Handi Kho Pachmarhi, Madhya Pradesh - हांडी खो, पचमढ़ी

 पचमढ़ी का खूबसूरत व्यू पांइट हांडी खो

Pachmarhi Beautiful View Point Handi Kho


हांडी खो  पचमढ़ी में प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। यहां पर एक घाटी का अद्भुत दृश्य देखने को मिलता है। हांडी खो  एक खूबसूरत घाटी जो हरे भरे पेड से भरी हुई है। हांडी खो में करीब 300 फुट गहरी खाई है। यह घाटी आगे जाकर हांडी का शेप बनाती है जो देखने में खूबसूरत लगता है। 

Handi Kho Pachmarhi, Madhya Pradesh -  हांडी खो, पचमढ़ी

Handi Kho view


हांडी खो की स्थिाति


Handi Kho Position


यह खूबसूरत घाटी पचमढ़ी में स्थित है। यहां पर आपको प्राकृतिक खूबसूरती देखने मिल जाती है। यह खूबसूरत घाटी महादेव मंदिर जाने वाली रोड में पडती है। यहां पर पहुॅचने के लिए आपको जिप्सी मिल जाती है। हांडी खो पचमढ़ी नगर से 3 से 4 किमी की दूरी पर स्थित है। यह पर आप जिप्सी के अलावा साइकिल से भी जा सकते है। पचमढ़ी में आपको रेन्ट में साइकिल मिल जाती है जिससे आप हांडी खो असानी से पहूॅच सकते है और पचमढ़ी में साइकिल का सफर बहुत ही मजेदार होता है। पचमढ़ी का मौसम बहुत ही बढिया होता है। यहां पर आप पचमढ़ी के अन्य दर्शनीय जगह पर साइकिल के माध्यम से पहॅुच सकते है। आपको यह पर एक खाई देखने मिलती है, जो 300 फीट गहरी खाई है। यह पर जो खाई है, वह आगे जाने पर हांडी का शेप ले लेती है जो बहुत अच्छा दिखता है। यह पूरी तरह प्राकृतिक है और यहां पर आसानी से आ सकते हैं। आप जिप्सी से आसानी से आ सकते हैं। 

हांडी खो जाने का रास्ता और माध्यम


Handi Kho Track 


पचमढ़ी एक खूबसूरत हिल स्टेशन है। पचमढ़ी होशंगाबाद में स्थित है।  यहां पर गर्मियों में बहुत ज्यादा भीड़ रहती है। पचमढ़ी आने के लिए आपको पहले पिपरिया आना होता है। उसके बाद आप पिपरिया से बस या जिप्सी के  द्वारा आसानी पचमढ़ी पहूॅच सकते है। पचमढ़ी आने तक का किराया 60 रू होता है। पचमढ़ी में उतर कर इस जगह पर जिप्सी के माध्यम से आसानी से जा सकते हैं। यह जाने के किराया 300 से 400 रू लगता है। आप शेयरिंग में जाते है तो 300 से 400 रू लगता है और अगर पर्सनल जिप्सी बुक करते है तो आपका ज्यादा किराया लग सकता है, ये किराया सीजन पर डिपेंड करता है, कि किस सीजन में सबसे ज्यादा भीड़ रहती है। उस सीजन में ज्यादा किराया लगता है।

हम लोगों ने भी जिप्सी बुक किया था। हम दो लोगों थे और हम लोग के साथ एक अंकल जी थे। तो हम लोग शेयरिंग में थे। हमारा 1 व्यक्ति का किराया 400 रू लगा था। 400 रू में जिप्सी वाले ने हम लोगों को पचमढ़ी के 10 से भी ज्यादा दर्शनीय स्थल घुमाया गया था। सबसे पहले हम लोग पांडव गुफा गए थे। उसके बाद हांडी खो, उसके बाद प्रियदर्शनी, उसके बाद बड़ा महादेव मंदिर और गुप्त महादेव मंदिर, उसके बाद राजेंद्र गिरी और राजेंद्र गिरी के बाद हम लोग सूर्य नमस्कार पार्क गए थे। जो मध्य प्रदेश का पहला सूर्य नमस्कार पार्क है। उसके बाद हम लोग जटाशंकर मंदिर गए थे।

Handi Kho Pachmarhi, Madhya Pradesh -  हांडी खो, पचमढ़ी

Handi Kho View 

Handi Kho Pachmarhi, Madhya Pradesh -  हांडी खो, पचमढ़ी

Handi Kho View 

हांडी खो की जानकारी


Handi Kho Information


हम लोग हांडी खो पहुंचे तो यहां पर पर्किग पास में ही थे। हम लोगों को ज्यादा दूर चलना नहीं पड़ था। पर्किग स्थल से 100 मीटर पैदल चलना पड होगा। आपको दूर से ही यह खूबसूरत घाटी दिखने लगता है। यहां पर घाटी बहुत गहरी है। करीब 300 फीट गहरी है। कहा जाता है कि यहां पर हांडी नाम के एक अंग्रेज व्यक्ति थे। जिनकी मृत्यु इस घाटी में गिरकर हो गई थी इसलिए इस घाटी नाम हांडी खो रखा गया। इसके अलावा इस जगह के बारे में एक धार्मिक कथा भी कहीं जाती है कि शंकर भगवान ने एक तक्षक नाम के नाग को मारकर इस घाटी में फेंका था। इसलिए यह घाटी हांडी खो कहलाती है। यह पचमढ़ी शहर की खूबसूरत जगह है। यह पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आया जा सकता है। 

