सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

a

जामताड़ा जिला का पर्यटन स्थल - Jamtara Tourist Place

जामताड़ा जिला का दर्शनीय स्थल - places to visit in jamtara / जामताड़ा के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह



जामताड़ा झारखंड राज्य का मुख्य जिला है। जामताड़ा झारखंड की राजधानी रांची से करीब 200 किलोमीटर दूर है। जामताड़ा झारखंड राज्य में, झारखंड और वेस्ट बंगाल की सीमा के पास स्थित है। जामताड़ा में आप सड़क माध्यम से पहुंच सकते हैं। जामताड़ा जिला में बराकर नदी बहती है। बराकर नदी में मैथन बांध बना हुआ है, जो जामताड़ा और धनबाद की सीमा में फैला हुआ है। जामताड़ा में अजय नदी भी बहती है। जामताड़ा में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं - जामताड़ा में घूमने लायक कौन कौन सी जगह है। 


जामताड़ा में घूमने की जगह - Jamtara mein ghumne ki jagah


पर्वत विहार जामताड़ा - Parvat Vihar Jamtara

पर्वत विहार जामताड़ा का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह एक सुंदर गार्डन है। यहां पर आपको एक ऊंची पहाड़ी देखने के लिए मिलती है, जिस पर यह गार्डन बनाया गया है। गार्डन के अंदर बहुत सारी जगह है, जहां पर आप घूम सकते हैं। यहां पर चिल्ड्रन गार्डन, एनिमल गार्डन, वॉच टावर देख सकते हैं। वॉच टावर से आप चारों तरफ का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यहां पर सूर्योदय और सूर्यास्त का आकर्षक दृश्य देखने के लिए मिलता  है। 

पर्वत विहार में नीचे की तरफ एक बहुत बड़ी झील बनी हुई है, जहां पर नौकायान की सुविधा उपलब्ध है। इसके अलावा यहां पर अजय नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। अजय नदी में नौकायान की जा सकती है। यह जगह मुख्य सिटी से करीब 4 किलोमीटर दूर है और आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं और इस पार्क में घूम सकते हैं। आपको यहां पर फव्वारे भी देखने के लिए मिलेंगे, जो बहुत ही सुंदर लगते हैं। यहां चारों तरफ हरियाली रहती है। यहां पर आपको डायनासोर के स्टैचू देखने के लिए मिलेंगे। यहां पर बच्चे और बड़े सभी लोग आकर एंजॉय कर सकते हैं। यह जामताड़ा में घूमने की सबसे अच्छी जगह में से एक है। 


रामकृष्ण मठ जामताड़ा - Ramakrishna Math Jamtara

रामकृष्ण मठ जामताड़ा का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। रामकृष्ण मठ जामताड़ा में मुख्य सड़क पर स्थित है। यह मठ बहुत सुंदर है। मठ में आपको आकर धार्मिक माहौल देखने के लिए मिलता है। श्री रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद जी के गुरु थे। यह मठ बहुत अच्छी तरह से बनाया गया है। यहां पर आपको राम कृष्ण जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। मठ के चारों तरफ हरियाली है और फूलों वाले बहुत सारे पौधे लगाए गए हैं। इस मठ में एक छोटा सा अस्पताल है, जहां पर लोगों की निशुल्क सेवा की जाती है और लोगों का इलाज किया जाता है। आप जामताड़ा घूमने के लिए आते हैं, तो आप इस मठ में घूम सकते हैं। 


लाधना पिकनिक स्पॉट जामताड़ा - Ladhna Picnic Spot Jamtara

लाधना पिकनिक स्पॉट जामताड़ा में घूमने लायक एक मुख्य स्थल है। यहां पर आपको मैथन डैम का बैक वाटर देखने के लिए मिलता है। मैथन डैम बराकर नदी पर बना हुआ है। यहां पर मैथन बांध का भराव क्षेत्र बहुत सुंदर है। बांध का भराव क्षेत्र बहुत दूर तक फैला हुआ है। आप यहां पर आ कर समुद्र जैसा अनुभव कर सकते हैं। यहां पर पहाड़िया हैं, जिनमें आप सीढ़ियों के द्वारा चढ़ सकते हैं और आप वहां से डैम के दूर-दूर तक का दृश्य देख सकते हैं। 

