सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

नागपुर पर्यटन स्थल - Nagpur Tourist Places

नागपुर के दर्शनीय स्थल - नागपुर में घूमने लायक जगह / नागपुर में घूमने वाली जगह 


नागपुर जिला महाराष्ट्र राज्य का एक प्रमुख जिला है। नागपुर जिले को संतरे के शहर के नाम से जाना जाता है, क्योंकि यहां पर संतरे का उत्पादन बहुत अधिक मात्रा में किया जाता है। नागपुर शहर में बहुत सारे दर्शनीय स्थल देखने के लिए मिलते हैं। 


नागपुर में घूमने की जगह
Nagpur mein ghumne ki jagah


महाराजा बाग प्राणी उद्यान नागपुर - Maharaja Bagh Zoological Park Nagpur

महाराजा बाग चिड़ियाघर नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको विभिन्न प्रकार के जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको बाघ, मगरमच्छ, हिरण, तेंदुआ, भालू, मोर, शुतुरमुर्ग, और भी बहुत सारे जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे पक्षी देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बच्चों के लिए बहुत सारे झूले लगाए गए हैं. जिनमें बच्चे काफी इंजॉय करते हैं। यहां पर बहुत सारे जानवरों की स्टेचू भी देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर एक मछली घर भी देखने के लिए मिलता है, इसमें मछलियों की बहुत सारी प्रजातियां देखने के लिए मिलती हैं। बच्चों को, यह बहुत पसंद आएगा। 

महाराजा बाग चिड़ियाघर में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर व्यस्क भारतीय के लिए 30 रूपए का शुल्क लिया जाता है और बच्चों के लिए 15 रूपए का शुल्क लिया जाता है।  यहां पर खाने के लिए बहुत सारे फूड ठेले देखने के लिए मिलते हैं। यह फूड कॉर्नर मुख्य गेट के पास में स्थित है। यहां पर बहुत सारे खाने के ऑप्शन मिल जाते हैं। 

चिड़ियाघर के अंदर आपको चिल्ड्रन गार्डन और पक्षी विहार भी देखने के लिए मिलता है। महाराजा बाग चिड़ियाघर में पार्किंग का भी चार्ज लगता है। आप यहां पर आकर बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आपको भारत के मुख्य स्मारकों के छोटे-छोटे प्रतिरूप भी देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत सुंदर लगते हैं। यहां पर बच्चों के लिए टॉय ट्रेन भी है, जिसमें बच्चे लोग काफी इंजॉय कर सकते हैं। यह नागपुर में घूमने की सबसे अच्छी जगह में से एक है, जिसमें बच्चे और बड़े, सभी लोग इंजॉय कर सकते हैं। 


मध्यवर्ती (केंद्रीय) संग्रहालय नागपुर - Central Museum Nagpur

मध्यवर्ती संग्रहालय नागपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। इस संग्रहालय को केंद्रीय संग्रहालय के नाम से भी जाना जाता है। यह संग्रहालय नागपुर शहर के मध्य में स्थित है। इस संग्रहालय में बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह देखने के लिए मिलता है। यहां पर पत्थर की प्राचीन मूर्तियां, आभूषण, पुरुष प्रतिमा, बर्तन, प्राचीन वाद्य यंत्र देखने के लिए मिलते हैं। 

यहां पर पुरानी पेंटिंग, आसपास के स्थलों की जानकारी, नाग देवता की भव्य प्रतिमा, बंदूक, पत्थर से बने हथियार, मिट्टी के बने हुए बर्तन, ब्रिटिश कालीन ऐतिहासिक शस्त्र देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको नक्शे भी देखने के लिए मिलते हैं, जिसमें विभिन्न तरह की जानकारी दी गई है। यहां पर प्राचीन लिपियों को भी आप देख सकते हैं। यहां पर आपको विभिन्न तरह के जंगली जानवरों का भी एक सेक्शन देखने के लिए बहता है, जिसमें जानवरों के स्टैचू देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे जानवरों के स्टेचू देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत ही सुंदर लगते हैं और रियल लगते है। 

यहां पर एक शॉप भी आपको देखने के लिए मिलती है, जहां से आप गिफ्ट ले सकते हैं। इस संग्रहालय में प्रवेश का शुल्क लिया जाता है। यहां पर प्रवेश शुल्क 10 रूपए है। यह संग्रहालय सोमवार को बंद रहता है। यह संग्रहालय 10:00 बजे से 5:00 बजे तक खुला रहता है। आप नागपुर घूमने के लिए आते हैं, तो इस संग्रहालय में भी घूमने के लिए आ सकते हैं। 


जीरो माइल स्टोन नागपुर - Zero Mile Stone Nagpur

जीरो माइल स्टोन नागपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। जीरो माइल स्टोन भारत का भौगोलिक केंद्र बिंदु है। यहां पर विभिन्न शहरों की दूरियां दिखाई गई है। नागपुर शहर की दूरी जीरो किलोमीटर है और बाकी प्रमुख शहरों की दूरी, हैदराबाद की दूरी 485 किलोमीटर है और कन्याकुमारी की दूरी 1600  किलोमीटर है। बनारस 729 किलोमीटर दूर है और जबलपुर 273 किलोमीटर दूर है। यहां पर आपको घोड़ों की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है और यहां पर एक स्तंभ भी बनाया गया है। यह एक प्राचीन जगह है। 

