सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

मेहसाणा जिले के पर्यटन स्थल - Mehsana Tourist Places

मेहसाणा जिले के दर्शनीय स्थल - Major places to visit in Mehsana District / मेहसाणा जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह



मेहसाणा गुजरात राज्य का एक प्रमुख जिला है। मेहसाणा गुजरात राज्य की राजधानी गांधीनगर से 61 किलोमीटर दूर है। मेहसाणा जिले का मुख्यालय मेहसाणा है। मेहसाणा जिले के मुख्यालय में खैरी नदी बहती है। मेहसाणा जिले में और भी बहुत सारी नदियां बहती है। यहां पर साबरमती, पुष्पावती नदियां बहती है। मेहसाणा जिले की स्थापना विक्रम संवत 1414 में चावड़ा राजवंश ने की थी। बाद में गायकवाड़ ने 1902 में मेहसाणा को अपनी मुख्यालय बनाया था। 1960 के बाद मेहसाणा एक स्वतंत्र जिले के रूप में स्थापित किया गया था। मेहसाणा जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - मेहसाणा जिले में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है। 


मेहसाना में घूमने की जगह - Mehsana mein ghumne ki Pramukh jagah


स्वामीनारायण मंदिर मेहसाना - Swaminarayan Mandir Mehsana

स्वामीनारायण मंदिर मेहसाणा जिले का एक प्रमुख मंदिर है। यह मंदिर स्वामीनारायण भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत ही भव्य है। यह मंदिर मेहसाणा में मोढेरा सड़क पर स्थित है। पूरा मंदिर बलुआ पत्थर से बना हुआ है। मंदिर की दीवारों और छत में सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर में आपको श्री स्वामीनारायण भगवान, श्री गुनातीतानंद स्वामी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। 

मंदिर में शाम के समय आरती होती है, जिसमें आप यहां पर आकर शामिल हो सकते हैं। आरती बहुत ही अच्छी होती है मंदिर के सामने छोटा सा बगीचा है और मंदिर में पार्किंग की जगह भी है। अगर आप अपनी गाड़ी से आते हैं, तो यहां पर आराम से गाड़ी खड़ी कर सकते हैं। मंदिर का प्रवेश द्वार बहुत ही सुंदर है। मंदिर के बगीचे में आपको बहुत सारी मूर्तियां देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही जबरदस्त लगती है। 


श्री गणपति मंदिर मेहसाना - Shree Ganpati Temple Mehsana

श्री गणपति मंदिर मेहसाना का एक घूमने वाली मुख्य जगह है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर श्री गणपति जी को समर्पित है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर मेहसाणा जिले में उंझा तहसील में ऐथोर गांव में स्थित है। यह मंदिर  पुष्पवती नदी के किनारे बना हुआ है। आप यहां पर आकर गणेश जी के प्राचीन मंदिर को देख सकते हैं। इस मंदिर की दीवारों में बहुत सुंदर सुंदर नक्काशी की गई है। 

मंदिर के गर्भ गृह में गणेश जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। गणेश जी की सूंड कुछ अलग प्रकार की है। गर्भगृह में शिवलिंग विराजमान है। गर्भगृह के बाहर मंडप में नंदी भगवान जी की प्रतिमा विराजमान है। यहां पर आपको विष्णु मंदिर देखने के लिए मिलता है। यहां पर भोजनालय है, जहां पर आपको बहुत कम कीमत पर खाना मिल जाता है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं और इस मंदिर की सुंदरता को देख सकते हैं। मंदिर का शिखर देखने में बहुत सुंदर लगता है। 


श्री सीमंधर स्वामी जैन तीर्थ धाम मेहसाना - Shri Simandhar Swami Jain Teerth Dham Mehsana

श्री सीमंधर स्वामी जैन मंदिर मेहसाना का एक प्रमुख जैन तीर्थ स्थल है। यहां पर आपको बहुत सुंदर मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बलुआ पत्थर से बना हुआ है। इस मंदिर में सुंदर नक्काशी की गई है। मंदिर का शिखर भी बहुत जबरदस्त है। मंदिर के अंदर आपको श्री सीमंधर स्वामी प्रभु जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा सफेद संगमरमर की बनी हुई है। यह प्रतिमा 146 इंच की है। मंदिर के बाहर सुंदर गार्डन बना हुआ है। आप मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर ठहरने की और भोजनशाला की सुविधा उपलब्ध है। यह मंदिर मेहसाना में, मेहसाना बस स्टॉप के पास में बना हुआ है। आप यहां आराम से पहुंच सकते हैं। 


