना शहर में राघोगढ़ में स्थित है। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर घने जंगल के बीच में स्थित है। यह मंदिर बहुत पुराना है। यहां पर आपको बंदर भी देखने के लिए मिल जाते हैं। आप यहां पर आ कर माता रानी के दर्शन कर सकते हैं। कहा जाता है कि यहां पर मांगी गई हर दुआ पूरी होती है, तो आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


अष्टभुजी माता का मंदिर गुना - Ashtbhuji mata ka mandir Guna

अष्टभुजी माता का मंदिर गुना शहर में राघोगढ़ में स्थित है। इस मंदिर में आप घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर भी घने जंगल के बीच में स्थित है। मंदिर के चारों तरफ आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर मां अष्टभुजी की प्रतिमा आपको देखने के लिए मिल जाएगी। इसके अलावा यहां पर शंकर जी की और हनुमान जी की प्रतिमा भी आपको देखने के लिए मिल जाएगी। यहां आकर आपको बहुत शांति मिलेगी। 


शाहाबाद का किला गुना - Shahabad ka kila Guna 

शाहाबाद का किला गुना जिले से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह एक खूबसूरत दर्शनीय स्थल है। यह एक प्राचीन किला है। किले के अंदर आपको पुरानी बावड़ी, छतरी, मंदिर एवं मजार भी देखने के लिए मिल जाएगी। यहां पर आपको घोड़ों का अस्तबल भी देखने के लिए मिलेगा। यह किला बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यहां आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। आप किले तक ट्रैकिंग कर पहुंच सकते हैं। यह किला पहाड़ी की चोटी पर स्थित है। यह किला मुगलों के अधीन भी रह चुका है। यह किला घने जंगलों के बीच में स्थित है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। 


सिंगवासा पार्क गुना (singwasa park Guna)

मकरोड बांध गुना (Makarod bandh Guna )

प्राचीन शिव मंदिर गादेर गुफा  गुना (prachin shiv mandir gader gufa Guna)

खाटूश्याम जी मंदिर गुना (Khatushyam jee mandir Guna)


झांसी के दर्शनीय स्थल

ग्वालियर पर्यटन स्थल

मुरैना दर्शनीय स्थल

जबलपुर पर्यटन स्थल



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।

बैतूल पर्यटन स्थल - Betul tourist place | Betul famous places

बैतूल दर्शनीय स्थल - Places to visit near Betul | Betul tourist spot | Betul city बैतूल जिले की जानकारी - Betul district information बैतूल मध्यप्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है। बैतूल जिला सतपुडा की पहाडियों से घिरा हुआ है। बैतूल जिला के मुलताई में ताप्ती नदी का उदगम हुआ है। ताप्ती मध्यप्रदेश की मुख्य नदी है। बैतूल जिले की सीमा छिंदवाड़ा, नागपुर, अमरावती, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, और होशंगाबाद की सीमाओं को छूती है। बैतूल जिला 10 विकास खंडों में बटा हुआ है। यह विकासखंड है - बैतूल, मुलताई, भैंसदेही, शाहपुर, अमला, प्रभातपट्टन, घोड़ाडोंगरी, चिचोली, भीमपुर, आठनेर, । बैतूल नर्मदापुरम संभाग के अंर्तगत आता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बैतूल की दूरी करीब 178 किलोमीटर है। बैतूल जिलें में घूमने के लिए बहुत सारी दर्शनीय जगह मौजूद है, जहां पर जाकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते है।  बैतूल में घूमने की जगहें Places to visit in Betul बालाजीपुरम - Balajipuram betul | Betul ka Balajipuram | Balajipuram temple betul बालाजीपुरम बैतूल जिले में स्थित दर्शनीय स्थल है।