सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

भूमि आंवला या भुई आंवला (Bhumi Amla or Bhui Amla) के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी

भूमि आंवला (भुई आंवला) के पेड़ की जानकारी और भूमि आंवला (भुई आंवला) के फायदे Information about Bhoomi Amla (Bhui Amla) tree and Benefits of Bhoomi Amla (Bhui Amla) in hindi भूमि आंवला या भुई आंवला का वानस्पतिक नाम - फाइलेन्थस यूरिनेरिया भूमि आंवला या भुई आंवला का अंग्रेजी नाम - स्टोनब्रेकर, चेंबर बिटर, लीफ फ्लावर भूमि आंवला एक दिव्य औषधि पौधा है।  भूमि अमला  भारत भूमि में पाया जाने वाला एक मुख्य पौधा है। भूमि आंवला को भुई आंवला के नाम से भी जाना जाता है। भूमि आंवला का उपयोग हमारे शरीर के बहुत सारे रोगों को ठीक करने के लिए किया जाता है। भूमि आंवला का नाम बहुत ही अद्भुत है। भूमि आंवला का पेड़ छोटा सा होता है। भूमि आंवला की पत्तियां इमली की पत्तियों या आंवला की पत्ती के समान रहती हैं। भूमि आंवला की पत्तियों के नीचे छोटे छोटे गोल आकार के फल लगते हैं। प्रारंभिक अवस्था में फल हरे कलर के रहते हैं। पकने के बाद, यह फल काले और लाल हो जाते हैं।  भूमि आंवला का स्वाद कसैला और हल्का सा मीठा रहता है। इसकी पत्तियों और जड़ का प्रयोग कर सकते हैं। यह छोटा झाड़ी नुमा पौधा होता है। भूमि आंवला का पेड़ बरसात

जामुन के पेड़ (Jamun tree) के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी

जामुन के पेड़ की जानकारी और जामुन के फायदे  Jamun tree information and benefits of Jamun in hindi   जामुन का वानस्पतिक या वैज्ञानिक नाम - सिजीजियम क्यूमिनाइ जामुन का अंग्रेजी का नाम - ब्लैक प्लम, जम्बुल ट्री जामुन का पेड़ एक औषधीय पौधा है। जामुन के पौधे में काले कलर के फल लगते हैं, जो बहुत ही स्वादिष्ट रहते हैं। यह एक फल देने वाला पौधा है। यह फल चमकदार रहते हैं। यह फल खाने में बहुत स्वादिष्ट रहते हैं। इन फलों का स्वाद मीठा रहता है। जामुन को एक औषधीय पौधा माना जाता है। जामुन का पौधा संपूर्ण भारत भूमि में पाया जाता है। जामुन के पेड़ के सभी भागों का औषधीय रूप से उपयोग किया जाता है। जामुन का फल गर्मी में मिलता है। जामुन का पेड़ 15 से 25 फीट ऊंचा रहता है। यह पेड़ सदा हरा भरा रहता है। इस पेड़ में हरे रंग की पत्तियां देखने के लिए मिलती है।  जामुन की पत्तियां चिकनी रहती हैं। जामुन का तना खुरदुरा रहता है। जामुन के तने में एक मुख्य तना देखने के लिए मिलता है और शाखाएं देखने के लिए मिलती है। जामुन के पत्तों एवं इसकी शाखाओं के द्वारा, यह पौधा बहुत ज्यादा सघन रहता है, जिससे इस पौधे से छाया प्राप्त ह

अंजीर (Figs) के औषधीय गुण के बारे में जानकारी

  अंजीर का पेड़ और अंजीर के फायदे  Anjeer ka ped aur Anjeer ke fayde अंजीर का वैज्ञानिक नाम या वानस्पतिक नाम - फिकस कैरिका अंजीर को अंग्रेजी का नाम - फिग,  कॉमन फिग    अंजीर एक मुख्य फल है। अंजीर का फल सूखे मेवे की तरह इस्तेमाल किया जाता है। अंजीर को अंग्रेजी में फिग कहते हैं। अंजीर शहतूत परिवार का सदस्य माना जाता है। अंजीर का पेड़ गूलर के पेड़ के समान ही रहता है और इसका फल गूलर के फल के समान लगता है। मगर अंजीर और गूलर के पेड़ में बहुत अंतर रहता है। अंजीर का फल स्वाद में मीठा और रसदार रहता है। अंजीर का फल देखने में गूलर के फल के समान ही लगता है। अंजीर भारत में पाया जाने वाला एक मुख्य औषधीय पौधा है।  अंजीर का पौधा गर्म क्षेत्रों में बहुत तेजी से बड़ा होता है। अंजीर के पौधे की जड़ बहुत गहरी होती है। अंजीर का पौधा 9 से 10 मीटर ऊंचा होता है। अंजीर के पेड़ की छाल सफेद होती है। अंजीर पहाड़ी क्षेत्र में बहुत आसानी से उग जाता है। अगर आप अपने अंजीर का पौधा शोभा के लिए लगाते हैं, तो आपको इसकी ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं पड़ती है। क्योंकि अंजीर के पौधे में कीड़ों और अन्य कीट पतंगों का आक्रमण हो ज