राज महल मेहसाणा - Raj Mahal Mehsana

राज महल मेहसाणा का एक मुख्य ऐतिहासिक स्थल है। इस महल का निर्माण सयाजीराव गायकवाड तृतीय ने करवाया था। सयाजीराव गायकवाड बड़ौदा के महाराजा थे। यह महल बहुत ही सुंदर है। महल का ऊपरी भाग गुंबद है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। यह महल मेहसाणा में सेंट्रल बस स्टैंड के पास में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 

राज महल के सामने आपको एक छोटा सा आंगन देखने के लिए मिलता है, जिसमें बड़ौदा के महाराजा सयाजीराव गायकवाड की मूर्ति लगी हुई है। यहां पर आपको एक सेंट्रल गुंबद देखने के लिए मिलता है और दो छोटे गुंबद देखने के लिए मिलते हैं। इस महल को गवर्नमेंट ऑफिस के रूप में उपयोग किया जाता है। यह देखने में बहुत ही जबरदस्त लगता है। यह मेहसाना में घूमने लायक जगह है। 


मोढेरा का सूर्य मंदिर मेहसाना - Modhera Sun Temple Mehsana

मोढेरा का सूर्य मंदिर मेहसाणा का एक प्रसिद्ध आकर्षण स्थल है। यह मंदिर पूरे गुजरात राज्य में प्रसिद्ध है। यह मंदिर मेहसाणा जिले के मोढेरा तहसील के तहसील में पुष्पावती नदी के किनारे स्थित है। यह मंदिर यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल में शामिल है। यह मंदिर संभवतः सोलंकी राजा भीमदेव प्रथम के शासनकाल में बनाया गया था। स्थापत्य की दृष्टि से यह सूर्य मंदिर गुजरात में सोलंकी शैली में बने मंदिरों में एक सर्वोच्च उत्कृष्ट उदाहरण है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर दिखता है। पूरा मंदिर बलुआ पत्थर से बना हुआ है और मंदिर की दीवारों में बहुत ही सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। 

मोढेरा का सूर्य मंदिर एक ऊंची चबूतरे पर बना हुआ है। इस मंदिर में आपको तीन भाग देखने के लिए मिलते हैं - प्रदक्षिणा पथ युक्त गर्भ ग्रह, मंडप और एक अलग से बना हुआ सभा मंडप। सभा मंडप में आपको अलंकृत तोरण द्वार भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। सूर्य मंदिर के सामने आपको एक सुंदर कुंड देखने के लिए मिलती है। इस कुंड को सूर्य कुंड कहते हैं और यहां के स्थानीय लोगों के द्वारा इसे राम कुंड भी कहा जाता है। इस कुंड का आकार आयताकार है। यह बहुत सुंदर है। इस कुंड के जल स्तर तक पहुंचने के लिए मंदिर के चारों तरफ सीढ़ियां बनाई हुई है। कुंड के भीतर लघु आकार के कई छोटे-बड़े मंदिर निर्मित किया गए हैं, जो शीतला माता, गणेश, शिव, विष्णु भगवान जी को समर्पित है। सूर्य कुंड देखने में बहुत ही जबरदस्त लगता है। 

आप अगर मेहसाना घूमने के लिए आते हैं, तो आपको मोढेरा के सूर्य मंदिर जरूर आना चाहिए। मंदिर की दीवारों में दिगपाल, देवियों तथा अप्सराओं की मूर्तियां बनाई गई है। यहां शाम के समय लाइट जलाई जाती है, जिससे मंदिर और भी ज्यादा सुंदर लगता है। मंदिर परिसर में संग्रहालय भी बना हुआ है, जहां पर बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह कर कर रखा गया है। इस मंदिर में प्रवेश के लिए, प्रवेश शुल्क लिया जाता है। यहां पर एक भारतीय व्यक्ति का 25 रुपए लिए जाते हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मेहसाणा में घूमने लायक मुख्य जगह है। 


