सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

आप हमारी मदद करना चाहते हैं, तो नीचे दिए लिंक से शॉपिंग कीजिए।

जशपुर जिले के पर्यटन स्थल - Jashpur Tourist Place

जशपुर जिले के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Jashpur district / जशपुर के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह /  जशपुर पर्यटन


जशपुर छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। जशपुर पहाड़ों और जंगलों से घिरा हुआ है। इसका मुख्यालय जशपुर नगर है। जशपुर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से करीब 450  किलोमीटर दूर है। जशपुर सड़क माध्यम से सभी जिलों से अच्छी तरह से जुड़ा जुड़ा हुआ है। जशपुर उड़ीसा और झारखंड राज्य की सीमा पर स्थित है। यहां पर आपको घूमने के लिए बहुत सारी जगह मिल जाती है। जशपुर में घूमने के लिए बहुत सारी जगह मौजूद है, चलिए जानते हैं, जशपुर में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है। 


जशपुर में घूमने की जगह
Jashapur mein ghumne ki jagah

 

बादलखोल वन्यजीव अभ्यारण जशपुर - Badalkhol Wildlife Sanctuary Jashpur

बादलखोल वन्य जीव अभ्यारण जशपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। इस अभ्यारण में आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको हिरण, चिंकारा, नीलगाय, सांभर, चौसिंगा, जंगली भालू, जंगली कुत्ते और भी बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको पौधों की विभिन्न तरह की प्रजातियां देखने के लिए मिलती हैं। यहां पर आपको मिश्रित वन देखने के लिए मिलता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर घूमने के लिए और भी अन्य जगह है, जहां पर आपको बहुत आनंद आएगा। बादलखोल वन्य जीव अभ्यारण जशपुर से 90 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर कार या बाइक से आ सकते हैं। यहां पर आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा। 


गुल्लू जलप्रपात जशपुर - Gullu Falls Jashpur

गुल्लू जलप्रपात जशपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात ईब नदी पर बना हुआ है। यह जलप्रपात बादलखोल अभ्यारण में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एक बांध बना हुआ है, जहां पर बिजली बनाई जाती है। गुल्लू जलप्रपात बहुत सुंदर है और आप झरने के नीचे जा सकते हैं। यहां पर सीढ़ियां बनाई गई है, जिससे आप झरने के पास जा सकते हैं और वहां पर बहुत एंजॉय कर सकते हैं। यहां पर आपको बड़ी-बड़ी चट्टानें देखने के लिए मिलती हैं, जिनके बीच से जलप्रपात बहता है और बहुत सुंदर लगता है। आप यहां बरसात के समय आएंगे, तो आपको बहुत अच्छा लगेगा, क्योंकि बरसात में यहां पर हरियाली रहती है। आप यहां पिकनिक मनाने के लिए आ सकते हैं। 


चुरी जलप्रपात जशपुर - Churi Falls Jashpur

चुरी जलप्रपात जशपुर का एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात बादलखोल अभ्यारण में स्थित है। यह जलप्रपात घने जंगल के अंदर स्थित है और आपको यहां पर आकर बहुत अच्छा लगेगा। यह जलप्रपात ईब नदी पर बना हुआ है। यहां पर पानी चट्टानों के ऊपर से बहता है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। आप यहां पर आकर पिकनिक मना सकते हैं। 


चिरचिरी जलप्रपात जशपुर - Chirchiri Falls Jashpur

चिरचिरी जलप्रपात जशपुर का सबसे सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात बहुत ऊंचा है। यह जलप्रपात घने जंगलों में स्थित है। यह जलप्रपात कुनकुरी से करीब 25 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर आकर बरसात के समय घूम सकते हैं, क्योंकि बरसात के समय जलप्रपात बहुत अच्छा लगता है और इस जलप्रपात में पानी की बहुत अधिक मात्रा होती है। यहां पर आप आकर नहाने का मजा ले सकते हैं। 

