सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Temple लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

शनि मंदिर मऊ सहानिया छतरपुर - Shani Temple Mau Sahania Chhatarpur

श्री शनि धाम मऊ सहानिया छतरपुर -  Shani Dham Mau Sahania Chhatarpur शनि मंदिर मऊ सहानिया में स्थित छतरपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। शनिधाम मंदिर छतरपुर में बहुत प्रसिद्ध है। शनि मंदिर जगत सागर तालाब में स्थित है। गर्मी के समय जगत सागर तालाब का पानी नीचे चला जाता है, तो आप शनि मंदिर में आराम से जा सकते हैं। मगर बरसात के समय जगत सागर तालाब का पानी शनि मंदिर तक आ जाता है और मंदिर भी डूब जाता है। तब आप इस मंदिर में नहीं आ सकते हैं। वैसे पानी कम रहता है, तो यहां पर आया जा सकता है। यहां पर आपको शनि भगवान जी की सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर 9 देवताओं की भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको 9 तरह की जड़ी बूटियों के पौधे भी देखने के लिए मिल जाएंगे। यह जगह बहुत अच्छी है।  हम लोग शनि मंदिर में अपनी गाड़ी से गए थे। शनि मंदिर मऊ  सहानिया  में बहुत प्रसिद्ध है। आप मुख्य हाईवे सड़क से ही गुजरते हैं, तो आपको इस मंदिर का बोर्ड देखने के लिए मिल जाता है। आप बोर्ड से मंदिर की तरफ मुड़ जाइए और मंदिर में पहुंच जाएंगे। इस मंदिर का रास्ता जो है। वह तालाब के बीच से बना हुआ है। यह ब

बलदेव जी मंदिर पन्ना - Baldeoji Temple Panna

बलदेव जी मंदिर पन्ना मध्य प्रदेश -  Baldev Ji Mandir Panna Madhya Pradesh बलदेव जी मंदिर पन्ना शहर का प्रसिद्ध मंदिर है। बलदेव जी श्री कृष्ण जी के बड़े भाई थे और यह मंदिर श्री कृष्ण जी के बड़े भाई बलदेव जी को समर्पित है। यह मंदिर एक अलग ही तरह के मंदिर है। यह मंदिर हिंदू धर्म में बनाए जाने वाले मंदिरों से अलग है। यह मंदिर जो है, वह रोमन कैथोलिक स्टाइल में बना हुआ है और देखने में यह किसी चर्च के समान लगता है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर एक ऊंचे मंडप पर बना हुआ है। मंदिर में शालिग्राम के बने हुए बलदेव जी की प्रतिमा विराजमान है। मंदिर के अंदर जाएंगे, तो आपको बलदेव जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलेगी। यहां पर ऊंचे ऊंचे पिलर देखने के लिए मिलते हैं, जो सुंदर लगते हैं। यहां पर आपको झूमर देखने के लिए मिलते हैं। झूमर से मंदिर को सजाया गया है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और एक अलग ही प्रकार का मंदिर है।  पन्ना के बलदेव मंदिर के दर्शन -  Visit of Baldev Temple Panna हम लोग बलदेव मंदिर घूमने के लिए अपनी स्कूटी से गए थे।  बलदेव मंदिर पन्ना जिले में छत्रसाल पार्क के पास ही में स्थित है। छत्

नीलकंठ महादेव मंदिर कलिंजर - Neelkanth Temple Kalinjar

नीलकंठ मंदिर कालिंजर किला बांदा -  Neelkanth Temple Kalinjar Fort Banda नीलकंठ मंदिर कालिंजर किले का एक प्रसिद्ध स्थल है। यह एक प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर के गर्भ गृह में आपको शिव भगवान जी के एकमुखी शिवलिंग देखने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर अद्भुत है और मंदिर में पर पत्थर पर की गई कलाकारी भी अविस्मरणीय है। कालिंजर का किला एक प्रसिद्ध किला है। इस किले के पश्चिमी तरफ शिव जी का यह प्रसिद्ध मंदिर स्थित है। इस मंदिर को नीलकंठ मंदिर नाम से जाना जाता है। नीलकंठ मंदिर बहुत सुंदर है। नीलकंठ मंदिर में शिव जी के शिवलिंग के अलावा, भी यहां पर आपको बहुत सारी प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है, जो चट्टानों पर उकेर कर बनाई गई है। यहां पर आपको काल भैरव जी की एक विशाल प्रतिमा देखने के लिए मिलेगी, जो चट्टान में बनाई गई है। यह प्रतिमा बहुत विशाल है और देखने में बहुत ही अद्भुत लगती है। यहां पर आपको नरसिंह भगवान की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत अद्भुत है। यहां पर मुख्य मंदिर के ऊपर आपको स्वर्गारोहण कुंड देखने के लिए मिलता है। इस कुंड में चट्टानों से पानी रसकर ग