हवामहल मोढेरा मेहसाणा - Hawa Mahal Modhera Mehsana

हवामहल मोढेरा मेहसाणा का एक ऐतिहासिक स्थल है। यह स्थल प्राचीन है। यहां पर आपको एक मंडप देखने के लिए मिलता है। यह मंडप देखने में बहुत ही सुंदर लगता है और यह मंडप पिलर के ऊपर खड़ा है। मंडप का ऊपरी सिरा सपाट है। यह  मंडप सूर्य मंदिर मोढेरा के पास ही में स्थित है। यहां पर आपको एक बावली भी देखने के लिए मिलती है। यह बावली भी बहुत सुंदर है। 

इस बावड़ी को मोढेरा बावड़ी कहा जाता है। यह बावड़ी भी प्राचीन है। यह बावड़ी तीन मंजिला है।  इस बावड़ी का निर्माण 11वीं शताब्दी में किया गया था। इस बावड़ी में नीचे जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर करीब 33 सीढ़ियां बनी हुई है। यह बावड़ी सूर्य मंदिर के पास ही में स्थित है। आप अगर सूर्य मंदिर घूमने के लिए आते हैं, तो इन दोनों स्थलों में भी घूम सकते हैं। 


मोढेश्वरी माता मंदिर मेहसाणा - Modheshwari Mata Temple Mehsana

मोढेश्वरी माता मंदिर मेहसाणा का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर मेहसाणा में मोढेरा स्थित है। मोढेरा तहसील में यह प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर मोढेश्वरी माताजी को समर्पित है। मंदिर के गर्भ गृह में मोढेश्वरी माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मोढेश्वरी माता की प्रतिमा बहुत सुंदर है। इस प्रतिमा में मोढेश्वरी माता की अपनी सवारी पर विराजमान है और उनके बहुत सारे हाथ देखने के लिए मिलते हैं। मोढेश्वरी माता गहनों और वस्त्रों से सुसज्जित है। यहां पर, जो मंदिर बना है। वह पुराना वास्तविक मंदिर है। यह मंदिर भूमिगत है। मंदिर का शिखर बहुत ही जबरदस्त लगता है। इस मंदिर के ऊपर नया मंदिर बनाया गया है। 

यह मंदिर बहुत खूबसूरत लगता है। मंदिर की दीवारों में नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको धर्मेश्वरी बावड़ी भी देखने के लिए मिलती है। यह बावड़ी बहुत सुंदर है। इस बावड़ी से भी लोगों की धार्मिक मान्यताएं जुड़ी हुई है। आप इस बावड़ी के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर आपको भोजनालय मिलता है, जहां पर बहुत कम कीमत पर खाना मिल जाता है। यहां पर ठहरने की व्यवस्था है। यहां पर पार्किंग के लिए बहुत बड़ा स्पेस है। आप यहां पर आ कर अपनी गाड़ी आराम से खड़ी कर सकते हैं। यह मेहसाणा की सबसे अच्छी जगह है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। 


थॉल पक्षी विहार मेहसाणा - Thol Bird Sanctuary Mehsana

थॉल पक्षी विहार मेहसाणा का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। यहां पर विदेशी पक्षी देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत बड़ी झील है। यह झील बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। यहां का चारों तरफ का वातावरण प्राकृतिक है। यह जगह अहमदाबाद के भी बहुत करीब है और अहमदाबाद से भी यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। थॉल पक्षी विहार मेहसाणा में थॉल नामक स्थान पर स्थित है। आप यहां पर अपनी गाड़ी से आ सकते हैं। यहां पर गाड़ी पार्किंग के लिए बहुत बड़ी जगह है और गाड़ी पार्किंग का चार्ज लिया जाता है। 

थॉल पक्षी विहार में प्रवेश करने का भी शुल्क लिया जाता है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह मेहसाना का पिकनिक स्पॉट है। यहां पर आपको देशी और विदेशी दोनों प्रकार के पक्षी देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर वॉच टावर बना हुआ है, जहां से आप दूर दूर तक का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यहां पर आप सुबह के समय आएंगे, तो पक्षियों की बहुत अच्छी  फोटो खींचने के लिए मिलती है। आप यहां पर दूरबीन लेकर आ सकते हैं और पक्षियों को देख सकते हैं। 


