सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास झरने

Waterfalls Near Jabalpur City

जबलपुर जिला के आसपास के झरने


जबलपुर मध्य प्रदेश राज्य का एक जिला है। जबलपुर को संस्कारधानी के नाम से भी जाना जाता है। जबलपुर में बहुत सारे दर्शनीय स्थल है। आज के लेख में मैं आपको जबलपुर जिले के झरनों के बारे में बताऊंगी। जबलपुर जिले में बहुत सारे झरने हैं। जहां पर आप जाकर घूम सकते हैं और अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। चलिए जानते हैं जबलपुर जिले के झरनों के बारे में

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने

Bagdari Falls 


 जबलपुर के आसपास  झरने (Waterfalls Near Jabalpur)

1. धुआंधार जलप्रपात - Dhuandhar Falls (Bhedaghat)

धुआंधार जलप्रपात (Dhuandhar Fallsजबलपुर में स्थित है। यह जलप्रपात पूरे देश में प्रसिद्ध है। यह जबलपुर शहर की शान है। यह पर आप अपना अच्छा टाइम बिता सकते है यह जलप्रपात जबलपुर मुख्य शहर से लगभग 25 किमी की दूरी पर भेडाघाट में स्थित है। यह झरना नर्मदा नदी पर बना है। यह पर नर्मदा नदी 30 फीट उची चटटानों से नीचे गिरती है। यह बहुत ही खूबसूरत दिखाता है। यह पर आपको संगमरमर की चटटानें देखने मिलती है। इन संगमरमर के चटटानों के बीच से नर्मदा नदी बहती है। यह पर जलप्रपात देखने के अलावा आप शापिंग भी कर सकते है। यह पर आपको बहुत सारी दुकान देखने मिल जाएगी। यह पर रोपवे की भी सुविधा है। रोपवे से आप धुआधार का खूबसूरत नजारा देख सकते है। आप यह पर नर्मदा नदी मे बोटिग भी कर सकते है और सगमरमर की वदियों का मजा ले सकते है। इस जलप्रपात का मजा आप पूरे साल ले सकते है।

धुआंधार जलप्रपात (Dhuandhar Falls) से करीब 1 से डेढ किमी की दूरी पर चौसठ योगिनी मंदिर (Chausath Yogini Temple) स्थित है। यहां पर आप प्राचीन समय के चौसठ योगिनी मंदिर (Chausath Yogini Temple) के भी दर्शन कर सकते हैं। चौसठ योगिनी मंदिर (Chausath Yogini Temple) में आपको 64 मूर्तियां देखने के लिए मिल जाती है, जो खंडित अवस्था में है। यहां पर मंदिर के बीच में शिव भगवान जी का मंदिर बना हुआ है। जो प्राचीन समय का है जिस में शिव जी की पत्थर की मूर्ति विद्यमान है।

पचमट्ठा मंदिर धुआंधार जलप्रपात से करीब 2 से ढाई किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर पैदल भी जा सकते हैं। इस मंदिर में पांच मंदिर बने हुए हैं जिनमें शिव शिवलिंग स्थापित है।

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने

Dhuandhar Fall
s


2. घुघरा जलप्रपात - Ghughra Falls

घुघरा जलप्रपात (Ghughra Falls) नर्मदा नदी पर बना है। यह बहुत खूबसूरत एवं शांत जगह है। घुघरा जलप्रपात (Ghughra Falls) एक छोटा सा मगर बहुत खूबसूरत जलप्रपात है। यह पर आपको नर्मदा नदी का बहुत ही खूबसूरत नजरा देखने मिलता है। यह पर आप अपनी गाडी सीधे जलप्रपात के पास तक लेके जा सकते है। यह पर पानी का बहाव बहुत तेज है। यह पर ज्यादा भीड नही होती है या कहा जाए तो बिल्कुल भीड ही नहीं रहती है। तो यह पर आप अपना अच्छा समय बिता सकते है यह पर आप अपनी फैमिली और फेडस के साथ आ सकते है। यह झरना जबलपुर से करीब 20 किमी की दूरी पर स्थित होगा। यह पर आप अपने वाहन से जा सकते है। यह जलप्रपात धुआधार से लगभग 5 से 6 किमी की दूरी पर होगा। यह पर ज्यादा शाॅप नहीं है केवल एक ही शाॅप है इसलिए आप ज्यादा समय के लिए जा रहे तो अपने लिए खाना और पानी लेकर जाए। 