जीरो माइल स्टोन के बाजू में ही आपको ग्वारी शहीद स्मारक देखने के लिए मिलता है। यह गवारी आदिवासियों का एक स्मारक है। यहां पर साल में एक बार ग्वारी आदिवासी लोग इकट्ठा होते हैं। यहां पर बहुत सारे लोगों ने अपना बलिदान दिया था। यहां पर सुंदर गार्डन बनाया गया है और आप जीरो माइल स्टोन घूमने के लिए आते हैं, तो शहीद स्मारक में भी घूमने के लिए जा सकते हैं। 


सिताबर्डी का किला नागपुर - sitabuldi fort nagpur

सीताबर्डी का किला नागपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक प्राचीन किला है। इस किले में घूमने के लिए बहुत सारे स्थल है। सिताबर्डी किले मे आप 15 अगस्त और 26 जनवरी के दिन ही घूम सकते हैं। यह किला आर्मी के कंट्रोल में है। यह किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। इस किले में देखने के लिए बहुत सारी जगह है। यह किला नागपुर रेलवे जंक्शन के बहुत करीब है। आप यहां पर पैदल भी घूमने के लिए जा सकते हैं। 

सिताबर्डी किले में 1817 में ऐतिहासिक युद्ध हुआ था। यह ऐतिहासिक युद्ध मराठों और अंग्रेजों के बीच में हुआ था। इस युद्ध को याद करने के लिए यहां पर एक स्मारक बनाया गया है। यहां पर आपको नवगंज अली दरगाह देखने के लिए मिलती है। नवगंज अली दरगाह टीपू सुल्तान के पोते नवाब कादर अली और उनके आठ साथियों की दरगाह है, जो किले के अंदर बनी हुई है। जिन्होंने 1857 की क्रांति में अपने प्राणों की आहुति दी थी। यहां पर आपको अंग्रेज सिपाहियों की कब्र देखने के लिए मिलती है। जिन्होंने 1817 की युद्ध में अपने प्राण गवाये थे। यहां पर क्वीन टावर देखने के लिए मिलता है। क्वीन टावर जॉर्ज फिफ्थ और क्वीन मैरी की याद में बनाया गया है। यहां पर आपको डिटेंशन जेल देखने के लिए मिलती है, जिसमें महात्मा गांधी जी को रखा गया था। सीताबर्डी किला नागपुर में घूमने लायक जगह है। आप नागपुर में घूमने के लिए आते हैं, तो आपको सीताबर्डी किला में जरूर आना चाहिए। 


गांधीसागर भाऊजी पागे उद्यान नागपुर - Gandhisagar Bhauji Page Garden Nagpur

गांधी सागर भाऊ जी पागे उद्यान नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। गांधी सागर को जुम्मा झील के नाम से भी जाना जाता है। यह नागपुर में रमन साइंस सेंटर के पास ही में स्थित है। यह तालाब एवं उद्यान बहुत ही सुंदर है। गांधी सागर एक प्राचीन झील है। इस तालाब को शुक्रवारी तलाव के नाम से भी जाना जाता है। 

गांधी सागर तालाब के बीच में उद्यान बना हुआ है। इस उद्यान में आपको फव्वारा देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर शाम के समय सूर्यास्त का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको भाऊ जी पागे की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारे यंत्र लगाए गए हैं, जिसमें आप कसरत कर सकते हैं। यहां पर आपको जानवरों के स्टैचू भी देखने के लिए मिलते हैं। 


रमन साइंस सेंटर एवं तारामंडल नागपुर - Raman Science Center and Planetarium Nagpur

रमन साइंस सेंटर एवं तारामंडल नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको साइंस एवं टेक्नोलॉजी से संबंधित बहुत सारे वस्तुएं देखने के लिए मिलती हैं। यहां पर आपको साइंस के बहुत सारे मॉडल देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको तारों, ग्रह और टेलिस्कोप देखने के लिए भी मिलता है। यह जगह बच्चों को बहुत ज्यादा पसंद आएगी, क्योंकि यहां पर उनके जानने के लिए बहुत सारी वस्तु है है। 

रमन सेंटर के बाहर आपको गार्डन देखने के लिए मिलता है, जहां पर बहुत सारे स्टैचू एवं मशीन देखने के लिए मिलती है। गार्डन में बदक और खरगोश भी देखने के लिए मिलता है। रमन साइंस सेंटर नागपुर रेलवे जंक्शन से करीब 1 किलोमीटर दूर है। आप इस जगह पर पैदल भी घूमने के लिए आ सकते हैं। यह नागपुर में घूमने लायक जगह है। 


छोटी लाइन रेल संग्रहालय नागपुर - Narrow Gauge Rail Museum

छोटी लाइन रेल संग्रहालय नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। इसे नैरोगेज रेल संग्रहालय के नाम से भी जाना जाता है। इस संग्रहालय में विभिन्न तरह की ट्रेनों के बारे में जानकारी मिलती है। इस संग्रहालय में विभिन्न तरह के लोकोमोटिव इंजन, ट्रेन, स्टीम इंजन के मॉडल्स देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर ट्रेनों की हिस्ट्री के बारे में भी पता चलता है। यहां पर बच्चों के खेलने के लिए पार्क बना हुआ है। टॉय ट्रेन है, जिसमें बच्चे लोग काफी इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर बहुत सारे झूले हैं। यहां पर आकर बच्चों लोगों को बहुत मजा आएगा। 

छोटी लाइन रेल संग्रहालय में प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। वयस्क के लिए 25 रूपए लगता है और बच्चों के लिए 10 रूपए लगता है। यह संग्रहालय 10:00 बजे से 8:00 बजे तक खुला रहता है। यह संग्रहालय सोमवार को बंद रहता है और नेशनल हॉलिडे के दिन बंद रहता है। यह संग्रहालय नागपुर में कामठी रोड पर स्थित है। 