तरंगा हिल मेहसाणा - Taranga Hill Mehsana

तरंगा हिल मेहसाणा का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। तरंगा हिल अरावली पर्वत श्रेणी में स्थित है। यहां पर आपको सुंदर पहाड़ी देखने के लिए मिलती है। इस पहाड़ी में आपको जैन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह पहाड़ी गुजरात जिले में मेहसाना जिले में, खेरालू में स्थित है। यह पहाड़ी हरियाली से घिरी हुई है। यहां पर आपको सबसे ऊंची चोटी पर जैन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह जैन मंदिर प्राचीन है और बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। जैन मंदिर को तरंगा तीर्थ के नाम से भी जानते हैं। यह मंदिर श्री अजीतनाथ भगवान को समर्पित है। इस मंदिर को श्री अजीतनाथ भगवान श्वेतांबर जैन मंदिर के नाम से जाना जाता है। 

तरंगा तीर्थ मंदिर बहुत ही सुंदर है और पूरा मंदिर बलुआ पत्थर से बना हुआ है। मंदिर की दीवारों में नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर में अजीत नाथ प्रभु जी की बहुत ही सुंदर मूर्ति देखने के लिए मिलती है, जो भी लोग यहां पर घूमने के लिए आते हैं और भगवान अजीतनाथ जी के दर्शन करते है। उनकी इच्छाएं पूरी होती है। 

तरंगा पहाड़ी पर आपको एक और जैन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर विद्यासागर तपोवन जैन मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है। यहां पर आपको जैन तीर्थकर नेमिनाथ भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं और यहां पर त्रिकाल चौबीसी के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर वाहनों की पार्किंग की सुविधा उपलब्ध है। यहां पर ठहरने की सुविधा भी उपलब्ध है। यहां पर भोजनालय भी है। यह मंदिर परिसर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। 

यहां पर बॉटनिकल गार्डन बना हुआ है, जहां पर विभिन्न प्रकार के पेड़ पौधों को लगाया गया है। इस बॉटनिकल गार्डन को तीर्थ कर वन के नाम से जाना जाता है। यहां पर नक्षत्र वन, नवग्रह वन देखने के लिए मिलता है, जिनमें ग्रहों के अनुसार पौधे लगाए जाते हैं। यहां पर छोटी सी बावड़ी भी बनी हुई है। इसके अलावा तरंगा हिल में आपको और भी बहुत सारी जगह घूमने के लिए मिल जाती है। यहां पर सिद्ध शिला, कोटी शीला, मोक्ष बारी, भैरव टेकरी, तरंगा झील यह सभी जगह यहां पर देखने के लिए मिल जाती है। आप यहां पर ट्रैकिंग का मजा भी ले सकते हैं। यह मेहसाना में घूमने लायक एक मुख्य जगह है। 


धरोई बांध मेहसाना - Dharoi Dam Mehsana

धरोई बांध मेहसाणा के पास घूमने वाली एक मुख्य जगह है। यह बांध मेहसाना जिले में खेरालू तालुका में स्थित है। यह बांध साबरमती नदी पर बना हुआ है। यह बांध बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह बांध गुजरात और राजस्थान की सीमा पर स्थित है। इस बांध का निर्माण 1978 में किया गया था। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं और इस जगह की प्राकृतिक सुंदरता को देख सकते हैं। यह बांध बरसात में बहुत ज्यादा सुंदर रहता है, क्योंकि बरसात में इस बांध के गेट खोले जाते हैं, जिनका दृश्य बहुत ही आकर्षक रहता है। 


श्री बहुचरा माता मंदिर मेहसाणा - Shri Bahuchara Mata Mandir Mehsana

श्री बहुचरा माता मंदिर मेहसाणा का प्रसिद्ध मंदिर है। यह  मंदिर पूरे गुजरात में प्रसिद्ध है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है, कि इस मंदिर में आकर कोई भी निसंतान दंपति प्रार्थना करता है। उसकी मां प्रार्थना सुनती है और उनको संतान का वरदान देती है और उनके घर पर संतान जन्म लेती है। यह मंदिर बहुचरा माता को समर्पित है। बहुचरा माता किन्नरों की कुलदेवी हैं। 