चिरचिरी झरना जशपुर में भेलवटोली गांव में स्थित है। झरने के पास आप बाइक से आराम से आ सकते हैं। आपको कुछ दूरी तक पैदल चलना पड़ सकता है। यहां पर आपको हरे-भरे हरियाली से भरा माहौल देखने के लिए मिलता है। यह जंगल के अंदर स्थित है। यहां पर झरना चट्टानों से नीचे चट्टानों में गिरता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर आप अपना वीकेंड बिताने के लिए आ सकते हैं। यहां पर बरसात के समय और ठंड के समय बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। यह जशपुर शहर की  घूमने लायक जगह है। 


राजपुरी जलप्रपात जशपुर - Rajpuri Falls Jashpur

राजपुरी जलप्रपात जशपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। राजपुरी जलप्रपात घने जंगलों के अंदर स्थित है। इस जलप्रपात में पानी उची उची चट्टानों के बीच से बहता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। राजपुरी झरना जंगल के अंदर स्थित है। यहां पर पहुंचने के लिए अच्छी सड़क बनी हुई है। झरने में आपको पहुंचने के लिए नीचे उतरना पड़ता है और यहां पर सीढ़ियां बनी हुई है। झरने के पास पहुंच कर आपको बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। आप यहां पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। 

यहां पर बहुत सारे व्यूप्वाइंट है, जहां से आप जलप्रपात का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यहां पर लोगों को सावधान करने के लिए बोर्ड लगा हुआ है, क्योंकि यहां पर 2011 में बहुत से लोगों की जान चली गई है। इसलिए यहां पर लोगों को झरने के पास चट्टानों के करीब जाने के लिए मना किया है। मगर झरने का दृश्य बहुत ही आकर्षक रहता है और यहां पर आकर आप अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। इस झरने के पास आपको प्राचीन शिव मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यह झरना जशपुर में बगीचा तहसील में स्थित है। यह जशपुर में देखने लायक जगह है। 


माता खुड़ियारानी धाम जशपुर - Mata Khudiyarani Dham Jashpur

माता खुड़ियारानी धाम जशपुर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यहां पर आपको  गुफा देखने के लिए मिलती है। यह गुफा में बहुत अंधेरा रहता है। गुफा के अंदर माता खुड़ियारानी की मूर्ति के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको गुफा के अंदर झरना भी देखने के लिए मिलता है, जहां से पानी बहता रहता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। माता खुड़ियारानी धाम घने जंगलों के बीच में स्थित है। इस जगह तक पहुंचने के लिए आपको ट्रैकिंग करनी पड़ती है। यहां पर बहुत सारे लोग माता के दर्शन करने के लिए आते हैं। 

माता खुड़ियारानी धाम में आपको ऊंची ऊंची बड़ी चट्टाने देखने के लिए मिलती हैं और यहां पर आपको झरना देखने के लिए मिलता है। यहां पर गुफा देखने के लिए मिलती है। आपको इस गुफा के अंदर जाना पड़ता है और आप गुफा के अंदर जाएंगे, तो आपको माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आप अपने फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। माता खुड़िया रानी की गुफा जशपुर में बगीचा तहसील में स्थित है। आप यहां पर आराम से पहुंच सकते हैं। 


श्री कैलाश गुफा जशपुर - Shri Kailash Cave Jashpur

श्री कैलाश गुफा जशपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। कैलाश गुफा में शिव जी का प्राचीन मंदिर देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको बहुत सारे मूर्तियां देखने के लिए मिलती है, जो बहुत आकर्षक लगती है। यहां पर आपको शिव भगवान जी का एक बहुत बड़ा शिवलिंग देखने के लिए मिलता है, इसमें नाग देवता की मूर्ति देखने के लिए मिलती है और यह बहुत सुंदर लगती है। यहां पर आपको नंदी भगवान की भी बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह जगह जंगल में स्थित है और यहां हाथी विचरण करते रहते हैं। इसलिए यहां पर आपको सावधानीपूर्वक रहना पड़ता है। यहां पर आश्रम भी बना हुआ है। यहां पर परम पूज्य गहिरा गुरु जी महाराज की तपोभूमि भी है। यहां पर गुफा है और गुफा में साल भर 24 घंटे पानी गिरता रहता है। लोग इस पानी को बोतल में भरकर अपने घर में ले जाते हैं। यह बहुत शुद्ध पानी रहता है। 