गुरुद्वारा सिंह सभा नागपुर - Gurdwara Singh Sabha Nagpur

गुरुद्वारा सिंह सभा नागपुर शहर का एक धार्मिक स्थल है। यह सिख धार्मिक स्थल है। यहां पर बड़ा सा हॉल है, जहां पर लोग बैठ कर प्रार्थना कर सकते हैं। यहां पर लंगर मिलता है, जो बहुत ज्यादा स्वादिष्ट होता है। यहां पर म्यूजियम भी है, जहां पर आपको बहुत सारी जानकारी हासिल हो जाती है। यह गुरुद्वारा बहुत ही सुंदर है। 


जैपनीज गार्डन नागपुर - Japanese Garden Nagpur

जैपनीज गार्डन नागपुर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। इसे वन उद्यान के नाम से भी जाना जाता है। इस उद्यान में आपको चारों तरफ हरियाली और पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे फूलों वाले पौधे भी लगाए गए हैं। यहां पर सुबह के समय लोग आकर योगा, मेडिटेशन, रनिंग और वाकिंग कर सकते हैं। यहां पर बहुत अच्छा लगता है और शांति मिलती है। इस पार्क में बहुत सारे जानवरों के स्टैचू देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर गुलाब के फूल के बहुत सारे प्रकार देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर कसरत करने के लिए बहुत सारे यंत्र भी लगाए गए हैं। इस पार्क में आपको कब्र भी देखने के लिए मिलती हैं। आप यहां पर पूरा पार्क दो-तीन घंटे में आराम से घूम सकते हैं। 

जैपनीज गार्डन में 9:00 बजे तक आप फ्री में घूम सकते हैं। 9:00 बजे के बाद यहां पर चार्ज लगते हैं। यहां पर 10 रूपए चार्ज लगता है। यह पार्क 9:00 से 5:00 बजे तक खुला रहता है। यह पार्क नागपुर में सिविल लाइन के पास में स्थित है। 


तेलनखेड़ी गार्डन नागपुर - Telankhedi Garden Nagpur

तेलनखेड़ी गार्डन नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह गार्डन नागपुर शहर के सबसे पुराने गार्डन में से एक है। यहां पर आपको एक पुराना तालाब तलाव भी देखने के लिए मिलता है। इस गार्डन का निर्माण भोसले राजाओं के द्वारा किया गया था। यह गार्डन बहुत सुंदर है। इस गार्डन के पास में एक शिव मंदिर भी है, जिसे कल्याणेश्वर शिव मंदिर के नाम से जाना जाता है। इस शिव मंदिर में भगवान शिव का बहुत सुंदर शिवलिंग विराजमान है। आप इस गार्डन में घूमने के लिए आ सकते हैं। इस गार्डन में फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर लगता है। 


गोरेवाडा वन्यजीव बचाव केंद्र और चिड़ियाघर नागपुर - Gorewada Wildlife Rescue Center and Zoo Nagpur

गोरेवाडा वन्यजीव बचाव केंद्र नागपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह भारत के सबसे बड़े चिड़ियाघरों में से एक है। यहां पर आप सफारी का मजा ले सकते हैं। यहां पर सफारी के लिए बसें उपलब्ध होती हैं। यहां पर एयर कंडीशनर और नॉन एयर कंडीशनर बसें उपलब्ध होती है। यहां पर आपको तेंदुआ, भालू, टाइगर, हिरण बहुत सारे जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर कैंटीन भी उपलब्ध है, जहां से आप विभिन्न तरह का खाने का मजा ले सकते हैं। यहां पर आपको प्राकृतिक परिवेश भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ज्यादा सुंदर लगता है। 

गोरेवाडा वन्यजीव बचाव केंद्र में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर एसी बस का गुरुवार और शुक्रवार का 240 रूपए लगता है और शनिवार और रविवार का 320 रूपए लगता है। नॉन एसी बस का गुरुवार और शुक्रवार का 160 रूपए लगता है और शनिवार और रविवार का 200 रूपए लगता है। यहां पर सफारी के लिए अलग-अलग टाइमिंग है। गोरेवाडा वन्य जीव बचाव केंद्र सोमवार के दिन बंद रहता है। 


गोरेवाडा झील नागपुर - Gorewada Lake Nagpur

गोरेवाडा झील नागपुर शहर का एक मुख्य स्थल है। यह एक प्राकृतिक स्थल है। यहां पर एक सुंदर जलाशय देखने के लिए मिलता है, जिसे गोरेवाडा झील के नाम से जाना जाता है। यह जलाशय चारों तरफ से प्राकृतिक परिवेश से घिरा हुआ है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर अगर आप बरसात के समय आएंगे, तो आपको बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलेगा। इस डैम के पानी का उपयोग नागपुर शहर में पीने के लिए किया जाता है। यह नागपुर में घूमने लायक जगह है। 


दीक्षाभूमि नागपुर - Deekshabhoomi Nagpur

दीक्षाभूमि नागपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक ऐतिहासिक और धार्मिक स्थल है। यहां पर एक स्मारक देखने के लिए मिलता है। इस स्मारक का आकार स्तूप के समान है। यह स्मारक बहुत सुंदर लगता है। शाम के समय इस स्मारक में लाइट जलती है, जिससे स्मारक बहुत ही आकर्षक दिखता है। यहां पर आपको बुद्ध भगवान जी की बहुत सारी प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। यहां पर महाबोधि वृक्ष भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर एक लाइब्रेरी है, जहां से आप बुक ले सकते हैं।  