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने

Ghughra Falls


3. भदाभदा जलप्रपात - Bhadbhada Falls

भदाभदा जलप्रपात (Bhadbhada Falls) गौर नदी पर बनता है। यह बहुत खूबसूरत जलप्रपात है। यह का दृश्य बहुत ही मनमोहक होता है। यह पर ज्यादा भीड नही रहती है इसलिए यह पर आप अपना अच्छा समय बिता सकते है। यह पर पानी का वहाव बहुत तेज होता है। यह पर आप अपने फैमिली और फेडस के साथ जाये । यह पर आपको बहुत सुंदर दृश्य दिखने मिलेगा। यह पर आप अपनी वाहन से असानी से पहुॅचा सकता है। यह पर बस या आटो नही चलती है। यह एक अच्छी जगह है। यह झरना आपको साल भर देखने नहीं मिलेगा यह गर्मी में पानी नही रहता है। इसका झरने का मजा आप बरसात और ठंड मे ले सकते है। यह झरना जबलपुर से 15 से 20 किमी की दूरी पर स्थित है। 

भदाभदा जलप्रपात (Bhadbhada Falls) से लगभग 5 से 6 किमी की दूरी पर जमतरा ब्रिज है। जहां से आपको नर्मदा मैया का खूबसूरत नजारा दिखेगा। यह पर गौर नदी आकर नर्मदा नदी से मिलती है आप वो भी देख सकते है। यह पर एक पुराना ब्रिज है जिसमें से पुराने समय में रेल निकलती थी। अब यहां से रेल नहीं निकलती है अब यहां पर आप घूमने जा सकते है। 

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने

Bhadbhada Falls

4. निदान जलप्रपात - Nidan Falls

निदान जलप्रपात (Nidan falls) बहुत खूबसूरत है। इस जगह की खूबसूरत की लाजाबाब है। निदान जलप्रपात  (Nidan falls) चारों तरफ खूबसूरत पहाडो से घिरा हुआ है। यह जबलपुर शहर 50 से 55 किमी की दूरी पर कंटगी पर स्थित है। आपको बरसात के समय मे कंटगी रोड से यह जलप्रपात दिखता है। यह पर आपको पर्किग चार्ज लगता है। आपको पार्किग चार्ज 20 रू लगता है। मै इस जलप्रपात 2019 में गई थी। हम लोग बरसात के मौसम में गए थे। आपको यह पर जाकर पर्किग स्थल से 1 किमी पैदल चलना पडता है। यहां चारों तरफ हरियाली और बहता हुआ पानी बहुत खूबसूरत लगता है। यह पर आप ग्रुप मे जाया क्योकि यहां पर जलप्रपात तक जाने के लिए जंगल वाला रास्ता पडता है इसलिए सेफटी का ध्यान जरूर दे। यह पर कुंड पर भी आप सेफटी का ध्यान दे क्योकि यह का कुंड गहरा है।  