यहां पर शाम के समय सूर्यास्त का दृश्य देखने लायक रहता है। यहां पर खाने-पीने की भी दुकान है। मैथन डैम में आप बोटिंग का मजा ले सकते हैं। यहां पर अलग-अलग तरह की बोट की सुविधा उपलब्ध है, जिनमें आप बोटिंग कर सकते हैं और इनका चार्ज अलग अलग रहता है। आपको बोटिंग करके बहुत मजा आएगा। यहां पर लोग नहाते हैं और अपना अच्छा समय बिताते हैं। यह जामताड़ा का पिकनिक स्पॉट है और आप यहां पर आ कर इंजॉय कर सकते हैं। यह जामताड़ा शहर से करीब 10 किलोमीटर दूर होगा। 


मैथन बांध जामताड़ा - Maithon Dam Jamtara

मैथन बांध जामताड़ा जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह जामताड़ा जिले के पास धनबाद जिले के चिरकुंडा ब्लॉक में स्थित है। यह बांध जामताड़ा और धनबाद जिले के बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह बांध झारखंड और वेस्ट बंगाल की सीमा पर स्थित है। इस बांध में आप घूमने के लिए आ सकते हैं और इस बांध की प्राकृतिक सुंदरता को देख सकते हैं। बांध में बहुत सारे टापू बने हुए हैं, जहां पर आप बोट के द्वारा जा सकते हैं। यहां पर बोटिंग की सुविधा उपलब्ध है। यहां पर अलग-अलग तरह की बोट आपको मिल जाती है, जिसमें आप बोटिंग कर सकते हैं। 

डैम के पास आपको मिलेनियम पार्क देखने के लिए मिलता है। यह पार्क गवर्नमेंट के द्वारा डिवेलप किया गया है और यह पार्क बहुत सुंदर है। पार्क में तरह-तरह के फूलों वाले प्लांट लगाए गए हैं और यहां पर झूले भी लगाए गए हैं। यह पार्क बच्चों और बड़ों के लिए दोनों के लिए घूमने के लिए एक मुख्य जगह है। यहां पर आपको डियर पार्क देखने के लिए मिलता है। मैथन बांध में, बांध के नीचे की तरफ एक वाटरफॉल देखने के लिए मिलता है, जो बांध के पानी के बहाव के कारण बनता है। यह वाटरफॉल बहुत ही आकर्षक लगता है। 

शाम के समय यहां सूर्यास्त का दृश्य भी देखने लायक रहता है। यह जगह जामताड़ा जिले के पास घूमने वाली जगह है और आप यहां पर आ कर इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर बहुत सारे ऐसे साधन है, जिनमें आप एन्जॉय कर सकते हैं। यहां पर कल्याणेश्वरी देवी का मंदिर भी बना हुआ है। 


अजय बैराज जामताड़ा - Ajay Barrage Jamtara

अजय बैराज जामताड़ा के पास घूमने के लिए एक मुख्य जगह है। अजय बैराज जामताड़ा में सकटिया में स्थित है। यह बैराज अजय नदी पर बना हुआ है और बहुत सुंदर है। यहां पर अजय नदी के दोनों तरफ आपको रेत का किनारा देखने के लिए मिलता है, जहां पर आप जाकर इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर पानी बहुत छिछला है, जिसमें आप यहां पर स्नान भी कर सकते हैं। यहां के लोकल लोग नदी में आराम से घूमते रहते हैं और मछलियां पकड़ते हैं। बरसात के समय जब बाढ़ वाली स्थिति होती है। तब यहां पर जाकर आप नदी के अंदर ना जाए। नदी को दूर से ही देखें। यहां पर सिंचाई के लिए भी नहर निकाली गई है। 


