सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

मथुरा जिले के पर्यटन स्थल - Mathura tourist places

मथुरा जिले के दर्शनीय स्थल - Paces to visit in Mathura / मथुरा जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह


मथुरा उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। मथुरा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 383 किलोमीटर दूर है। मथुरा में यमुना नदी बहती है। यमुना नदी के किनारे पूरा मथुरा शहर बसा हुआ है। मथुरा जिले में घूमने के लिए बहुत सारी धार्मिक स्थल मौजूद है। मथुरा में गोकुल, वृंदावन, बरसाना,  नंद गांव, कामवन, गोवर्धन यह सभी धार्मिक स्थल मौजूद है। मथुरा जिले में ही कृष्ण जी का जन्म हुआ है। आपको यहां पर कृष्ण जी का जन्म स्थान देखने के लिए मिल जाता है। मथुरा जिला आगरा से करीब 50 किलोमीटर दूर है। भारत की राजधानी दिल्ली से 145 किलोमीटर दूर है। मथुरा में घूमने के लिए धार्मिक स्थलों के अलावा और भी बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - मथुरा में घूमने वाली कौन-कौन सी जगह है। 


मथुरा में घूमने की जगह - Mathura mein ghumne ki jagah


श्री कृष्ण जन्मभूमि मंदिर मथुरा - Shri Krishna Janmabhoomi Temple Mathura

श्री कृष्ण जन्मभूमि मंदिर मथुरा शहर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह एक पवित्र स्थल है। यह जगह पूरे भारत देश में प्रसिद्ध है। यहां पर श्री कृष्ण जी का जन्म हुआ था। यहां पर द्वापर युग में कंस की जेल में श्री कृष्ण जी का जन्म हुआ था। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। मंदिर का गेट नंबर 1 का प्रवेश द्वार बहुत ही आकर्षक है। यहां पर आपको गेट नंबर 1 के ऊपर श्री कृष्ण जी और अर्जुन रथ में बैठे हुए देखने के लिए मिलते हैं। 

यहां पर मुख्य गर्भ गृह में श्री कृष्ण जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर और भी बहुत सारे देवी देवताओं की मूर्तियां विराजमान है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और बहुत शांति मिलती है। यहां पर बहुत ज्यादा सिक्योरिटी है। आप अपने साथ कोई भी इलेक्ट्रोनिक सामान लेकर नहीं जा सकते हैं। आपको अपना मोबाइल एवं अन्य सामान जमा करना पड़ता है। मंदिर के बाहर और मंदिर के अंदर बहुत सारी प्रसाद की दुकान है, जहां से आप श्री कृष्ण जी को अर्पित करने के लिए प्रसाद ले सकते हैं। यह मथुरा में घूमने वाली जगह है। 


श्री भूतेश्वर महादेव मंदिर मथुरा - Shri Bhuteshwar Mahadev Temple Mathura

श्री भूतेश्वर महादेव मंदिर मथुरा शहर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर मथुरा जिले में भूतेश्वर रेलवे स्टेशन के पास बना है। भूतेश्वर महादेव को शहर कोतवाल के नाम से जाना जाता है। यह मथुरा सिटी की रक्षा करते हैं। भूतेश्वर महादेव मंदिर के गर्भगृह में आपको एक साथ दो शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर एक शिवलिंग थोड़ा छोटा है और एक शिवलिंग थोड़ा बड़ा है। यहां पर आपको एक मुखी शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह शिवलिंग बहुत सुंदर लगता है। शिवलिंग के सामने नंदी भगवान जी की प्रतिमा विराजमान है। यहां पर सावन सोमवार के समय और महाशिवरात्रि के समय बहुत सारे लोग शिव जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर मथुरा का प्राचीन मंदिर है। यह मथुरा में घूमने वाला स्थान है। 


शाही मस्जिद मथुरा - Shahi Masjid Mathura

शाही मस्जिद मथुरा में श्री कृष्ण जन्म भूमि के पास ही में स्थित है। यह मस्जिद प्राचीन है। यह मस्जिद औरंगजेब के द्वारा बनाई गई थी। यह मस्जिद बहुत सुंदर है। मस्जिद में आपको तीन बड़े-बड़े गुंबद देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत ही आकर्षक लगते हैं। आप श्री कृष्ण जन्मभूमि घूमने के लिए जाते हैं, तो इस मस्जिद को भी देख सकते हैं। 