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने


5. खंदारी जलप्रपात एवं जलाशय - Khandari Lake and Falls

खंदारी जलप्रपात (Khandari fall) जबलपुर शहर का एक मुख्य जलप्रपात है। इस जलप्रपात का मजा आपको बरसात में लेने मिलता है। यह पर एक छोटा सा जलप्रपात बनता है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। हम यहां पर 2019 में गए थे। यहां पर खंदारी जलाशय (Khandari Lake) है। साल 2019 में बरसात बहुत ज्यादा हुई थी जिससे खंदारी जलाशय (Khandari Lake) ओवरफलो हो गया था, जिसको देखने के लिए पूरे जबलपुर से लोग आये हुए थे। यह पर खंदारी जलाशय (Khandari Lake) के पास ही मे एक छोटी सा झरना बनता है जो बहुत खूबसूरत लगता है। आप यहां पर नहा भी सकते। यहां का आसपास का वातावरण बहुत अच्छा है। यह जबलपुर शहर से 10 से 12 किमी की दूरी पर स्थित है। यह पर आप अपने वाहन से जा सकते है।

6. बगदरी झरना - Bagdari Falls

बगदरी झरना (Bagdari falls) जबलपुर शहर से 50 से 55 किमी की दूरी पर है। बगदरी झरने (Bagdari falls) तक आप अपने वाहन से असानी से पहॅुच जायेगे। यह पर बहुत खूबसूरत झरना है। यहां पर आकर बहुत एजांय कर सकते है। यह पर खासकर लडके ही ज्यादा देखने मिलता है। आप यहां पर आकर खूबसूरत पहडियों का दृश्य देखने मिल जायेगा। यह पर आप अपने फैडस और फैमिली के साथ आ सकते है। यह पर पानी बरसात मे होता है गर्मी मे पानी नहीं रहता है। यहां पर आप एक बडी सी चटटान में बैठकर झरने का सुंदर व्यू देखने मिल जाएगा।

Waterfalls Near Jabalpur - जबलपुर के आसपास  झरने

Bagdari Waterfalls 


7. टेमर झरना - Temar Falls

टेमर झरना (Temar Falls) जबलपुर के बरगी बांध पास ही मे स्थित है। इस झरने तक आप अपनी गाडी से जा सकते है। यह झरना बहुत खूबसूरत है। आप यहां पर जाकर अच्छा समय बिता सकते है। यह जलप्रपात बरगी में काली जी विशाल मूर्ति के पास ही मे है। झरने तक जाने के लिए रोड कच्ची है। आप यहां पर अपने दोस्तों के साथ जा सकते है और एजांय कर सकते है। 

आपको अगर यह जानकारी अच्छी लगी हो। अपने इन झरनों में घूमा हो तो अपना अनुभव हमसे जरूर साझा करें और इस लेख को जरूर शेयर करें।

धन्यवाद अपना बहुमूल्य समय देने के लिए

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Beautiful ghat of Gwarighat in Jabalpur city || जबलपुर शहर के नर्मदा नदी का खूबसूरत घाट

Gwarighatग्वारीघाटग्वारीघाट(Gwarighat) एक ऐसी खूबसूरत जगह है जहां पर आपको नर्मदा नदी के अनेक  घाट एवं भाक्तिमय वातवरण देखने मिल जाएगा। ग्वारीघाट(Gwarighat)एक बहुत अच्छी जगह है गौरी घाट में घाटों की एक श्रंखला है। ग्वारीघाट(Gwarighat) में आके आपको बहुत शांती एवं सुकून मिलता है। आप यहां पर नर्मदा मैया के दर्शन कर सकते है, उन्हें प्रसाद चढा सकते है। ग्वारीघाट (Gwarighat) में सूर्यास्त का नजारा भी बहुत मस्त होता है। 



ग्वारीघाट (Gwarighat) की स्थिाति 
ग्वारीघाट (Gwarighat) जबलपुर जिले में स्थित है। जबलपुर जिला मध्य प्रदेश में स्थित है जबलपुर जिले को संस्कारधानी के नाम से भी जाना जाता है। जबलपुर से नर्मदा नदी बहती है। ग्वारीघाट (Gwarighat)नर्मदा नदी पर स्थित है। ग्वारीघाट एक अद्भुत जगह है, जिसके दर्शन करने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। ग्वारीघाट (Gwarighat)पहुंचने के लिए आप मेट्रो बस और ऑटो का प्रयोग कर सकते हैं। आपको ग्वारीघाट (Gwarighat) पहुंचने के लिए जबलपुर जिले के किसी भी हिस्से से बस या ऑटो की सर्विस मिल जाती है। ग्वारीघाट (Gwarighat)पर आप अपने वाहन से भी आ सकते हैं। 
आपको मेट्रो बस या …

