सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

अयोध्या जिले के पर्यटन स्थल - Ayodhya Tourist Places

अयोध्या जिले (फैजाबाद) के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Ayodhya अयोध्या जिले (फैजाबाद) के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह 



अयोध्या उत्तर प्रदेश राज्य का एक प्रमुख जिला है। अयोध्या प्राचीन नगर है। अयोध्या श्री राम जन्मभूमि के नाम से भी जाना जाता है। यहां पर श्री राम जी का जन्म हुआ है। अयोध्या जिले को पहले फैजाबाद जिले के नाम से जाना जाता था। मगर इसका नाम परिवर्तित करके अयोध्या रख दिया गया। अयोध्या सरयू नदी के किनारे बसा हुआ है। अयोध्या में बहुत सारे मंदिर हैं। यहां पर करीब 5000 से भी ज्यादा मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर सरयू नदी का सुंदर घाट भी देखने के लिए मिलता है। अयोध्या उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 125 किलोमीटर दूर है। अयोध्या में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - अयोध्या में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है। 


अयोध्या जिले (फैजाबाद) में घूमने वाली जगह - Ayodhya mein ghumne ki jagah


श्री राम जन्मभूमि अयोध्या - Shri Ram Janmabhoomi Ayodhya

श्री राम जन्मभूमि अयोध्या शहर का एक प्रसिद्ध स्थल है। यह श्री राम भगवान की जन्मभूमि है। यह पूरे देश में प्रसिद्ध एक धार्मिक स्थल है। यहां पर श्री राम भगवान जी के बाल गोपाल रूप में दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप आकर श्री राम भगवान जी का भव्य मंदिर देख सकते हैं। अभी यहां पर श्री राम जी का भव्य मंदिर बन रहा है। कुछ सालों में यह मंदिर पूरी तरह बनकर तैयार हो जाएगा। यहां पर भी आपको श्री राम जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां लक्ष्मण जी के, भरत जी के और शत्रुघ्न जी के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा अनुभव होता है। यह जगह अयोध्या और पूरे देश में प्रसिद्ध है। 


कनक भवन अयोध्या - Kanak Bhavan Ayodhya

कनक भवन अयोध्या शहर का एक मुख्य मंदिर है। यह मंदिर पूरे अयोध्या शहर में प्रसिद्ध है। यह धार्मिक स्थल है। यह मंदिर माता सीता और प्रभु श्री राम जी को समर्पित है। गर्भ गृह में माता सीता और प्रभु श्री राम जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह अयोध्या शहर में स्थित सबसे पुराना मंदिर है। कहा जाता है कि कनक भवन को माता केकई के द्वारा, सीता जी को मुंह दिखाई की रस्म मे तोहफे के रूप में दिया गया था। यह भवन त्रेतायुग में पूरी तरह सोने का बना हुआ था और इस भवन का उपयोग श्री राम जी और माता सीता जी अपने निवास स्थान के रूप में किया करते थे। 

कलयुग में राजा विक्रमादित्य के द्वारा इस भवन पुनः निर्माण किया गया था और 19वीं शताब्दी में ओरछा के राजा के द्वारा इस भवन का निर्माण किया गया। कनक भवन की वास्तुकला बहुत ही आकर्षक है। यहां पर हनुमान जी का मंदिर है, जो आप देख सकते हैं। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा और बहुत शांति मिलेगी। 


महाराज दशरथ जी का राज महल अयोध्या - Palace of Maharaj Dasaratha Ayodhya

महाराज दशरथ जी का राजमहल अयोध्या जिले का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह एक प्रसिद्ध स्थल है। यह महल भगवान श्री राम जी के पिता दशरथ जी का है। इस महल के अंदर श्री राम जी, श्री लक्ष्मण जी और माता सीता जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। महल के अंदर राम जी, लक्ष्मण जी और सीता जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिल जाती है। यह महल भी बहुत सुंदर है। महल का प्रवेश द्वार बहुत ही आकर्षक लगता है। देखने में रंग बिरंगा है। आप यहां पर आ कर इस महल में घूम सकते हैं और श्री राम जी के दर्शन कर सकते हैं। यह महल अयोध्या शहर के बीचो बीच में स्थित है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 