श्री द्वारकाधीश मंदिर मथुरा - Shri Dwarkadhish Mandir Mathura

श्री द्वारकाधीश मंदिर मथुरा शहर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर में भगवान श्री कृष्ण की काले पत्थर की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्रीकृष्ण को द्वारकानाथ के नाम से जाना जाता है। मंदिर की वास्तुकला बहुत सुंदर है और कलरफुल है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यह मंदिर मथुरा में विश्राम घाट के पास में स्थित है। मंदिर के बाहर बहुत सारी मिठाई की दुकान देखने के लिए मिलती है। मिठाई की दुकान में भगवान श्रीकृष्ण को प्रसाद अर्पित करने के लिए लिया जा सकता है। 

श्री द्वारकाधीश मंदिर मथुरा रेलवे स्टेशन से 4 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर टैक्सी से आराम से पहुंच सकते हैं। द्वारकाधीश मंदिर पूरे मथुरा शहर और पूरे यूपी में प्रसिद्ध है। इस मंदिर का निर्माण सेठ गोकुलदास पारीक ने 1814 में करवाया था। यह मथुरा की सबसे अच्छी जगह है। 


विश्राम घाट मथुरा - Vishram Ghat Mathura

विश्राम घाट मथुरा का एक प्रमुख स्थल है। यह घाट यमुना नदी के किनारे बना हुआ है। यह घाट बहुत सुंदर है। यहां पर आप नौकायान का भी मजा ले सकते हैं। यहां पर शाम के समय यमुना जी की आरती होती है, जो बहुत अच्छी लगती है। यहां पर बहुत सारे लोग शाम के समय अपना वक्त बिताते हैं। इस घाट के बारे में कहा जाता है, कि श्री कृष्ण जी अपने मामा कंस का वध करने के बाद, यहां पर विश्राम किए थे। इसलिए इस घाट को विश्राम घाट कहा जाता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मथुरा में घूमने लायक जगह है। 


कंस का किला मथुरा - Kansa's Fort Mathura

कंस का किला मथुरा शहर का एक प्रमुख स्थल है। यहां पर आपको एक ऐतिहासिक किला देखने के लिए मिलता है। यह किला बहुत सुंदर है। यह किला यमुना नदी के किनारे बना हुआ है। लोगों के अनुसार यहां पर श्री कृष्ण के मामा कंस का निवास स्थान था। इस किले से यमुना नदी का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। 16 वीं शताब्दी में आमेर के राजा मानसिंह ने इस किले को पुनः निर्मित किया। इस किले मे आपको वेधशाला देखने के लिए मिलती है, जो बहुत सुंदर है। किले के पास में बहुत सारे घाट भी हैं, जहां पर आप घूम सकते हैं। यहां पर वासुदेव घाट, ब्रह्मा घाट, वैकुंठ घाट, देखने के लिए मिलते हैं। यह मथुरा में घूमने लायक स्थान है। 


बसंतर पार्क मथुरा - Basantar Park Mathura

बसंतपुर मथुरा शहर का एक मुख्य पार्क है। यह एक सुंदर बगीचा है। यह बगीचा मथुरा शहर में सिविल लाइन में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। इस पार्क में आपको बहुत सारी वस्तुएं देखने के लिए मिलती हैं। पार्क में आपको चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारे झूले भी लगे हुए हैं। यहां पर आपको जोगिंग ट्रैक मिल जाता है, जहां पर आप जोगिंग कर सकते हैं। यहां रोज गार्डन बना हुआ है। यहां पर फाउंटेन देखने के लिए मिल जाता है। चिल्ड्रन पार्क बना हुआ है। यहां पर आप आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह मथुरा का पिकनिक स्पॉट है। 


राजकीय उद्यान जवाहर बाग मथुरा - Rajkiya udyan jawahar bagh mathura

राजकीय उद्यान जवाहर बाग मथुरा शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक सुंदर बगीचा है। यह उद्यान मथुरा में डिस्टिक जेल के पास स्थित है। यह उद्यान बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। इसमें चारों तरफ हरियाली आपको देखने के लिए मिल जाती है। इस उद्यान में जोगिंग ट्रक बना हुआ है, जिसमें आप जोगिंग कर सकते हैं। इसके अलावा यहां पर कसरत करने वाले यंत्र लगे हुए हैं, जहां पर आप कसरत कर सकते हैं। यहां पर आपको मोर की बहुत ही सुंदर स्टेचू देखने के लिए मिलती है। इस उद्यान में आपको नक्षत्र वाटिका देखने के लिए मिलती है, जिसमें विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधे लगे हुए हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। 


