सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

सुरेंद्रनगर जिले के पर्यटन स्थल - Surendranagar tourist places

सुरेंद्रनगर जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Surendranagar district / सुरेंद्रनगर के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह


सुरेंद्रनगर गुजरात का एक प्रमुख जिला है। सुरेंद्रनगर गुजरात की राजधानी गांधीनगर से करीब 140 किलोमीटर दूर है। सुरेंद्रनगर की मुख्य नदी भोगावो है। यह नदी सुरेंद्रनगर के बीचो-बीच से बहती है। इस नदी में सुंदर बांध भी बना हुआ है। सुरेंद्रनगर में फलकु नदी भी बहती है। सुरेंद्रनगर में आप रोड माध्यम से और रेल माध्यम से पहुंच सकते हैं। सुरेंद्रनगर में रेलवे स्टेशन है। सुरेंद्रनगर में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - सुरेंद्रनगर में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है।


सुरेंद्रनगर में घूमने की जगह - Surendranagar mein ghumne ki jagah

 

हवामहल सुरेंद्रनगर - Hawa Mahal Surendranagar

हवामहल सुरेंद्रनगर का एक ऐतिहासिक स्थल है। यह एक सुंदर महल है। यह महल सुरेंद्रनगर में वाधवान में धर्म तालाब के पास बना हुआ है। यह महल बहुत सुंदर है। महल के ऊपर छत नहीं है। इस महल का निर्माण अधूरा ही है। इस महल का निर्माण झाला शासकों के समय पर किया गया था। यह महल बहुत सुंदर लगता है। महल की वास्तुकला बहुत बढ़िया है। महल में आपको पिलर देखने के लिए मिलते हैं। पिलर का डिजाइन बहुत ही सुंदर है। कई पिलर में नक्काशी की गई है, जो बहुत सुंदर दिखती है। महल के कुछ भागों में पेड़ पौधे उग आये है। इस महल का उतना अच्छी तरह से रखरखाव नहीं किया जा रहा है। मगर यह महल देखने में बहुत ही जबरदस्त दिखता है। 

महल के अंदर पीपल का पेड़ लगा हुआ है और उसके नीचे शिव शंकर जी की मूर्ति विराजमान है। यह फोटो खींचने के लिए बहुत ही बढ़िया लोकेशन है। महल के सामने आपको धर्म तालाब देखने के लिए मिलेगा। धर्म तालाब में कमल के फूल खिले रहते हैं और यह बहुत ही बढ़िया लगता है। यहां पर आप समय बिताने के लिए आ सकते हैं। धर्म तालाब में एक टापू भी है, जिस में जाने के लिए पुल बना हुआ है। इस टापू में पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं और यहां पर आपको जानवरों के स्टैचू भी देखने के लिए मिल जाते हैं। यह सुरेंद्रनगर में घूमने वाली मुख्य जगह है और आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। 


माधव वाव सुरेंद्रनगर - Madhav Vav Surendranagar

माधव वाव सुरेंद्रनगर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह सुरेंद्रनगर जिले में वाधवान में स्थित है। यह एक सुंदर बावड़ी है। यह बावड़ी प्राचीन है। इस बावड़ी का निर्माण राजा माधव के मंत्री सारगदेव बघेला ने 1294 शताब्दी में करवाया था। इस बावड़ी में आपको खूबसूरत प्रवेश द्वार देखने के लिए मिलता है और बावड़ी के छत में और स्तंभों में सुंदर नक्काशी की गई है। इस बावड़ी के बारे में कहा जाता है, कि राजा माधव के बेटे और बहू के बलिदान के बाद ही इस बावड़ी में पानी आया था। कहा जाता है कि यह बावड़ी हांटेड है और यहां पर बहुत सारी भूतिया घटनाएं होती रहती हैं। आप यहां पर घूमने के लिए जा सकते हैं और इस बावड़ी को देख सकते हैं। 


श्री स्वामीनारायण मंदिर सुरेंद्रनगर - Shree Swaminarayan Mandir Surendranagar

श्री स्वामीनारायण मंदिर सुरेंद्रनगर का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। यह मंदिर श्री स्वामीनारायण भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर सुरेंद्रनगर में वाधवान में स्थित है। इस मंदिर में आपको नरनारायण देव, श्री स्वामीनारायण, श्री राधे कृष्ण जी, घनश्याम महाराज, हरे कृष्ण महाराज जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत ही आकर्षक लगता है। यहां पर आकर शांति मिलती है। मंदिर की दीवारों और छतों में आपको सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिल जाती है। मंदिर की छत में आपको बहुत सारे प्राचीन पौराणिक दृश्य देखने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