नींबू के पौधे (Lemon Plant) के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी

  नींबू का पौधा के उपयोग एवं नींबू के पौधे की जानकारी Nimbu ke paudhe ki jankari aur Nimbu ke paudhe ke upyog नींबू का वानस्पतिक या वैज्ञानिक नाम - सिट्रस ऑरेन्टिफोलिया नींबू का अंग्रेजी नाम - लेमन, लाइम  नींबू को सभी लोग जानते हैं। नींबू बाजार में आराम से मिल जाता है। नींबू का उपयोग बहुत सारे व्यंजनों में किया जाता है। नींबू का प्रयोग हम डेली यूज़ में भी करते हैं। नींबू के बहुत सारे औषधीय उपयोग हैं। नींबू शरीर को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। गर्मियों में नींबू के बहुत सारे उपयोग किए जाते हैं। नींबू का शरबत, नींबू पानी, नींबू की शिकंजी बहुत सारे कामों में नींबू का प्रयोग किया जाता है, जिससे नींबू की खपत बढ़ जाती है और गर्मियों में नीबू महंगे हो जाते हैं। जैसे अभी बाजार में 15 रुपए का एक नीबू दिया जा रहा है। नींबू का स्वाद खट्टा रहता है। नींबू में एसिटिक एसिड रहता है, जो हमारे सेहत के लिए बहुत ही अच्छा रहता है। नींबू के प्रति दिन प्रयोग से हमारे बहुत सारे रोगों ठीक हो जाते है।  नींबू  का  पेड़ आपको अपने घर के आस-पास या गार्डन में देखने के लिए मिल जाएगा। नींबू की बढ़ती हु

गूलर का पेड़ (gular ka ped) के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी

  गूलर के वृक्ष ( उदुम्बर का पेड़ ) की जानकारी एवं गूलर के पेड़ के फायदे   Gular ke vriksh (udumbar ka ped) ki jankari aur gular ke ped ke fayde गूलर का वानस्पतिक या वैज्ञानिक नाम - फाइकस रेसमोसा  गूलर को अंग्रेजी में नाम - क्लस्टर फिग  गूलर का पेड़ भारत में पाया जाने वाला एक मुख्य पेड़ है। गूलर का  पौधा   एक औषधीय पौधा है। इस पौधे में बहुत सारे गुण रहते हैं, जो हमारे रोगों को दूर करते हैं। गूलर के पेड़ को उमर का पेड़, डूमर का पेड़ और देसी अंजीर के नाम से भी जाना जाता है। गूलर का पेड़ आपको जंगलों में आसानी से देखने के लिए मिल जाता है। गूलर का पेड़ नदी, नालों के किनारे भी आसानी से देखा जा सकता है। गूलर के पेड़ के फल बहुत ही आकर्षक लगते हैं, क्योंकि इसके फल ही इसकी विशेषता है। इसके फल इसके तने में डायरेक्ट लगे होते हैं। गूलर के फूल की आपने बहुत सारी कहानी सुनी होगी।  गूलर के फूल के बारे में यह कहा जाता है, कि अगर किसी ने भी गूलर का फूल देख लिया, तो वह बहुत भाग्यशाली होता है। मगर इसके फूल देखना बहुत मुश्किल होता है। गूलर का झाड़ देखने में काफी बड़ा होता है और विशाल होता है। इसके पेड़ की ऊं

बरगद का पेड़ (Banyan tree) के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी

  बरगद का पेड़ ( वट वृक्ष) की जानकारी एवं बरगद के फायदे Bargad ka vriksh ya vat vriksh ki jankari aur bargad ke fayde  बरगद के पेड़ का वैज्ञानिक या वानस्पतिक नाम - फाइकस् बेंगालेन्सिस् बरगद के पेड़ का अंग्रेजी में नाम - बनयान ट्री बरगद का वृक्ष भारत में पाया जाने वाला एक मुख्य पेड़ है। बरगद एक औषधीय पौधा है। बरगद के पेड़ में बहुत सारे औषधीय गुण विद्यमान रहते हैं, जो रोगों से हमारी रक्षा करते हैं। बरगद का पौधा हमारे लिए पूजनीय है। बहुत सारे लोग बरगद की पूजा करते हैं। बरगद के पेड़ को बड वृक्ष एवं वट वृक्ष के नाम से भी जाना जाता है। बरगद का पेड़ आपने अपने घर के आस-पास जरूर देखा होगा। बरगद का पेड़ बहुत सुंदर रहता है। बरगद का पेड़ बहुत विशाल रहता है। बरगद के पेड़ में बहुत सारे पंछी एवं जीव जंतु अपना घर बनाते हैं। दुनिया का विशाल बरगद का पेड़ हमारे देश में ही लगाया गया है। भारत भूमि में बरगद का सबसे बड़ा पेड़ स्थित है।  महिलाएं वट सावित्री की पूजा करती हैं। महिलाएं उपवास रहती हैं और बरगद के पेड़ की पूजा की जाती है। बरगद का पेड़ पूजनीय माना जाता है और बरगद के पेड़ को आपने मंदिर परिसर में जरूर