गीता मंदिर मथुरा - Geeta Mandir Mathura

गीता मंदिर मथुरा शहर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर को बिरला मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर का निर्माण सेठ राजा बलदेव दास जी बिरला ने 2002 में करवाया था। इस मंदिर का डिजाइन बहुत सुंदर है। इस मंदिर का प्रबंधन आर्य धर्म सेवा संघ ट्रस्ट द्वारा किया जाता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर भगवान श्री कृष्ण को समर्पित है। यहां पर आपको एक स्तंभ देखने के लिए मिलता है, जिसमें गीता के उपदेश लिखे गए हैं। आप इन उपदेशों को पढ़ सकते हैं। 

यहां पर आपको श्री कृष्ण जी का रथ भी देखने के लिए मिलता है, जिसमें अर्जुन बैठे हैं और श्री कृष्ण जी गीता के उपदेश दे रहे हैं। यह रथ पूरा पत्थर का बना हुआ है और बहुत सुंदर लगता है। यह मंदिर नागर शैली में बना हुआ है। मंदिर में आपको हाथियों के स्टैचू भी देखने के लिए मिलते हैं, जो पत्थर के बने हुए हैं। यह मंदिर मथुरा वृंदावन मार्ग पर बना हुआ है और आप यहां पर आ कर मंदिर को देख सकते हैं। 


श्री जंबूस्वामी दिगंबर जैन मंदिर मथुरा - Sri Jambuswamy Digambar Jain Temple Mathura 

श्री जंबूस्वामी मंदिर मथुरा का एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर को चौरासी जैन मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में आपको जैन धर्म के 24 तीर्थकारों की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपका प्राचीन प्रतिमाओं के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस जगह पर जंबूस्वामी जी को निर्वाण प्राप्त हुआ था। यह जगह बहुत पवित्र है और यहां पर बहुत दूर-दूर से जैन धर्म के लोग  इस सिद्ध क्षेत्र के दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर मथुरा में दिल्ली राजमार्ग पर स्थित है। आप यहां पर आराम से पहुंच सकते हैं। 


जय गुरुदेव मंदिर मथुरा - Jai Gurudev Mandir Mathura

जय गुरुदेव मंदिर मथुरा शहर का एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर पूरा सफेद संगमरमर से बना हुआ है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर लगता है। इस मंदिर को बाबा जयगुरुदेव की याद में बनाया गया है। यहां पर बाबा की समाधि देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर दिल्ली आगरा हाईवे सड़क पर स्थित है। यहां पर बहुत सारे लोग दर्शन करने के लिए आते हैं। 


राजकीय संग्रहालय मथुरा - Government Museum Mathura

राजकीय संग्रहालय मथुरा जिले का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। इस संग्रहालय में आपको बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह देखने के लिए मिलता है। इस संग्रहालय में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है, जो बहुत कम है। आप यहां पर फोटोग्राफी भी कर सकते हैं। उसका शुल्क भी लिया जाता है। यह संग्रहालय मथुरा रेलवे स्टेशन से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर है। यह संग्रहालय बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। संग्रहालय में आपको एक बहुत ही सुव्यवस्थित तरीके से बनाई गई बिल्डिंग देखने के लिए मिलती है और यहां पर बगीचा देखने के लिए मिलता है। बगीचे में भी बहुत सारी मूर्तियों एवं स्टैचूओं को रखा गया है। यहां पर प्राचीन सिक्के, बर्तन, मूर्तियां देखने के लिए मिलती हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


