सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

आप हमारी मदद करना चाहते हैं, तो नीचे दिए लिंक से शॉपिंग कीजिए।

कोरिया जिला के पर्यटन स्थल - Koriya tourist places

कोरिया जिला के दर्शनीय स्थल - P laces to visit in  Koriya /  कोरिया जिले के आसपास घूमने वाली जगह /  कोरिया जिला आकर्षक स्थल कोरिया छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। कोरिया छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की सीमा पर स्थित है। कोरिया जिले का निर्माण छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश का जब विभाजन नहीं हुआ था। तब ही कोरिया जिले का निर्माण हो गया था। कोरिया जिले का निर्माण 25 मई 1998 को हुआ था। यह एक नए जिले के रूप में अस्तित्व में आया था। सन 2000 में छत्तीसगढ़ के विभाजन के बाद कोरिया जिला छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला बन गया। कोरिया जिले की मुख्य नदी हसदेव नदी है।कोरिया जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं, कोरिया जिले में घूमने वाली कौन कौन सी है।  कोरिया में घूमने की जगह Koriya mein ghumne ki jagah गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान -  Guru Ghasidas National Park गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह छत्तीसगढ़ में कोरिया जिले में स्थित है। यहां पर आपको विभिन्न तरह के पक्षी और पेड़ पौधों की प्रजातियां देखने के लिए मिल जाती है। यह अभ्यारण मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ क

सरगुजा जिला का पर्यटन स्थल - Surguja Tourist Place

सरगुजा (अंबिकापुर) जिले के दर्शनीय स्थल - P laces to visit in  Surguja /  सरगुजा (अंबिकापुर) के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह सरगुजा छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। सरगुजा का मुख्यालय अंबिकापुर है। सरगुजा का मैनपाट छत्तीसगढ़ का शिमला कहा जाता है। सरगुजा मे रिहंद और कान्हार नदी बहती है। सरगुजा छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से 335 किलोमीटर दूर है। सरगुजा में घूमने के लिए बहुत सारी जगह मौजूद है। चलिए जानते हैं, सरगुजा में घूमने वाली जगह के बारे में - सरगुजा में घूमने की जगह  Sarguja me ghumne ki jagah मैनपाट सरगुजा -  Mainpat Surguja मैनपाट सरगुजा जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। मैनपाट को छत्तीसगढ़ का शिमला कहा जाता है। यह पूरा पहाड़ी एरिया में स्थित है। यहां पर घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। मैनपाट सरगुजा के मुख्यालय अंबिकापुर से करीब 75 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह विंध्य पर्वतमाला पर स्थित है। मैनपाट की समुद्र तल से ऊंचाई 3781 फीट है। मैनपाट प्राकृतिक सुंदरता से भरा हुआ है। मैनपाट को छत्तीसगढ़ का तिब्बत भी कहा जाता है, क्योंकि यहां पर आप तिब्बती लोगों का बौद्ध मंदिर देख सकते हैं, जो बह

राजनांदगांव जिले के पर्यटन स्थल - Rajnandgaon Tourist Place

राजनांदगांव जिले के दर्शनीय स्थल - P laces to visit in Rajnandgaon /  राजनांदगांव जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह /  राजनांदगांव पर्यटन राजनांदगांव छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। राजनांदगांव छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से करीब 75 किलोमीटर दूर है। राजनांदगांव छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा पर स्थित है।  राजनांदगांव दुर्ग जिले का एक हिस्सा हुआ करता था। इसे 26 जनवरी 1973 को एक अलग करके नया जिला बनाया गया। राजनांदगांव जिला मे घूमने के लिए बहुत सारी जगह आपको देखने के लिए मिल जाती है। चलिए जानते हैं राजनांदगांव में कौन-कौन सी जगह घूमने के लिए है।  राजनांदगांव में घूमने की जगह Rajnandgaon me ghumne ki jagah मां बमलेश्वरी मंदिर राजनांदगांव -  Maa Bamleshwari Temple Rajnandgaon मां बमलेश्वरी मंदिर राजनांदगांव जिले का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर पूरे भारत देश  में  प्रसिद्ध है। डोंगरगढ़ राजनांदगांव का एक प्रमुख नगर है और डोंगरगढ़ मां बम्लेश्वरी मंदिर के कारण ही प्रसिद्ध है। यहां पर आसपास के शहरों से बहुत सारे लोग मां बमलेश्वरी के दर्शन करने के लिए आते हैं। डोंगरगढ़ में बहुत सारी जगह है,

