सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

जगत सागर तालाब - Jagat Sagar Talab and Bihari ju Temple Chhatarpur

जगत सागर तालाब  और  बिहारी जू मंदिर मऊ सहानिया छतरपुर -  Jagat Sagar Talab and Bihari Zoo Temple Mau Sahania Chhatarpur जगत सागर तालाब मऊ सहानिया का एक प्रसिद्ध स्थल है। यह एक बहुत बड़ा तालाब है। यह तालाब बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। इस तालाब के किनारे बहुत सारे प्राचीन मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। यह तालाब बरसात में पूरा भर जाता है और जो मंदिर के तालाब के किनारे बने हुए हैं। वह डूब जाते हैं। गर्मी के समय इस तालाब के किनारे खेती करने लगते हैं। बहुत सारे लोग यहां पर तरह-तरह की फसल उगाते हैं। यह तालाब मऊ सहानिया का एक प्राचीन स्थल है और आप जब भी छतरपुर में मऊ सहानिया घूमने के लिए जाते हैं, तो जगत सागर तालाब और इसके आसपास स्थित प्राचीन मंदिरों में भी घूमने के लिए जा सकते हैं।  हम लोग जगत सागर तालाब के किनारे स्थित शनि धाम मंदिर में घूम कर जगत सागर तालाब के दूसरे तरफ स्थित मंदिर में घूमने के लिए गए। जगत सागर तालाब के दूसरे किनारे पर आपको बिहारी जू मंदिर देखने के लिए मिलेगा। जब हम लोग बिहारी जू  मंदिर गए थे। तब यह मंदिर बंद था। इस मंदिर में ताला लगा था। बिहारी जू मंदिर बहुत प्राची

शनि मंदिर मऊ सहानिया छतरपुर - Shani Temple Mau Sahania Chhatarpur

श्री शनि धाम मऊ सहानिया छतरपुर -  Shani Dham Mau Sahania Chhatarpur शनि मंदिर मऊ सहानिया में स्थित छतरपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। शनिधाम मंदिर छतरपुर में बहुत प्रसिद्ध है। शनि मंदिर जगत सागर तालाब में स्थित है। गर्मी के समय जगत सागर तालाब का पानी नीचे चला जाता है, तो आप शनि मंदिर में आराम से जा सकते हैं। मगर बरसात के समय जगत सागर तालाब का पानी शनि मंदिर तक आ जाता है और मंदिर भी डूब जाता है। तब आप इस मंदिर में नहीं आ सकते हैं। वैसे पानी कम रहता है, तो यहां पर आया जा सकता है। यहां पर आपको शनि भगवान जी की सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर 9 देवताओं की भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको 9 तरह की जड़ी बूटियों के पौधे भी देखने के लिए मिल जाएंगे। यह जगह बहुत अच्छी है।  हम लोग शनि मंदिर में अपनी गाड़ी से गए थे। शनि मंदिर मऊ  सहानिया  में बहुत प्रसिद्ध है। आप मुख्य हाईवे सड़क से ही गुजरते हैं, तो आपको इस मंदिर का बोर्ड देखने के लिए मिल जाता है। आप बोर्ड से मंदिर की तरफ मुड़ जाइए और मंदिर में पहुंच जाएंगे। इस मंदिर का रास्ता जो है। वह तालाब के बीच से बना हुआ है। यह ब

महाराजा हृदय शाह का महल छतरपुर - Maharaja Hriday Shah ka Mahal Chhatarpur

महाराजा हृदय शाह का महल  मऊ सहानिया  छतरपुर -  Maharaja Hriday Shah's Palace Mau Sahania Chhatarpur महाराजा हृदय शाह का महल छतरपुर में स्थित एक प्रसिद्ध स्मारक है। यह एक प्राचीन इमारत है। यह महल यहां पर खंडहर अवस्था में देखने के लिए मिलता है। यह महल पहाड़ी पर बना हुआ है। इस महल में जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। महाराजा हृदय शाह महाराजा छत्रसाल के पुत्र थे और उन्होंने बहुत सारे निर्माण किए हैं। आपको पन्ना जिले में भी महाराजा हृदय शाह के बहुत सारे निर्माण देखने के लिए मिल जाते हैं। राजा हृदय शाह का महल छत्रसाल संग्रहालय के पास में ही बना हुआ है। राजा हृदय शाह महल दूर से यह देखने के लिए मिल जाता है।  हम लोग जगत सागर तालाब घूमने के बाद और जगत सागर तालाब के किनारे जितने भी मंदिर बने हुए हैं। वह मंदिर घूमने के बाद महाराजा छत्रसाल के म्यूजियम में घूमने के लिए आए। मगर हम लोग सुबह बहुत जल्दी ही इस म्यूजियम में घूमने के लिए आ गए थे। इसलिए यह म्यूजियम बंद था। यह म्यूजियम 10 बजे के बाद खुलता है, तो हम लोग म्यूजियम के बाहर खड़े थे, तो हमें दूर से ही राजा हृदय शाह का महल देखने के लिए मिला। ह

