सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

हमीरपुर जिले के पर्यटन स्थल - Hamirpur Tourist Places

हमीरपुर जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Hamirpur district / हमीरपुर जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह


हमीरपुर जिला उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। हमीरपुर जिला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 150 किलोमीटर दूर है। इस जिले में बेतवा और यमुना नदी का संगम हुआ है। हमीरपुर जिले का मुख्यालय इन्हीं दो नदियों के बीच में है। संगम स्थल के किनारे बहुत सुंदर बीच देखने के लिए मिलता है। हमीरपुर जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - हमीरपुर जिले में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है। 


हमीरपुर जिले में घूमने वाली जगह - Hamirpur mein ghumne ki jagah


कल्पवृक्ष हमीरपुर - Kalpavriksha Hamirpur

कल्पवृक्ष हमीरपुर में स्थित एक मुख्य स्थल है। यहां पर आपको कल्पवृक्ष देखने के लिए मिलता है। यह वृक्ष बहुत कम जगह पर पाया जाता है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार यह लोगों की इच्छाएं पूरी करता है और यहां पर बहुत सारे लोग कल्पवृक्ष के दर्शन करने के लिए आते हैं और अपनी इच्छाएं की पूर्ति करने के लिए आते हैं। कल्प वृक्ष के नीचे, जो भी सच्चे मन से जाता है और अपनी मनोकामना मांगता है। उसकी इच्छा जरूर पूरी होती है। यह वृक्ष देखने में भी बहुत सुंदर लगता है। 

कल्पवृक्ष यमुना नदी के किनारे लगा हुआ है। यहां से यमुना नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह पूरा परिसर बहुत ही अच्छा है। कल्पवृक्ष के पास में ही, भद्रकाली जी के मंदिर बना हुआ है, जहां पर माता भद्रकाली जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर बहुत शांति रहती है। 


पातालेश्वर मंदिर हमीरपुर - Pataleshwar Temple Hamirpur

पातालेश्वर मंदिर हमीरपुर शहर का धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर प्राचीन है। कहा जाता है, कि मंदिर यमुना नदी में बाढ़ के कारण पूरी तरह से दब गया था। मगर मंदिर को किसी भी तरह की हानि नहीं आई और फिर से मंदिर को दोबारा पुनर्निर्माण किया गया। यहां पर गर्भ गृह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं और यह शिवलिंग बहुत प्राचीन है। कहा जाता है, कि यह मराठा काल में स्थापित किया गया था। यह मंदिर हमीरपुर में यमुना नदी के किनारे बना हुआ है। आप यहां पर आ कर शिव भगवान जी के दर्शन कर सकते हैं। मंदिर में शिवलिंग के अलावा पंचमुखी हनुमान जी, दुर्गा जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां से खूबसूरत यमुना नदी का दृश्य भी देखने के लिए मिलता है। यह हमीरपुर में घूमने लायक जगह है। 


चौरा देवी मंदिर हमीरपुर - Chaura Devi Temple Hamirpur

चौरा देवी मंदिर हमीरपुर जिले का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर चौरा देवी को समर्पित है। मंदिर में चौरा देवी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर में शंकर जी के शिवलिंग के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। आप मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। चौरा देवी मंदिर हमीरपुर में मुख्य शहर में स्थित है। मंदिर के पास में ही यमुना नदी को सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर आकर मन को शांति मिलती है। चारों तरफ हरे भरे पेड़ पौधे हैं। आप यहां पर आकर शांति से अपना समय बिता सकते हैं। 


यमुना और बेतवा नदी संगम स्थल - Yamuna and Betwa river confluence site

यमुना और बेतवा नदी का संगम स्थल बहुत सुंदर है। यह जगह हमीरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह जगह हमीरपुर से करीब 7 किलोमीटर दूर है। यहां पर दो मुख्य नदियों का संगम हुआ है। यह संगम स्थल बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर आप इंजॉय करने के लिए आ सकते हैं। यहां पर बेतवा नदी का संगम यमुना नदी से होता है और बेतवा नदी की यात्रा खत्म हो जाती है और आगे यमुना नदी बढ़ती है। यहां पर बहुत शांति है। आप संगम स्थल पर नहा सकते हैं। आपको बहुत मजा आएगा। यह हमीरपुर की सबसे अच्छी जगह है। 


चौपारा मंदिर हमीरपुर - Chaupara Temple Hamirpur

चौपारा मंदिर हमीरपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर को  श्री चौपरेश्वर राम धाम के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है। यह मंदिर हमीरपुर के रथ तहसील में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर आपको बहुत सुंदर सीताराम द्वार देखने के लिए मिलता है, जो मंदिर का प्रवेश द्वार है। यह बहुत ही सुंदर बना हुआ है। मंदिर के अंदर एक तालाब बना हुआ है। इस तालाब के बीच में शंकर जी, माता पार्वती जी, गणेश जी, कार्तिकेय जी की मूर्तियों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं और शंकर जी के वाहन  नंदी जी, पार्वती जी के वाहन बब्बर शेर, गणेश जी के वाहन चूहा और कार्तिकेय जी के वाहन मोर भी यहां पर देखने के लिए मिलते हैं। इस मूर्ति के पास जाने के लिए पुल बना हुआ है। 

