सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

चंदौली जिले के पर्यटन स्थल - Chandauli tourist places

चंदौली जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Chandauli / चंदौली जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह


चंदौली उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। चंदौली उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 300 किलोमीटर दूर है। चंदौली गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है। चंदौली में आपको पर्वतीय क्षेत्र देखने के लिए मिल जाता है। यहां पर आपको बहुत सारी प्राकृतिक जगह घूमने के लिए मिलती है। यहां पर चंद्रप्रभा वन्य जीव अभ्यारण है। चंदौली जिले में चंद्रप्रभा नदी बहती है। चंदौली जिले में कर्मनाशा नदी भी बहती है। चंदौली जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - चंदौली जिले में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है। 


चंदौली में घूमने वाली जगह - Chandauli mein ghumne ki jagah


चंद्रप्रभा वन्यजीव विहार चंदौली - Chandraprabha Wildlife Sanctuary Chandauli

चंद्रप्रभा वन्यजीव विहार चंदौली जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक वन्यजीव अभ्यारण है। यहां पर आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर जंगल का सुंदर दृश्य, झरने और नदी देखने के लिए मिलती है। यहां आकर बहुत अच्छा लगता है। चंद्रप्रभा वन्य जीव अभ्यारण का नाम इस अभ्यारण के बीच से बहने वाली नदी चंद्रप्रभा के नाम पर रखा गया है। यह अभ्यारण चंदौली से करीब 40 किलोमीटर दूर है और वाराणसी से करीब 70 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप अपनी गाड़ी से घूमने के लिए आ सकते हैं। इस अभ्यारण में आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको काला हिरण, चीतल, सांभर, नीलगाय, जंगली सूअर, चिंकारा, भारतीय अजगर और भी बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको बहुत सारी चिड़िया की प्रजाति भी देखने के लिए मिलती है। 

चंद्रप्रभा अभ्यारण में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर पार्किंग शुल्क भी लिया जाता है। आप यहां पर आकर बहुत इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर खासकर बरसात के समय बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं, क्योंकि चंद्रप्रभा वन्य जीव अभ्यारण के अंदर आपको जलप्रपात देखने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह चंदौली में घूमने लायक जगह है। 


चंद्रप्रभा बांध चंदौली - Chandraprabha Dam Chandauli

चंद्रप्रभा बांध चंदौली शहर का एक सुंदर स्थल है। यह बांध चंद्रप्रभा नदी पर बना हुआ है। यह बांध चंद्रप्रभा वन्य जीव अभ्यारण के अंदर स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। बांध का दृश्य बहुत सुंदर रहता है। बरसात के समय बांध से पानी छोड़ा जाता है, जिससे यहां पर बहुत ही सुंदर झरना बनता है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। यह चंदौली की सबसे अच्छी जगह है। 


देवदरी जलप्रपात चंदौली - Devdari Falls Chandauli

देवदरी जलप्रपात चंदौली शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह जलप्रपात चंद्रप्रभा वन्यजीव अभ्यारण के अंदर स्थित है। यह जलप्रपात चंद्रप्रभा नदी पर बना हुआ है। यह जलप्रपात बहुत सुंदर है। यहां पर बहुत ऊंची चट्टानों से जलप्रपात एक कुंड में गिरता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। बहुत सारे लोग यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए आते हैं। जलप्रपात के पास ही में वॉच टावर बना हुआ है, जहां से आप जलप्रपात का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। जलप्रपात में जाने के लिए एंट्री टिकट लेना पड़ता है और पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने के लिए भी शुल्क लगता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और यहां पर आकर आप अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह चंदौली की सबसे अच्छी जगह है। 


राजदारी जलप्रपात चंदौली - Rajdari Falls Chandauli

राजदारी जलप्रपात चंदौली शहर का एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात चंद्रप्रभा वन्यजीव अभ्यारण के अंदर स्थित है। यह जलप्रपात चंद्रप्रभा नदी पर बना हुआ है। आप चंद्रप्रभा वन्य जीव अभ्यारण जाते हैं, तो सबसे पहले आपको यही जलप्रपात देखने के लिए मिलेगा। उसके बाद आप देवदरी जलप्रपात जा सकते हैं। यह जलप्रपात बहुत ही सुंदर लगता है। इस जलप्रपात का आकार सीढ़ी नुमा है, जो बहुत ही आकर्षक दिखता है। 

यहां पर वॉच टावर भी बना हुआ है, जहां से आप जलप्रपात की सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। यहां पर बहुत सारे लोग जलप्रपात में नहाते भी है और खाना पीना पका कर खाते भी हैं। इस जलप्रपात से थोड़ी दूर पर देवदरी जलप्रपात तक पैदल जाना पड़ता है। यहां पर बहुत सारे बंदर भी देखने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। आप यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए आ सकते हैं। 


