सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

नीमच पर्यटन स्थल - Neemuch tourist place | Places to visit in Neemuch

नीमच  के दर्शनीय स्थल - Tourist places in Neemuch| Places to visit near Neemuch | Neemuch Tourism


नीमच में घूमने की जगहें


गांधी सागर बांध नीमच - Gandhi sagar dam Neemuch

गांधी सागर बांध नीमच जिले के पास स्थित एक महत्वपूर्ण आकर्षण स्थल है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। गांधी सागर बांध चंबल नदी पर बना हुआ सबसे बड़ा बांध है और चंबल नदी मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण नदी है। यह बाँध बहुत सुंदर है और विशाल है। गांधी सागर बांध चंबल घाटी परियोजना के अंतर्गत आता है। गांधी सागर बांध मध्यप्रदेश और राजस्थान की सीमा पर बनाया गया है। इस बांध के पानी का और बिजली का बंटवारा आधा-आधा दोनों राज्यों में होता है। यहां पर हाइड्रो पावर प्लांट भी बनाया गया है, जिससे 115 मेगावाट बिजली बनाई जाती है। इस पावर प्लांट में 5 छोटी छोटी इकाइयां स्थापित की गई है। इस बांध का निर्माण 1953  में बनना शुरू हुआ था और 1960 में बनकर तैयार हो गया। बरसात के समय अगर आप यहां पर आते हैं, तो गांधी सागर बांध पानी से पूरी तरह भरा होता है और इसके गेट खोले जाते हैं। इस बांध में 19 गेट है। यह गेट बरसात के समय खोले जाते हैं, जिससे अपार जल राशि निकलती है। इस दृश्य को देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग बरसात के समय यहां पर आते हैं। आप यहां पर आते हैं, तो आपको यहां पर गार्डन भी देखने के लिए मिलता है। इस गार्डन को चंबल माता गार्डन के नाम से जाना जाता है। यह गार्डन बहुत खूबसूरत है। इस गार्डन से आपको गांधी सागर बांध का दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर वॉच टावर भी बने हुए हैं, जहां से आप को चंबल नदी के खूबसूरत दृश्य देखने मिलते हैं। इस गार्डन में आपको एक मूर्ति देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही खूबसूरत है। इस बांध का उद्घाटन 1960 में प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु के द्वारा किया गया था। गांधी सागर बांध नीमच जिले से करीब 100 किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर अपनी गाड़ी से पहुंच सकते हैं। 


नव तोरण मंदिर खोर नीमच - Nav Toran Temple Khor Neemuch

नव तोरण मंदिर नीमच जिले में स्थित एक प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर नीमच जिले के खोर में स्थित है। यह मंदिर मुख्य नीमच शहर से करीब 20 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर अपनी गाड़ी से आ सकते हैं। यह मंदिर बहुत खूबसूरत है और यह मंदिर पत्थरों से बना हुआ है। मंदिर में आप आते हैं, तो आपको शिवलिंग देखने के लिए मिलता है। यहां पर आप वराह अवतार में विष्णु भगवान की प्रतिमा देख सकते हैं, जो पत्थर के बने हुए हैं। नव तोरण मंदिर 11वीं शताब्दी में बना हुआ था। इस मंदिर में 10 अलंकृत मेहराब है, या स्तंभ है। जिनमें खूबसूरत नक्काशी की गई है और उनमें मालाएं बनाई गई हैं। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। 


समर कुंड महादेव मंदिर नीमच - Samer Kund Mahadev Temple Neemuch

समर कुंड महादेव मंदिर नीमच शहर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर में आपको एक कुंड देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर लगता है। आप यहां पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर नीमच शहर से करीब 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पर महाशिवरात्रि को बहुत बड़ा मेले का आयोजन होता है। 


