सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Narsinghgarh लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नरसिंहगढ़ का किला, राजगढ़ - Narsinghgarh Fort, Rajgarh

नरसिंहगढ़ का किला (Narsinghgarh ka kila), राजगढ़ -  Narsinghgarh Fort  Rajgarh नरसिंहगढ़ का किला राजगढ़ जिले का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। नरसिंहगढ़ राजगढ़ जिले की तहसील है। नरसिंहगढ़ का किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। किले के नीचे तालाब देखने के लिए मिलता है। किले और तालाब का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। हम लोग भोपाल से नरसिंहगढ़ घूमने के लिए आए थे। नरसिंहगढ़ में नरसिंहगढ़ वन्यजीव अभ्यारण घूमने के बाद, हम लोग नरसिंहगढ़ का किला घूमने के लिए गए। नरसिंहगढ़ का किला अब खंडहर में बदलता जा रहा है और इस किले की अच्छी तरह से देखभाल नहीं की जा रही है। पूरे किले में बड़ी-बड़ी घास उगी हुई थी। मगर फिर भी यह किला बहुत जबरदस्त लगता है। किले के चारों तरफ ऊंची पहाड़ियां हैं, जो इस किले को एक अलग ही सुंदरता प्रदान करती हैं।  हम लोग नरसिंहगढ़ के सबसे प्रसिद्ध मंदिर जल मंदिर घूमने के बाद, नरसिंहगढ़ का किला घूमने के लिए गए। नरसिंहगढ़ किले में जाने के लिए दो रास्ते हैं। एक रास्ते में पैदल जाना पड़ता है। वहां पर गाड़ी नहीं जाती हैं और दूसरे रास्ते में आपकी गाड़ी चली जाएगी। मगर वह रास्ता बहुत

जल मंदिर नरसिंहगढ़ - Jal Mandir Narsinghgarh

  नरसिंहगढ़ रियासत का जल मंदिर या पशुपतिनाथ मंदिर और पारसराम झील Narsinghgarh State Jal Temple or Pashupatinath Temple and Parasram Lake जल मंदिर नरसिंहगढ़ तहसील का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर झील के बीच में बना हुआ है। इसलिए इस मंदिर को जल मंदिर के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर को पशुपतिनाथ मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर बहुत सुंदर लगता है। मंदिर में शिव भगवान का, जो शिवलिंग है। वह पंचमुखी है। शिव भगवान जी की प्रतिमा के सामने नंदी भगवान जी विराजमान है। इस झील को परशुराम झील या पारसनाथ झील के नाम से जाना जाता है।  जल मंदिर बहुत ही सुंदर लगता है। इस मंदिर का दृश्य किले से आप देखेंगे, तो बहुत ही आकर्षक लगेगा और आप इस मंदिर में घूमने के लिए जा सकते हैं। हम लोग भी इस मंदिर में घूमने के लिए गए थे। यह मंदिर मुख्य नरसिंहगढ़ शहर में ही स्थित है और यह मंदिर नरसिंहगढ़ की बाजार के पास ही में स्थित है, तो आप यहां पर अगर बस से भी आते हैं, तो  पैदल घूमने के लिए आराम से आ सकते हैं।  वैसे हम लोग स्कूटी से इस मंदिर गए थे। हम लोग जल मंदिर पहुंच