श्री बहुचरा माता मंदिर मेहसाणा में बेचराजी में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर बहुत ही भव्य तरीके से बना हुआ है। मंदिर के गर्भ गृह में माता की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको ठहरने के लिए और खाने के लिए भी सुविधा मिल जाती है। इस मंदिर को लेकर और भी पौराणिक कहानियां प्रसिद्ध है, जो आपको यहां पर आकर पता चल सकती हैं। यह मंदिर एक प्रसिद्ध शक्तिपीठ है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। मंदिर की दीवारों में सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है और मंदिर का शिखर बहुत ही जबरदस्त है। मंदिर के शिखर के ऊपर आपको झंडा देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर मुख्य सड़क में बना हुआ है। आप यहां पर बहुत आराम से पहुंच सकते हैं। मंदिर के पास ही पार्किंग के लिए बहुत बड़ी जगह है। यहां पर लोगों की सभी प्रकार की इच्छाएं पूरी होती है। यहां पर प्रतिदिन हजारों लोग माता के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां पर एक कुंड है। इस कुंड के पास जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यह कुंड बहुत सुंदर लगता है। इसके अलावा भी यहां पर देखने के लिए बहुत सारी चीजें हैं। 


वल्लभ भट्ट नी वाव मेहसाणा - Vallabh Bhatt Ni Vav Mehsana

वल्लभ भट्ट नी वाव मेहसाणा का प्रमुख आकर्षण स्थल है। आपको यहां पर एक प्राचीन बावड़ी देखने के लिए मिलती है। यह जगह वल्लभ भट्ट जी को समर्पित है। वल्लभ भट्ट जी एक कवि थे। वह बहुचरा माता जी के बहुत बड़े भक्त थे। यहां पर आपको मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यहां का वातावरण प्राकृतिक है। यहां पर आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह जगह मेहसाणा में बेचराजी तहसील से थोड़ी दूरी पर स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं और इस धार्मिक जगह के दर्शन कर सकते हैं। 


हाटकेश्वर मंदिर वडनगर - Hatkeshwar Temple Vadnagar

हाटकेश्वर मंदिर वडनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर मेहसाणा जिले में वडनगर में स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और प्राचीन है। यह मंदिर 17 वी शताब्दी में बना है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। मंदिर के अंदर गर्भ गृह में शिवलिंग विराजमान है। यह शिवलिंग स्वयं भू है - अर्थात इस शिवलिंग का उद्गम धरती से स्वयं हुआ है। इसे विराजमान नहीं किया गया है। इस मंदिर की दीवारों में आपको सुंदर कारीगरी देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर की दीवारों में आपको अप्सरा, वाद्य यंत्र वादक, विभिन्न प्रकार के देवी देवता, रामायण और महाभारत के दृश्य, नवग्रह की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही सुंदर लगती है ,

यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर का शिखर देखने में बहुत ही जबरदस्त दिखता है। मंदिर में एक छोटी सी कैंटीन भी बनी हुई है, जहां से खाने पीने का सामान ले सकते हैं। यहां गेस्ट हाउस की सुविधा भी उपलब्ध है। आप यहां आकर भोलेनाथ भगवान जी के दर्शन कर सकते हैं। मंदिर परिसर में आपको काशी विश्वेश्वर शिव मंदिर, स्वामीनारायण मंदिर और जैन मंदिर  देखने के लिए मिलते हैं। यह मेहसाणा में घूमने की सबसे अच्छी जगह है और आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा। 


शर्मिष्ठा झील वडनगर मेहसाणा - Sharmistha Lake Vadnagar Mehsana

शर्मिष्ठा झील वडनगर मेहसाणा का एक प्रमुख आकर्षण स्थल है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है। यह झील वडनगर के बीचो-बीच स्थित है। यह वडनगर बहुत अच्छी तरह से बनाई गई है, झील के चारों तरफ बाउंड्री वॉल बनाई हुई है और बैठने के लिए जगह बनाई गई है। झील के बीच में टापू बना हुआ है, जहां पर आप घूमने के लिए जा सकते हैं। यह झील प्राचीन है और सोलंकी राजाओं के द्वारा बनाया गया था। 

झील के पास में ही आपको पार्क देखने के लिए मिलता है। यह पार्क बहुत सुंदर है। आप यहां पर आ कर अपना समय बिता सकते हैं। झील के पास में आपको श्री गोसाई जी की बैठकी  देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और आप यहां पर आकर श्री गोसाई जी के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर आपको सरउद्दीन और जैनुद्दीन रहमतुल्लाह की दरगाह भी देखने के लिए मिलती है। यह दरगाह बहुत सुंदर है और यहां पर बहुत बड़ा गुंबद बनाया गया है। यह दरगाह झील के किनारे ही बनी हुई है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। 