दीक्षाभूमि बौद्ध धर्म के लोगों के लिए एक धार्मिक स्थल है। दीक्षाभूमि में संविधान निर्माता डॉक्टर अंबेडकर साहेब ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया था। यहां पर एक साथ 600000 लोगों ने बौद्ध धर्म को अपनाया था। इसलिए यह जगह प्रसिद्ध है। यहां पर आपको डॉक्टर अंबेडकर साहब जी की प्रतिमा भी देखने के लिए मिलती है। यहां पर सुंदर गार्डन भी बना हुआ है। आप नागपुर घूमने के लिए आते हैं, तो आपको दीक्षाभूमि जरूर घूमने के लिए आना चाहिए। 


श्री गणेश मंदिर टेकड़ी नागपुर - Shri Ganesh Mandir Tekdi Nagpur

श्री गणेश मंदिर टेकड़ी नागपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। मंदिर में गणेश जी की आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा एक पेड़ के नीचे विराजमान है। इस प्रतिमा के बारे में लोगों का मानना है, कि गणेश जी की प्रतिमा स्वयंभू है, अर्थात यह जमीन स्वत उत्पन्न हुई है। इसे किसी के द्वारा स्थापित नहीं किया गया है। 

यह गणेश मंदिर नागपुर में रेलवे स्टेशन के बहुत करीब है। आप जब भी नागपुर घूमने के लिए आते हैं, तो इस मंदिर में पैदल भी घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर और भी देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री राधे कृष्णा, महालक्ष्मी जी, शंकर जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर शांति मिलती है। शाम को गणेश जी की आरती होती है, जिसमें मोदक का प्रसाद मिलता है, जो बहुत ही टेस्टी होता है। यहां पर गणेश चतुर्थी के समय बहुत सारे लोग गणेश जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


फुटाला झील नागपुर - Futala Lake Nagpur

फुटाला झील नागपुर शहर का एक मुख्य दर्शनीय स्थल है। इस झील का निर्माण भोंसले राजाओं के द्वारा किया गया था। यहां पर आपको एक सुंदर झील देखने के लिए मिलती है। झील के पास बैठने के लिए अच्छी जगह है। आप यहां पर बैठ कर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर बहुत सारे लोकल वेंडर घूमते रहते हैं, जिससे आप खाने के लिए बहुत सारे सामान ले सकते हैं। यहां पर आप चाट,  मोमोज, फुलकी, मक्का, आइसक्रीम यह सभी चीजें खा सकते हैं। झील में शाम के समय वक्त बिताना बहुत अच्छा लगता है। यहां पर शाम के समय सूर्यास्त का दृश्य बहुत अच्छा लगता है।  

अंबाझरी उद्यान एवं अंबाझरी झील नागपुर - Ambazari Park and Ambazari Lake Nagpur

अंबाझरी उद्यान एवं अंबाझरी झील नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। अंबाझरी गार्डन बहुत सुंदर है। इस गार्डन में विभिन्न प्रकार के पेड़ पौधे लगे हुए हैं। यहां पर फूलों के भी बहुत सारे पौधे लगे हुए हैं। यहां पर कसरत करने के लिए बहुत सारे यंत्र लगे हुए हैं, जिसमें आप आसानी से कसरत कर सकते हैं। यहां पर आपको जिराफ का स्टेचू भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर बच्चों के लिए प्ले एरिया बनाया गया है। प्ले एरिया में बहुत सारे झूले हैं। यहां पर रफेल का एक मॉडल देखने के लिए मिलता है। यहां पर आकर बहुत इंजॉय कर सकते हैं। पार्क में एंट्री के लिए प्रवेश शुल्क लिया जाता है। यहां पर 5 रूपए का प्रवेश शुल्क लगता है। 

अंबाझरी झील नागपुर शहर की सबसे बड़ी झीलों में से एक है। इस झील से ही नाग नदी का उद्गम हुआ है। यहां पर आप नाग नदी का उद्गम स्थल देख सकते हैं। अंबाजारी झील के किनारे घूमने के लिए एक रास्ता बना हुआ है। आप यहां पर पैदल घूम कर इस जगह के दृश्य को इंजॉय कर सकते हैं। अंबाझरी झील के पास ही में स्वामी विवेकानंद स्मारक बना हुआ है। यहां पर स्वामी विवेकानंद की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। 

अंबाझरी झील बहुत सुंदर है। शाम के समय इस झील का नजारा बहुत ही आकर्षक रहता है। यहां पर नागपुर सेल्फी प्वाइंट भी देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आप बोटिंग का भी मजा ले सकते हैं। बरसात के समय अंबाझरी झील से पानी का ओवरफ्लो होता है, जो देखने में बहुत ही सुंदर लगता है। आप जब भी नागपुर घूमने के लिए आते हैं, तो आप अंबाझरी झील और गार्डन घूमने के लिए आ सकते हैं। 


ड्रैगन पैलेस नागपुर - Dragon Palace Nagpur

ड्रैगन पैलेस नागपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक धार्मिक स्थल है। ड्रैगन पैलेस एक तरह से बौद्ध भगवान जी का मंदिर है। यहां पर बौद्ध भगवान जी की मूर्ति देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर सफेद मार्बल से बना हुआ है। इस मंदिर का निर्माण 1999 में उगावा सोसाइटी के द्वारा किया गया था। इस मंदिर में मुख्य रूप से बौद्ध शिक्षा एवं मेडिटेशन करवाया जाता है। ड्रैगन पैलेस को लोटस मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में भगवान बुद्ध की चंदन से बनी हुई मूर्ति देखने के लिए मिलती है, जो बहुत सुंदर लगती है। 