Pachmarhi Chauragarh Temple || चौरागढ़ महादेव मंदिर, पचमढ़ी

Pachmarhi Chauragarh Shiv Templeचौरागढ़  महादेव पचमढ़ी
चौरागढ़(Chauragarh  Shiv Temple) का प्रसिद्ध मंदिर शिव मंदिर मध्य प्रदेश का प्रमुख पर्यटन स्थल है और यह पचमढ़ी में स्थित है। चैरागढ़ का मंदिर एक ऊंचे पहाड़ पर स्थित है यह मंदिर भगवान शिव जी को समर्पित है। चौरागढ़ (Chauragarh  Shiv Temple) महादेव पचमढ़ी(Pachmarhi) की एक खूबसूरत जगह है। यह जगह बहुत खूबसूरत है और जंगलों से घिरी हुई है। इस मंदिर तक जाने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि इस मंदिर तक पहॅुचने के लिए आपको पैदल चलना पड़ेगा और यह जगह पूरी तरह से जंगल और पहाड़ों से घिरी हुई है, यहां पर आपको बहुत खूबसूरत प्राकृतिक व्यू देखने मिलता है, यहां पर वादियों का मनोरम दृश्य देखने मिलता है। चौरागढ़ (Chauragarh  Shiv Temple) मंदिर 1326 मीटर की ऊंची पहाड़ी पर स्थित है और इस मंदिर तक पहुंचने के लिए आपको 1300 चढ़ने पड़ती है।

पचमढ़ी (Pachmarhi) को सतपुड़ा की रानी कहा जाता है और यहां पर बहुत सारी धार्मिक जगह है, जिनमें से प्राचीन शिव भगवान जी का मंदिर भी एक है,जिसके दर्शन करने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। यहां पर साल भर लोग दर्शन करने के लिए आत…

Narmada Gau Kumbh, Jabalpur || नर्मदा गौ कुंभ मेला, जबलपुर

Narmada Gau Kumbh, Jabalpur नर्मदा गौ कुंभ मेला, जबलपुरनर्मदा गौ कुंभ नर्मदा नदी के किनारे लगा हुआ है। नर्मदा कुंभ में देश के कोने-कोने से साधु-संत सम्मिलित हुए हैं। नर्मदा गौ कुंभ मेले में आपको बहुत सारी अनोखी चीजों के दर्शन करने मिल जाएंगे, नर्मदा गौ कुंभ का मेला कई सालों में आयोजित किया जाता है। इस बार यह कुंभ मेला फरवरी महीने की 23 तारीख से शुरू होकर 3 मार्च तक चला है। नर्मदा गौ कुंभ मेलें में शामिल होने के लिए दूर-दूर से लोग आए हैं।



नर्मदा गौ कुंभ मेले में अयोजन मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले में ग्वारीघाट के गीताधाम मंदिर के सामने वाले मैदान में किया गया था। इस मेले में बहुत से मंदिर बनाये गये थें जहां पर मूर्तियां की स्थापना की गई थी। यहां पर मां दुर्गा, श्री राम चन्द्र, माता नर्मदा जी का मंदिर बनाये गए थे। 
ग्वारीघाट के नर्मदा कुंभ में आपको साधु संतो के दर्शन करने मिलेंगे, और इस कुंभ के मेले में ग्वारीघाट के नर्मदा नदी के घाटों पर हजारों लोग श्रद्धा की डुबकी लगने देश के कोने से लोग आये हुए थे। नर्मदा गौ कुंभ का आयोजन का मुख्य उद्देश्य नर्मदा नदी को स्वच्छ बनाए रखना और गौ माता की रक्…