रंगजी मंदिर वृंदावन - Rangji Temple Vrindavan

रंगजी मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर वृंदावन में श्री कृष्ण जी को समर्पित है। यह मंदिर द्रविड़ वास्तुकला में बना हुआ है। इस मंदिर का निर्माण 1851 में किया गया था। इस मंदिर के प्रवेश द्वार के शिखर में आपको बहुत ही सुंदर मूर्ति कला देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारे देवी देवताओं की मूर्तियां बनाई गई है। इसके अलावा मंदिर में आप अंदर जाएंगे, तो आपको श्री कृष्ण जी के दर्शन करने के लिए मिलेगे। यहां पर आपको बहुत सारी मेटल की मूर्तियां देखने के लिए मिलेगी। यहां आपको गरुण जी, शेर, हाथी, यह सभी मूर्तियां देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर आपको शीश महल भी देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और आप यहां पर आ कर मंदिर में श्री कृष्ण भगवान जी के दर्शन कर सकते हैं। 


श्री गोपेश्वर महादेव मंदिर वृंदावन - Shri Gopeshwar Mahadev Temple Vrindavan

श्री गोपेश्वर महादेव मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर में शिव भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर शिवलिंग विराजमान हैं, कहा जाता है कि शिव भगवान जी गोपी का रूप धारण करके आए थे, श्री कृष्ण के साथ रासलीला रचाने के लिए। यहां पर शिव भगवान जी को साड़ी और श्रृंगार से सजाया जाता है। आप यहां पर आकर शिव भगवान जी के दर्शन कर सकते हैं। 


श्री राधा रमण मंदिर वृंदावन - Shri Radha Raman Temple Vrindavan

श्री राधा रमण मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। इस मंदिर की स्थापना गोपाल भट्ट गोस्वामी जी ने की थी। इस मंदिर में आपको श्री कृष्ण जी की शालिग्राम से बनी हुई मूर्ति देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही सुंदर लगती है। इस मंदिर में आकर बहुत अच्छा लगता है। मन को शांति मिलती है। मंदिर के प्रवेश द्वार बहुत सुंदर है और प्राचीन है। मंदिर के बाहर बहुत सारी प्रसाद की दुकान है, जहां से आप श्री कृष्ण को प्रसाद अर्पित करने के लिए ले सकते हैं। यहां पर बहुत सारे बंदर भी हैं। इसलिए आप अपना सामान सुरक्षित रखें। यह मंदिर वृंदावन में केसी घाट के पास स्थित है। आप यहां पर आकर भगवान श्री कृष्ण के दर्शन कर सकते हैं। 


निधिवन वृंदावन - Nidhivan Vrindavan

निधिवन वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर श्री कृष्ण को समर्पित है। इस मंदिर परिसर में आपको पांच मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर ललिता कुंड भी बना हुआ है। इस मंदिर की अपनी विशेषता है। यहां पर आपको श्री कृष्ण राधा रानी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर चारों तरफ से पेड़ पौधों से घिरा हुआ है। मंदिर तक जाने के लिए रास्ता बनाया गया है और रास्ते को कवर कर दिया गया है। यहां पर, जो आपको पेड़ देखने के लिए मिलते हैं। उनका आकार कुछ अलग प्रकार का होता है और कहा जाता है, कि यह पेड़ रात को जीवित हो जाते हैं और श्री कृष्ण जी के साथ यहां पर रासलीला करते हैं। कहा जाता है, कि आज भी श्री कृष्ण यहां पर रासलीला करने के लिए आते हैं। 

अगर कोई भी व्यक्ति यहां पर रात को चोरी छुपे ठहर जाता है। तो वह या तो पागल हो जाता है, या उसकी मृत्यु हो जाती है। इस जगह को रात को पूरी तरह बंद कर दिया जाता है और ना ही यहां पर कोई बंदर रहता है और ना ही कोई पक्षी निवास करता है।  यह जगह आश्चर्यजनक है और यहां पर बहुत सारे लोग भगवान श्री कृष्ण के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


श्री राधा दामोदर जी मंदिर वृंदावन - Shri Radha Damodar Ji Temple Vrindavan

श्री राधा दामोदर मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यहां पर आपको श्री कृष्ण जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री कृष्ण जी और राधा जी की बहुत सुंदर प्रतिमा है। यह प्रतिमा सुंदर वस्त्रों गहनों और फूल मालाओं से सुसज्जित है। यहां पर आपको गोस्वामी प्रभुपाद जी की समाधि भी देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको गिरिराज चरण शीला देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और यहां आकर बहुत शांति मिलती है। आप भी यहां पर भगवान श्री कृष्ण के दर्शन करने के लिए आ सकते हैं। 