चौपारा मंदिर बहुत बड़े क्षेत्र में भी फैला हुआ है। यहां पर बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं। यह मंदिर बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर श्री राम जानकी मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। मंदिर के अंदर गर्भ गृह में श्री राम जी, माता सीता जी और लक्ष्मण जी की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर हनुमान जी की एक छोटी सी प्रतिमा भी देखने के लिए मिलती है। मंदिर में गणेश जी की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए भी मिलते हैं। यहां पर शिव मंदिर भी बना हुआ है, जहां पर शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। शिवरात्रि में यहां पर बहुत सारे लोग भगवान शिव के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां पर बच्चों के लिए पार्क बना हुआ है, जहां पर झूला और फिसल पट्टी लगी हुई है, जिसमें बच्चे लोग काफी इंजॉय कर सकते हैं। आप अगर हमीरपुर जाते हैं, तो आप भी इस जगह पर घूम सकते हैं। आपको अच्छा लगेगा। 


सागर तालाब रथ हमीरपुर - Sagar Talab Rath Hamirpur

सागर तालाब हमीरपुर के रथ तहसील में स्थित है। यह तालाब बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। इस तालाब में बोटिंग का मजा लिया जा सकता है। यहां पर तालाब के किनारे शिव मंदिर भी है, जहां पर शिवलिंग विराजमान है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। शांति का अनुभव होता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


स्वामी ब्रह्मानंद बांध हमीरपुर - Swami Brahmanand Dam Hamirpur

स्वामी ब्रह्मानंद बांध हमीरपुर के राठ तहसील में स्थित है। यह बांध बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह बांध हमीरपुर का एक मुख्य स्थल है। यह बांध विरमा नदी पर बना हुआ है, जो बेतवा नदी की सहायक नदी है। यह बांध बहुत खूबसूरत है। यह बांध हमीरपुर और महोबा जिले की सीमा पर पड़ता है। यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए आया जा सकता है, क्योंकि बरसात के समय यहां का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। यहां पर चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। बरसात में इस बांध के गेट भी खोले जाते हैं, जिससे इसका दृश्य लाजवाब रहता है। आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह हमीरपुर का पिकनिक स्पॉट है। 


काशीपुर शिव मंदिर - Kashipur Shiva Temple

काशीपुर शिव मंदिर मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की सीमा के पास धसान नदी के किनारे स्थित एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर काशीपुर गांव में बना हुआ है। यह मंदिर हरपालपुर से करीब 11 किलोमीटर दूर है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर 1000 साल पहले चंदेल राजाओं के द्वारा बनाया गया था। इस मंदिर की वास्तुकला बहुत ही सुंदर है और यह मंदिर धसान नदी के किनारे बना हुआ है, जिससे इस मंदिर का दृश्य बहुत ही सुंदर लगता है। 

इस मंदिर से धसान नदी का भी सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। इस मंदिर में आप घूमने के लिए आ सकते हैं। मंदिर के गर्भ गृह में शिवलिंग विराजमान है। इस शिवलिंग का महत्व काशी के काशी विश्वनाथ के शिवलिंग के बराबर है और यहां पर बहुत सारे लोग कालसर्प की पूजा करवाने के लिए आते हैं। यह आ कर बहुत अच्छा लगता है और आप अपना बहुत अच्छा समय यहां पर बिता सकते हैं। 


घाट लहचूरा बांध - Ghat Lachura Dam

घाट लहचूरा बांध हमीरपुर के पास में स्थित एक सुंदर जगह है। यह बांध मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की सीमा पर स्थित है। यह बांध धसान नदी पर बना हुआ है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यह बांध बहुत सुंदर लगता है। यह बांध मुख्य तौर पर सिंचाई के लिए बनाया गया है। यहां पर आप आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह बांध घाट लचौरा में स्थित है। आपको यहां पर अच्छा लगेगा। 


राम जानकी मंदिर हमीरपुर - Ram Janaki Mandir Hamirpur

राम जानकी मंदिर हमीरपुर का एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर हमीरपुर के खंडेह गांव में स्थित है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर चंदेल कालीन है। इस मंदिर में सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही बारिक है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। मंदिर में गणेश जी की बहुत ही सुंदर आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा पत्थर की बनाई गई है और यहां पर और भी बहुत सारी सुंदर सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यहां पर श्री राम जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। आप यहां पर आकर इस मंदिर को देख सकते हैं। 


दशावतार मंदिर खंडेह हमीरपुर - Dashavatar Temple Khandeh Hamirpur

दशावतार मंदिर हमीरपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर किलेनुमा है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर लगता है। मंदिर की दीवारों में नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर प्राचीन है। यह हमीरपुर जिले के मौदहा तहसील के खंडेह गांव में बना हुआ है और आप यहां पर आकर शंकर जी के दर्शन कर सकते हैं। 


संगमेश्वर मंदिर हमीरपुर - Sangameshwar Temple Hamirpur

संगमेश्वर मंदिर हमीरपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर हमीरपुर शहर से करीब 3 किलोमीटर दूर यमुना नदी के तट के किनारे बना हुआ है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर में प्राचीन शिवलिंग विराजमान है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। शांति मिलती है। यहां पर यमुना नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। आपको बहुत अच्छा लगेगा। 


हमीरपुर जिले के प्रसिद्ध स्थल एवं मंदिर - Famous places and temples of Hamirpur district

बेतवा और धसान नदी का संगम देवरी हमीरपुर
मरही माता मंदिर राठ तहसील हमीरपुर 
यमुना नदी का सुंदर दृश्य
श्री राम टेकरी आश्रम भकौल गांव हमीरपुर
मेहर बाबा मंदिर हमीरपुर


जालौन पर्यटन स्थल

बरेली पर्यटन स्थल

पीलीभीत पर्यटन स्थल

बांदा पर्यटन स्थल

इटावा पर्यटन स्थल

औरैया पर्यटन स्थल


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।