राज महल सुरेंद्रनगर - Raj Mahal Surendranagar

राज महल सुरेंद्रनगर का एक सुंदर महल है। यह महल 19वीं शताब्दी में राजा बालसिंह जी का निवास स्थान हुआ करता था। अब यह एक होटल के रूप में परिवर्तित कर दिया गया है और यहां पर शाही सुविधाएं प्रदान की जाती है। यहां पर एक खूबसूरत गार्डन है। क्रिकेट खेलने वाला ग्राउंड है। टेनिस कोट है। एक सुंदर सा कुंड देखने के लिए मिलता है और यहां फाउंटेन भी है। अगर आप महल में घूमना चाहते हैं, तो आप यहां पर बुकिंग करके आ सकते हैं। यह महल बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह महल सुरेंद्रनगर में वाधवान में स्थित है। यहां पर आपको बहुत सारी प्राचीन वस्तुएं भी देखने के लिए मिल जाती हैं। 


धोली धजा बांध सुरेंद्रनगर - Dholi Dhaja Dam Surendranagar

धोली धजा बांध सुरेंद्रनगर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह बांध सुरेंद्रनगर से थोड़ी दूरी पर स्थित है। यह बांध बहुत सुंदर है। शाम के समय यहां पर समय बिताना बहुत अच्छा लगता है। शाम के समय आपको सूर्यास्त का दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह बांध भोगावो नदी पर बना हुआ है। बरसात में बांध का दृश्य बहुत ही जबरदस्त रहता है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। 

बांध के पास में हीं आपको शिव मंदिर देखने के लिए मिलता है। इस मंदिर को धोलेश्वर महादेव मंदिर के नाम से जाना जाता है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। मंदिर के अंदर शिवलिंग विराजमान है। मंदिर के मंडप में नंदी भगवान की प्रतिमा विराजमान है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर में आकर बहुत अच्छा लगता है। मंदिर के आसपास का वातावरण पूरी तरह प्राकृतिक है। यहां पर सावन सोमवार और शिवरात्रि को मेला लगता है। बहुत सारे भक्त यहां पर भगवान शिव के दर्शन करने के लिए आते हैं। अगर आप सुरेंद्रनगर घूमने के लिए आते हैं, तो आप इस जगह घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह सुरेंद्रनगर में घूमने लायक जगह है। 


त्रि मंदिर सुरेंद्रनगर - Tri Mandir Surendranagar

त्रि मंदिर सुरेंद्रनगर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। इस मंदिर में आपको शैव, जैन और वैष्णव धर्म के देवी देवताओं की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको तीर्थकर श्री सीमंधर स्वामी, पद्मनाभ स्वामी, श्री शंकर भगवान जी, श्री योगेश्वर श्री कृष्णा जी, तिरुपति बालाजी, दुर्गा जी, साईं बाबा जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। 

त्रि मंदिर सुरेंद्रनगर में राजकोट हाईवे सड़क पर स्थित है। आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं। मंदिर के बाहर आप को बहुत बड़ा गार्डन देखने के लिए मिल जाता है। मंदिर में ठहरने की सुविधा मिल जाती है। यहां पर धर्मशाला बनी हुई है। इसके अलावा यहां पर खाने की व्यवस्था है। आपको बहुत कम कीमत में यहां पर खाना मिल जाता है। यह मंदिर बहुत सुंदर बना हुआ है। मंदिर के सामने आपको फव्वारा देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर आकर बहुत अच्छा अनुभव कर सकते हैं। 


