सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

जांजगीर-चांपा जिले के पर्यटन स्थल - Janjgir-Champa Tourist Place

जांजगीर-चांपा जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Janjgir-Champa / जांजगीर-चांपा के आसपास घूमने वाली जगह / जांजगीर-चांपा में घूमने लायक जगह


जांजगीर चांपा छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। यह  छत्तीसगढ़ के मध्य में स्थित है। जांजगीर-चांपा में हसदेव नदी बहती है। हसदेव नदी परियोजना से इसकी बहुत सारी भूमि संचित होती है। जांजगीर-चांपा में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। जांजगीर-चांपा के आसपास प्राकृतिक और प्राचीन जगह देखने के लिए मिल जाती है। आप जांजगीर-चांपा में आकर घूम सकते हैं और आपको बहुत अच्छा लगेगा। जांजगीर चांपा छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से 175 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर ट्रेन माध्यम से और सड़क माध्यम से पहुंच सकते हैं। 


जांजगीर-चांपा में घूमने की जगह
Janjgir-champa me ghumne ki jagah


मां चंद्रहासिनी देवी मंदिर जांजगीर चांपा - Maa Chandrahasini Devi Temple Janjgir Champa

मां चंद्रहासिनी देवी मंदिर जांजगीर चांपा का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर चंद्रहासिनी माता को समर्पित है। यह मंदिर जांजगीर चांपा में चंद्रपुर में स्थित है। यहां पर मां का मंदिर महा नदी के किनारे पर बना हुआ है। यह मंदिर बहुत प्रसिद्ध है। यहां पर साल में एक बार मेला भी लगता है। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ होती है। 

मां चंद्रहासिनी को शक्ति का स्वरूप माना जाता है। यहां पर जो भी आता है, उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है और यहां पर बहुत सारी देवी देवताओं की मूर्तियां देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही आकर्षक रहती है। यहां पर शिव भगवान जी की अर्धनारीश्वर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत बड़ी है और आकर्षक है। इसके अलावा यहां पर समुद्र मंथन के दृश्य को भी मूर्तियों के द्वारा दिखाया गया है। 

मंदिर में बहुत सुंदर गार्डन बना हुआ है और गार्डन में बहुत सारे देवी देवताओं के मूर्तियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर रामायण और महाभारत के बहुत सारे दृश्यों को मूर्तियों के माध्यम से दिखाया गया है। यहां पर आकर बहुत शांति मिलती है। यहां पर प्रसाद की बहुत सारी दुकानें हैं, जहां से आप प्रसाद लेकर माता को अर्पित कर सकते हैं और यहां पर लोग मन्नत मांगने आते हैं। यहां पर आपको महानदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप जांजगीर-चांपा आते हैं, तो आपको चंद्रहासिनी मंदिर भी घूमने के लिए जरूर आना चाहिए। जो बहुत ही सुंदर है। यह चंद्रपुर नगर में स्थित है और आप यहां पर बस या गाड़ी से पहुंच सकते हैं। 


श्री गोपाल महाप्रभु मंदिर जांजगीर-चांपा - Shri Gopal Mahaprabhu Temple Janjgir-Champa

श्री गोपाल महाप्रभु मंदिर जांजगीर-चांपा का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी और राधा जी को समर्पित है। यहां पर श्री कृष्ण और राधा जी की बहुत सारी प्रतिमाओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर पूरा पत्थर से बना हुआ है और मंदिर में बहुत सुंदर कारीगरी की गई है। यह मंदिर जांजगीर चांपा में चंद्रपुर में चंद्रहासिनी मंदिर के पास ही में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


माँ नाथल दाई देवी मंदिर - Maa Nathal Dai Devi Temple

माँ नाथल दाई देवी मंदिर चंद्रपुर में स्थित एक सुंदर मंदिर है। नाथल दाई को चंद्रहासिनी माता की बहन माना जाता है और आप इस मंदिर भी घूम सकते हैं। यहां पर नवरात्रि के समय मेला लगता है। यहां पर बहुत विशाल मेला लगता है, जिसमें बहुत दूर-दूर से लोग घूमने के लिए आते हैं। नाथल दाई मंदिर बहुत सुंदर है और यहां पर आपको बहुत सारी देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। 


विश्राम वट जांजगीर चांपा - Vishram Vat Janjgir Champa

विश्राम वट जांजगीर-चांपा का एक प्राचीन एवं धार्मिक स्थल है। प्राचीन ग्रंथों के अनुसार यहां पर श्री राम जी, माता सीता जी और लक्ष्मण जी ने अपने वनवास काल के दौरान वन में गमन करते हुए, यहां पर आराम किया था। यहां पर आपको प्राचीन वटवृक्ष देखने के लिए मिलता है, जिसके नीचे श्री राम जी ने आराम किया था। यहां पर हनुमान जी का मंदिर भी बना हुआ है। यह मंदिर महानदी के किनारे बना हुआ है और यहां पर आपको अच्छा लगेगा, शांति मिलती है। विश्राम वट जांजगीर चांपा में गिधौरी में स्थित है और आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