सेवा कुंज वृंदावन - Sewa Kunj Vrindavan

सेवा कुंज वृंदावन का एक मुख्य स्थल है। यह धार्मिक स्थल है। इस जगह के बारे में कहा जाता है, कि यहां पर रात को श्री कृष्ण जी और राधा रानी रासलीला करते हैं। यहां पर आपको चारों तरफ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। इन पौधों को पूरी तरह कवर कर दिया गया है। इन पौधों का आकार भी कुछ अलग प्रकार का है। यहां पर बहुत सारे बंदर भी है। यहां पर आपको मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। कहा जाता है, कि यहां पर श्री कृष्ण जी आते हैं और राधा रानी और गोपियों के साथ रासलीला करते हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


श्री राधा वल्लभ लाल जी मंदिर वृंदावन - Shri Radha Vallabh Lal Ji Temple Vrindavan

श्री राधा वल्लभ लाल जी मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है।  इस मंदिर में भी श्री कृष्ण जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में श्री कृष्ण जी की श्याम रंग की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो वस्त्र और गहनों से सुसज्जित है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर बहुत ज्यादा लोग भगवान श्री कृष्ण के दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। यहां पर भजन-कीर्तन चलता रहता है और यहां पर आकर मन को शांति मिलती है। 


बांके बिहारी मंदिर वृंदावन - Banke Bihari Temple Vrindavan

बांके बिहारी मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। इस मंदिर में श्री कृष्ण जी की श्याम रंग की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। यहां पर लोगों को सतर्क करने के लिए सावधानी लिखी गई है, कि अपने पैसे, बटुए मोबाइल का ख्याल रखें, क्योंकि यहां पर जेब कतरों की संख्या बहुत ज्यादा है। यहां पर आपको आकर अच्छा लगेगा और शांति मिलेगी। यहां पर मंदिर के बाहर बहुत सारे दुकानें हैं, जहां से आप बांके बिहारी को प्रसाद अर्पित करने के लिए ले सकते हैं। श्री बांके बिहारी मंदिर बहुत ही सुंदर है। मंदिर का डिजाइन बहुत ही आकर्षक है। मंदिर के गर्भ गृह में श्री राधे कृष्ण जी की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। 


कात्यायनी माता मंदिर वृंदावन - Katyayani Mata Temple Vrindavan

कात्यायनी माता मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर प्राचीन है। कहा जाता है कि कात्यानी माता श्री कृष्ण जी की कुलदेवी थे और यहां पर प्राचीन समय में गोपिया आकर माता कात्यायनी से प्रार्थना किया करती थी। यह मंदिर रंगजी मंदिर के करीब है। इस मंदिर में मां की बहुत सुंदर मूर्ति के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। कहा जाता है, कि यह 1 शक्तिपीठ है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको अच्छा लगेगा। यहां पर आपको और भी देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। 


श्री पागल बाबा मंदिर वृंदावन - Shri Pagal Baba Mandir Vrindavan

श्री पागल बाबा मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है और पूरा मंदिर सफेद संगमरमर से बना हुआ है। मंदिर के सामने बगीचा भी देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बहुमंजिला है। इसके शिखर भी बहुत सुंदर है। यह मंदिर मथुरा से वृंदावन जाने वाली सड़क पर स्थित है। इस मंदिर में आपको बहुत सारी मूर्तियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर श्री राधा कृष्ण जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको एक छोटा सा कुंड देखने के लिए मिलता है। 

यहां पर आपको मूर्तियों में, श्री शंकर जी पार्वती जी की मूर्ति, श्री राधा कृष्ण जी की मूर्ति, गणेश जी की मूर्तियां देखने के लिए मिलती है। इसके अलावा यहां पर रामायण और महाभारत के बहुत सारे दृश्यों को मूर्तियों के माध्यम से दिखाया गया है। यहां पर राजा दशरथ के द्वारा भूल वंश श्रवण कुमार का वध, श्री कृष्ण का जन्म, श्री कृष्ण जी का कालिया नाग का वध, भगवान विष्णु जी का पूजन करते हुए राजा दशरथ जी, ब्रह्म ऋषि विश्वामित्र आश्रम में गुरु सेवा में राम जी और लक्ष्मण जी,  यह सभी दृश्य मूर्तियों के माध्यम से लोगों के सामने प्रस्तुत किए गए हैं। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह मथुरा में घूमने लायक स्थान है। 