श्री भंवर माता मंदिर नीमच - Shri Bhanwar Mata Temple Neemuch

श्री भंवर माता मंदिर नीमच जिले के पास स्थित एक प्राचीन मंदिर है। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर के आसपास घना जंगल स्थित है। यहां पर आपको बहुत सारे बंदर भी देखने के लिए मिलते हैं। आप यहां बंदरों से सावधान रहे हैं। यहां पर आपको मां दुर्गा की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही अद्भुत लगती है। आप यहां पर आ कर अपना समय बिता सकते हैं। यहां पर एक जलप्रपात भी है, जो बरसात के समय आपको देखने के लिए मिलता है। आपको यहां पर प्रकृति का बहुत अच्छा नजारा देखने को मिलेगा और यहां पर आपको हरियाली से भरी घाटी देखने के लिए मिलेगी। यहां पर आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। भंवर माता मंदिर प्रतापगढ़ जिले की छोटी सदरी तहसील से 3 किमी दूर स्थित है। यह मंदिर नीमच जिले से करीब 26 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आप यहां पर अपने वाहन से आ सकते हैं। आप यहां पर किराए से टैक्सी बुक करके भी आ सकते हैं। इस मंदिर को भंवर माता शक्ति पीठ के रूप में भी जाना जाता है। यहां पर आपको ज्यादा दुकानें देखने के लिए नहीं मिलेगी, इसलिए आप यहां पर आते हैं, तो आप अपनी तैयारी करके आएं। 


भंवर माता झरना नीमच - Bhanwar Mata Waterfall Neemuch

भंवर माता झरना भंवर माता मंदिर के पास स्थित एक प्राकृतिक जगह है। भंवर माता झरना नीमच शहर के पास स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आप बरसात के समय आते हैं, तो यहां पर आपको भंवर माता झरना देखने के लिए मिलता है। यह झरना बहुत खूबसूरत है और बरसात के समय पूरी तरह से पानी से भरा रहता है। आप इस झरने में नहाने का मजा भी ले सकते हैं। आप यहां पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। यह जगह बहुत अच्छी है और चारों तरफ से प्राकृतिक वातावरण से घिरी हुई है। 


सुखानंद महादेव जी मंदिर - Sukhanand Mahadev Ji Temple Neemuch

सुखानंद मंदिर और आश्रम नीमच शहर में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह धार्मिक स्थल है। यह स्थल भगवान शिव को समर्पित है। यहाँ पर भगवान शिव और संत सुखदेव जी का मंदिर है। यहां पर आपको भगवान शिव का शिवलिंग देखने के लिए मिलता है। यह जगह प्राकृतिक खूबसूरती से भरी हुई है। यहां पर बरसात के समय आपको झरना देखने के लिए मिलता है। यह झरना पहाड़ों से गिरता है, जो बहुत ही शानदार दृश्य लगता है। इस झरने में आप नहाने का मजा भी ले सकते हैं। यहां पर जलकुंड भी बना हुआ है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। यह मंदिर मध्य प्रदेश और राजस्थान की सीमा पर स्थित है। यहां पर घूमने के लिए आया जा सकता है। सुखानंद धाम नीमच शहर से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आप यहां पर गाड़ी से आ सकते हैं। इस जगह का नाम सुखानंद है। यह जगह अपने नाम के अनुरूप है। सुखानंद का मतलब होता है सुख और आनंद। यहां पर आकर आपको आनंद ही मिलेगा और परम सुख मिलेगा। यहां पर आपको बहुत शांति मिलेगी।  प्राचीन समय में यहां पर सुखानंद मुनि ने तपस्या की थी इसलिए इस जगह को सुखानंद धाम के नाम से जाना जाता है। यहां पर प्राचीन गुफा है। यह एक दिन की सैर के लिए सबसे अच्छी जगह है। सुखानंद धाम के रास्ते में आपको हनुमान जी की एक मूर्ति देखने के लिए मिलती है, जो विशाल है। 