जशपुर जिले के पर्यटन स्थल - Jashpur Tourist Place

जशपुर जिले के दर्शनीय स्थल - P laces to visit in Jashpur district /  जशपुर के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह /  जशपुर पर्यटन जशपुर छत्तीसगढ़ का एक मुख्य जिला है। जशपुर पहाड़ों और जंगलों से घिरा हुआ है। इसका मुख्यालय जशपुर नगर है। जशपुर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से करीब 450  किलोमीटर दूर है। जशपुर सड़क माध्यम से सभी जिलों से अच्छी तरह से जुड़ा जुड़ा हुआ है। जशपुर उड़ीसा और झारखंड राज्य की सीमा पर स्थित है। यहां पर आपको घूमने के लिए बहुत सारी जगह मिल जाती है। जशपुर में घूमने के लिए बहुत सारी जगह मौजूद है, चलिए जानते हैं, जशपुर में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है।  जशपुर में घूमने की जगह Jashapur mein ghumne ki jagah   बादलखोल वन्यजीव अभ्यारण जशपुर -  Badalkhol Wildlife Sanctuary Jashpur बादलखोल वन्य जीव अभ्यारण जशपुर शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। इस अभ्यारण में आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको हिरण, चिंकारा, नीलगाय, सांभर,  चौ सिंगा, जंगली भालू, जंगली कुत्ते और भी बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आपको पौधों की विभिन्न तरह की प्रजातिय

बालोद जिले के पर्यटन स्थल - Balod Tourist Places

बालोद जिले के दर्शनीय स्थल - P laces to visit in Balod /  बालोद के आस पास घूमने वाली जगह /  बालोद पर्यटन बालोद छत्तीसगढ़ का एक प्रमुख जिला है। बालोद तांदुला नदी के किनारे स्थित है।  बालोद जिले का निर्माण 1 जनवरी 2012 को हुआ था।  1 जनवरी 2012 को इसे जिले का दर्जा हासिल हुआ। इसके पहले यह दुर्ग जिले का एक भाग हुआ करता था। बालोद जिला पहाड़ों और जंगलों से घिरा हुआ है। आपको यहां देखने के लिए बहुत सारी जगह मिलती है। चलिए जानते हैं बालोद शहर में कौन-कौन सी जगह घूमने लायक है।  बालोद में घूमने की जगह Balod me ghumne ki jagah   तांदुला जलाशय बालोद -  Tandula Reservoir Balod तांदुला बांध बालोद शहर का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह जलाशय बहुत सुंदर है। यहां पर दो जलाशय हैं - एक तांदुला जलाशय एक सूखा जलाशय। दोनों जलाशय बहुत सुंदर है। दोनों जलाशय एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। यहां पर आपको बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह जलाशय बालोद शहर से 5 किलोमीटर दूर स्थित है।  तांदुला जलाशय  तांदुला  एवं सूखा नदी पर बने हुए हैं। यह जलाशय 1912 में बनाया गया था। यह मुख्य तौर पर सिंचाई के लिए बनाया गया है। मगर

दुर्ग जिले के पर्यटन स्थल - Durg Tourist Places

दुर्ग ( भिलाई) के दर्शनीय स्थल - Places to visit in Durg / दुर्ग (भिलाई) जिले के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगह  दुर्ग छत्तीसगढ़ का एक प्रमुख जिला है। दुर्ग जिला एक मुख्य औद्योगिक शहर है। यहां पर भिलाई इस्पात संयंत्र स्थापित है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से 50 किलोमीटर दूर है। दुर्ग जिले में शिवनाथ नदी और खारून नदी बहती है। दुर्ग जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है। चलिए जानते हैं दुर्ग जिले में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है।  दुर्ग में घूमने की जगह / भिलाई में घूमने की जगह Durg me ghumne ki jagah / Bhilai me ghumne ki jagah मैत्री बाग चिड़ियाघर दुर्ग - Maitri Bagh Zoo Durg  मैत्री बाग चिड़ियाघर दुर्ग जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल है। यह छत्तीसगढ़ का सबसे पुराना और सबसे बड़ा चिड़ियाघर है। मैत्री बाग चिड़ियाघर भिलाई में स्थित है। यह भिलाई शहर का मुख्य स्थल है। यहां पर आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर देशी और विदेशी प्रजाति के जंगली जानवर रखे गए हैं। यहां पर आप जंगली जानवर को देखने के अलावा मिनी ट्रेन का भी मजा ले सकते हैं। यहां पर म्यूजिकल फाउंटेन हैं, जो