कालिंजर का किला मध्य प्रदेश - Kalinjar ka kila Madhya Pradesh

कालिंजर किला के बारे में जानकारी -  Kalinjar kila ki Jankari कालिंजर का किला मध्य प्रदेश का एक प्रसिद्ध किला है। कालिंजर का किला बांदा जिले के अंतर्गत आता है। कालिंजर का किला विंध्याचल की पहाड़ियों पर स्थित है। यह किला एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। इस किले में जाने का जो रास्ता है। वह भी बहुत सुंदर है। यह रास्ता घुमावदार है और किले में जाते समय बहुत मजा आता है। आपको कालिंजर किले से पूरे कालिंजर का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलेगा। यह किला ग्रामीण इलाके में स्थित है। कालिंजर किले से आपको दूर दूर तक सुंदर पहाड़ और मैदानों का दृश्य देखने के लिए मिल जाता है। कालिंजर किले के अंदर देखने के लिए बहुत सारी जगह है। किले के अंदर प्राचीन किले, मंदिर, मस्जिद, कब्र, जलाशय, संग्रहालय देखने के लिए मिल जाता है।  कालिंजर का किला घूमने के लिए सबसे पहले कालिंजर पहुंचना पड़ता है। कालिंजर तक पहुंचने के लिए सड़क माध्यम उपलब्ध है। आप सड़क के द्वारा इस किले में आराम से पहुंच सकते हैं। आप कालिंजर चित्रकूट से आ सकते हैं और पन्ना से भी आप कालिंजर किले में आ सकते हैं। हम लोग कालिंजर किले में खजुराहो पन्ना रोड से

अजयगढ़ पन्ना - Ajaygarh Panna

अजयगढ़ का जंगल और अजयगढ़ की घाटी -  Ajaygarh forest and Ajaygarh valley अजयगढ़ पन्ना जिले के पास स्थित एक सुंदर नगर है। अजयगढ़ में अजयगढ़ का किला और अजयगढ़ का जंगल बहुत फेमस है। अजयगढ़ पन्ना जिले से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।  पन्ना से अजयगढ़ का रास्ता बहुत अच्छा है।  अजयगढ़ जाने के लिए पन्ना शहर से आपको अच्छी सड़क मिलती है। हम लोग भी इस सड़क से गए हैं। हम लोग इस सड़क से कालिंजर किले में घूमने के लिए गए हैं। अजयगढ़ का जंगल बहुत ही सुंदर है। यह जंगल महुआ के पेड़ों से भरा हुआ है। अजयगढ़ के जंगल में आपको बहुत सारे महुआ के पेड़ देखने के लिए मिल जाते हैं। हम लोग यहां पर गर्मी के समय गए थे। इसलिए गर्मी के समय में महुआ के जो फूल हैं, वह गिरते हैं।  कालिंजर का किला पन्ना जिले से 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। हम लोग कालिंजर के किले में घूमने के लिए अजयगढ़ के जंगल के रास्ते से होते हुए गए थे। यह जो रास्ता है, पूरा रास्ता जंगल से भरा हुआ है। यहां पर दोनों तरफ आपको सुंदर-सुंदर पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। अगर आप लकी रहेंगे, तो आपको जंगली जानवर भी देखने के लिए मिल सकते हैं। यहां पर हम लो

बलदेव जी मंदिर पन्ना - Baldeoji Temple Panna

बलदेव जी मंदिर पन्ना मध्य प्रदेश -  Baldev Ji Mandir Panna Madhya Pradesh बलदेव जी मंदिर पन्ना शहर का प्रसिद्ध मंदिर है। बलदेव जी श्री कृष्ण जी के बड़े भाई थे और यह मंदिर श्री कृष्ण जी के बड़े भाई बलदेव जी को समर्पित है। यह मंदिर एक अलग ही तरह के मंदिर है। यह मंदिर हिंदू धर्म में बनाए जाने वाले मंदिरों से अलग है। यह मंदिर जो है, वह रोमन कैथोलिक स्टाइल में बना हुआ है और देखने में यह किसी चर्च के समान लगता है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर एक ऊंचे मंडप पर बना हुआ है। मंदिर में शालिग्राम के बने हुए बलदेव जी की प्रतिमा विराजमान है। मंदिर के अंदर जाएंगे, तो आपको बलदेव जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलेगी। यहां पर ऊंचे ऊंचे पिलर देखने के लिए मिलते हैं, जो सुंदर लगते हैं। यहां पर आपको झूमर देखने के लिए मिलते हैं। झूमर से मंदिर को सजाया गया है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और एक अलग ही प्रकार का मंदिर है।  पन्ना के बलदेव मंदिर के दर्शन -  Visit of Baldev Temple Panna हम लोग बलदेव मंदिर घूमने के लिए अपनी स्कूटी से गए थे।  बलदेव मंदिर पन्ना जिले में छत्रसाल पार्क के पास ही में स्थित है। छत्

नीलकंठ महादेव मंदिर कलिंजर - Neelkanth Temple Kalinjar

नीलकंठ मंदिर कालिंजर किला बांदा -  Neelkanth Temple Kalinjar Fort Banda नीलकंठ मंदिर कालिंजर किले का एक प्रसिद्ध स्थल है। यह एक प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर के गर्भ गृह में आपको शिव भगवान जी के एकमुखी शिवलिंग देखने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर अद्भुत है और मंदिर में पर पत्थर पर की गई कलाकारी भी अविस्मरणीय है। कालिंजर का किला एक प्रसिद्ध किला है। इस किले के पश्चिमी तरफ शिव जी का यह प्रसिद्ध मंदिर स्थित है। इस मंदिर को नीलकंठ मंदिर नाम से जाना जाता है। नीलकंठ मंदिर बहुत सुंदर है। नीलकंठ मंदिर में शिव जी के शिवलिंग के अलावा, भी यहां पर आपको बहुत सारी प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है, जो चट्टानों पर उकेर कर बनाई गई है। यहां पर आपको काल भैरव जी की एक विशाल प्रतिमा देखने के लिए मिलेगी, जो चट्टान में बनाई गई है। यह प्रतिमा बहुत विशाल है और देखने में बहुत ही अद्भुत लगती है। यहां पर आपको नरसिंह भगवान की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत अद्भुत है। यहां पर मुख्य मंदिर के ऊपर आपको स्वर्गारोहण कुंड देखने के लिए मिलता है। इस कुंड में चट्टानों से पानी रसकर ग