सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Kerala लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मुन्नार के पर्यटन स्थल - Munnar tourist places

मुन्नार हिल स्टेशन - Munnar Hill Station मुन्नार  के  दर्शनीय स्थल - P laces to visit in munnar मुन्नार केरल का एक हिल स्टेशन है। यह केरल का सबसे सुंदर हिल स्टेशन है। यह हिल स्टेशन केरल में, सबसे ऊंचाई पर स्थित है। मुन्नार हिल स्टेशन में आपको पहाड़, घाटी, जंगल, झरने, नदियां, बांध, जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर मुख्य आकर्षण यहां पर चाय के बागान है। यहां पर चाय, कॉफी, चोकलेट और मसाले के बागान आपको देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको अच्छी क्वालिटी की चाय मिलती है। अगर आप प्रकृति प्रेमी है, तो यह जगह आपको बहुत पसंद आएगी। आप मुन्नार के पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर सकते हैं।  मुन्नार   हिल स्टेशन केरल राज्य के इडुक्की जिले में स्थित है। मुन्नार केरल और तमिलनाडु राज्य की सीमा पर स्थित है। यह जगह बहुत सुंदर है। यहां पर आप आकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। मुन्नार में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। इस ब्लॉग के माध्यम से हम आपको मुन्नार में घूमने वाली मुख्य जगहों के बारे में बताएंगे, जहां पर आप जाकर अपना बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। चलिए जानते हैं - मुन्नार में घूमने लायक क

वरकला के पर्यटन स्थल - Varkala tourist places

वरकला के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Varkala वरकला केरल जिले का एक मुख्य शहर है। वरकला तिरुवंतपुरम जिले के अंतर्गत आता है। वरकला मुख्य रूप से अपने बीचों के लिए फेमस है। यहां पर आपको सुंदर बीच देखने के लिए मिलता है और पहाड़ी एरिया देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। यहां पर बहुत सारे लोग अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह केरल का एक मुख्य टूरिस्ट डेस्टिनेशन है। चलिए जानते हैं - वरकला में घूमने  लायक  कौन-कौन सी जगह है और आप कहां-कहां पर जाकर अपना अच्छा समय बिता सकते हैं।  वरकला में घूमने वाली प्रमुख जगह - varkala me ghumne ki jagah श्री जनार्दन स्वामी मंदिर वरकला - Sri Janardan Swamy Temple Varkala श्री जनार्दन स्वामी मंदिर वरकला शहर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर वरकला बीच के पास में बना हुआ है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर प्राचीन तरीके से बना हुआ है। यह मंदिर ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यह मंदिर विष्णु भगवान जी को समर्पित है। मंदिर बहुत सुंदर है। इस मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर के द्वार पर, लकड़ी का किवाड़ देखने के लिए मिलता है, जो पुराने जमाने