नल सरोवर पक्षी विहार सुरेंद्रनगर - Nal Sarovar Bird Sanctuary Surendranagar

नल सरोवर पक्षी विहार सुरेंद्रनगर के पास घूमने के लिए एक मुख्य जगह है। यहां पर आपको बहुत सारे विदेशी पक्षी देखने के लिए मिलते हैं। यह जगह सुरेंद्रनगर के पास नल सरोवर में स्थित है। यहां पर बहुत बड़ी झील है। यह झील बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। इस झील में बहुत सारे टापू हैं। यहां पर ठंड के समय विदेशी पक्षी आते हैं, जो यहां पर प्रवास करते हैं। आप यहां पर आकर इन पक्षियों को देख सकते हैं। यहां पर वॉच टावर भी बना हुआ है, जहां से इन पक्षियों और झील का दूर-दूर तक का नजारा देखा जा सकता है। 

नल सरोवर झील में बोटिंग भी होती है। आप यहां पर बोटिंग  का मजा ले सकते हैं। बोटिंग का चार्ज बहुत हाई रहता है। आप यहां बोटिंग में जाने से पहले बारगेन जरूर करें और आप पूरी जानकारी लेकर ही बोटिंग में जाएं। नल सरोवर पक्षी विहार में आपके प्रवेश का शुल्क लिया जाता है। यहां पर आपको काठियावाड़ी खाने का भी लुप्त मिलता है। आप यहां पर ग्रामीण तरीके से बना हुआ काठियावाड़ी खाना खा सकते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह सुरेंद्र नगर में घूमने वाली एक मुख्य जगह है। 


श्री चामुंडा माता मंदिर सुरेंद्रनगर - Shri Chamunda Mata Mandir Surendranagar

श्री चामुंडा माता मंदिर सुरेंद्रनगर का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। यह मंदिर पूरे गुजरात में प्रसिद्ध है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर सुरेंद्रनगर में चोटिला में स्थित है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। इस पहाड़ी में जाने के लिए सीढ़ियां है। यहां पर करीब 600 से भी ज्यादा सीढ़ियां है, जिसमें आप चलकर माता के मंदिर तक पहुंच सकते हैं। यहां पर सुबह के समय माता की आरती 6 बजे होती है और शाम के समय 6:30 बजे होती है। आप यहां पर मंदिर पहुंचकर माता के दर्शन कर सकते हैं। माता का विग्रह बहुत सुंदर है। माता की प्रतिमा देखने में बहुत ही आकर्षक लगती है। 

चामुंडा माता मंदिर पर नवरात्रि में बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे भक्त यहां पर चामुंडा माता के दर्शन करने के लिए आते हैं। मंदिर के नीचे तलहटी में ठहरने के लिए सुविधा है। यहां पर धर्मशाला बनी हुई है और यहां पर आपको भोजनशाला भी देखने के लिए मिल जाती है, जिसमें बहुत कम प्राइस में खाना मिलता है। चोटिला अहमदाबाद और राजकोट हाईवे सड़क पर स्थित है। आपको पहाड़ी से चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आपको काल भैरव जी, मेलडी माताजी के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। आपको यहां पर आकर सकारात्मक महसूस होगा। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं।


श्री जलाराम मंदिर सुरेंद्रनगर - Shri Jalaram Mandir Surendranagar

श्री जलाराम मंदिर सुरेंद्रनगर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर सुरेंद्रनगर में चोटीला में स्थित है। इस मंदिर में आपको श्री जलाराम बापा जी की मूर्ति देखने के लिए मिलती है। यह एक प्रसिद्ध संत है। इस मंदिर में आपको और भी बहुत सारे देवी देवताओं की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको गणेश जी, संतोषी माता जी, श्री राधे कृष्ण जी, हनुमान जी, श्री राम जी लक्ष्मण जी सीता जी, श्री शिव भगवान जी और शिवलिंग, नंदी भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

यह मंदिर बहुत भव्य है। मंदिर की दीवारों में आपको सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर का शिखर भी बहुत आकर्षक है। मंदिर के सामने बड़ा सा गार्डन बना हुआ है। मंदिर में आपको ठहरने की व्यवस्था मिलती है। यहां पर बहुत अच्छे रूम हैं और बहुत कम कीमत में आपको मिल जाते हैं। यहां पर भोजनालय भी है, जहां पर बहुत अच्छा खाना मिलता है और शुद्ध शाकाहारी खाना मिलता है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। अगर आप चोटिला जाते हैं, तो आपको इस मंदिर में भी घूमने के लिए आना चाहिए। 