श्री शिवरीनारायण धाम जांजगीर चांपा - Shri Shivrinarayan Dham Janjgir Champa

श्री शिवरीनारायण धाम जांजगीर-चांपा का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिवरीनारायण नाम की जगह में महानदी के किनारे बना हुआ है। यह मंदिर बहुत ही प्राचीन है और इस मंदिर में मुख्य रूप से विष्णु भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर विष्णु भगवान जी की बहुत सारी प्रतिमाओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर का डिजाइन भी बहुत सुंदर है। आप यहां पर आ कर अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर बहुत शांति मिलती है। 


भगवान विष्णु मंदिर जांजगीर चांपा - Lord Vishnu Temple Janjgir Champa

भगवान विष्णु मंदिर जांजगीर चांपा जिले में स्थित एक प्राचीन मंदिर है।  यह मंदिर जांजगीर नैला में स्थित है। यह मंदिर भीमतालाब के पास में बना हुआ है। यह पूरा मंदिर पत्थरों से बना हुआ है और बहुत ही सुंदर लगता है। यह मंदिर जाज्वलय देव द्वारा बनाया गया था। जाज्वलय देव कलचुरी राजा थे। यह मंदिर जांजगीर नैला रेलवे स्टेशन से करीब 4 किलोमीटर दूर है। यह मंदिर 13वीं शताब्दी में बनाया गया था। यह मंदिर नागर शैली में बनाया गया है और पूरे मंदिर का निर्माण बलुआ पत्थर से किया गया है। मंदिर के प्रवेश द्वार में भी सुंदर कारीगरी की गई है। मंदिर के चारों तरफ बगीचा है। मंदिर के अंदर गर्भ गृह में किसी भी देवी देवता की प्रतिमा विराजमान नहीं है। इस मंदिर को नकटा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। आप जांजगीर-चांपा आते हैं, तो आपको इस मंदिर में जरूर घूमने के लिए आना चाहिए। 


भीम तालाब जांजगीर चांपा - Bhim Talab Janjgir Champa

भीम तालाब जांजगीर चांपा का एक प्रमुख स्थल है। यह एक सुंदर तालाब है। यह तालाब बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। तालाब के किनारे एक गार्डन देखने के लिए मिलता है। यह गार्डन हरियाली से भरा है और उसमें कसरत करने के लिए यंत्र भी लगाए गए हैं। इस तालाब के एक किनारे पर आपको विष्णु मंदिर देखने के लिए मिल जाता है। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। भीम तालाब के बारे में लोगों का मानना है, कि इस तालाब का निर्माण पांडव के द्वारा किया गया है। इस तालाब का निर्माण भीम के द्वारा किया गया है। इसलिए इस तालाब को भीम तालाब के नाम से जाना जाता है। भीम तालाब में आपको सूर्यास्त का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। यहां पर आप आपको एक और तालाब देखने के लिए मिलता है। यह तालाब रानी तालाब के नाम से जाना जाता है। इस तालाब का दृश्य भी बहुत ही आकर्षक रहता है। 


सिद्ध श्री नहरिया बाबा मंदिर जांजगीर चांपा - Siddha Shri Nahariya Baba Mandir Janjgir Champa

श्री नहरिया बाबा मंदिर जांजगीर-चांपा का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर श्री हनुमान जी को समर्पित है। यहां पर हनुमान जी की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर जांजगीर नैला रेलवे स्टेशन के पास ही में है। मंदिर परिसर में आपको श्री राम जी, लक्ष्मण जी, भगवान शिवजी, शीतला माता जी के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर के बाजू से नहर गुजरती है। इसलिए इस मंदिर को नहरिया बाबा मंदिर के नाम से जाना जाता है। यह मंदिर बहुत प्रसिद्ध है और लोगों की इस मंदिर के प्रति आस्था है। यह मंदिर नहर के पास में स्थित है। इसलिए इस मंदिर को नहरिया बाबा मंदिर के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है, कि मंदिर में लोगों की इच्छाएं पूरी होती है। इसलिए यहां पर लोग भगवान हनुमान जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। 


मनका दाई मंदिर जांजगीर चांपा - Manka Dai Temple Janjgir Champa

मनका दाई मंदिर जांजगीर चांपा का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर जांजगीर में खोखरा नाम की जगह पर स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर मनका देवी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ लगती है। बहुत सारे लोग यहां पर मनका देवी के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और शांति मिलती है। मंदिर के पास तालाब देखने के लिए मिलता है। अगर आप जांजगीर चांपा घूमने के लिए जाते हैं, तो आप यहां पर भी आकर घूम सकते हैं। यह मंदिर भी बहुत अच्छा है और यहां पर शांति मिलेगी। 


