सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

श्रावस्ती जिले के पर्यटन स्थल - Shravasti Tourist Places

श्रावस्ती जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Shravasti District / श्रावस्ती जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह 


श्रावस्ती उत्तर प्रदेश का प्रमुख जिला है। श्रावस्ती उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 175 किलोमीटर दूर है। श्रावस्ती में रोड के माध्यम से पहुंचा जा सकता है। श्रावस्ती उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश में, भारत और नेपाल की सीमा पर स्थित है। यह जिला भारत और नेपाल की सीमा पर है। श्रावस्ती जिले के उत्तर पूर्व में राप्ती नदी बहती है। यह स्थल बौद्ध और जैन पर्यटकों के लिए महत्वपूर्ण स्थान है। यहां पर प्राचीन बौद्ध और जैन स्थल देखने के लिए मिलते हैं। श्रावस्ती जिले की स्थापना राजा श्रावस्त ने की थी। श्रावस्ती जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - श्रावस्ती में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है। 


श्रावस्ती में घूमने वाली प्रमुख जगह - Shravasti mein ghumne ki jagah


बुद्धिस्ट मंदिर श्रावस्ती - Buddhist Temple Shravasti

बुद्धिस्ट मंदिर श्रावस्ती का प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर में आपको बुद्ध भगवान जी की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा गोल्डन कलर की है और बहुत सुंदर लगती है। इस मंदिर को महामंगलजय और थाई मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यहां पर आपको एक बहुत बड़ा पगोड़ा भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर आकर आप अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह पर आप मेडिटेशन कर सकते हैं। मेडिटेशन के लिए यहां पर बहुत बड़ा एरिया है। यह जगह हरियाली से घिरी हुई है। यहां पर आकर बहुत शांति मिलती है। यहां पर आपको रंग बिरंगी मछलियां भी देखने के लिए मिलती हैं। यह श्रावस्ती में स्थित है। यह श्रवास्ती में मुख्य हाईवे सड़क में स्थित है। यह श्रावस्ती में घूमने लायक जगह है। 


विपश्यना साधना केंद्र श्रावस्ती - Vipassana Meditation Center Shravasti

विपश्यना केंद्र श्रावस्ती का एक मुख्य स्थल है। यहां पर बहुत सारे देशी और विदेशी पर्यटक आते हैं और मेडिटेशन करते हैं। यह मुख्य हाईवे सड़क पर स्थित है। यहां पर चारों तरफ आपको प्राकृतिक माहौल देखने के लिए मिलता है। यहां आकर बहुत शांति मिलती है। यहां पर किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं लिया जाता है। मगर आप यहां पर डोनेशन कर सकते हैं। यहां पर बहुत अच्छा लगता है और आप शांति के साथ मेडिटेशन कर सकते हैं। यह श्रावस्ती का सबसे अच्छी जगह है। 


जेतवन पुरातत्व क्षेत्र श्रावस्ती - Jetavana Archaeological Area Shravasti

जेतवन पुरातत्व स्थल श्रावस्ती का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको बहुत सारे पुरातात्विक जगह देखने के लिए मिल जाती है। यह जगह बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। जेतवन विहार श्रावस्ती में सेहट में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि भगवान बुद्ध ने यहां 24 अथवा 25 वर्ष बिताए थे। 1863 ईसवी में यहां पर अनेक बार उत्खनन कार्य किया गया। जिससे यहां पर बहुत सारे स्तूप, बौद्ध विहार एवं मंदिरों के भग्नावशेष प्राप्त हुए। इनमें मूलगंज कुटी, कोसंब कुटी प्रमुख है। अधिकांश उत्खनन अवशेष कुषाण काल के हैं, जिनमें गुप्त काल के 11वीं और 12वीं सदी के अनेक परिवर्तन और परिवर्धन हुआ है। 

जेतवन विहार में आप के प्रवेश का टिकट लिया जाता है। यह जगह बहुत ही अच्छी तरह से मेंटेन की गई है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है। यह श्रावस्ती में मुख्य हाईवे सड़क में स्थित है। यह श्रावस्ती में घूमने लायक जगह है। 


श्रीलंकन बुद्ध मंदिर श्रावस्ती - Sri Lankan Buddha Temple Shravasti

श्रीलंकन बुद्ध मंदिर श्रावस्ती शहर का एक प्रमुख मंदिर है। यह मंदिर जेतवन पुरातात्विक स्थल के पास ही में स्थित है। इस मंदिर में आपको बुद्ध भगवान जी की बहुत सुंदर मूर्ति देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको बुद्ध भगवान जी से जुड़ी हुई बहुत सारी पेंटिंग भी देखने के लिए मिलती है। इन पेंटिंग से आपको बुद्ध भगवान जी के बारे में बहुत सारी जानकारी मिल जाएगी। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


श्री संभवनाथ दिगंबर जैन मंदिर श्रावस्ती - Shri Sambhavnath Digambar Jain Temple Shravasti

श्री संभवनाथ दिगंबर जैन मंदिर श्रावस्ती का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह श्वेतांबर जैन मंदिर है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और सफेद संगमरमर से बना हुआ है। गर्भ ग्रह में सफेद पत्थर की बनी हुई बहुत ही सुंदर संभव नाथ जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह स्थान संभव नाथ जी का जन्म स्थान और तपो स्थान है। यहां पर आप आकर घूम सकते हैं। यह मुख्य हाईवे सड़क में ही स्थित है।

 