जरिया महादेव मंदिर सुरेंद्रनगर - Jaria Mahadev Temple Surendranagar

जरिया महादेव मंदिर सुरेंद्रनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर घने जंगल के अंदर स्थित है। यह मंदिर सुरेंद्रनगर जिले में चोटिला में स्थित है। इस मंदिर में आपको प्राकृतिक गुफा देखने के लिए मिलती है, जिसमें शिवलिंग विराजमान है और शिवलिंग के ऊपर यहां पर जलधारा बहती रहती है। यहां पर हमेशा पानी टपकता रहता है। 

यहां पर आपको शिवलिंग और नाग देवता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर पहुंचने के लिए सड़क व्यवस्था है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां चारों तरफ का वातावरण बहुत अच्छा है। यह मंदिर चोटीला से करीब 13 किलोमीटर दूर है। यहां पर सावन सोमवार में और महाशिवरात्रि में बहुत सारे भक्त शिव भगवान के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


वरनिंद्र धाम स्वामीनारायण मंदिर सुरेंद्रनगर - Varnindra Dham Swaminarayan Mandir Surendranagar

वर्णीनद्र धाम स्वामीनारायण मंदिर सुरेंद्रनगर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पूरे गुजरात राज्य में प्रसिद्ध है। यह मंदिर भगवान श्री स्वामीनारायण और नीलकंठ भगवान जी को समर्पित है। मंदिर में आपको स्वामी नारायण भगवान जी की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर और भी बहुत सारे देवी देवताओं की प्रतिमा विराजमान है। यहां पर शिव भगवान जी की बहुत ही सुंदर मूर्ति देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको फव्वारा देखने के लिए मिलता है। यहां पर एक कुंड बना हुआ है, जिसमें फव्वारा चलता रहता है। यह कुंड आर्टिफिशियल तरीके से बनाया गया है। यह कुंड बहुत सुंदर है और कुंड के सभी तरफ सुंदर नक्काशी की गई है। 

वर्णीनद्र धाम में आपको बहुत सुंदर हाथियों की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर गरुड़ भगवान और विष्णु भगवान जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही सुंदर है। पूरे मंदिर में आपको नक्काशी देखने के लिए मिलती है। पूरा मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर करीब 15 एकड़ में फैला हुआ है। यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है। अगर आप यहां पर ठहरना चाहते हैं, तो उसके लिए यहां पर धर्मशाला बनाई गई है और यहां पर भोजशाला भी बनाई गई है, जहां पर आप को भोजन मिल जाता है। आपको यहां पर श्री हनुमान जी, श्री राधे कृष्ण जी मूर्ति के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यह मंदिर सुरेंद्रनगर में पाटडी तहसील में स्थित है। 


शक्ति माता मंदिर सुरेंद्रनगर - Shakti Mata Temple Surendranagar

शक्ति माता मंदिर सुरेंद्रनगर में पाटडी में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पाटडी में झील के किनारे बना हुआ है। यह मंदिर शक्ति माता को समर्पित है। यहां शक्ति माता की मूर्ति बहुत ही सुंदर है। यहां पर आकर माता के दर्शन किया जा सकता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


सुरेंद्रनगर जिला के अन्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल - Famous Tourist Places in Surendranagar District 

दरबार गढ़ पाटडी सुरेंद्रनगर
लिंबडी टावर सुरेंद्रनगर
फूलनाथ महादेव मंदिर लिंबडी सुरेंद्रनगर
राजातालाब लिंबड़ी सुरेंद्रनगर
श्री वासुकीनाथ मंदिर थानगढ़ सुरेंद्रनगर 
सूरजदेवाल मंदिर थानगढ़ सुरेंद्रनगर 
पतालिया हनुमान मंदिर लख्तर सुरेंद्रनगर
फलकू बांध ध्रांगध्रा सुरेंद्रनगर
एकदंत गणेश गणपति मंदिर जोगासर झील ध्रांगध्रा सुरेंद्रनगर
वडवाला मंदिर सुरेंद्रनगर
गंगा कुंड सुरेंद्रनगर
लाख वाव सुरेंद्रनगर
टैगोर बाग सुरेंद्रनगर
श्री बागेश्वरी माता मंदिर वाधवान सुरेंद्रनगर
रणकदेवी मंदिर वाधवान सुरेंद्रनगर 



नवसारी के पर्यटन स्थल
महीसागर के पर्यटन स्थल
मोरबी के पर्यटन स्थल
भुज के पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।