यह मंदिर इंडो जपनेस फ्रेंडशिप का भी प्रतीक है। यहां पर आप आकर मेडिटेशन कर सकते हैं। यहां पर शांत माहौल रहता है।  ड्रैगन पैलेस के चारों तरफ सुंदर गार्डन बना हुआ है, जिसमें हरियाली रहती है। यहां पर आपको फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर लगता है। मंदिर में पार्किंग स्पेस भी है। यह मंदिर नागपुर में कामठी में स्थित है। इस मंदिर में आप सुबह 10:00 बजे से शाम के 7:00 बजे तक घूमने के लिए आ सकते हैं। आप यहां पर आकर बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यह नागपुर में घूमने लायक है। 


श्री महालक्ष्मी जगदंबा मंदिर नागपुर - Shree Mahalaxmi Jagdamba Mandir Nagpur

श्री महालक्ष्मी जगदंबा मंदिर नागपुर शहर का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर नागपुर शहर में कोराड़ी में स्थित है। यह मंदिर बहुत बड़ा और सुंदर है। मंदिर की दीवारों और छतों में सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर के खंभों में भी नक्काशी की गई है। मंदिर के गर्भ में महालक्ष्मी माता की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। मंदिर के बाहर बहुत सारी दुकानें हैं, जहां से आप प्रसाद वगैरा ले सकते हैं। इस मंदिर के पास एक झील भी है, जो बहुत सुंदर है। आप यहां से झील का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। 


रामटेक का किला और मंदिर - Ramtek Fort and Temple

रामटेक का किला और मंदिर नागपुर शहर के पास में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। रामटेक एक सुंदर सा शहर है। यहां पर एक पहाड़ी पर रामटेक मंदिर और किला देखने के लिए मिलता है। रामटेक मंदिर बहुत प्राचीन है। कहा जाता है कि प्राचीन काल में यहां पर श्री राम जी अपने वनवास काल के दौरान ठहरे थे। रामटेक में श्री राम जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। गर्भ गृह में श्री राम जी की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर श्री लक्ष्मण जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है और मंदिर के गर्भ गृह में लक्ष्मण जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। 

रामटेक में विष्णु भगवान जी के वराह अवतार का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर वराह प्रतिमा एक चबूतरे पर विराजमान है। रामटेक मंदिर प्राचीन है और मंदिर पर आपको सुंदर शिल्पकला देखने के लिए मिलती है। इस जगह के बारे में कहा जाता है, कि महान कवि कालिदास ने यहीं पर अपना मेघदूत नामक ग्रंथ लिखा था । यहां पर ऋषि अगस्त्य का आश्रम हुआ करता था। यहां पर आपको ढेर सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर नरसिंह मंदिर, हनुमान मंदिर, शिव मंदिर बने हुए हैं। यह मंदिर बहुत सुंदर लगते हैं। आप नागपुर घूमने के लिए आते हैं, तो आप यहां पर भी आ सकते हैं। 

रामटेक पहाड़ी से चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां बरसात के समय आएंगे, तो आपको बहुत अच्छा लगेगा। इस मंदिर और किले का निर्माण रघु जी भोसले ने करवाया था। यहां पर आपको कवि कालिदास स्मारक देखने के लिए मिलता है। यह भी बहुत सुंदर है। 


कर्पूर बावड़ी नागपुर - Karpoor Bawdi Nagpur

कर्पूर बावड़ी नागपुर के पास में स्थित एक प्रमुख ऐतिहासिक पर्यटन स्थल है। आपको यहां पर एक सुंदर बावड़ी देखने के लिए मिलती है। इस बावड़ी का अधिकतर भाग नष्ट हो गया है। यह बावड़ी नागपुर में रामटेक वन क्षेत्र में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एंट्री के लिए प्रवेश शुल्क लिया जाता है। प्रवेश शुल्क 10 रुपए का रहता है।  बावड़ी में शंकर जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। इस बावड़ी में तीन तरफ प्राचीन स्मारक बने हुए हैं, जो धीरे-धीरे नष्ट होते जा रहे हैं। एक तरफ खुला भाग है। आप यहां पर बरसात के समय आएंगे, तो आपको बहुत अच्छा लगेगा, क्योंकि यहां पर चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलेगी। यह नागपुर में सबसे अच्छे जगह में से एक है। 


श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर नागपुर - Shri Shantinath Digambar Jain Temple Nagpur

श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर नागपुर का एक धार्मिक स्थल है। यह जैन धार्मिक स्थल है। यह मंदिर नागपुर में रामटेक में स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर की दीवारों में सुंदर शिल्पकला देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही आकर्षक लगती है। यहां पर ठहरने के लिए धर्मशाला और भोजशाला उपलब्ध है। यहां पर भगवान शांतिनाथ की धातु की प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है, जो बहुत सुंदर लगती है। आप जब भी नागपुर में रामटेक घूमने के लिए आते हैं, तो आप यहां पर भी आ सकते हैं। 


खिंडसी झील नागपुर - Khindsi Lake Nagpur

खिंडसी झील नागपुर के प्रमुख पर्यटन आकर्षण स्थलों में से एक है। यह एक सुंदर जलाशय है। यह झील नागपुर में रामटेक में स्थित है। यह झील चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरी हुई है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है। इस झील में आप बहुत सारे वाटर स्पोर्ट्स का मजा ले सकते हैं। यहां पर आप वोटिंग का भी मजा ले सकते हैं। यहां पर आप बरसात के समय घूमने के लिए आएंगे, तो आपको बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह जगह बहुत सुंदर है। झील के पास में एक रिसोर्ट है, जहां पर आपको रहने की सुविधा मिल जाती है। आप यहां पर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह नागपुर के घूमने लायक जगह है। 