मसानजोर डैम - Masanjor Dam

मसानजोर डैम जामताड़ा जिले के पास घूमने के लिए एक प्रमुख जगह है। यह डैम मयूराक्षी नदी पर बना हुआ है। यह डैम बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है। यह डैम पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां पर आप आकर आनंद का अनुभव कर सकते हैं। यह डैम जामताड़ा से करीब 80 किलोमीटर दूर होगा। इस डैम को कनाडा डैम के नाम से भी जाना जाता है। यह एक बहुउद्देश्यीय बांध है। 

यह बांध दुमका शहर से 31 किलोमीटर दूर है। यहां पर बिजली उत्पादन भी किया जाता है। यहां पर 22 मेगावाट की बिजली उत्पादित की जाती है। इस बांध में घूमने के लिए सबसे अच्छे समय बरसात का रहता है, क्योंकि बरसात के समय बांध का पानी ओवरफ्लो होकर बहता है, जिसका दृश्य देखने लायक रहता है। यहां पर डैम के गेट खोले जाते हैं, जिससे अपार जल राशि बहती है, जो बहुत ही जबरदस्त दिखती है। बांध के चारों तरफ पहाड़ियां देखने के लिए मिलती हैं। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। 


गरदुआरा डैम जामताड़ा - Garduara Dam Jamtara

गर्दुआरा बांध जामताड़ा के पास घूमने के लिए मुख्य स्थल है। यह गर्दुआरा गांव के पास स्थित है। यह बांध बहुत ही सुंदर है और पहाड़ों से घिरा हुआ है। यहां पर आप आकर प्राकृतिक सुंदरता का आनंद ले सकते हैं। बरसात में यह जगह और भी आकर्षक हो जाती है, क्योंकि बरसात में यह जगह चारों तरफ हरियाली से घिर जाती है। यहां पर आकर आप पिकनिक बना सकते हैं। यह जगह बहुत सुंदर है। 


झरना पहाड़ जामताड़ा - Jharna Pahar Jamtara

झरना पहाड़ जामताड़ा के पास घूमने की जगह है। यह दुमका जिले में मसालिया गांव के पास स्थित है। यहां पर जंगल के बीच में एक सुंदर झरना देखने के लिए मिलता है। यहां पर जंगल के बीच में एक छोटा सा डैम बना दिया गया है। इस डैम में बरसात का पानी एकत्र होता है और जब यह बरसात का पानी इकट्ठा होकर बहता है। तब यहां का नजारा देखने लायक रहता है। यह बांध बहुत ही सुंदर लगता है और यहां पर बरसात के समय बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। बरसात के समय यहां पर चारों तरफ हरियाली वाला नजारा रहता है। आप  यहां पर जाकर इंजॉय कर सकते हैं। 



जमशेदपुर पर्यटन स्थल
लोहरदगा पर्यटन स्थल
रामगढ़ पर्यटन स्थल
गुमला पर्यटन स्थल
गोड्डा पर्यटन स्थल

टिप्पणियाँ

a

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रामघाट चित्रकूट के पास धर्मशाला - Dharamshala near Ramghat Chitrakoot