त्रेता युग में महाराजा दशरथ जी के राजमहल में चारों भाई श्री राम जी, लक्ष्मण जी, भरत जी और शत्रुघ्न जी यही भवन में खेला करते थे। 


अशर्फी भवन अयोध्या - Asharfi Bhawan Ayodhya

अशर्फी भवन अयोध्या का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह अशर्फी भवन के नाम से इसलिए जाना जाता है, क्योंकि इस मंदिर के कंस्ट्रक्शन के समय यहां पर सोने के सिक्के मिले थे। इसलिए इस भवन को अशर्फी भवन के नाम से जाना जाता है। इस भवन में श्री विष्णु जी और माता लक्ष्मी जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। 


राम की पौड़ी अयोध्या - Ram Ki Pauri Ayodhya

राम की पैड़ी अयोध्या शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यहां पर सरयू नदी का सुंदर घाट बनाया गया है। यह घाट मानव निर्मित है। मगर बहुत सुंदर लगता है। यहां पर आप स्नान करके अपने सारे पाप धो सकते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और शाम के समय यह जगह बहुत ही रंगीन रहती है। यहां पर कलरफुल लाइट जलाई जाती है, जिससे इस जगह की सुंदरता और अधिक बढ़ जाती है। 

राम की पौड़ी पर दीपावली के समय बहुत बड़ा उत्सव रहता है। दीपावली के समय यहां पर लाखो दीपक एक साथ जलाए जाते हैं और राम जी की अयोध्या वापसी पर खुशी मनाई जाती है।  आप राम की पौड़ी में आकर दीपावली को देखेंगे, तो आप इस दीपावली को भूल नहीं पाएंगे। यहां पर बहुत सारे न्यूज़ चैनल वाले और भी बहुत सारे मीडिया हाउस आकर इस जगह की दीपावली को टीवी में दिखाते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और आप यहां पर बहुत अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।   

सरयू नदी का घाट अयोध्या - Saryu River Ghat Ayodhya

सरयू नदी का घाट अयोध्या शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। सरयू नदी के किनारे बहुत सारे घाट बने हुए हैं, जहां पर आप घूम सकते हैं और स्नान कर सकते हैं। सरयू नदी प्राचीन है। यहां पर, जो घाट बने हैं। वह बहुत ही अच्छे बने हुए हैं और यहां पर घाट में बहुत सारे मंदिर भी देखने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर नाव में सवारी का मजा भी ले सकते हैं। 

यहां पर आपको कौशल्या घाट, पापमोचन घाट, लक्ष्मण घाट, राम घाट, लक्ष्मण घाट, जानकी घाट और भी बहुत सारे घाट देखने के लिए मिलते हैं, जिनका अपना ही धार्मिक महत्व है। यहां पर आकर शाम के समय सूर्यास्त का दृश्य देखना बहुत ही अद्भुत रहता है। आप शाम के समय यहां पर सरयू नदी की आरती भी देख सकते हैं, जो बहुत अच्छी लगती है। यहां पर सरयू नदी का आरती स्थल बना हुआ है, जहां पर आप सरयू नदी की आरती देख सकते हैं। 


हनुमान गढ़ी मंदिर अयोध्या - Hanuman Garhi Temple Ayodhya

हनुमानगढ़ी मंदिर अयोध्या का एक प्रसिद्ध धार्मिक मंदिर है। यह मंदिर श्री हनुमान जी को समर्पित है। मंदिर में हनुमान जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर हनुमान जी का गर्भ ग्रह बहुत ही सुंदर है। यह मंदिर अयोध्या शहर के बीचो बीच में स्थित है। इस मंदिर में बहुत ज्यादा भीड़ रहती है। बहुत सारे भक्त हनुमान जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां पर हनुमान जी की बाल्यकाल रूपी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा बहुत ही सुंदर लगती है। आप यहां पर आकर हनुमान जी के दर्शन कर सकते हैं। 