सेमिनरी हिल्स नागपुर - Seminary Hills Nagpur

सेमिनरी हिल्स नागपुर शहर का एक सुंदर स्थल है। सेमिनरी हिल्स पर आपको चारों तरफ प्राकृतिक नजारा देखने के लिए मिलता है। यह एक सुंदर पहाड़ी एरिया है। इस पहाड़ी में आप ट्रैकिंग कर सकते हैं। यहां पर चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको बॉटनिकल गार्डन और जैपनीज गार्डन देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर है और यहां पर विभिन्न तरह के पेड़ पौधे भी लगे हुए हैं। इस जगह से आप नागपुर शहर की सुंदर नजारे को देख सकते हैं। यहां पर आपको चर्च देखने के लिए मिलता है। यहां पर मदर मैरी की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह जगह बहुत सुंदर है। यहां पर चारों तरफ हरियाली है और बगीचा है। 


रामधाम नागपुर - Ramdham Nagpur

रामधाम नागपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह एक सांस्कृतिक थीम पार्क है। यह थीम पार्क जबलपुर नागपुर रोड में बना हुआ है। इस पार्क में विश्व का सबसे बड़ा ओम देखने के लिए मिलता है। इसको लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी लिखा गया है। इस पार्क में राम जी और श्री कृष्ण जी की बहुत सारी प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। इस पार्क में रामायण और महाभारत के बहुत सारे दृश्यों को भी दिखाया गया है। यहां पर श्री कृष्ण जी के द्वारा गोवर्धन पर्वत को उठाए हुए दिखाया गया है। श्री कृष्ण जी और राधा जी को दिखाया गया है। श्री कृष्ण जी को गोपियों के कपड़े चुराते हुए दिखाया गया है। ऐसे ही अनेक तरह के दृश्य यहां पर मूर्तियों के माध्यम से लोगों के सामने प्रस्तुत करने की कोशिश की गई है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां का माहौल बहुत शांतिनुमा है। 

रामधाम पर वैष्णो माता की गुफा देखने के लिए मिलती है। अष्टविनायक गणेश जी की मूर्ति देखने के लिए मिलती है। ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर 100 रुपए का शुल्क लिया जाता है। 


गरीब नवाज मस्जिद नागपुर - Garib Nawaz Masjid Nagpur

गरीब नवाज मस्जिद नागपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मुस्लिम धर्म का धार्मिक स्थल है। यह नागपुर की सबसे बड़ी मस्जिद है। यह मस्जिद बहुत ही सुंदर तरीके से बनी हुई है। मस्जिद की दीवारों पर सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मस्जिद के दीवारों में और गुंबद में सुंदर कारीगरी की गई है। मंदिर का प्रवेश द्वार भी बहुत भव्य है। मस्जिद की अंदरूनी दीवारें नक्काशी की गई है। इनमें कुरान की आयत कैलीग्राफी में लिखी गई है, जो बहुत ही सुंदर लगती है और मस्जिद की शोभा बढ़ाती हैं। यह मस्जिद रात को लाइट से जगमगा जाता है। इस मस्जिद में आप आकर शांति से अपना समय बिता सकते हैं। 


नागझिरा वन्यजीव अभयारण्य नागपुर - Nagzira wildlife sanctuary nagpur

नागझिरा वन्यजीव अभ्यारण नागपुर के पास स्थित एक मुख्य अभ्यारण है। यह एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह अभ्यारण महाराष्ट्र के बांद्रा और गोंदिया जिले में स्थित है। इस अभ्यारण में आपको सुंदर पहाड़ियां, जंगल, झरने, जलस्त्रोत, जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको विभिन्न प्रकार के पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे देसी विदेशी पक्षियों की प्रजातियां भी देखने के लिए मिलती है। यहां पर आप बाघ, तेंदुआ, गौर, सांभर, नीलगाय, चीतल, जंगली भालू, हिरण और जंगली कुत्ते देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप सफारी का मजा ले सकते हैं। सफारी के टाइमिंग अलग-अलग रहते हैं। यहां पर आप प्राकृतिक परिदृश्य को देख सकते हैं, जो बहुत ही सुंदर रहता है। यह नागपुर के पास घूमने की एक मुख्य जगह है। 

नागझिरा वन्यजीव अभ्यारण में आपके ठहरने के लिए भी रिसॉर्ट और होटल है, जहां पर आपको अच्छे रूम मिल जाते हैं। आप यहां पर एक या 2 दिन का ट्रिप करने के लिए आ सकते हैं। 


स्वामीनारायण मंदिर नागपुर - Swaminarayan Mandir Nagpur

स्वामीनारायण मंदिर नागपुर शहर का प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर नागपुर शहर का सबसे सुंदर मंदिर है। इस मंदिर की दीवारों में सुंदर नक्काशी की गई है। यह मंदिर विष्णु भगवान जी को समर्पित है। मंदिर की दीवारों एवं खंभों में मूर्तियों और फूलों की नक्काशी देखने के लिए मिलती है। मंदिर के बाहर सुंदर गार्डन बना हुआ है, जिसमें आप बैठ सकते हैं। यहां पर शाम के समय मंदिर लाइट से जगमगा जाता है। मंदिर की खूबसूरती शाम के समय में अलग ही झलकती है। यहां पर बच्चों के खेलने के लिए चिल्ड्रन प्ले एरिया है, जहां पर बच्चे बहुत एंजॉय कर सकते हैं। यहां पर फूड जोन भी है, जहां पर आप को अलग अलग तरह का खाना मिल जाता है। आप स्वामीनारायण मंदिर में आकर बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आकर पॉजिटिव एनर्जी महसूस होती है। 