कीर्ति तोरण मेहसाणा - Kirti Toran Mehsana

कीर्ति तोरण मेहसाणा में वडनगर में स्थित है। यह तोरण बहुत ही सुंदर है। यह तोरण कीर्ति तोरण वडनगर में सर्मिष्ठा झील के पास स्थित है। इस तोरण द्वार में बहुत ही सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यह तोरण द्वार लाल बलुआ पत्थर का बना हुआ है और आकर्षक लगता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह तोरण द्वार सोलंकी शासकों के द्वारा बनाया गया है। इस तोरण द्वार में आपको देवी देवताओं की मूर्ति देखने के लिए मिल जाती है। 


ताना रीरी मेमोरियल मेहसाणा - Tana Riri Memorial Mehsana

ताना रीरी स्मारक मेहसाणा का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह  मेहसाणा में घूमने लायक एक मुख्य जगह है। यह मेहसाणा जिले में वडनगर में स्थित है। यह ताना और रीरी का समाधि स्थल है। यहां पर ताना और रीरी नाम की दो बहने थी, जो महान संगीतकार थी और यहां पर दोनों बहनों ने आत्महत्या की थी। उन्हें की याद में यहां पर यह स्मारक बनाया गया था। 16वीं शताब्दी में अकबर ने इन बहनों को अपने राजमहल में गाने का निमंत्रण दिया था। मगर इन बहनों ने मना कर दिया था। इससे अकबर ने इन पर दबाव डाला था, जिससे यह दोनों बहनों ने आत्महत्या की थी। इस जगह इन बहनों की याद में बहुत सुंदर समाधि स्थल देखने के लिए मिलता है। 

यहां पर आपको सरस्वती माता जी का बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर ताना और रीरी का मंदिर भी बना हुआ है। यह जगह बहुत ही अच्छी तरह से मैनेज की जाती है। यहां पर एक बहुत बड़ा रंगमंच है, जहां पर हर साल ताना रीरी संगीत महोत्सव का आयोजन किया जाता है, जिसमें देश विदेश से कलाकार आते हैं। यहां पर सुंदर गार्डन बना हुआ है और झील बनी हुई है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह मेहसाणा में घूमने की सबसे अच्छी जगह है। 


छबीला हनुमान मंदिर मेहसाणा - Chhabila Hanuman Mandir Mehsana

छबीला हनुमान मंदिर मेहसाणा में घूमने वाली एक मुख्य जगह है। यह मेहसाणा का धार्मिक स्थल है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। यह मंदिर मेहसाणा में विसनगर में स्थित है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं और हनुमान जी के दर्शन कर सकते हैं। मंदिर में और भी बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर देरिया तालाब देखने के लिए मिलता है। इस तालाब के बीच में छोटा सा टापू बना हुआ है। यहां पर आप आकर भगवान के दर्शन कर सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। 


तिरुपति नेचुरल पार्क मेहसाणा - Tirupati Natural Park Mehsana

तिरुपति नेचुरल पार्क मेहसाणा का एक प्रमुख आकर्षण स्थल है। यहां पर आपको सृष्टि वाटर पार्क भी देखने के लिए मिलता है। यह पार्क बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यह पार्क भारत के सबसे बड़े पार्क में से एक है। इस पार्क में आपको बहुत सारी मनोरंजक गतिविधियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको पेड राइड भी मिलती है, जिनमें आप बहुत इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर झील है, जिसमें आपको कछुए और मछली देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर मछली घर भी बना हुआ है, जहां पर विभिन्न प्रकार की मछलियां आप देख सकते हैं। 

तिरुपति नेचुरल पार्क पर बहुत सारे स्टैचू देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर भगवानों की मूर्तियां और जानवरों की मूर्तियां देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर छोटी सी कैंटीन है, जहां पर खाने के लिए बहुत सारे आइटम मिल जाते हैं। इस पार्क में प्रवेश के लिए टिकट लिया जाता है। आप यहां पर घूम कर काफी इंजॉय कर सकते हैं। यह पार्क मेहसाणा में विसनगर में स्थित है। आपको यहां पर आकर मजा आएगा। 