कैलाश गुफा प्राकृतिक वातावरण में स्थित है। यहां पर जंगल है। आपको यहां पर झरना भी देखने के लिए मिलता है। यह  झरना बहुत सुंदर है। झरने में नहाने का मजा भी लिया जा सकता है। यहां पर बरसात के समय आना बहुत ही अच्छा रहता है, क्योंकि यहां पर चारों तरफ हरियाली रहती है। यहां पर बंदर भी आपको देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर सावन सोमवार और महाशिवरात्रि के समय बहुत बड़ा मेला लगता है, जिसमें आसपास शहरों के लोग शामिल होते हैं। यहां पर आप अपने फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। कैलाश गुफा जशपुर के देवदंड नाम के गांव में स्थित है। आप यहां पर गाड़ी या अन्य वाहन से आ सकते हैं। 


दंगरी जलप्रपात जशपुर - Dangri Falls Jashpur

दंगरी जलप्रपात जशपुर शहर का एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात जंगल से घिरा हुआ है। यहां पर ऊंची ऊंची बड़ी-बड़ी चट्टानों से जलप्रपात बहता है। यहां पर जलप्रपात दो या तीन स्तरों में बहता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर आपको पहुंचने के लिए ट्रैकिंग करनी पड़ती है। कम से कम 2 से 3 किलोमीटर यहां पर आपको ट्रैकिंग करनी पड़ती है। मगर जलप्रपात का दृश्य देखकर आपकी सारी थकान मिट जाएगी । 

दंगरी जलप्रपात बहुत ही सुंदर है। यह जलप्रपात करीब 300 फीट ऊंचा है। चारों तरफ आपको हरे भरे पेड़ पौधे देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर बरसात के समय आप आएंगे, तो आपको पानी की मात्रा बहुत ज्यादा देखने के लिए मिलती है। यह जलप्रपात बगीचा तहसील से करीब 29 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर दो पहिया या चार पहिया वाहन से पहुंच सकते हैं। यहां पर आप अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। यह जशपुर घूमने वाली मुख्य जगह है। 


देश देखा पहाड़ जशपुर - Desh Dekha mountain Jashpur

देश देखा पहाड़ जशपुर शहर का एक मुख्य स्थल है। यह एक पहाड़ है। आप इस पहाड़ के ऊपर जा सकते हैं। इस पहाड़ से आपको चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। शाम के समय यहां पर सूर्यास्त का नजारा देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही मनोरम रहता है। यहां पर आप बरसात के समय जाएंगे, तो आपको और अच्छा लगेगा। बरसात के समय यहां पर कई झरने देखने के लिए मिलते हैं और चारों तरफ हरियाली रहती है। आप यहां पर आकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। 


श्री राम वनगमन मार्ग - लेखा पत्थर रेगले - Shri Ram Vanagaman Marg - Lekha Pathar Regle

श्री राम वन गमन मार्ग जशपुर का एक प्रमुख स्थल है। यह जशपुर का प्रमुख धार्मिक स्थल है। इस जगह के बारे में, कहा जाता है, कि श्री राम जी ने वनवास काल के दौरान इस जगह पर रात्रि विश्राम किया था। यहां पर आपको श्री राम जी, माता सीता जी लक्ष्मण जी के चित्र देखने के लिए मिल जाते हैं। यह जगह जंगल के बीच में स्थित है। यह जगह बगीचा तहसील से 10 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर आकर घूम सकते हैं। 


