सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

झोतेश्वर मंदिर गोटेगांव | Jhoteshwar temple | jyoteshwar dham

ज्योतिश्वर मंदिर गोटेगांव - Jhoteshwar ka mandir | Jyoteshwar temple narsinghpur

 

झोतेश्वर मंदिर गोटेगांव | Jhoteshwar temple jabalpur| jyoteshwar dham


ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) मध्य प्रदेश में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर को ज्योतिश्वर और झोतेश्वर मंदिर (jhoteshwar mandir) के नाम से जाना जाता है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिलें के गोटेगांव तहसील में स्थित है। यह बहुत ही खूबसूरत मंदिर है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) मां राजराजेश्वरी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत भव्य है। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) के शिखर पर एक स्वर्ण कलश स्थापित किया गया है। मंदिर के उपर छोटे-छोटे गुंबद बनाए गए हैं, जिससे मंदिर बहुत ही खूबसूरत लगता है। मंदिर की छत पर कमल की नक्काशी की गई है, जिससे मंदिर बहुत ही सुंदर लगता है। मंदिर में मां राजराजेश्वरी की मूर्ति की स्थापना की गई है। मां राजराजेश्वरी मां दुर्गा का रूप है। मां राजराजेश्वरी की मूर्ति के पीछे एक मां दुर्गा की पेंटिग बनी हुई है। आपको यहां पर कुछ फोटोग्राफ भी देखने मिल जाती है। मंदिर के अंदर चारों तरफ की दीवारों पर 101 देवियों की स्थापना की गई है, यह मूर्तियां काले पत्थर की है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) में पार्किंग के लिए अच्छी जगह है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) तक पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनाई गई है। यह मंदिर ऊंचाई पर बना हुआ है। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) के आजू बाजू बहुत सारे मंदिर है, जहां पर आप घूम सकते हैं। यहां पर यज्ञशाला बनी हुई है, जो आप देख सकते हैं। इसके अलावा यहां पर परमहंसी आश्रम भी बना हुआ है। यहां पर जलकुंड बना हुआ है, जिससे पानी बहता रहता है। आप यहां गर्मी के समय जाएंगे, तब भी आपको यहां पर पानी बहता हुआ देखने के लिए मिल जाएगा। मंदिर के प्रवेश द्वार में आपको एक दुकान देखने के लिए मिलती है, जहां पर आप चाय नाश्ता कर सकते हैं।  यहां पर आपको प्रसाद की दुकान भी देखने के लिए मिलती है। आप यहां से प्रसाद भी ले सकते हैं।

ज्योतिश्वर मंदिर
(jyoteshwar mandir) के आस पास बहुत सारे मंदिर है। ज्योतिश्वर मंदिर से कुछ दूरी पर हनुमान टेकरी है, जहां पर हनुमान जी के बहुत ही आकर्षक प्रतिमा है। यहां पर आपको बंदर देखने मिल जाते है। हनुमान टेकरी पहाड़ी पर स्थित है। पहाड़ी से नीचे आने का रास्ता है। पहाडी के नीचे विचार शिला स्थित है। यहां पर एक चटटान है, जिसे विचार शिला कहा जाता है। आप इसे देख सकते हैं। यहां पर आपको कुछ गुफाएं भी देखने के लिए मिल जाएंगी, जिन्हें गुरु गुफाएं कहा जाता है। कहा जाता है कि प्राचीन समय में यहां पर संत लोग तपस्या किया करते थे। गुरु गुफा से कुछ दूरी पर आपको एक शिव मंदिर देखने के लिए मिलता है, जिसमें शिव भगवान जी का शिवलिंग स्थापित है। यह शिवलिंग पारदर्शी है। इस मंदिर के पीछे एक तालाब बना हुआ है। इस तालाब के बारे में कहा जाता है, कि यहां पर नर्मदा जी ने स्वयं अवतरित हुई थी। ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) के पास आपको राधे कृष्ण जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही खूबसूरत है और मंदिर में राधे कृष्ण जी की मूर्ति बनी हुई है। यहां पर आपको एक शिव मंदिर देखने के लिए मिलता है, जिसमें 12 ज्योतिर्लिंग की स्थापना की गई है। अगर आप ज्योतिश्वर मंदिर (jyoteshwar mandir) में घूमने जाते हैं, तो आप 12 बजे से पहले जाएं, क्योंकि 12 बजे के बाद यहां के सभी मंदिर बंद हो जाते हैं और आपको दर्शन करने नहीं मिलेंगे। इसलिए जब भी आप यहां जाएं, जो 12 बजे के पहले जाये। आप झोतेश्वर मंदिर (jhoteshwar mandir) में आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आप अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। यह पिकनिक के लिए एक बहुत अच्छी जगह है। यहां पर आपको आकर आत्मिक शांति मिलेगी। 

झोतेश्वर मंदिर कहां स्थित है

Jhoteshwar mandir kahan sthit hai


झोतेश्वर मंदिर
(jhoteshwar mandir) मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में स्थित है। यह नरसिंहपुर जिले के गोटेगांव तहसील में स्थित है। झोतेश्वर मंदिर (jhoteshwar mandir) गोटेगांव रेलवे स्टेशन से करीब 13 किलोमीटर दूर है। मंदिर तक पहुंचने के लिए अच्छी रोड बनी हुई है। मंदिर तक पहुंचने के लिए अच्छी रोड बनी हुई है। जबलपुर से झोतेश्वर की दूरी करीब 70 किलोमीटर दूर है। आप इस मंदिर तक अपनी गाड़ी से आ सकते हैं। 

टिप्पणियां