प्रेम मंदिर वृंदावन - Prem Mandir Vrindavan

प्रेम मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है। इस मंदिर का प्रवेश द्वार ही बहुत आकर्षक है। यहां पर आपको मंदिर के भीतर और मंदिर के बाहर बहुत सारी कृष्ण जी की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको मंदिर के बाहर कृष्ण जी की लीलाएं करते हुए प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर कृष्ण जी गोवर्धन पर्वत को उठाए हुए देखने के लिए मिलते हैं। कृष्ण जी, राधा जी के साथ लीला करते हुए देखने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर की दीवारों पर सुंदर नक्काशी की गई है। मंदिर का शिखर भी बहुत ही आकर्षक है। मंदिर के अंदर श्री कृष्ण जी की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है। आप वृंदावन घूमने के लिए आते हैं, तो इस मंदिर में भी आकर घूम सकते हैं। यह मथुरा में घूमने वाली जगह है। 


चंद्रोदय मंदिर वृंदावन - Chandrodaya Mandir Vrindavan

चंद्रोदय मंदिर वृंदावन का सबसे बड़ा मंदिर है। यह मंदिर अभी अंडर कंस्ट्रक्शन है। यह मंदिर कुछ सालों में पूरी तरह बनकर तैयार हो जाएगा। यह मंदिर वृंदावन या कहा जाए पूरे विश्व का सबसे बड़ा और ऊंचा मंदिर है। यहां पर आप अक्षय पात्र देख सकते हैं, जिससे बहुत सारे भूखे लोगों की भूख मिटाई जाती है। यहां पर अभी छोटा सा मंदिर है, जिसमें आप भगवान श्री कृष्ण के दर्शन कर सकते हैं। यह मंदिर भी बहुत सुंदर है। आपको अभी चंद्रोदय मंदिर का यहां पर मॉडल देखने के लिए मिल जाएगा। 


श्री गरुड़ गोविंद जी मंदिर वृंदावन - Shri Garuda Govind Ji Temple Vrindavan

श्री गरुड गोविंद जी मंदिर वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर विष्णु जी और लक्ष्मी जी को समर्पित है। मंदिर के गर्भ गृह में विष्णु जी और लक्ष्मी जी की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर में विष्णु जी अपने वाहन गरुड पर सवार है। यह मंदिर हाईवे सड़क पर स्थित है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


मां वैष्णो देवी धाम वृंदावन - Maa Vaishno Devi Dham Vrindavan

मां वैष्णो देवी धाम वृंदावन का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर वृंदावन जाने वाली सड़क पर स्थित है। इस मंदिर में मां दुर्गा की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जिसमें मां दुर्गा शेर पर सवार है। यहां पर हनुमान जी की प्रतिमा भी देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर में आपको वैष्णो देवी धाम के समान गुफा देखने के लिए मिलती है और वैष्णो माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में एंट्री का चार्ज लिया जाता है। यहां पर गार्डन भी बना हुआ है। आप यहां पर आकर मां वैष्णो माता जी के दर्शन कर सकते हैं। 


गोकुल मथुरा - Gokul Mathura 

गोकुल मथुरा जिले में यमुना नदी के किनारे स्थित एक सुंदर स्थल है। यहां पर भी आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मरते हैं। यहां पर आपको गोकुलधाम, लंगोटी कुंड, मां यमुना नदी का सुंदर घाट, वल्लभाचार्य बैठक, श्री राम मंदिर, गोकुल मंदिर, रमणरेती धाम, रसखान समाधि, 84 खंबा मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यह सभी स्थल बहुत सुंदर है और आप यहां पर आकर घूम सकते हैं।

 

गोवर्धन मथुरा - Govardhan mathura

गोवर्धन मथुरा जिले का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह जगह मथुरा जिले से करीब 25 किलोमीटर दूर है। यहां पर आपको गोवर्धन पर्वत देखने के लिए मिलता है। यहां पर गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करनी पड़ती है। गोवर्धन पर्वत के पास में बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं, जहां पर आप घूम सकते हैं। यहां पर आपको गोविंद कुंड, श्री गिरिराज जी मुखारविंद मंदिर, ऐरावत कुंड, सुरभी कुंड मंदिर, श्रीनाथजी टेंपल, नवल कुंड, श्री गिरिराज महाराज मंदिर, श्री महाप्रभुजी बैठक, श्री गोवर्धन जी मंदिर, प्राचीन श्री राम सीता जी मंदिर, श्री गिरिराज इस्कॉन मंदिर, मानसी गंगा मंदिर, श्री मुकुट मुखारविंद टेंपल मानसी गंगा, पंच तीर्थ कुंड, कुसुम सरोवर, उद्धव कुंड, नारद मुनि मंदिर, नारद कुंड, ग्वाल पोखर, दाऊजी महाराज मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर और भी प्राचीन मंदिर हैं, जिनमें आप घूम सकते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा और गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करके बहुत ही अच्छा है। 