माँ मड़वारानी मंदिर - Maa Madwarani Temple

माँ मड़वारानी मंदिर एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। इस पहाड़ी तक जाने का जो रास्ता है। वह कच्चा है। इस मंदिर में जाकर आपको चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां से आपको हसदेव नदी का दृश्य भी देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बरसात के समय आप घूमने के लिए आ सकते हैं, क्योंकि यहां पर चारों तरफ हरियाली रहती है। यह मंदिर जांजगीर चांपा का एक दर्शनीय स्थल है। यह मंदिर चांपा कोरबा मार्ग पर स्थित है। आप यहां पर अपनी गाड़ी या बस से पहुंच सकते हैं। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। बहुत सारे लोग मडवा माता के दर्शन करने के लिए आते हैं।


देवधारा जलप्रपात जांजगीर चांपा - Devdhara Falls Janjgir Champa

देवधारा जलप्रपात जांजगीर-चांपा में स्थित एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यह जलप्रपात बहुत सुंदर है। यह चारों तरफ हरियाली भरा माहौल देखने के लिए मिल जाता है। यह जलप्रपात छोटा है, मगर सुंदर है। यह जलप्रपात बाहेरा के पास में स्थित है और आप यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए आ सकते हैं। 


नगारदा जलप्रपात जांजगीर चांपा - Nagarda Falls Janjgir Champa

नगारदा जलप्रपात एक सुंदर जलप्रपात है। यह जांजगीर चांपा का एक दर्शनीय स्थल है। यह जलप्रपात जांजगीर-चांपा जिले से करीब 16 किलोमीटर दूर है। यह जलप्रपात नगारदा गांव में सकती तहसील में स्थित है। यहां पर आपको एक साथ दो जलप्रपात देखने के लिए मिलते हैं। यह दोनों ही जलप्रपात ऊपर नीचे बने हुए हैं और यहां पर एक मंदिर भी बना हुआ है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यह पर पहाड़ियों का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर पिकनिक मनाने के लिए आ सकते हैं। यह जगह बहुत ही आकर्षक है। 


दमऊ धारा जलप्रपात जांजगीर चांपा - Damau Dhara Falls Janjgir Champa

दमऊ धारा जलप्रपात जांजगीर-चांपा का एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यह बहुत सुंदर है। यहां पर जलप्रपात ऊंची चट्टानों से बहता है। यहां पर प्राकृतिक दृश्य देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर रहता है। आप यहां बरसात के समय और ठंड के समय जलप्रपात में घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एक कुंड बनता है, जिसमे जलप्रपात का पानी गिरता है। यहां पर आप नहाने का मजा भी ले सकते हैं। यहां पर राम भगवान जी का मंदिर भी है, जिसके दर्शन आप कर सकते हैं। दमऊ धारा जलप्रपात जांजगीर-चांपा में सकती तहसील में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर बहुत सारे बंदर भी हैं। अगर आप यहां पर घूमने के लिए आते हैं, तो अपना सामान संभाल कर रखें। 


देवरी पाली जलाशय जांजगीर चांपा - Deori Pali Reservoir Janjgir Champa

देवरी पाली जांजगीर चांपा के पास स्थित एक सुंदर जगह है। यह एक सुंदर जलाशय है। यह जलाशय चारों तरफ से पहाड़ों से घिरा हुआ है। यहां पर बरसात के समय आना बहुत ही अच्छा लगता है, क्योंकि यहां पर हरियाली रहती है और जलाशय भी पूरी तरह पानी से भरा रहता है। आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह जलाशय देवरी नाम के गांव के पास स्थित है। 


मगरमच्छ संरक्षण केंद्र जांजगीर चांपा - Crocodile Conservation Center Janjgir Champa

मगरमच्छ संरक्षण केंद्र जांजगीर चांपा का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहां पर आपको बहुत सारे मगरमच्छ देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर मगरमच्छ का संरक्षण और उनका प्रजनन करवाया जाता है। यहां पर आपको एनर्जी पार्क देखने के लिए मिल जाता है, जहां पर अक्षय ऊर्जा से चलने वाले स्त्रोतों के बारे में जानकारी आपको मिलेगी। यहां पर साइंस पार्क भी है, जहां पर आपको साइंस प्रोजेक्ट देखने के लिए मिल जाते हैं। आप यहां पर बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। मगरमच्छ संरक्षण केंद्र जांजगीर चांपा जिले में अकलतरा तहसील में कोटमी सोनार गांव में स्थित है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। 