यह पर चारों तरफ हरियाली रहती है और जो घाटी है। वह बहुत ही मस्त है। यहां पर आपको बहुत सारी दुकानें भी मिल जाती है। जहां पर आपको खाने पीने के लिए सामान मिल जाता है। मगर यह पर बहुत महंगा रहता है। अगर आप यहां पर आते हैं, तो अपने साथ खाने पीने का सामान और पानी की बोतल जरूर लाएं। क्योकि यह पर मिलने वाला सामान मंहगा होता है। अगर आप लेना चाहे तो ले सकते हैं। परन्तु मेरे हिसाब से तो यह मंहगा बहुत है। 

आप घोड़े की सवारी यहां पर कर सकते हैं, वैसे यह चार्ज ज्यादा नहीं है। आप दो या तीन राउंड घोडे की सवारी कर सकते है।  इस जगह की जो खूबसूरती है वह लाजवाब है इस जगह में दो पहाड़ियां हैं उनके बीच से गहरी खाई है जो करीब 300 फीट गहरी है। 

यहां पर घुड़सवारी का भी चार्ज आपको 80 रू लगा था। आप करना चाहे तो वह भी कर सकते हैं। यह भी एक अच्छा एक्सपीरियंस रहता है। मगर हम लोगों ने घोड़े की सवारी नहीं किया था। यहां पर आप आते हैं तो आपको बहुत संदर घाटी देखने मिलती है। यह घाटी पूरी तरह से प्राकृतिक है। यह घाटी हांडी का शेप ले लेती है, जो देखने में जबरदस्त होता है। 

Handi Kho Pachmarhi, Madhya Pradesh -  हांडी खो, पचमढ़ी

Handi Kho view



आप यहां पर कुछ टाइम बिता कर मजा ले सकते हैं। यहां पर आप अपने फैमिली वालों के साथ आ सकते हैं और अपने दोस्तों के साथ भी आकर यहां पर खूब इंजॉय कर सकते हैं। आप इस जगह के बारे में अपने जिप्सी ड्राइवर से इंफॉर्मेशन ले सकते हैं। आपका जिप्सी ड्राइवर इस जगह के बारे में आपको इंफॉर्मेशन दे सकता है। आपको वैसे गाइड लाने की आवश्यकता नहीं है। अगर आप इस जगह के बारें मे ज्यादा जानकारी जानना चाहते है, तो एक गाइड  ले सकते है, जो आपको पचमढ़ी और अन्य जगह की अच्छी जानकारी दे पायेगा। 

हम लोग पचमढ़ी मई के महीने में गए थे। यहां पर मई के महीने में आपको आइसक्रीम और जूस की दुकानें देखने मिल जाएंगी। यहां पर बहुत साफ सुथरा है। यहां पर बोर्ड भी लगा हुआ है कि आप इस जगह पर किसी भी तरह का कचरा ना फैलाए और यहां पर डस्टबिन रखा हुआ है। जहां पर आप अगर कुछ भी लाते हैं। खाने पीने का सामान तो आपका जो भी कचरा निकलता है आप डस्टबिन में डाल सकते हैं। यह घाटी बहुत खूबसूरत है जैसा कि पहले ही मैंने आपको बता चुकी हूं। आप यहां पर आकर बहुत अच्छा अपना टाइम बिता सकते हैं। शांति से बैठ सकते हैं। यहां पर किसी भी तरह का शोर-शराबा आपको नहीं मिलेगा। यहां पर चिड़िया चहकती रहती है और बहुत शांति है । इस जगह भीड़ बनी रहती है क्योंकि बहुत सारे लोग आते हैं। गर्मी के सीजन यहां पर तो यहां पर भीड़भाड़ रहती है। यहां पर जब हम लोग गए थे।   

यह पर जब हम लोग गए थे। तब यह पर जिओ का नेटवर्क काम नहीं करता था। मगर अब यहां पर जियो का नेटवर्क कुछ जगहों पर मिल जाता है। जिओ नंबर से फोन आप कर सकते हैं और फोन लग जाते हैं। पहले यहां पर बीएसएनएल का नेटवर्क ही काम करता था । यह पर बीएसएनएल की सिम आराम से चल जाती है। मगर अब यहां पर जियो और एयरटेल चल जाते हैं उसके अलावा यहां पर आपको बहुत अच्छी सुविधाएं मिल जाती हैं

आपको यह पर प्रकृति द्वारा बनाई गई विशिष्ट प्रकार की हांडी की संरचना देखने मिलती है। यह शांतिप्रिय जगह है यह पर घुड़सवारी का आंनद लिया जा सकता है। आप इस स्थान पर दिन के किसी भी समय और किसी भी परिवार, दोस्तों, जोड़े, रिश्तेदारों के साथ जा सकते हैं।

चौरागढ़ महादेव मंदिर, पचमढ़ी
प्रियदर्शनी प्वाइंट, पचमढ़ी

0 टिप्पणियाँ:

Please do not enter any spam link in comment box