बरसाना मथुरा - Barsana Mathura

बरसाना मथुरा के पास पर्यटन स्थल है। यह धार्मिक स्थल है। यहां पर भी बहुत सारी प्राचीन मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री राधा रानी का जन्म हुआ था। यहां पर आपको रंगीली महल, कीर्ति मंदिर, पीली पोखर, राधा रानी मंदिर, छोटी सरकार, श्री राधा रानी श्री जी मंदिर, श्याम सुंदर मंदिर, विलासगढ़, संकरी खोर, दान बिहारी मंदिर, मोर कुटीर मंदिर, श्री राधा रास मंदिर, बिहारी जी मंदिर, कृष्णा बाग, राधा बाग, ललितेश्वर महादेव मंदिर, सुदामा कुटीर प्रेम सरोवर यह सभी प्रसिद्ध मंदिर आपको यहां पर देखने के लिए मिलेंगे। इसके अलावा भी यहां पर आपको खूब सुंदर पहाड़ी का दृश्य देखने मिलेगा और भी यहां पर बहुत सारे मंदिर है, जिन्हें आप घूम सकते हैं। 


नंदगांव मथुरा - Nandgaon Mathura

नंदगांव मथुरा शहर के पास स्थित एक धार्मिक स्थल है। यहां पर भी आपको बहुत सारे प्राचीन मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर सबसे प्रसिद्ध मंदिर नंद बाबा का मंदिर है, जो इस गांव के बीचो-बीच बना हुआ है। इसके अलावा यहां पर आपको यशोदा कुंड, उद्धव क्यारी, श्री चरण पहाड़ी मंदिर, श्री पवन बिहारी जी मंदिर, श्री मोती कुंड, श्री शनि मंदिर कोकिलावन, प्राचीन महादेव बाबा मंदिर, यह सभी नंद गांव के प्रसिद्ध मंदिर है। नंद गांव कोसीकला और कामवन हाईवे सड़क मे है। आप यहां पर घूमने के लिए जा सकते हैं। 


मथुरा जिले के पर्यटन स्थल की सूची - list of tourist places in mathura district

चिंता हरण महादेव मंदिर मथुरा 
श्री रंगेश्वर महादेव मंदिर मथुरा 
दाऊजी महाराज मंदिर मथुरा 
गत्तेश्वर महादेव मंदिर मथुरा 
एलीफेंट कंजर्वेशन एंड केयर सेंटर मथुरा 
योगीराज देवरहा बाबा समाधि स्थल 
देवरहा बाबा घाट वृंदावन 
इस्कॉन मंदिर वृंदावन
कालिया नाग मंदिर जैत वृंदावन
जयपुर मंदिर वृंदावन 
वैष्णो देवी मंदिर वृंदावन 
पुरानी कालीदह मंदिर वृंदावन 
शाहजी मंदिर वृंदावन 
मीरा बाई मंदिर वृंदावन 
बंसीवट मंदिर वृंदावन 
श्री जगन्नाथ मंदिर वृंदावन 
तुलसी मंदिर वृंदावन
टाटिया स्थान वृंदावन 
राधा गोविंद कुटी वृंदावन
श्री राधा मदन मोहन जी मंदिर वृंदावन
केशी घाट वृंदावन मथुरा 
प्रियकांत जू मंदिर
राधा कुंड
श्याम कुंड
ध्रुव टीला मथुरा
पोतरा कुंड मथुरा
गोकुल बैराज पुल मथुरा 
रसखान समाधि स्थल गोकुल मथुरा


लखनऊ में घूमने की जगह
अयोध्या में घूमने वाली जगह
बनारस में घूमने की जगह
आगरा में घूमने वाली जगह
लखीमपुर खीरी में घूमने वाली जगह


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।