चित्रकूट में धर्मशाला - Dharamshala in Chitrakoot /  रामघाट के पास धर्मशाला /  चित्रकूट में ठहरने की जगह रामघाट चित्रकूट में एक प्रसिद्ध जगह है। चित्रकूट में बहुत सारी धर्मशालाएं हैं। मगर चित्रकूट में रामघाट के पास जो धर्मशालाएं हैं। वहां पर समय बिताने में बहुत अच्छा लगता है। उन्हीं में से एक धर्मशाला में हम लोगों ने समय बिताया और हमें अच्छा लगा।  राम घाट के किनारे पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बहुत सारी धर्मशालाएं भी है, जहां पर आप रुक सकते हैं। हम लोग भी राम घाट के किनारे पर इन्हीं धर्मशाला में रुके थे। धर्मशाला का किराया बहुत ही कम रहा। हमारा एक कमरे का किराया 250 था। जिसमें बाथरूम अटैच नहीं थी। अगर आप बाथरूम अटैच कमरा लेना चाहते हैं, तो उसका किराया यहां पर 400 था। हम जिस धर्मशाला में रुके थे। वह धर्मशाला मंदाकिनी आरती स्थल के सामने ही थी, जिससे हमें मंदाकिनी नदी का खूबसूरत नजारा भी देखने का आनंद मिल ही रहा था।  रामघाट के दोनों तरफ बहुत सारी धर्मशाला है, जिनमें आप जाकर रुक सकते हैं।  हम लोगों का रामघाट के किनारे पर बनी धर्मशाला में रुकने का

मैहर पर्यटन स्थल - Maihar Tourist place | Places to visit in maihar

मैहर के दर्शनीय स्थल - Maihar tourist place in hindi | Maihar tourist places list |  मैहर शारदा देवी मंदिर मैहर में घूमने की जगह  Maihar me ghumne ki jagah मैहर का शारदा मंदिर - M aihar ka sharda mandir मैहर में सबसे प्रसिद्ध शारदा माता जी का मंदिर है। शारदा माता जी का मंदिर पूरे देश में प्रसिद्ध है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए पूरे देश से भक्तगण आते हैं। मंदिर में विशेष कर नवरात्रि के समय बहुत भीड़ रहती है। यहां पर इस टाइम पर मेला भी भरता है। वैसे मंदिर में आप साल के किसी भी समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर हमेशा ही मेले जैसा ही माहौल रहता है। मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। मंदिर पर आप रोपवे की मदद से भी पहुंच सकते हैं। मंदिर में आपको शारदा माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के परिसर में और भी देवी देवता विराजमान हैं, जिनके आप दर्शन कर सकते हैं। मंदिर से मैहर के चारों तरफ का दृश्य आपको देखने के लिए मिलता है। खूबसूरत पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं। आपको मंदिर आकर बहुत अच्छा लगेगा।  नीलकंठ मंदिर और आश्रम मैहर -  Neelkanth Temple

कटनी दर्शनीय स्थल | Katni tourist place in hindi | Tourist places near Katni

कटनी में घूमने वाली जगह | Katni paryatan sthal | Places to visit near Katni |  कटनी जिले के पर्यटन स्थल |  कटनी जिले के दर्शनीय स्थल कटनी जिले के बारे में जानकारी Information about Katni district कटनी मध्य प्रदेश का एक जिला है। कटनी जिलें को मुडवारा के नाम से भी जाना जाता है। कटनी का संभागीय मुख्यालय जबलपुर है। 28 मई 1998 को कटनी को जिलें के रूप में घोषित किया गया है। कटनी में कटनी नदी बहती है, जो पीने के पानी का मुख्य स्त्रोत है। कटनी जिलें में मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। कटनी रेल्वे जंक्शन में 6 प्लेटफार्म है। यहां पर हमेशा भीड रहती है। कटनी की 8 तहसील कटनी शहर, कटनी ग्रामीण, रीठी, बड़वारा, बहोरीबंद, विजयराघवगढ, ढीमरखेड़ा, बरही है। कटनी जिले की सीमाएं उमरिया, जबलपुर , दमोह, पन्ना, और सतना जिले की सीमाओं को छूती हैं। कटनी जिले में बहुत सारी ऐतिहासिक और प्राकृतिक जगह है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं।  Katni places to visit कटनी में घूमने की जगहें जागृति पार्क - Jagriti Park Katni जागृति पार्क कटनी शहर का एक दर्शनीय स्थल है।