खंडहर बौद्ध मठ मेहसाणा - Ruins Buddhist Monastery Mehsana

खंडहर बुद्धिस्ट मॉनेस्ट्री मेहसाणा में वडनगर में स्थित है। यहां पर आपको खंडित मॉनेस्ट्री देखने के लिए मिलती है। इस मॉनेस्ट्री का रखरखाव पुरातत्व विभाग द्वारा किया गया है। यह मॉनेस्ट्री दूसरी और तीसरी शताब्दी की है। यह मॉनेस्ट्री मुख्य शहर में स्थित है। आप यहां पर आकर इन मॉनेस्ट्री को देख सकते हैं। 


मीरा दातार दरगाह मेहसाना - Mira Datar Dargah Mehsana

मीरा दातार दरगाह मेहसाणा का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह दरगाह मेहसाणा में, उंझा तहसील में उनवा गांव में स्थित है। यह दरगाह हजरत सैयद अली मीरा दातार जी की है। यह एक महान संत थे। वह सुलझ जाती है। यहां पर काला जादू, भूत और जिन से ग्रसित लोगों का इलाज भी किया जाता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आपको बहुत सुंदर दरगाह देखने के लिए मिलती है। दरगाह के ऊपर बड़ा सा गुंबद बनाया गया है। दरगाह के दरवाजे चांदी के बने हुए हैं और बहुत ही सुंदर लगते हैं। यहां पर बहुत सारे लोग मन्नत का धागा बांधकर जाते हैं। आप भी यहां पर आ सकते हैं। 


श्री उमिया माता मंदिर मेहसाना - Shri Umiya Mata Mandir Mehsana

श्री उमिया माता मंदिर मेहसाना का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर मेहसाणा जिले में उंझा तहसील में स्थित है। यह मंदिर उमिया माता को समर्पित है। उमिया माता पार्वती जी का ही स्वरूप है। यह मंदिर कड़वा पाटीदार लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। उमिया माता कड़वा पाटीदार लोगों की कुलदेवी है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है और मंदिर बहुत ही सुंदर। मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। मंदिर की दीवारों में आपको नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर में चांदी से भी नक्काशी की गई है। मंदिर का शिखर बहुत सुंदर है। यह मंदिर बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। मंदिर साफ सुथरा है और अच्छी तरह से मैनेज करके रखा गया है। 

यहां पर आपको उमा भवन देखने के लिए मिलता है, जहां पर आपको रहने और खाने की सुविधा मिल जाती है। अगर आप पर्यटक हैं और दूर से आते हैं, तो आप यहां पर ठहर सकते हैं। यहां पर आपको फव्वारा देखने के लिए मिलता है। इस पर फव्वारा में नवग्रह देवता की प्रतिमाएं विराजमान है, जो बहुत सुंदर लगती है। इस फव्वारा को आप पास से जाकर देख सकते हैं। यहां पर गणेश जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है, जो भूमिगत है। मंदिर परिसर में ही प्रसाद घर बना हुआ है, जहां से आ प्रसाद ले सकते हैं। 


मेहसाणा जिले के अन्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल - Famous Tourist Places in Mehsana District

श्री चिमनाबाई सरोवर खेरालू मेहसाणा
अलख दरबार साधना आश्रम खेरालू मेहसाना
बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर बड़नगर मेहसाना
श्री पार्श्वनाथ जैन मंदिर धीनोज मेहसाना
 मोटा महादेव मंदिर धीनोज मेहसाना
दाऊदी बौहरा दरगाह धीनोज मेहसाना
अर्जुनबारी दरवाजा वड़नगर मेहसाणा
वडनगर संग्रहालय मेहसाना 
सोमनाथ मंदिर वडनगर मेहसाणा 
अमरथोल दरवाजा वडनगर मेहसाणा 
पीठारी  दरवाजा वडनगर मेहसाणा 
संभवनाथ जैन मंदिर तरंगा हिल मेहसाणा
स्वामी विवेकानंद झील और स्वामी विवेकानंद पार्क मेहसाणा 
भीमनाथ महादेव मंदिर मेहसाणा
जलाराम मंदिर पलावासना मेहसाना
स्नो पार्क मेहसाना




तापी में घूमने की जगह
साबरकांठा (हिम्मतनगर) में घूमने वाली जगह
सुरेंद्रनगर में घूमने की जगह
नवसारी में घूमने की जगह



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।