मगरमच्छ संरक्षण केंद्र में आप को बहुत बड़ा तालाब देखने के लिए मिलता है। इस तालाब में मगरमच्छों को रखा जाता है। इस तालाब के अंदर मगरमच्छ रहते हैं। आप मगरमच्छ को यहां पर बने वॉच टावर से देख सकते हैं। यहां पर एंट्री फीस लिया जाता है। यहां पर भारतीय व्यक्ति का 20 रुपए लिया जाता है और बच्चों का 10 रुपए लिया जाता है। यहां पर कैंटीन भी है, जहां से आप चाय, पानी या नाश्ता कर सकते हैं। यह पार्क सोमवार को बंद रहता है। 


दलहा पहाड़ जांजगीर चांपा - Dalha mountain Janjgir Champa

दलहा पहाड़ जांजगीर-चांपा में स्थित एक प्रमुख प्राकृतिक और धार्मिक स्थल है। यहां पर पहाड़ी के ऊपर शिव भगवान जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। यहां पर नागपंचमी के समय बहुत सारे लोग आते हैं और इस पहाड़ी पर चढ़ाई करते हैं। इस पहाड़ी पर चढ़ने के लिए बहुत ही मेहनत की जरूरत पड़ती है। आप यहां पर आते हैं, तो पानी और कुछ खाने के लिए जरूर लाएं। क्योंकि यहां पर व्यवस्था नहीं है। आप यहां पर आकर पहाड़ी के ऊपर चढ़कर चारों तरफ के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। आप यहां पर नाग पंचमी के समय दलहा पहाड़ घूमने के लिए आ सकते हैं। दलहा पहाड़ जांजगीर-चांपा जिले में अकलतरा तहसील में स्थित है। 


अर्धनारीश्वर धाम शिव शक्ति पीठ जांजगीर-चांपा - Ardhanarishwar Dham Shiv Shakti Peeth Janjgir-Champa

अर्धनारीश्वर धाम शिव शक्ति पीठ जांजगीर-चांपा में स्थित एक सुंदर स्थल है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर भगवान शिव जी को समर्पित है। यहां पर आपको बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको श्री गणेश की पंचमुखी प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। हनुमान जी की बहुत बड़ी प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं और शिव भगवान जी की अर्धनारीश्वर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह जगह चारों तरफ से हरियाली से घिरी हुई है। आप यहां बरसात के समय और ठंड के समय घूमने के लिए आएंगे, तो आपको बहुत अच्छा लगेगा। यह जगह जांजगीर-चांपा जिले में अकलतरा तहसील में दलहा पहाड़ के पास स्थित है। आप यहां गाड़ी से या कार से घूमने के लिए आ सकते हैं। 


बाबा कालेश्वर नाथ शिव मंदिर जांजगीर चांपा - Baba Kaleshwar Nath Shiv Mandir Janjgir Champa

कालेश्वर मंदिर जांजगीर-चांपा जिले का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। मंदिर के गर्भ गृह में शिवलिंग विराजमान है। यह शिवलिंग प्राचीन है। इस मंदिर का ऐतिहासिक महत्व है। यह मंदिर जांजगीर चांपा जिले में चांपा  से करीब 11 किलोमीटर दूर है और हसदेव नदी के किनारे बना हुआ है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर का ऐतिहासिक महत्व है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। मंदिर में आपको बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। 

कालेश्वर मंदिर में मेला लगता है, जिसमें बहुत दूर-दूर से लोग आते हैं। यहां पर नागा साधुओं के साथ शिव भगवान जी की बारात निकाली जाती है। यहां पर आप मेले के समय आएंगे, तो आपको बहुत अच्छा लगेगा। 


मां अष्टभुजी मंदिर अडभार जांजगीर चांपा - Maa Ashtabhuji Temple Adbhar Janjgir Champa

अष्टभुजी माता का मंदिर जांजगीर-चांपा का एक प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर काली माता को समर्पित है। यहां माता की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर तेरहवीं शताब्दी में बनाया गया था। मंदिर का अधिकतर भाग टूट गया है। यहां पर माता की अष्टभुजी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। माता की अष्टभुजी प्रतिमा को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। नवरात्रि के समय इस मंदिर में बहुत भीड़ रहती है। यह मंदिर जांजगीर-चांपा जिले के सकती तहसील में स्थित है। 


जांजगीर चांपा के प्रमुख आकर्षण स्थल एवं पिकनिक स्थल - List of major attractions and picnic spots of Janjgir Champa


विवेकानंद गार्डन चांपा
श्री सिद्ध मुनि आश्रम दलहागिरी अकलतरा जांजगीर चांपा
मां वनसरा देवी मंदिर जांजगीर चांपा
शिवरीनारायण बैराज जांजगीर चांपा
जगदंबा फन वर्ल्ड चंद्रपुर जांजगीर चांपा
कुदरी बैराज जांजगीर चांपा






टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।