सीताराम जाजू सागर नीमच - Sitaram Jeju Sagar Neemuch

सीताराम जाजू सागर नीमच जिले में घूमने की अच्छी जगह है। यह एक जलाशय है। यह बहुत बड़ा जलाशय है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। यहां पर आपको सूर्योदय एवं सूर्यास्त का बहुत ही मनोरम दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर अपने दोस्तों के साथ आ सकते हैं।  इस बांध की कुल लंबाई 46.03 किलोमीटर है और बांध की जल संचयन क्षमता 78.12500 लाख किलोलीटर है। यह बांध नीमच जल प्रदाय योजना के अंतर्गत आता है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। यह नीमच शहर के पास स्थित एक अच्छा पिकनिक स्थल है। आप यहां पर आकर गार्डन में भी घूम सकते हैं। यहां पर बहुत खूबसूरत गार्डन बना हुआ है। बरसात के समय डैम का पानी ओवरफ्लो होता है, जिसका नजारा बहुत ही मनोरम होता है। आप बरसात के समय यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको डैम में मगरमच्छ भी देखने के लिए मिल जाते हैं, क्योंकि डैम में मगरमच्छ भी है। 


श्री किलेश्वर महादेव मंदिर नीमच - Shri Kileshwar Mahadev Temple Neemuch

किलेश्वर महादेव मंदिर नीमच शहर में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर भगवान शिव जी को समर्पित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। मंदिर में गार्डन भी स्थित है, जहां पर बहुत सारे झूले लगे हैं और बच्चे यहां पर खेल सकते हैं। आपको मंदिर में आकर बहुत अच्छा लगेगा। यहां पर आपको शिवलिंग के दर्शन करने मिल जाते हैं। इस मंदिर के आसपास बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं, जिससे यहां का वातावरण बहुत अच्छा लगता है। आप यहां पर आ कर अपना समय शांति से बिता सकते हैं। यह मंदिर समिति द्वारा बहुत अच्छी तरह से प्रबंधित रखा गया है। मंदिर में आपको फव्वारा भी देखने के लिए मिलेगा। मंदिर के प्रवेश द्वार में दो हाथी बने हुए हैं, जो बहुत ही आकर्षक लगते हैं। श्री किलेश्वर महादेव मंदिर नीमच रेलवे स्टेशन के बहुत करीब है। आप यहां पर पैदल भी पहुंच सकते हैं। 


बालाजी धाम नीमच - Balaji Dham Neemuch

बालाजी धाम नीमच शहर में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। यहां पर आपको हनुमान जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर की बनावट भी बहुत खूबसूरत है। आप यहां पर आकर शांति से समय बिता सकते हैं। मंदिर में मंगलवार को बहुत भीड़ रहती है। 


सांवरिया सेठ मंदिर नीमच - Sawariya Seth Temple Neemuch

सवारिया सेठ मंदिर नीमच शहर के पास स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और बहुत ही भव्य मंदिर है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर की दीवारों पर  बहुत ही खूबसूरत नक्काशी की गई है। सांवरिया सेठ मंदिर में दीवारों पर सोने की नक्काशी की गई है। आप यहां पर आकर इस मंदिर की भव्यता को देख सकते हैं। इस मंदिर में आपको राधे कृष्ण जी की भव्य मूर्ति देखने के लिए मिल जाती है। 


पिपलिया का किला नीमच - Piplia Fort Neemuch

पिपलिया किला नीमच शहर में स्थित एक प्राचीन किला है। यहां पर आपको एक बावली देखने के लिए मिलती है, जिसमें सीढ़ियां बनी हुई है। यह बावड़ी बहुत खूबसूरत लगती है। यहां पर एक मंदिर भी है। आप मंदिर भी घूम सकते हैं। बरसात के समय बावड़ी में पानी भर जाता है। इस किले को कुंड वाले मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यहां पर जो मंदिर स्थित है, वह पत्थर से बना हुआ है। आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा। 