कोतेबिरा शिव मंदिर जशपुर - Kotebira Shiva Temple Jashpur

कोतेबिरा शिव मंदिर जशपुर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव जी को समर्पित है। मंदिर में शिव भगवान जी की बहुत ही सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको बहुत सुंदर प्राकृतिक दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको एक सुंदर सा जलप्रपात देखने के लिए मिलता है। आप यहां नहाने का भी मजा ले सकते हैं। बरसात के समय यह जगह और भी सुंदर हो जाती है, क्योंकि यहां पर चारों तरफ हरियाली रहती है। 

कोतेबिरा शिव मंदिर जशपुर में फरसाबहार विकासखंड में स्थित है। आप यहां पर गाड़ी से पहुंच सकते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर आपको ईब नदी का संगम स्थल देखने के लिए मिलता है।  नदी के दूसरी तरफ एक और धार्मिक स्थल मौजूद है, जिसे कपाट द्वार के नाम से जाना जाता है। इस द्वार की भी अपनी एक प्रसिद्ध कहानी है। यहां पर आप आकर इन सभी जगह में घूम सकते हैं। 


रानी दाह जलप्रपात जशपुर - Rani Dah Falls Jashpur

रानी दाह जलप्रपात जशपुर शहर का एक मुख्य जलप्रपात है। यह जशपुर शहर का प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यह जलप्रपात जंगल के अंदर स्थित है। यह जलप्रपात चट्टानों के ऊपर से बहता है, जो बहुत ही सुंदर लगता है। जलप्रपात में नीचे की तरफ जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर बहुत सारे वॉच टावर पर है, जहां से आप को झरने का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। आप यहां पर पिकनिक मनाने के लिए आ सकते हैं। यह जशपुर से करीब 15 किलोमीटर दूर होगा। 


कैथ्रेडल ऑफ आवर लेडी ऑफ द रोसरी जशपुर - Cathedral of Our Lady of the Rosary Jashpur

कैथ्रेडल ऑफ आवर लेडी ऑफ द रोसरी जशपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह जशपुर शहर का सबसे बड़ा और सुंदर चर्च है। यह चर्च एशिया का दूसरा सबसे बड़ा चर्च है। यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं। यह बहुत सुंदर तरीके से बना हुआ है और बाहर बहुत बड़ा गार्डन बना हुआ है। यहां पर पार्किंग के लिए भी अच्छी जगह है। आप यहां पर आकर प्रार्थना कर सकते हैं। क्रिसमस के समय यह चर्च बहुत ही सुंदर तरीके से सजाया जाता है और बहुत दूर-दूर से लोग यहां पर घूमने के लिए आते हैं। यह जसपुर के कुनकुरी में स्थित है। 


किलकिला शिव मंदिर जशपुर - Kilkila Shiva Temple Jashpur

किलकिला शिव मंदिर जशपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर किलकिला गांव में स्थित है। यह मंदिर जशपुर के पत्थलगॉव विकासखंड में स्थित है। मंदिर में आपको शिव भगवान जी की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां हनुमान जी की भी बहुत बड़ी प्रतिमा विराजमान है। गणेश जी की प्रतिमा भी आपको यहां देखने के लिए मिल जाती है। यहां पर राधा कृष्ण मंदिर, राम मंदिर भी बना हुआ है। यहां पर महाशिवरात्रि के समय बहुत बड़ा मेला लगता है और यह मेला कई दिनों तक लगता है। इस मेले में बहुत सारे लोग शामिल होते हैं। यहां की प्राकृतिक सुंदरता बहुत सुंदर है। यहां पर जो नदी बहती है। उसके किनारे घाट भी बना हुआ है, जहां पर आप नहा सकते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। 


जशपुर जिले के आकर्षण स्थल एवं पिकनिक स्थल - Attractions and Picnic Places of Jashpur District


घोघरा डैम जशपुर 
मायली बांध जशपुर 
मकरभाजा जलप्रपात जशपुर
दनपुरी जलप्रपात जशपुर
सोग्रा अघोर आश्रम जशपुर
बाघमारा जलप्रपात जशपुर
खंगाड़ा बांध जशपुर



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का