अड़ासा गणपति मंदिर नागपुर - Adasa Ganpati Temple Nagpur

अड़ासा गणपति मंदिर नागपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर गणेश भगवान को समर्पित है। मंदिर में गणेश भगवान जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। अड़ासा गणपति मंदिर एक छोटी सी पहाड़ी पर बना हुआ है। इस मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां हैं। आप सीढ़ियों से इस मंदिर में पहुंच सकते हैं। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है और बहुत ही अच्छा लगता है। अड़ासा गणपति मंदिर के पास में और भी बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको त्रयंबकेश्वर मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर भी बहुत सुंदर लगता है। यहां पर हनुमान जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर भी बहुत सुंदर है और आप यहां पर भी घूम सकते हैं। 

अड़ासा गणपति मंदिर नागपुर से 45 किलोमीटर दूर है। मंदिर के बाहर आपको बहुत सारे खाने पीने की दुकान मिल जाती हैं। आप यहां से खाना खा सकते हैं। मंदिर में आपको हाथी की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको गणेश जी के वाहन चूहे की भी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर गणेश चतुर्थी के समय बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। अड़ासा गणपति मंदिर नागपुर के पास घूमने के लिए एक अच्छी जगह है। 


खेकरानाला बांध नागपुर - Khekranala Dam Nagpur

खेकरानाला बांध नागपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक सुंदर जलाशय है। यह जलाशय बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह जलाशय पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। बरसात के समय यहां पर आना बहुत ही आनंदमय होता है, क्योंकि बरसात के समय चारों तरफ हरियाली रहती है और बांध का पानी ओवरफ्लो होकर बहता है, जो देखने में बहुत ही मजेदार रहता है। यह नागपुर शहर में घूमने वाली जगह है। 


नगरधन किला नागपुर - Nagardhan Fort Nagpur

नगरधन किला नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक प्राचीन किला है। यह किला करीब 2000 साल पुराना है। यह किला बहुत ही सुंदर है। इस किले की दीवारें लाल कलर है, जो बहुत ही आकर्षक लगती है। इस किले के अंदर मां दुर्गा का मंदिर देखने के लिए मिलता है। यहां पर एक बावली भी है, जो बहुत सुंदर लगती है। इसी बावली में मां दुर्गा का मंदिर बना हुआ है। यह किला नागपुर के रामटेक में स्थित है। आप इसके किले मे घूमने के लिए जा सकते हैं। 


ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान नागपुर - Tadoba National Park Nagpur

ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान नागपुर शहर के पास में स्थित एक एक पर्यटन स्थल है। ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना 9 अप्रैल 1955 में हुई थी। ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान 116.55 स्क्वायर किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। इस राष्ट्रीय उद्यान में आपको बाघ देखने के लिए मिलता है।  

ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान एक टाइगर रिजर्व है। यह राष्ट्रीय उद्यान महाराष्ट्र राज्य के चंद्रपुर जिले में स्थित है। यह नागपुर जिले से करीब 150 किलोमीटर दूर है। यहां पर आपको बहुत सारे जंगली जानवर और पेड़ पौधों की विभिन्न प्रजातियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर आप रुकना चाहते हैं, तो आपको बहुत सारे रिसॉर्ट मिल जाते हैं, जहां पर आप ठहर सकते हैं। 

ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान बहुत सुंदर है। यहां पर प्राकृतिक परिदृश्य देखने के लिए मिलता है, जो एक अनोखा अनुभव होता है। यहां पर देशी एवं विदेशी पक्षियों की भी बहुत सारी प्रजातियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर अगर आप हाथी पर सफारी का मजा लेना चाहते हैं, तो वह भी ले सकते हैं। 


पेंच बांध नागपुर - Pench Dam Nagpur

पेंच बांध नागपुर शहर के पास स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। पेंच बांध एक बहुत बड़ा जलाशय है। यह चारों तरफ से घने जंगलों से घिरा हुआ है। यह जलाशय बहुत सुंदर लगता है। यहां पर बोटिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। यह बांध पेंच नदी पर बना हुआ है। यह बांध पेंच नेशनल पार्क के अंदर स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए जा सकते हैं। 


कुंवारा भीमसेन नागपुर - Kunwara Bhimsen Nagpur

कुंवारा भीमसेन नागपुर शहर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यहां पर आपको एक प्राचीन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर गॉड आदिवासी के देव को समर्पित है। यह मंदिर पेंच बांध के किनारे बना हुआ है। यहां पर ऊंची पहाड़ी पर भी आपको मंदिर देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर ट्रेकिंग के द्वारा मंदिर तक पहुंच सकते हैं। यहां से आपको सुंदर पेंच बांध का दृश्य देखने के लिए मिलता है। आपको यहां पर चारों तरफ हरी-भरी वादियां और जंगल देखने के लिए मिलता है। बरसात के समय यह जगह बहुत सुंदर रहती है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