लतीफ शाह बांध चंदौली - Latif Shah Dam Chandauli

लतीफ शाह बांध चंदौली शहर का एक सुंदर स्थल है। यहां पर आपको एक सुंदर बांध देखने के लिए मिलता है। यह बांध कर्मनाशा नदी पर बना हुआ है। इस बांध के पानी का उपयोग मुख्य रूप से सिंचाई और पीने के पानी के लिए किया जाता है। यह बांध 1921 में बना था। इस बांध के पास ही में एक दरगाह देखने के लिए मिलती है, जो लतीफ शाह जी की है। इस दरगाह के नाम पर ही इस बांध का नाम लतीफ शाह बांध रखा गया है। यह बांध बहुत ही सुंदर है और बरसात के समय इस बांध का पानी झरने के समान गिरता है, जो बहुत ही जबरदस्त लगता है। यहां पर बहुत सारे लोग बरसात के समय घूमने के लिए आते हैं। यह बांध चंदौली में चकिया में बना हुआ है। यह चंदौली का पिकनिक स्पॉट है। 


लतीफ शाह की दरगाह चंदौली - Latif Shah's Dargah Chandauli

लतीफ शाह की दरगाह चंदौली शहर का एक धार्मिक स्थल है। लतीफ शाह एक संत थे और उनकी दरगाह यहां पर आपको देखने के लिए मिलती है। यह दरगाह प्राचीन है। दरगाह के पास ही में लतीफ शाह बांध भी बना हुआ है। आप यहां पर घूमने के लिए आते हैं, तो आप बांध में भी घूमने के लिए जा सकते हैं। यह दरगाह चंदौली शहर में चकिया में बनी हुई है। आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा।

 

मां काली मंदिर चंदौली - Maa Kali Mandir Chandauli

मां काली मंदिर चंदौली शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर चंदौली शहर में चकिया में स्थित है। यह मंदिर प्राचीन है। मंदिर में काली जी की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के सामने एक तालाब भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। आप मां काली के दर्शन करने के लिए आ सकते हैं।

 

मूसाखंड बांध चन्दौली - Muskhand Dam Chandauli

मूसाखंड बांध चंदौली जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक खूबसूरत बांध है। यह बांध चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह बांध चंदौली जिले के चकिया तहसील में स्थित है। यह बांध वाराणसी से करीब 62 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह बांध कर्मनाशा नदी पर बना हुआ है। इस बांध के पानी का उपयोग सिंचाई के लिए और पीने के पानी के लिए किया जाता है। यह बांध बहुत सुंदर है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


नौगढ़ बांध चंदौली - Naugarh Dam Chandauli

नौगढ़ बांध चंदौली जिले का एक सुंदर बांध है। यह बांध नौगढ़ गांव के पास ही में स्थित है। आप यहां पर बाइक और कार से घूमने के लिए आ सकते हैं। यह बांध घने जंगल के अंदर स्थित है। यह बांध चंद्रप्रभा वन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यह बांध कर्मनाशा नदी पर बना हुआ है। इस बांध का निर्माण 1956 में किया गया था। यह मिट्टी का बांध है। यहां पर चारों तरफ जंगल का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आकर आपको चारों तरफ सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर जंगल, नदी, पहाड़ों का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है।

 

नौगढ़ जलप्रपात चंदौली - Naugarh Falls Chandauli

नौगढ़ जलप्रपात चंदौली शहर का एक सुंदर जलप्रपात है। नौगढ़ जलप्रपात नौगढ़ बांध से कुछ ही दूरी पर स्थित है। यह जलप्रपात बहुत ऊंचाई से नीचे गिरता है और बहुत सुंदर लगता है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। आपको मजा आएगा। यह जलप्रपात कर्मनाशा नदी पर बना हुआ है। 


करकतगढ़ वॉटरफॉल चंदौली - Karkatgarh Waterfall Chandauli

करकतगढ़ वाटरफॉल चंदौली शहर का एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात कर्मनाशा नदी पर बना हुआ है। यह जलप्रपात उत्तर प्रदेश और बिहार की सीमा पर बना हुआ है। कर्मनाशा नदी उत्तर प्रदेश और बिहार की सीमा में बहती है। यहां पर आपको बहुत ही सुंदर जलप्रपात देखने के लिए मिलता है। यहां पर बहुत सारे लोग जलप्रपात में नहाते हैं। यहां पर चारों तरफ खूबसूरत जंगल का दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। 


हेतमपुर का किला चंदौली - Hetampur Fort Chandauli

हेतमपुर का किला चंदौली का एक ऐतिहासिक स्थल है। हेतमपुर का किला एक प्राचीन किला है। अब इस किले के खंडहर ही आपको देखने के लिए मिलते हैं। यह किला चंदौली जिले के हेतमपुर गांव में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। इस किले के चारों तरफ बाउंड्री वॉल है और आपको यहां पर कुछ अवशेष भी देखने के लिए मिलते हैं। यह किला 400 साल पुराना है और आप यहां पर आकर इस किले मे घूम सकते हैं। 


अखंडानंदेश्वर महादेव मंदिर धानापुर चंदौली
बाबा वीर डम्हारी रायपुर धानापुर चंदौली
चंद्रकांता पैलेस नौगढ़ चंदौली 
भैसौरा जलाशय चंदौली


मिर्जापुर पर्यटन स्थल
मुजफ्फरनगर पर्यटन स्थल
मेरठ पर्यटन स्थल
सहारनपुर पर्यटन स्थल
बुलंदशहर के पर्यटन स्थल
गाजियाबाद पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।