विश्व शांति घंटा पार्क श्रावस्ती - World Peace Hour Park Shravasti

विश्व शांति घंटा पार्क श्रावस्ती का एक सुंदर पार्क है। यहां पर आपको एक बहुत बड़ा और प्राचीन सुंदर घंटा देखने के लिए मिलता है। यहां पर बहुत सारी भाषाओं में घंटे के ऊपर कुछ लिखा हुआ है। यह शायद मंत्र होंगे। आप यहां पर इन शब्दों को पढ़ सकते हैं। यहां पर सुंदर गार्डन बना हुआ है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। 


महेट पुरातात्विक स्थल श्रावस्ती - Mahet Archaeological Site Shravasti

महेट पुरातात्विक स्थल श्रवास्ती में स्थित एक मुख्य स्थल है। यहां पर आपको बौद्ध विहार, मंदिर के अवशेष देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर 18 वीं शताब्दी से उत्खनन कार्य हुआ है और यहां पर आपको जैन मंदिर, पक्की कुटी, अंगुलिमाल स्तूप, कच्ची कुटी, सोमनाथ दरवाजा, इमली दरवाजा, नौशहरा दरवाजा, कांद भारी दरवाजा देखने के लिए मिलता है। यह क्षेत्र भी बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है और बहुत अच्छी तरह से इस जगह को मेंटेन किया गया है। यह श्रावस्ती का सबसे अच्छी जगह है। 


सीताद्वार मंदिर श्रावस्ती - Sitadwar Temple Shravasti

सीताद्वार मंदिर श्रावस्ती का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर को लेकर पौराणिक मान्यता है कि लव और कुश का जन्म यहीं पर हुआ था। एक बार सीता माता को बहुत जोर से प्यास लगी, तो लक्ष्मण जी यहां पर बाण चलाकर धरती माता से जल की धार निकाली थी और सीता माता ने जल पीकर अपनी प्यास बुझाई। यहां पर आपको कुंड देखने के लिए मिलेगा। इस कुंड के बारे में कहा जाता है, कि इस कुंड के पानी से सभी प्रकार के रोग दूर होते हैं। यह मंदिर श्रावस्ती में इकौना में स्थित है। यहां पर आपको एक सुंदर उद्यान भी देखने के लिए मिलता है, जो हरे भरे पेड़ पौधों से घिरा हुआ है। 

कार्तिक पूर्णिमा में यहां पर बहुत बड़ा मेला आयोजित होता है, जिसमें बहुत सारे लोग शामिल होते हैं। यहां पर बहुत सारी दुकानें लगती हैं और झूले लगते हैं। यहां पर, जो झील है उसमें आपको कमल के फूल देखने के लिए मिल जाते हैं और यह झील बहुत ही सुंदर लगती है। यह मंदिर भी बहुत ही सुंदर है और यहां आकर अच्छा अनुभव होता है। 


काली मंदिर श्रावस्ती - Kali Mandir Shravasti

काली मंदिर श्रावस्ती का एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर प्राचीन हैं। इस मंदिर की स्थापना यहां के राजा के द्वारा की गई थी। इस मंदिर में काली माता की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर इकौना भिंगा मार्ग पर स्थित है। यह मंदिर श्रावस्ती में भिंगा में स्थित है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। आपको अच्छा लगेगा। मंदिर परिसर में आपको शिव मंदिर भी देखने के लिए मिलेगा, जहां पर शिवलिंग विराजमान है। 


रामपुर बांध श्रावस्ती - Rampur Dam Shravasti

रामपुर बांध श्रावस्ती का एक प्रमुख स्थल है। यह बांध घने जंगल में स्थित है। यहां पर आपको चारों तरफ हरे भरे पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं और दूर तक फैला हुआ बांध देखने के लिए मिलता है। यह बांध सुहेलदेव वन्यजीव अभ्यारण में स्थित है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। यह श्रावस्ती का पिकनिक स्पॉट है। 


बाबा विभूति नाथ मंदिर श्रावस्ती - Baba Vibhuti Nath Temple Shravasti

बाबा विभूति नाथ मंदिर श्रावस्ती का प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर के गर्भ गृह में आपको शिव भगवान जी की पंचमुखी शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के बाहर नंदी भगवान की बहुत ही सुंदर प्रतिमा विराजमान है। यह मंदिर प्राचीन है। कहा जाता है कि इस मंदिर का निर्माण पांडवों के द्वारा किया गया था। यहां पर आपको और भी प्राचीन प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर को गुप्तकाशी के नाम से भी जाना जाता है। 

इस मंदिर में आपको श्री पंचमुखी हनुमान हनुमान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। हनुमानजी की प्रतिमा बहुत सुंदर है। यह मंदिर घने जंगल के अंदर स्थित है। यहां पर बहुत बड़ा पार्किंग की जगह है। यहां पर चारों तरफ खूबसूरत वातावरण है। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है और शांति मिलती है। सावन सोमवार में यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। यह मंदिर श्रावस्ती जिले में सिरसिया ब्लाक में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


सुहेलदेव वन्य जीव अभ्यारण श्रावस्ती - Suheldev Wildlife Sanctuary Shravasti

सुहेलदेव वन्यजीव अभ्यारण श्रावस्ती का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको खूबसूरत जंगल और जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यह नेपाल और भारत की बॉर्डर एरिया में स्थित है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आपको खूबसूरत पहाड़ जंगल देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह श्रावस्ती का पिकनिक स्पॉट है। 


म्यानमार विहार श्रावस्ती
कोरियन मंदिर (मेडिटेशन सेंटर) श्रावस्ती 
ओड़ाझार  पुरातात्विक स्थल श्रावस्ती


बहराइच के दर्शनीय स्थल
महाराजगंज के दर्शनीय स्थल
हरदोई के दर्शनीय स्थल
अमरोहा के दर्शनीय स्थल
बागपत के दर्शनीय स्थल
मथुरा के दर्शनीय स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।