नवाब शुजाउददौला का मकबरा गुलाब बाड़ी - Nawab Shujauddaula's Tomb Gulab Bari

शुजाउददौला का मकबरा गुलाब बाड़ी फैजाबाद में स्थित एक सुंदर स्थल है। यह एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह मकबरा बहुत ही सुंदर है। यह मकबरा देखने में ताजमहल के सामान लगता है। मकबरे के चारों तरफ सुंदर गार्डन बना हुआ है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। गुलाब बाड़ी का अर्थ होता है गुलाब का बगीचा। मकबरे में आपको गुलाब का बगीचा भी देखने के लिए मिलेगा, जो बहुत सुंदर है। 

नवाब शुजाउददौला का मकबरा के निर्माण नवाब शुजाउददौला ने स्वयं करवाया था। इस मकबरे में आपको एक मस्जिद, इमामबाड़ा, शाही हमाम, तथा बारादरी देखने के लिए मिलती है। मकबरे में एक भव्य प्रवेश द्वार देखने के लिए मिलता है। मकबरे के केंद्रीय भाग में नवाब और उनकी मां की कब्र बनी हुई है। मुगल की चारबाग शैली के अनुरूप यह मकबरा बनाया गया है। मकबरे के चारों तरफ बगीचा, फव्वारे, छोटी-छोटी नहरे देखने के लिए मिलती हैं। यह मकबरा चुने और लाखोरी ईटो से बना हुआ है। आप यहां पर आकर इस मकबरे की खूबसूरती देख सकते हैं। 


मिलिट्री मंदिर फैजाबाद - Military Temple Faizabad

मिलिट्री मंदिर फैजाबाद शहर का एक सुंदर मंदिर है। इस मंदिर को डोंगरा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यह मंदिर डोगरा रेजीमेंट में स्थित है। यह मंदिर बहुत ही सुव्यवस्थित ढंग से बनाया गया है। मंदिर के सामने आपको बहुत सुंदर नहर देखने के लिए मिलती है, जिसमें फव्वारे लगा हुआ है। इस मंदिर में बहुत सारे देवी देवता विराजमान है। यहां पर आपको शंकर जी, गणेश जी, लक्ष्मी जी, विष्णु जी के दर्शन करने के लिए मिलता है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। इस मंदिर में आप जाते हैं, तो आईडी कार्ड लेकर जाए। क्योंकि यहां पर चेकिंग होती है।

 

गुप्तार घाट एवं श्री राम मंदिर - Guptar Ghat and Shri Ram Mandir

गुप्तार घाट एवं श्री राम मंदिर फैजाबाद शहर का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर एवं घाट घाघरा नदी के किनारे बने हुए हैं। यह मंदिर प्राचीन है। मंदिर में श्री राम जी की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री राम जी, सीता जी और लक्ष्मण जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर बहुत ही अच्छा लगता है। यह जो घाट बना हुआ है। वह भी बहुत सुंदर है और बहुत सुव्यवस्थित ढंग से घाट बना हुआ है। घाट में साफ सफाई रहती है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर शाम के समय आकर समय बिताना बहुत ही अच्छा लगता है। सूर्यास्त का दृश्य बहुत जबरदस्त रहता है। यहां पर आप बोटिंग का मजा भी ले सकते हैं। 


कंपनी गार्डन फैजाबाद - Company Garden Faizabad

कंपनी गार्डन फैजाबाद में स्थित एक सुंदर गार्डन है। यह एक बहुत बड़ा गार्डन है और बहुत सुंदर है। यह गार्डन घाघरा नदी के पास में ही बना हुआ है। इस गार्डन में बहुत ही सुंदर सुंदर फूलों वाले पौधे लगे हुए हैं, जो इस गार्डन की शोभा बढ़ाते हैं। यहां पर बहुत सारे झूले भी हैं, जो बच्चों को बहुत पसंद आएंगे। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं और अपना बहुत अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। 