भादवा माता मंदिर नीमच - Bhadwa mata mandir Neemuch

भादवा माता मंदिर नीमच में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पूरे मध्यप्रदेश में प्रसिद्ध है। यह एक चमत्कारिक मंदिर है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इस मंदिर में एक कुंड है, जिसमें स्नान करने से लकवा रोग और पोलियो से ग्रसित इंसान ठीक हो सकता है। यहां पर लोग अपनी बीमारियां लेकर आते हैं और ठीक होकर जाते हैं। यहां पर आप भादवा माता के दर्शन कर सकते हैं। भदवामाता चांदी के सिंहासन पर विराजमान है। कहा जाता है कि यहां पर आकर मन्नत मानने से जरूर पूरी होती है। आप भी यहां पर आ सकते हैं। यहां पर आप अपनी फैमिली के साथ आ सकते हैं। मंदिर के चारों तरफ आपको बाजार देखने के लिए मिलता है, जिसमें काफी भीड़ भाड़ होती है। नवरात्रि के समय मंदिर को सजाया जाता है। नवरात्रि के समय भदवामाता को गहनों और नए वस्त्रों से सजाया जाता है, जिससे मूर्ति और भी अद्भुत लगती है। मूर्ति के नीचे आपको नौ देवियों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर आपको अच्छा लगेगा। भादवा माता मंदिर नीमच शहर से करीब 18 किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर अपनी गाड़ी से आ सकते हैं। आप यहां पर ऑटो बुक करके भी आ सकते हैं। यहां पर एक अखंड ज्योत जल रही है, जो यहां पर बहुत प्राचीन समय से जल रही है। मंदिर में आपको सभी तरह की सुविधाएं मिल जाती है और आपको यहां आकर अच्छा लगेगा। 


नीलकंठ महादेव मंदिर नीमच - Neelkanth Mahadev Temple Neemuch

नीलकंठ महादेव मंदिर नीमच शहर में स्थित एक अच्छी जगह है। यह मंदिर से भगवान शिव जी को समर्पित है। यहां पर चारों तरफ आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको तालाब भी देखने के लिए मिलता है, जिसे नीलकंठ सागर कहा जाता है। आप यहां पर घूमने का प्लान बना सकते हैं। यह पिकनिक मनाने के लिए बहुत अच्छी जगह है। मंदिर में शिवलिंग विराजमान हैं। आप यहां पर आकर शांति से अपना समय बिता सकते हैं। यह मंदिर मनसा और नीमच के बीच में स्थित है। 


चतुर्भुज नाथ जी का मन्दिर नीमच - Chaturbhuj Nath Temple Neemuch

चतुर्भुज नाथ जी का मंदिर गांधी सागर अभ्यारण्य में स्थित है। यह अभ्यारण्य नीमच शहर के बहुत करीब है। यह नीमच शहर के पास स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल है। आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर में आपको शंकर भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आ कर आपको बहुत अच्छा लगेगा। चारों तरफ आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर एक नदी भी बहती है, जिसका दृश्य बहुत ही खूबसूरत रहता है। आप यहां पर आ कर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं।


चतुर्भुज नाला रॉक पेंटिंग नीमच - Chaturbhuj Nala Rock Painting Neemuch

चतुर्भुज नाला गांधी सागर वन्य जीव अभ्यारण के अंदर स्थित एक पुरातात्विक स्थल है। यहां पर आपको रॉक पेंटिंग देखने के लिए मिल जाएगी, जो आदिमानव के समय की बनाई गई है। यह पेंटिंग चतुर्भुज नाला के दोनों तरफ स्थित है। आप यहां पर आकर प्रकृति के खूबसूरत दृश्य देख सकते हैं। यह जगह बहुत खूबसूरत है। आप यहां पर अपने दोस्तों परिवार के लोगों के साथ आ सकते हैं। इन रॉक पेंटिंग में आपको प्राचीन समय में होने वाली गतिविधियों को दर्शाया गया है। यहां पर बहुत बड़ी संख्या में रॉक पेंटिंग उपलब्ध है। आप यहां पर आकर इन पेंटिंग को देख सकते हैं। 