श्री जुगल किशोर मंदिर पन्ना - Shri Jugal Kishore Temple Panna

पन्ना का जुगल किशोर मंदिर - Shree Jugal Kishore Mandir Panna Madhya Pradesh पन्ना शहर को झील, मंदिर और हीरे के लिए जाना जाता है। यहां के जो मंदिर है। वह बहुत प्राचीन है और बहुत सुंदर है। उनमें से एक मंदिर है जुगल किशोर मंदिर । यह मंदिर भी बहुत सुंदर है। जुगल किशोर मंदिर पन्ना शहर का एक बहुत ही प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर जयपुरी वास्तुकला में बना हुआ है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। मंदिर में श्री कृष्ण जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर आपको कृष्ण जी की मुरली देखने के लिए मिलती है। कहा जाता है कि कृष्ण जी की मुरली में हीरा लगा हुआ है। यह हीरा बहुत पुराना है और बहुत सुंदर है। वैसे यह मंदिर भी बहुत खूबसूरत है।  पन्ना के जुगल किशोर के दर्शन -  Panna ke Jugal Kishor ji ke Darshan हम लोग पन्ना के जुगल किशोर मंदिर में घूमने के लिए शाम के समय गए थे। शाम के समय इस मंदिर में बहुत ज्यादा भीड़ रहती है। जुगल किशोर मंदिर पन्ना शहर के बीचो बीच में स्थित है। यह मंदिर बाहर अंदर सभी जगह से बहुत सुंदर है। हम लोगों को यह मंदिर बहुत अच्छा लगा। इस मंदिर में शाम के समय बहुत ज्यादा भ

श्री गौरी शंकर मंदिर हटा तहसील दमोह - Shree Gauri Shankar temple Hatta, Damoh

श्री गौरी शंकर मंदिर हटा तहसील दमोह  - Shree Gauri shankar Mandir Hatta Tehsil Damoh   श्री गौरी शंकर मंदिर हटा का एक प्राचीन मंदिर है। हटा के गौरी शंकर मंदिर में आपको शिव भगवान जी के दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर शिव भगवान जी दूल्हा वेश धारण किए हुए हैं। शिव भगवान जी नंदी पर सवार है और माता पार्वती को लिए हुए यहां पर विराजमान है। आपको गौरी शंकर मंदिर परिसर में आपको और भी मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर श्री शनिदेव का मंदिर स्थापित है। हनुमान मंदिर भी आपको यहां पर देखने के लिए मिल जाता है, जो भगवा रंग का है। यहां पर गणेश मंदिर भी है। यहां पर सत्यनारायण मंदिर भी है। यहां पर पितांबरा पीठ भी आपको देखने के लिए मिलेगा। यहां पर यज्ञशाला भी बनी हुई है आप वह भी देख सकते हैं। यह मंदिर हटा शहर में केन नदी से थोड़ी ही दूरी पर स्थित है।     हम हटा का किला घूम लिया। उसके बाद हम लोग हटा के गौरी शंकर मंदिर घूमने के लिए आगे बढ़े। गौरी शंकर मंदिर पहुंचने का जो रास्ता है। वह सकरी गलियों से होते हुए गुजरता है। हम लोग गाड़ी से गौरी शंकर मंदिर पहुंचे। गौरी शंकर मंदिर बहुत ही खूबसूर

लक्ष्मण पहाड़ी चित्रकूट - Lakshman Pahari Chitrakoot

लक्ष्मण पहाड़ी - Lakshman Pahadi / लक्ष्मण पहाड़ /  Laxman Pahadi / L akshman pahari chitrakoot लक्ष्मण पहाड़ी चित्रकूट की एक धार्मिक स्थल है और यह पहाड़ी कामदगिरि पहाड़ी के पास ही में है। आप इस पहाड़ी में कामदगिरि परिक्रमा जब करते हैं, तब इस पहाड़ी में भी जा सकते हैं। इस पहाड़ी में आपको राम, लक्ष्मण, भरत जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। इस पहाड़ी में खंभे बने हुए हैं। इन खंभे को आपको भेटना पड़ता है। भेटने मतलब होता है। आपको इन खंभों को गले लगाना पड़ता है। यहां पर जो पंडित जी बैठे रहते हैं। वह आपको इन खभों को गले लगाने के लिए कहते हैं और आपसे कुछ दक्षिणा के लिए कहते हैं। आप चाहें तो उन्हें दक्षिणा दे सकते हैं। कहा जाता है कि जब भरत जी यहां आए थे। तब राम भगवान जी के गले मिले थे। इसलिए इन खंभों को भी भेटना होता है।  लक्ष्मण पहाड़ी पर आप आते हैं, तो आपको सबसे पहले शंकर जी देखने के लिए मिलते हैं, जो यहां पर एक छोटे से छाया के नीचे बैठे हुए हैं। उसके बाद बरगद का पेड़ लगा हुआ है।  लक्ष्मण पहाड़ी पर स्थित राम, लक्ष्मण, भरत, शत्रुघ्न और मां सीता जी का मंदिर देख सकते हैं। लक्ष्मण पहाड़ी पर स्थित यह