पेंच टाइगर रिजर्व नागपुर - Pench Tiger Reserve Nagpur

पेंच टाइगर रिजर्व नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। पेंच टाइगर रिजर्व मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र राज्य में फैला हुआ है। पेंच टाइगर रिजर्व में आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको पेड़ पौधों की बहुत सारी प्रजातियां देखने के लिए मिलती है। आप इस टाइगर रिजर्व में सफारी का मजा ले सकते हैं। अगर आप पेंच टाइगर रिजर्व नागपुर से घूमने आ रहे हैं, तो आप सिल्लरी गेट से प्रवेश कर सकते हैं। पेंच टाइगर रिजर्व में आपको आकर पहाड़ियां, जंगल, जलस्त्रोत देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको एक बांध भी देखने के लिए मिलता है, जो पेंच नदी पर बना हुआ है। अगर आप यहां पर ठहरना चाहते हैं, तो यहां पर बहुत सारे रिसॉर्ट हैं, जहां पर आप रुक सकते हैं। 


तोतलादोह बांध नागपुर - Totladoh Dam Nagpur

तोतलादोह बांध नागपुर शहर के पास स्थित एक सुंदर जलाशय है। यह बांध पेंच टाइगर रिजर्व के अंदर स्थित है। यह बांध बहुत सुंदर है और चारों तरफ से जंगलों से घिरा हुआ है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह बांध पेंच नदी पर बना हुआ है। 


रामा बांध नागपुर - Rama Dam Nagpur

रामा बांध नागपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। रामा बांध को वड़गांव बांध के नाम से भी जाना जाता है। यह बांध बहुत सुंदर है। यह बांध बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। इस बांध में 21 गेट है। बरसात के समय जब बांध ओवरफ्लो होता है, तो इसके गेट खोले जाते हैं, जिसका दृश्य बहुत ही आकर्षक होता है। रामा बांध नागपुर के वड़गांव में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


चिल्फी जलप्रपात एवं चिल्फी झील नागपुर - Chilfi Falls and Chilfi Lake Nagpur

चिल्फी जलप्रपात एवं चिल्फी झील नागपुर शहर का एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको एक सुंदर झील देखने के लिए मिलती है, जो चारों तरफ पहाड़ियों से घिरी हुई है और बरसात के समय आपको यहां पर एक जलप्रपात देखने के लिए मिलता है। इस जलप्रपात को चिल्फी जलप्रपात के नाम से जाना जाता है। यह जलप्रपात नागपुर में चिल्फी नाम की जगह पर स्थित है। यह जलप्रपात घने जंगलों के अंदर स्थित है। यह जलप्रपात बहुत सुंदर है और चट्टानों से बहता हुआ पानी बहुत ही मनोरम लगता है। यहां पर आप नहाने का मजा ले सकते हैं। 

चिल्फी झील के पास मे हीं आपको भीम कुंड बांध भी देखने के लिए मिलता है। यह भी बहुत सुंदर बांध है। यह बांध भी चारों तरफ पहाड़ियों से घिरा हुआ है। आप यहां पर अगर घूमने के लिए आते हैं, तो आप चिल्फी बांध और भीमकुंड बांध दोनों घूम सकते हैं और बरसात में आते हैं, तो चिल्फी जलप्रपात घूम सकते हैं। 


नागपुर जिले के प्रसिद्ध स्थल, आकर्षण स्थल एवं पिकनिक स्थल की लिस्ट - Nagpur tourist places list / List of famous places, attractions and picnic places of Nagpur district

अय्यप्पा मंदिर नागपुर
सुराबर्डी झील नागपुर
बिना संगम कामठी नागपुर
उमरेड करहंडला वन्यजीव अभयारण्य
ट्रैफिक पार्क नागपुर
सोनेगांव झील नागपुर
एटर्निटी मॉल नागपुर
श्री स्कन्दा समाज मंदिर नागपुर
ज़िल्पी झील नागपुर
वाकी वुड नागपुर
वेणा डैम नागपुर
प्राचीन उत्खनन स्थल मानसर रामटेक नागपुर
अंबाला झील रामटेक नागपुर 
नारायण टेकरी रामटेक नागपुर 
बोधिसत्व नागार्जुन महाविहार रामटेक नागपुर 
नागार्जुन मंदिर रामटेक नागपुर
महादेव घाट कामठी  नागपुर
अंबाझरी जैव विविधता उद्यान नागपुर
बृहस्पति मंदिर नागपुर


उदयपुर पर्यटन स्थल

दिल्ली के दर्शनीय स्थल

जयपुर पर्यटन स्थल

धार जिले के पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।

बैतूल पर्यटन स्थल - Betul tourist place | Betul famous places

बैतूल दर्शनीय स्थल - Places to visit near Betul | Betul tourist spot | Betul city बैतूल जिले की जानकारी - Betul district information बैतूल मध्यप्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है। बैतूल जिला सतपुडा की पहाडियों से घिरा हुआ है। बैतूल जिला के मुलताई में ताप्ती नदी का उदगम हुआ है। ताप्ती मध्यप्रदेश की मुख्य नदी है। बैतूल जिले की सीमा छिंदवाड़ा, नागपुर, अमरावती, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, और होशंगाबाद की सीमाओं को छूती है। बैतूल जिला 10 विकास खंडों में बटा हुआ है। यह विकासखंड है - बैतूल, मुलताई, भैंसदेही, शाहपुर, अमला, प्रभातपट्टन, घोड़ाडोंगरी, चिचोली, भीमपुर, आठनेर, । बैतूल नर्मदापुरम संभाग के अंर्तगत आता है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से बैतूल की दूरी करीब 178 किलोमीटर है। बैतूल जिलें में घूमने के लिए बहुत सारी दर्शनीय जगह मौजूद है, जहां पर जाकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते है।  बैतूल में घूमने की जगहें Places to visit in Betul बालाजीपुरम - Balajipuram betul | Betul ka Balajipuram | Balajipuram temple betul बालाजीपुरम बैतूल जिले में स्थित दर्शनीय स्थल है।