मोरवान डैम नीमच - Morwan Dam Neemuch

मोरवान बांध नीमच शहर के पास स्थित एक पर्यटन स्थल है। आप यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए आ सकते हैं। बरसात के समय इस बांध में पानी पूरी तरह से भर जाता है और पानी ओवरफ्लो होता है, जिसका दृश्य बहुत ही मनोरम होता है। यहां पर आप को आकर अच्छा लगेगा। यहां पर आप अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। मोरवान डैम नीमच शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर गाड़ी से पहुंच सकते हैं। 


मेनाल जलप्रपात नीमच - Menal Waterfall Neemuch

मेनाल जलप्रपात नीमच शहर के पास स्थित एक खूबसूरत झरना है। आप यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए जा सकते हैं। यह झरना ऊंची पहाड़ी से गिरता हैए जो बहुत ही खूबसूरत लगता है। यह झरना जंगल के बीच में स्थित है और झरना घाटी में गिरता है। यहां पर घाटी का दृश्य बहुत ही अद्भुत होता है। आप यहां पर पिकनिक मनाने के लिए आ सकते हैं। अपने दोस्तों के साथ और अपनी फैमिली लोगों के साथ। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा और यहां पर आपको शांति मिलेगी। 


मेनाल शिव मंदिर नीमच - Menal Shiva Temple Neemuch

मेनाल शिव मंदिर प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर मेनाल वॉटरफॉल के पास ही में स्थित है। आप यहां पर मेनाल वॉटरफॉल देखने के लिए आते हैं, तो मंदिर में भी आ सकते हैं। यह मंदिर पत्थरों से बना हुआ है और इस मंदिर की दीवारों में आपको खूबसूरत नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा और शांति मिलेगी। 


गांधी सागर वन्यजीव अभयारण्य नीमच - Gandhi Sagar Wildlife Sanctuary Neemuch

गांधी सागर वन्य जीव अभयारण्य नीमच शहर के पास स्थित  एक पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको बहुत सारी जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। इस अभयारण्य को चंबल नदी दो भागों में विभाजित करती है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आप अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। यहां का प्राकृतिक वातावरण आपको बहुत अच्छा लगेगा। गांधी सागर वन्य जीव अभ्यारण में गांधी सागर बांध भी आपको देखने के लिए मिलता है। अगर आप बरसात के समय आते हैं, तो यहां पर चारों तरफ हरियाली होती है और बांध के गेट भी खोले जाते हैं, जिसका दृश्य बहुत ही अद्भुत होता है। 


श्री चारभुजा मंदिर मेग्पुरा नीमच


रतलाम पर्यटन स्थल

विदिशा के दर्शनीय स्थल

सागर पर्यटन स्थल

नरसिंहपुर पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।

बैतूल पर्यटन स्थल - Betul tourist place | Betul famous places

बैतूल दर्शनीय स्थल - Places to visit near Betul | Betul tourist spot | Betul city बैतूल जिले की जानकारी - Betul district information बैतूल मध्यप्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है। बैतूल जिला सतपुडा की पहाडियों से घिरा हुआ है। बैतूल जिला के मुलताई में ताप्ती नदी का उदगम हुआ है। ताप्ती मध्यप्रदेश की मुख्य नदी है। बैतूल जिले की सीमा छिंदवाड़ा, नागपुर, अमरावती, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, और होशंगाबाद की सीमाओं को छूती है। बैतूल जिला 10 विकास खंडों में बटा हुआ है। यह विकासखंड है - बैतूल, मुलताई, भैंसदेही, शाहपुर, अमला, प्रभातपट्टन, घोड़ाडोंगरी, चिचोली, भीमपुर, आठनेर, । बैतूल नर्मदापुरम संभाग के अंर्तगत आता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बैतूल की दूरी करीब 178 किलोमीटर है। बैतूल जिलें में घूमने के लिए बहुत सारी दर्शनीय जगह मौजूद है, जहां पर जाकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते है।  बैतूल में घूमने की जगहें Places to visit in Betul बालाजीपुरम - Balajipuram betul | Betul ka Balajipuram | Balajipuram temple betul बालाजीपुरम बैतूल जिले में स्थित दर्शनीय स्थल है।