कामदगिरि मंदिर चित्रकूट - Kamadgiri Temple Chitrakoot

कामदगिरि मंदिर चित्रकूट -  Kamadgiri mandir Chitrakoot / Kamadgiri Temple कामदगिरि मंदिर चित्रकूट का एक प्रसिद्ध मंदिर है। कामदगिरि मंदिर को कामत नाथ मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। कामदगिरि मंदिर कामदगिरि पहाड़ी  में स्थित है और कामदगिरि परिक्रमा कामदगिरि मंदिर से ही शुरू होती है। कामदगिरि मंदिर में आपको कामत नाथ की आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा काले रंग की है। कामदगिरि मंदिर चित्रकूट से करीब 2 से ढाई किलोमीटर दूर होगा। कामदगिरि मंदिर में आने के लिए आप ऑटो का प्रयोग कर सकते हैं। ऑटो किराया आपका ₹10 लगता है और ऑटो वाला आपको कामदगिरि मंदिर के एंट्री गेट पर छोड़ देता है।  कामदगिरि मंदिर के बारे में कहा जाता है, कि आप यहां पर जो भी मनोकामना लेकर आते हैं, तो आपकी वह मनोकामना पूरी होती है और भगवान आपको उसका फल जरूर देता है।  कामदगिरि मंदिर के एंट्री गेट में आपको बहुत सारे प्रसादओं की दुकान देखने के लिए मिलती है। मंदिर के गेट से लेकर मुख्य मंदिर तक आपको बहुत सारी प्रसाद  की  दुकान देखने के लिए मिलती है। आप जिस भी दुकान में चाहे प्रसाद ले सकते हैं। यहां पर प्रसादओं

आदि विमान मंडपम मंदिर इलाहाबाद (प्रयागराज) - Adi Vimana Mandapam Temple Allahabad (Prayagraj)

आदि विमान मंडपम मंदिर इलाहाबाद (प्रयागराज) - Adi Viman Mandapam Mandir Allahabad (Prayagraj) /  Allahabad Tourism / इलाहाबाद पर्यटन   आदि विमान मंडपम मंदिर इलाहाबाद का एक प्रसिद्ध मंदिर है। विमान मंडपम मंदिर इलाहाबाद में संगम स्थल के पास ही में स्थित है। आदि विमान मंडपम मंदिर साउथ इंडियन स्टाइल में बना हुआ है। इस मंदिर में आपको चार मंजिल देखने के लिए मिलती है, जिनमें से तीन मंजिलों में भगवान जी की स्थापना की गई है। इस मंदिर के ग्राउंड फ्लोर में मीनाक्षी माता की प्रतिमा विराजमान है। आप उनके दर्शन कर सकते हैं। सेकंड फ्लोर में आपको भगवान बालाजी की प्रतिमा देखने के लिए मिल जाएगी और थर्ड फ्लोर में आपको शिव जी का शिवलिंग देखने के लिए मिल जाएगा। यह मंदिर कांची शंकराचार्य मठ के द्वारा बनवाया गया है। इस मंदिर की कारीगरी बहुत ही खूबसूरत है।     आप आदि विमान मंडपम मंदिर में आएंगे, तो इस मंदिर की दीवारों पर आपको खूबसूरत नक्काशी देखने के लिए मिलेगी। इस मंदिर में आपको हर जगह पर मूर्ति की स्थापना देखने के लिए मिलती है। यह मूर्तियां काले पत्थर से बनी हुई है और बहुत ही आकर्षक लगती है। इस मंदिर

श्री पदम प्रभु जैन मंदिर कौशांबी - Jain Shwetambar Temple Kaushambi

श्री पदम प्रभु जैन श्वेतांबर मंदिर कौशांबी - Jain shwetambar mandir Kaushambi / Kaushambi tourism / कौशाम्बी पर्यटन   श्री पदम प्रभु जैन श्वेतांबर मंदिर कौशांबी में स्थित एक सुंदर मंदिर है। यह मंदिर पूरी तरह सफेद मार्बल से बना हुआ है और आपको इस मंदिर में खूबसूरत नक्काशी देखने के लिए मिलेगी, जो सफेद मार्बल पर की गई है। यह मंदिर कौशांबी नगर में मुख्य सड़क पर ही बना है। आप इस मंदिर में बहुत ही आसानी से पहुंच सकते हैं। यह मंदिर कौशांबी थाने से करीब 300 से 400 मीटर दूर होगा। आप अगर बस से आते हैं, तो बस से इस मंदिर में डायरेक्ट पहुंच सकते है।    हम लोग भी इस मंदिर में घूमने के लिए गए थे। हम लोग जब बस से आ रहे थे। तब इस मंदिर को हम लोगों ने देखा था। यह मंदिर सड़क के बाजू में ही स्थित है और हम लोग कौशांबी थाने से पैदल ही इस मंदिर में गए थे। इस मंदिर के प्रवेश द्वार में भी खूबसूरत नक्काशी की गई है। खूबसूरत मूर्तियां को पत्थर पर उकेरा गया है। अंदर जाकर आप देखेंगे, तो यह मंदिर पूरा संगमरमर से बना हुआ है। पूरे मंदिर में नक्काशी की गई है। मंदिर की दीवारों, प्रवेश द्वार, स्तंभों में भी खूबसूरत नक्का