बड़ी देवकाली देवी मंदिर अयोध्या - Badi Devkali Devi Temple Ayodhya

बड़ी देवकाली मंदिर अयोध्या जिले का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पूरे अयोध्या शहर में प्रसिद्ध है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है, कि यह मंदिर में विराजमान देवी श्री रामचंद्र जी की कुलदेवी थी। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर में देवी गिरजा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर एक कुंड देखने के लिए मिलता है। यह कुंड बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और बहुत सुंदर लगता है। यहां पर गर्भ ग्रह में गिरजा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। 

बड़ी देवकाली देवी मंदिर पर बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री राम जी, माता सीता जी और लक्ष्मण जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां गणेश जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। शनि भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। नवरात्रि में यहां पर बहुत ज्यादा भीड़ रहती है। बहुत सारे भक्तों मां के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


बहू बेगम का मकबरा फैजाबाद - Bahu Begum's Tomb Faizabad

बहू बेगम का मकबरा फैजाबाद का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह मकबरा बहुत ही सुंदर है। यह शुजा-उद-दौला की पत्नी का मकबरा है। यह मकबरा फैजाबाद की सबसे ऊंची इमारत है। यहां पर बगीचा बना हुआ है और बगीचे के बीच में मकबरा देखने के लिए मिलता है। इस मकबरे की अच्छे से देखभाल नहीं की जा रही है, जिससे यह मकबरा दिन-ब-दिन खराब होते जा रहा है। मकबरे का निर्माण कार्य दरार अली खान एवं उनके वकील पनाह अली ने आरंभ किया था तथा इसे पूरा करवाया था। इस मकबरे के ऊपर एक बड़ा सा गुंबद देखने के लिए मिलता है और कोने मे ऊपर छोटे-छोटे गुंबद बने हुए हैं, जो बहुत सुंदर लगते हैं। आप अगर फैज़ाबाद घूमने के लिए आते हैं, तो आप इस मकबरे में भी घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मकबरा शहर के बीचो बीच बना है। 


श्री नागेश्वर नाथ मंदिर अयोध्या - Shri Nageshwar Nath Temple Ayodhya

श्री नागेश्वर नाथ मंदिर अयोध्या का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर राम की पौड़ी के पास में स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और बहुत ही प्राचीन है। कहा जाता है, कि इस मंदिर का निर्माण श्री राम के पुत्र कुश ने करवाया था। इस मंदिर के गर्भ गृह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर शिवलिंग, नंदी महाराज, गणेश जी, ब्रह्मा जी, विष्णु जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं और आपको अच्छा लगेगा। यहां पर शिवरात्रि के समय बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे भक्त मंदिर में भगवान शिव के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


अयोध्या जिले के अन्य प्रसिद्ध मंदिर - Other Famous Temples in Ayodhya District

श्री सीताराम मंदिर (बिरला मंदिर)
आदिशक्ति माता पटेश्वरी मंदिर
छोटी देवकाली देवी मंदिर अयोध्या 
इस्कॉन मंदिर अयोध्या
बैकुंठ धाम अयोध्या
रामकथा संग्रहालय अयोध्या
श्री लक्ष्मण किला मंदिर अयोध्या 
झुनकी घाट अयोध्या 
जानकी महल अयोध्या
प्राचीन ऐतिहासिक सुग्रीव किला मंदिर
तुलसी स्मारक भवन अयोध्या


ललितपुर पर्यटन स्थल
श्योपुर पर्यटन स्थल
आगर मालवा पर्यटन स्थल
अशोकनगर पर्यटन स्थल
रायबरेली पर्यटन स्थल
फर्रुखाबाद पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।